वर्ड 2002 को कार्यान्वित करना:-

0 Comments

वर्ड 2002 को कार्यान्वित करना
वर्ड 2002 के हम निम्नलिखित अनेक प्रकार से कार्यान्वित कर सकता है
आॅफिस शाॅर्टकट बार से
शाॅर्टकट बार पर प्रदर्शित हो रहे डपबतवेवजि ॅवतक आइकन पर क्लिक करके , वर्ड 2002 को कार्यान्वित किया जा सकता हैं। इसके लिए यह आवश्यक है कि आॅफिस शाॅर्टकट बार में डपबतवेवजि ॅवतक का आइकन प्रदर्शित हो रहा है।
यदि आॅफिस शाॅर्टकट बार में डपबतवेवजि ॅवतक का आइकन प्रदर्शित न हो रहा है, तो इसके प्रदर्शन के लिए निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा ।
आॅफिस शाॅर्टकट बार के किसी रिक्त स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर माउस का दायां बटन दबाते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर एक शाॅर्टकट मेन्यू प्रदर्शित होता है।
इस शाॅर्टकट मेन्यू मे दी गइ विभिन्न विकल्पो की सूची में से ब्नेजवउप्रम विकल्प पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ठनजजवदे पर क्लिक करते है, तो ज्ववसइंत के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में व्ििपबम चुनने पर आॅफिस ग्च् के सभी एप्लीकेशन्स के नाम ैीवू ज्ीमेम थ्पसमे ंे ठनजजवदे के नीचे गए बाॅक्स में प्रदर्शित होते हैं।
इसमें से डपबतवेवजि ॅवतक के पहले बने चैक बाॅक्स पर क्लिक करके इसे चुन लेते है। यदि इस चैक बाॅक्स में पहले से ही √ प्रदर्शित हो रहा है, तो इसका तात्पर्य यह है, कि यह पहले से ही चुना हुआ है।
अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डपबतवेवजि ॅवतक का आइकन आॅफिस शाॅर्टकट बार पर निम्नांकित चित्र की भांति होने लगता है।
अब आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार पर प्रदर्शित हो रहे , डपबतवेवजि ॅवतक के आइकन पर क्लिक करके वर्ड 2002 को कार्यान्वित किया जा सकता है।
च्ंहम 68
छमू व्ििपबम क्वबनउमदज का प्रयोग करके
आॅफिस एक्सपी के आॅफिस शाॅर्टकट बार पर प्रदर्शित हो रहे छमू व्ििपबम क्वबनउमदज के आइकन पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति छमू व्ििपबम क्वबनउमदज का डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है
इस डायलाॅग बाॅक्स में ठसंदा क्वबनउमदज आइकन पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करने पर सक्रिय होने वाले पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर ठसंदा क्वबनउमदज आइकन पर माउस आइकन लगातार दो बार क्लिक करने पर वर्ड 2002 एप्लीकेशन कार्यान्वित हो जाते है और इसकी एप्लीकेशन का प्रदर्शन विन्डो का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर होता है। इस विन्डो में एक नई फाइल, जिसका नाम क्वबनउमदज 1 होता है, खुली हुई प्रदर्शित होती है।
व्चमद व्ििपबम क्वबनउमदज का प्रयोग करके
यदि हम यह चाहते है, कि वर्ड 2002 में बनाई गई फाइल सहित वर्ड 2002 कार्यान्वित हो, अर्थात् इसमें पहले से बनी कोई डाॅक्यूमेण्ट फाइल भी प्रदर्शित हो, तो इसके लिए आॅफिस ग्च् शाॅर्टकट बार पर स्थित व्चमद व्ििपबम क्वबनउमदज आइकन पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति व्चमद व्ििपबम क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 69
यदि थ्पसमे व िजलचम सैलेक्शन बाॅक्स में व्ििपबम थ्पसमे लिखा हुआ प्रदर्शित हो रहा है, तो फाइल्स की सुची में जिस फाइल के नाम से पहले वर्ड का आइकन प्रदर्शित हो रहा है, वा वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट फाइल होती है। इस फाइल पर क्लिक करके पुश बटन व्चमद पर क्लिक करके इसमें इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल को खोला जा सकता है।
यहां पर हम थ्पसमे व िजलचम सैलेक्शन बाॅक्स में क्वबनउमदज विकल्प को चुना लेते है। अब इस डायलाॅब बाॅक्स में केवल फोल्डर्स एवं वर्ड की फाइल्स की सूची प्रदर्शित होती है। स्ववा पद के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में वांछित फोल्डर को चुनकर उसमें प्रदर्शित होने वाली वर्ड की फाइल्स को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 कार्यान्वित होता है और इसमें चुनी गई डाॅक्यूमेण्ट फाइल प्रदर्शित होती है।
ैजंतज मेन्यू का प्रयोग करके
यदि हमने आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर नही किया हुआ है , तो वर्ड 2002 को कार्यान्वित करने के लिए हमें विन्डोज की टास्कबार पर स्थित स्टार्ट मेन्यू के उप-मेन्यू च्तवहतंउे में से निम्नांकित चित्र की भांति च्तवहतंउे में से निम्नांकित चित्र की भांति डपबतवेवजि ॅवतक को चुनना होगा
अब वर्ड 2002 प्रोग्राम कार्यान्वित होता है और माॅनीटर स्क्रीन पर इसकी एप्लीकेशन विन्डो में एक रिक्त फाइल क्वबनउमदज1 खुली हुई प्रदर्शित होगी।
वर्ड 2002 की एप्लीकेशन एवम् डाॅक्यूमेण्ट विन्डो
अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र में वर्ड 2002 की एप्लीकेशन एवम् डाॅक्यूमेण्ट विन्डो के विभिन्न तत्वो को दर्शाया गया हैै।
च्ंहम 70
इस विन्डो मे सबसे ऊपर टाइटल बार प्रदर्शित होती है। टाइटल बार में सबसे बाई ओर वर्ड 2002 का कन्ट्रोल आइकन प्रदर्शित होता है। इसका प्रयोग वर्ड 2002 की एप्लीकेशन विन्डो को त्मेजवतमए डवअम ए डपदपउप्रमए डंगपउप्रम तथा ब्सवेम करने के लिए किया जाता है। इन सभी विकल्पो का प्रयोग हम आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार का कन्ट्रोल आइकन की ही भांति कर सकते है। आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार के कन्ट्रोल आइकन का प्रयोग पिछले अध्याय में बताया गया है।
टाइटिल बार पर कन्ट्रोल आइकन के बाद वर्ड 2002 में खुले हुए डाॅक्यूमेण्ट (फाइल) का नाम प्रदर्शित होता है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट फाइल को किसी अन्य नाम से सुरक्षित नही किया है, तो यहा पर क्वबनउमदज के साथ एक अंक प्रदर्शित होता है, जिससे हमें यह ज्ञात होता है, कि वर्ड 2002 के कार्यान्वित होने के बाद नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल कौन-सी बार बनाई है; अर्थात यदि हम क्वबनउमदज1 प्रदर्शित होता है, तो इसका तात्पर्य है कि वर्ड 2002 के कार्यान्वित होने के बाद पहली बार क्वबनउमदज2 लिखा हुआ प्रदर्शित होता है, तो इसका तात्पर्य है कि वर्ड 2002 के कार्यान्वित होने के बाद दूसरी बार नई डाॅक्यूूमेण्ट फाइल बनाई गई है। टाइटिल बार पर डाॅक्यूमेण्ट के नाम के बाद एप्लीकेशन का नाम , जोकि डपबतवेवजि ॅवतक है, प्रदर्शित होता है।
टाइटिल बार के नीचे वर्ड 2002 की मेन्यूबार स्थित होती है। इस मेन्यूबार पर स्थित अनेक पूल डाउन मेन्यूज स्थित होते है। प्रत्येक पूल डाउन ेमेन्यू मे विकल्पो के रूप में वर्ड 2002 में किए जा सकने वाले विभिन्न कार्यो के लिए विभिन्न कमाण्ड्स स्थित होती है।
मेन्यूबार के नीचे ैजंदकंतक ज्ववसइंत एवं थ्वतउंजपदह ठंत प्रदर्शित होती है। इन टूलबार्स पर वर्ड 2002 में
च्ंहम 71
किया जा सकने कार्यो को शीघ्रता से सम्पन्न करने के लिए कमाण्ड्स आइकन्स के रूप में दी होती है। इन टूलबार्स पर उपस्थित टूल्स , यद्यपि में उपलब्ध है, परन्तु इनका प्रयोग वर्ड 2002 में हो रहे कार्यो को शीघ्रता से करने के लिए किया जाता है। वर्ड 2002 की विन्डो में थ्वतउंजपदह ज्ववसइंते के नीचे ;भ्वतप्रवदजंसद्ध पैमाना तथा बाई ओर ऊध्र्वाधर ;टमतजपबंसद्ध पैमाना ;ैबंसमद्ध भी प्रदर्शित होता है। इनका प्रदर्शन केवल डाॅक्यूमेण्ट के च्ंहम स्ंलवनज टपमू मे ही होता है। अनका प्रयोग टैक्स्ट एवं ग्राफिक्स को डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ पर समायोजित करने के लए किया जाता है। क्षैतिज रूलर पर निर्धारित किए गए ज्ंइे का भी प्रदर्शन होता है।
क्षैतिज ;भ्वतप्रवदजंसद्ध तथा ऊध्र्वाधर ;टमतजपबंसद्ध पैमानो ;ैबंसमेद्ध के मध्य वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट विन्डो प्रदर्शित होती है। वर्ड 2002 के भाग में वांछित कार्य किया जाता है अर्थात डाॅक्यूमेण्ट केा इस स्थान पर ही तैयार किया जाता है। यहां पर हम टैक्स्ट को की-बोर्ड से टाइप कर सकते है तथा उसे फारमेट भी कर सकते है। इस विन्डो में हम क्लिप आर्ट गैलरी से किसी पिक्चर अथवा ग्राफिक्स अथवा आॅब्जेक्ट को इन्सर्ट भी कर सकते है। इसी स्थान पर हम वर्ड 2002 के क्तंूपदह ज्ववसे को प्रयोग करके कोई आकृति भी बना सकते हैै। कहने का तात्पर्य यह है कि डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में ही वर्ड 2002 से सम्बन्धित विभिन्न कार्यो को इसकी डाॅक्यूमेण्ट विन्डो मेे ही किया जाता है।
डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में पृष्ठ को दाएं-बाएं अथवा ऊपर-नीचे विस्थापित करने के लिए इस विन्डो मे नीचे की ओर क्षैतिज स्क्राॅल बार तथा दाई ओर ऊध्र्वाधर स्क्राॅल बार स्थित होती है। क्षैतिज स्क्राॅल बार का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में पृष्ठ को दाई या बाई ओर विस्थापित करने तथा उध्र्वाधर स्क्राॅल बार का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में पृष्ठ को ऊपर-नीचे विस्थापित करने के लिए किया जाता है।
क्षैतिज स्क्राॅल बार के साथ इसके बाई ओर चार बटन्स प्रदर्शित होते है। ये चारो बटन्स टपमू ठनजजवदे कहलाते है । इन बटन्स का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल का प्रदर्शन निर्धारित करने के लिए करते है। ऊध्र्वाधर स्क्राॅल बार के नीचे की ओर तीन बटन्स प्रदर्शित होते है, इनमे से पहले बटन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट के वर्तमान पृष्ठ से पहले वाले पृष्ठ पर जाने के लिए और तीसरे बटन का वर्तमान पृष्ठ पर जाने के लिए किया जाता है। दूसरे बटन ैमसमबज ठतवूेम व्इरमबज का प्रयोग वर्तमान पृष्ठ से अगले पृष्ठ पर जाने के लिए किया जाता है। दूसरे बटन ैमसमबज ठतवूेम व्इरमबज का प्रयोग करने पर प्रदर्शित होने वाले ैमसमबज ठतवूेम व्इरमबज मेन्यू में से वांछित आइटम पर क्लिक करके वर्तमान सक्रिय फाअल में उसे ठतवूेम करने के लिए प्रयोग किया जा सकता है। अब कर्सर की वर्तमान स्थिति से यदि ठतवूेम किया गया आइटम ऊपर है, च्तमअपवने च्ंहम पर क्लिक करने पर हम डाॅक्यूमेण्ट में सउ आइटम पर पहुच जाते है और यदि नीचे है, तो छमगज च्ंहम पर क्लिक करने पर।
इस विन्डो मे दाई आरे टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन होता है। जैसाकि हम पिछले अध्याय में जान चुके है, कि टास्क पेन अनेक प्रकार के होेते हैं और प्रत्येक प्रकार के लिए टास्क पेन विन्डो में प्रदर्शन भी भिन्न-भिन्न होता है। इस विन्डो में सबसे नीचे स्टेटस बार का प्रदर्शन होता है, इस बार पर कर्सर की वर्तमान स्थिति का प्रदर्शन होता है तथा अन्य अनेक सूचनाएं भी समय-समय पर प्रदर्शित होती रहती है।
वर्ड 2002 के मेन्यूज
वर्ड 2002 में कार्य करते समय यदि हम इसकी डाॅक्यूमेण्ट विन्डो अथवा कार्यकारी क्षेत्र ;ॅवता ैचंबमद्ध पर माउस का तीसरा बटन अर्थात दायां बटन क्लिक कर दे ंतो माॅनीटर स्क्रीन पर एक शाॅर्टकट मेन्यू ;ैीवतजबनज डमदनद्ध प्रदर्शित होता है। इस मेन्यू में हमने जिस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन क्लिक किया, उससे सम्बन्धित विकल्प होते है। जैसे यदि हमने किसी पैराग्राफ पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन क्लिक किया है तो पैराग्राफ से सम्बन्धित विकल्प इस शार्टकट मेन्यू मे प्रदर्शित होगे यदि किसी थ्तंउम अथवा ळतंचीपब पर क्लिक किया है तो उनसे सम्बन्धित विकल्प । वर्ड 2002 की मेन्यू बार पर अग्रलिखित नौ पूल डाउन मेन्यूज स्थित होते है।
च्ंहम 72
थ्पसम डमदन
फाइल मेन्यू वर्ड 2002 का पहला मेन्यू होता है। इस मेन्यू में डाॅक्यूमेण्ट के व्यवस्थापन से सम्बन्धित विकल्प होते है। यह मेन्यू छह भागो में बंटा होता है। पहले भाग मे वर्ड 2002 में नया डाॅक्यूमेण्ट बनाने ,पहले से बनी हुई डाॅक्यूमेण्ट फाइल को खोलने एवं डाॅक्यूमेण्ट फाइल पर कार्य समाप्त करने के उपरान्त इसे बन्द करने के लिए तीन विकल्प दिए होते है। फाइल मेन्यू के दूसरे भाग में डाॅक्यूमेण्ट पर किए कार्यो को सुरक्षित करने से सम्बन्धित दो विकल्पो दिए होते है। इस भाग में एक विकल्प कम्पयूटर में किसी फाइल को खोजने के लिए दिया होता हैं। इस मेन्यू के तीसरे भाग मेे तीन विकल्प डाॅक्यूमेण्ट फाइल च्ंहम ैमजनच निर्धारित करने के लिए , डाॅक्यूमेण्ट फाइल के पृष्ठो के प्रिन्ट का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर प्राप्त करने के लिए एवं प्रिन्ट को प्रिन्टर पर प्राप्त करने के लिए दिए होते है।
इस मेन्यू के पांचवे भाग में एक उप-मेन्यू होता है, जिसमे वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट फाइल को आॅफिस ग्च् मे किसी स्थान पर भेजने से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। इस मेन्यू के छठे भाग में वर्ड 2002 अब से पहले खोली गई चार फाइल्स के नामो का प्रदर्शन होता है। सातवे और अन्तिम भाग में वर्ड 2002 प्रोग्राम से बाहर निकलने के लिए विकल्प दिया होता है । इस मेन्यू मे नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है।
इन दोनो ऐरोज पर क्लिक करने पर इस मेन्यू में कुछ अन्य विकल्प भी प्रदर्शित होने लगते है । इन ऐरोज क्लिक करने पर दुंसरे भाग में जुडे ैंअम ंे ॅमइ च्ंहम विकल्प का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट को वेब पेज के रूप में सुरक्षित ;ैंअमद्ध करने के लिए किया जाता हे। इस मेन्यू मे जुडे नए विकल्प टमतेपवदे का प्रयोग एक फाइल में एक डाॅक्यूमेण्ट के अनेक संस्करणो को सुरक्षित एवं व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू मे जुडे नए विकल्प ॅमइ च्ंहम च्तमअपमू का प्रयोग वर्तमान फाइल को इन्टरनेेट पर वेब पेज के रूप में पब्लिश करने से पूर्व पेतज के रूप में माॅनीटर स्क्रीन पर देखने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू में जुडे नए विकल्पो च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
म्कपज डमदन
ऐडिट मेन्यू वर्ड 2002 का दूसरा मेन्यू होता है। इस मेन्यू में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के सम्पादन से सम्बन्धित विकल्प
च्ंहम 73
दिए होते है। यह मेन्यू चार भागो में बंटा होता है। पहले भाग में दिए गए पहले विकल्प न्दकव का प्रयोग अब से पहले किए गए कार्याे को निरस्त करने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प त्मकव प्रयोग निरस्त किए कए कार्यो को पूनः करने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू के दूसरे भाग मेे दिए गए विकल्प ब्नज का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए भाग को डाॅक्यूमेण्ट से मिटाकर आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी करन तथा ब्वचल विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट से बिना मिटाए आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी करने के लिए किया जाता है। आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी किए गए विभिन्न आॅब्जैक्ट्स को टास्क पेन में देखने के लिए व्ििपबम ब्सपचइवंतक विकल्प का प्रयोग किया जाता है। अन्तिम बार काॅपी किए गए भाग को डाॅक्यूमेण्ट मे कर्सर के स्थान पर च्ंेजम करने के लिए च्ंेजम विकल्प का प्रयोग किया जाता है। ैमसमबज ंसस विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे विशिष्ट टैक्स्ट, फाॅरमेट , चिन्हो , फुटनोट अथवा एण्डनोट्स को खोजने के लिए एक विकल्प थ्पदक दिया होता है।
इस मेन्यू में भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू के दूसरे, तीसरे , चैथे भाग में कुछ अन्य विकल्प और इस मेन्यू का पांचवा भाग भी जुडं जाता है। दूसरे भाग में जुडे विकल्प च्ंेजम ैचमबपंस का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में विशेष प्रकार से च्ंेजम ैचमबपंस का प्रयोग में विशेष प्रकार से च्ंेजम करने के लिए तथा च्ंेजम ंे भ्लचमतसपदा का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे हाइपरलिंक्स के रूप में च्ंेजम करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट मे चुने गए टैक्स्ट अथवा आॅब्जेक्ट के फाॅरमेट अथवा उसके कन्टेन्ट्स केो मिटाने के लिए ब्समंत उप-मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग किया जाता है। चैथे भाग में जुडे विकल्पो त्मचसंबम का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में किसी शब्द अथवा शब्द-श्रंखला को किसी अन्य शब्द अथवा शब्द-श्रंखला से बदलने के लिए तथा ळव ज्व विकल्प का प्रयोग कर्सर को किसी वांछित स्थान पर ले जाने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू में जुडे पांचवे भाग में दिए गए दो विकल्पो डाॅक्यूमेण्ट में स्पदा की गई फाइल्स एवं आॅब्जेक्ट्स आदि से सम्बन्धित होते है। स्पदा विकल्प तभी कार्यकारी होता है जब हमने किन्ही दो डाॅक्यूमेण्ट फाइल्स अथवा वर्तमान कार्यकारी डाॅक्यूमेण्ट फाइल का आॅफिस ग्च् के किसी अन्य एप्लीकेशन प्रोग्राम की फाइल से स्पदा स्थापित किया हो एवं व्इरमबज विकल्प तभी कार्यकारी होता है, जब हमने किसी व्इरमबज का वर्तमान कार्यकारी डाॅक्यूमेण्ट फाइल मे स्पदा किया हो।
टपमू डमदन
व्यू मेन्यू वर्ड 2002 का तीसरा मेन्यू होता है। इस मेन्यू में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ प्रदर्शन से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। यह मेन्यू चार भागो में बंटा होता है। पहले भाग में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ को विभिन्न प्रकार से प्रदर्शित करने से सम्बन्धित तीन विकल्प दिए होते है । दूसरे भाग मे दो विकल्प ज्ंेा च्ंदम तथा ज्ववसइंते दिए होते है। ज्ंेा च्ंदम विकल्प का प्रयोग वर्ड 2002 की विन्डो मंें दाई ओर प्रदर्शित होने वाली टास्क पेन विन्डो को प्रदर्शित करने अथवा प्रदर्शित ना करने के लिए किया जाता है। यदि टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन वर्ड 2002 की विन्डो में हो रहा है, तो इस मेन्यू मेे इस विकल्प से पहले एक बाॅक्स में √ का चिन्ह प्रदर्शित होता है। ज्ववसइंते विकल्प का प्रयोग वर्ड 2002 की विन्डो में विभिन्न प्रकार की टूलबार्स को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
इस विकल्प का प्रयोग करने पर एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू में वर्ड की विन्डो में प्रदर्शित की जा सकने विभिन्न टूलबार्स की सूची का प्रदर्शन होता है। इस सूची में जिस टूलबार के पहले √ चिन्ह प्रदर्शित हो रहा
च्ंहम 74
होता है , वह टूलबार वर्ड 2002 की विन्डो में प्रदर्शित हो रही होती है। इस सूची मे से वांछित प्रकार की टूलबार पर क्लिक करने पर उसके नाम से पहले √ चिन्ह प्रदर्शित होने लगता है और अ बवह टुलबार वर्ड 2002 की विन्डांे में प्रदर्शित होने लगती है। इस मेन्यू के तीसरे भाग में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठो के लिए हैडर एवं फूटर निर्धारित करने के लिए एक ही विकल्प दिया होता है। इस मेन्यू र्के ववउ विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट को विभिन्न प्रतिशत आकारो में माॅनीटर स्क्रीन पर देखने के लिए किया जाता है।
इस मेन्यू में भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने हेाते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू के चारो भागो मे क्रमशः एक , दो , दो तथा विकल्प और जुड जाते है। पहले भाग में जुडे विकल्प व्नजसपदम डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ का प्रदर्शन आउटलाइन व्यू मे होता है। दूसरे भाग में दो विकल्प वर्ड 2002 की विन्डो में रूलर्स का प्रदर्शन एवं डाॅक्यूमेण्ट मैप के प्रदर्शन को निर्धारित करने के लिए जुड जाते है। तीसरे भाग में दो विकल्प डाॅक्यूमेण्ट में फुटनोट एवं किसी विशेष स्थान पर ब्वउउमदजे देने के लिए जुड जाते है। व्यू मेन्यू के चौथे और अन्तिम भाग में डाॅक्यूमेण्ट को पूरी माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित करने के लिए एक विकल्प जुड जाता है।
प्देमतज डमदन
व्यू मेन्यू वर्ड 2002 के चैथा मेन्यू होता है।इस मेन्यू में डाॅक्यूमेण्ट मेे विभिन्न आॅब्जेक्ट्स आदि का इन्सर्ट करने से सम्बन्धित विकल्प होते है। यह मेन्यू दो भागो मे बंटा होता है। ठतमंा विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे कर्सर के स्थान से च्ंहम ठतमंा इन्सर्ट करने , च्ंहम छनउइमत विकल्प का प्रयोग डाॅक्यमेण्ट मे कर्सर के स्थान पर पृष्ठ संख्या इन्सर्ट करने ,क्ंजम ंदक ज्पउम विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे कर्सर के स्थान वर्तमान समय तिथि तथा ैलउइवस विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे कर्सर के स्थान पर विशेष चिन्ह इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है, से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। दूसरे भाग मेे दिए गए विकल्पो च्पबजनतम तथा भ्लचमतसपदा का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर क्रमशः पिक्चर तथा हाइपर लिंक को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है।
इस मेन्यू मे भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू के अनेक नए विकल्प प्रदर्शित होने लगता है। ।नजव ज्मगज विकल्प का प्रयोग 2002 में दी गई आॅटो टैक्स्ट सुविधा के प्रयोग द्वारा टैक्स्ट को स्वतः ही फाॅरमेट करने के लिए किया जाता है। थ्पमसक विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मंें कर्सर के स्थान पर थ्पमसक इन्सर्ट करने तथा ब्वउउमदज विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में किसी आॅब्जैक्ट के साथ ब्वउउमदज जोडने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू मे एक विकल्प त्मतिमदबम भी जुडता है। इस विकल्प में एक उप-मेन्यू समाहित होता है, जिसमे चार विकल्प थ्ववजदवजमए ब्ंचजपवदेएब्तवेे त्मतिमदबम और प्दकमग ंदक ज्ंइसमे होते है, इनका प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे इनको इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में वेब कम्पोनेन्ट्स को इन्सर्ट करने के लिए ॅमइ ब्वउचवदमदज विकल्प का प्रयोग किया जाता है। क्पंहतंउ विकल्प का प्रयोग डाॅक्यमेण्ट में कर्सर के स्थान पर किसी डायग्राम को इन्सर्ट करने के लिए भी किया जाता है। इस मेन्यू में टैक्स्ट बाॅक्स, फाइल , आॅब्जैक्ट तथा बूकमार्क आदि को प्देमतज करने से सम्बन्धित भी विकल्प जुडा जाते है।
थ्वतउंज डमदन
फाॅरमेट मेन्यू वर्ड 2002 का पांचवां मेन्यू होता है। इस मेन्यू मे टैक्स्ट की फाॅरमेटिंग से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। यह मेन्यू तीन भागो मे बंटा होता है। इस मेन्यू मे दिए गए थ्वदज विकल्प का प्रयोग टैक्स्ट के फाॅन्ट का निर्धारण
च्ंहम 75
करने के लिए किया जाता है। च्ंतंहतंची विकल्प का प्रयोग टैक्स्ट पैराग्राफ के लिए आवश्यक निर्धारण करने के लिए किया जाता है। पैराग्राफ से पूर्व क्रम संख्या अथवा ठनससमजे का प्रदर्शन निर्धारित करने केे लिए ठनससमजे ंदक छनउइमतपदह का प्रयोग किया जाता है। ठवतकमते ंदक ैींकपदह विकल्प का प्रयोग चुने गए टैक्स्ट अथवा डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ के लिए थीम्स ;ज्ीमउमेद्ध निर्धारण करने के लिए किया जाता है। त्मअमंस थ्वतउंजपदह विकल्प का प्रयोग करने पर टास्क पेन मे त्मअमंसपदह थ्वतउंजपदह टास्क पेन का प्रदर्शन होता है, जहां से चुने गए टैक्स्ट की फारमेटिंग के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते है, इसकी फाॅरमेटिंग मे वांछित परिवर्तन कर सकते है तथा इनका तुलनात्मक अध्ययन कर सकते है। व्इरमबज विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे इन्सर्ट किए गए आॅब्जैक्ट का पुनर्निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
इस मेन्यू मे भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू के अनेक नए विकल्प प्रदर्शित होने लगते है। ब्वसनउदे विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ को एक से अधिक काॅलम्स में विभक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। ज्ंइे विकल्प का प्रयोग विभिन्न टैब्स का निर्धारण करने के लिए प्रयोग किया जाता है। पैराग्राफ का प्रथम अक्षर टैक्स्ट के आकार से बडा प्रदर्शित् करने के लिए क्तवचे ब्ंचे विकल्प का प्रयोग किया जाता है तथा इस अक्षर की दिशा निर्धारित करने के लिए ज्मगज क्पतमबजपवद विकल्प का प्रयोग किया जाता है। ब्ींदहम ब्ंेम विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट के अक्षरों का ब्ंेम बदलने के लिए किया जाता है। टैक्स्ट का ब्ंेम बदलेने से अर्थ है कि बडे अक्षरो ;ब्ंचपजंस स्मजजमतेद्ध मंे अथवा छोटे अक्षरो ;ैउंसस स्मजजमतेद्ध मे अथवा इनके विभिन्न ब्वउइपदंजपवदे में प्रदर्शित करने से है। ठंबाहतवनदक विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ की बैकग्राउण्ड को कोई रंग प्रदान करने के लिए तथा थ्तंउम विकल्प का प्रयोग इन्सर्ट किए गए फ्रेम के लिए विशेष निर्धारण करने हेतु किया जाता है। वर्तमान कार्यकारी डाॅक्यूमेण्ट फाइल को उसके साथ ।जजंबी ज्मउचसंजम फाइल के अनुरूप फाॅरमेट प्रदान करने के लिए ।नजव थ्वतउंजजपदह विकल्प का प्रयोग किया जाता है।डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट की वांछित फाॅरमेटिंग करने के लिए स्टाइल्स का निर्धारण करने के लिए ैजलसम ंदक थ्वतउंजजपदह का प्रयोग किया जाता है।
ज्ववसे डमदन
टुल्स मेन्यू वर्ड 2002 का छठा मेन्यू होता है। इस मेन्यू मे वर्ड 2002 में विशेष विभिन्न विशेष कार्य करने के लिए ज्ववसे विकल्पो के रूप में दिए होते है। ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत विकल्प का प्रयोग वर्ड 2002 मे डिक्शनरी के अनुरूप डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट की स्पेलिंग तथा व्याकरण की जांच करने के लिए किया जाता है। स्ंदहनंहम विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट की भाषा का निर्धारण करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में शब्दो की संख्या ज्ञात करने के लिए ॅवतक ब्वनदज विकल्प का प्रयोग किया जाता है। ैचममबी टुल का प्रयोग डिक्टेटिंग टैक्स्ट के लिए ैचममबी त्मबवहदपजपवद को कस्टमाइज करने तथा इसके लिए वांछित निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
इस मेन्यू में एक उप-मेन्यू स्मजजमते ंदक डंपसपदह दिया होता है। इस उप-मेन्यू में व्यावसायिक पत्र का निर्माण करने तथा उसे ई-मेल करने से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। ज्ववसे वद जीम ॅमइ का प्रयोग करने पर कम्पयुटर इन्टरनेट से जुडकर वेब पर स्थित माइक्रोसाॅफ्ट आॅफिस के टूल्स जुड जाता है, जहा ंपर हमे एकीकृत ई‘-सर्विस के बारे मे आवश्यक उपलब्ध सूचनाएं
च्ंहम 76
प्राप्त होती है। ।नजवब्वततमबज व्चजपवदे विकल्प का प्रयोग टैक्स्ट को टाइप करने पर स्वतः ही इसको त्रुटिरहित करने के लिए आवश्यक निर्धारण करने के लिए किया जाता है। ब्नेजवउप्रम विकल्प का प्रयोग वर्ड 2002 की टूलबार्स पर प्रदर्शित होने वाले टूल बटन्स , मेन्यूज मे प्रदर्शित होने वाले विकल्प तथा शार्टकट ‘कीज‘ का अपनी आवश्यकतानुसार निर्धारण करने के लिए किया जाता है। व्चजपवदे विकल्प का प्रयोग माइक्रोसाॅफ्ट आॅफिस के प्रोग्राम्स के निर्धारणो जैसे ैबतममद ।चचमंतंदबम , प्रिन्टिंग , सम्पादन, स्पेलिंग आदि ,को अपनी आवश्यकतानुसार करने के लिए किया जाता है।
इस मेन्यू में भी नीचे की ओर ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू में अनेक नए विकल्प प्रदर्शित होने लगते है। ।नजवैनउउंतप्रम विकल्प का प्रयोग वर्तमान सक्रिय डाॅक्यूमेण्ट का संक्षिप्त विवरण तैयार करने के लिए किया जाता है। ज्तंबा ब्ींदहमे विकल्प का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट मे किए गए परिवर्तनो को चिन्हित ;डंताद्ध करने तथा प्रत्येक परिवर्तन का टैªक त्मअपमूमत छंउम के द्वारा रखने के लिए किया जाता है। ब्वउचवेम ंदक डमतहम क्वबनउमदजे विकल्प का प्रयोग चुने गए किसी अन्य डाॅक्यूमेण्ट से वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट की तुलना करने , जोकि हमें दो डाॅक्यूमेण्ट्स को मर्ज करने की सुविधा प्रदान करता है, अथवा दोनो में अन्तर दर्शाने के लिए किया जाता है। च्तवजमबज क्वबनउमदज अथवा न्दचतवजमबज क्वबनउमदज विकल्प का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट को प्रोटैक्ट करने अथवा अनप्रोटैक्अ करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट को प्रोटैक्ट करने का तात्पर्य है कि किसी अन्य प्रयोगकत्र्ता द्वारा आपके डाॅक्यूमेण्ट में कोई परिवर्तन न किया जा सके , इस प्रकार सुरक्षित करना । इसके लिए आप अपना कोई पासवर्ड भी दे सकते है। इस मेन्यू के तीसरे भाग में जुडे विकल्प मेेल मर्ज आदि से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। इस मेन्यू मेे एक विकल्प व्दसपदम ब्वससंइवतंजपवद , इस विकल्प का एक उप-मेन्यू होता है, जिसमें तीन विकल्प नेट मीटिंग , इसके निर्धारण और वेब मीटिंग से सम्बन्धित दिए होते है।
ज्ंइसम डमदन
टेबिल मेन्यू वर्ड 2002 का सातवां मेन्यू होता है। इस मेन्यू में वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट फाइल में टेबिल ;ज्ंइसमद्ध के प्रयोग से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। यह मेन्यू चार भागो मे बंटा होता है। इस मेन्यू के क्तंू ज्ंइसम विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में नई टेबिल बनाने के लिए किया जाता है।
इस विकल्प का प्रयोग करने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार पेन्सिल के आकार का हो जाता है और ज्ंइसम ंदक ठवतकमते टुंलबार का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर होने लगता है। अब हम वर्ड 2002 विन्डो के कार्यकारी क्षे़त्र में माउस को ड्रेग करते हुए टेबिल बना सकते है। इस टेबिल के लिए स्तम्भ ;ब्वसनउदेद्ध एवं पंक्तियो ;त्वूेद्ध की संख्या का निर्धारण , इस टेबिल में रेखाओ के आकार आदि के निर्धारण इस टूलबार का प्रयोग करते हुए किया जा सकता है। प्देमतज विकल्प एक उप-मेन्यू होता है, जिसमें दिए गए विकल्पो का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में टेबिल को इन्सर्ट करने , टेबिल में स्तम्भ ;ब्वसनउदद्ध अथवा पंक्ति ;त्वूेद्ध अथवा सैल को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। क्मसमजम विकल्प भी एक उप-मेन्यू होता है, जिसमें दिए गए विकल्पो का प्रयोग टेबिल, टेबिल के काॅलम अथवा पंक्ति अथवा सैल को मिटाने के लिए किया जाता है। ैमसमबज विकल्प भी एक उप-मेन्यू होता है, जिसमे दिए गए विकल्पो का प्रयोग टेबिल, टेबिल के काॅलम अथवा पंक्ति अथवा सैल को चुनने के लए किया जाता है। ज्ंइसम ।नजवथ्वतउंज विकल्प का प्रयोग माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड
च्ंहम 77
2002 में पूर्व निर्धारित टेबिल्स के प्रारूपो के आधार पर टेबिल का निर्माण करने के लिए किया जाता है। टेबिल के बारे में विभिन्न जानकारियां प्राप्त करने के लिए इस मेन्यू के विकल्प ज्ंइसम च्तवचमतजपमे का प्रयोग किया जाता है।
इस मेन्यू में भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर मेन्यू में अनेक नए विकल्प प्रदर्शित होने लगते है। डमतहम ब्मससे का प्रयोग टेबिल के चुने गए दो अथवा दो से अधिक सैल्स को मर्ज करने के लिए किया जाता है। ैचसपज ज्ंइसम विकल्प का प्रयोग टैबिल को पृथक् करने के लिए किया जाता है। ।नजवथ्पज विकल्प का प्रयोग टेबिल के आकार का स्वतः ही निर्धारण करने के लिए किया जाता है। यदि टेबिल अगले पृष्ठ पर भी जाती तो पंक्तियो के शीर्षक को निरन्तर करने के लिए भ्मंकपदह त्वूे त्मचमंज विकल्प का प्रयोग किया जाता है। इस मेन्यू में एक अन्य उप-मेन्यू ब्वदअमतज जुड जाता है, इस उप-मेन्यू में दिए गए दो विकल्पो का प्रयोग टैक्स्ट को तालिका में परिवर्तित करने तथा तालिका को टैक्स्ट में परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। ैवतज विकल्प का प्रयोग टेबिल के कन्टेन्ट्स को क्रमबद्ध करने के लिए किया जाता है। थ्वतउनसं विकल्प का प्रयोग टेबिल में किसी सूत्र के आधार पर गणनाएं करने के लिए किया जाता है। तालिका में पंक्तियों और स्तम्भो की विभक्त करने वाली रेखाओ को अदृश्य अथवा प्रदर्शित करने के लिए भ्पकम ळतपकपसपदमे विकल्प का प्रयोग किया जाता है।
ॅपदकवू डमदन
विन्डो मेन्यू वर्ड 2002 का आठवां मेन्यू होता है। इस मेन्यू में वर्ड 2002 की विन्डो में खुली हुई सभी डाॅक्यूमेण्ट फाइल्स के नाम प्रदर्शित होते है। इस मेन्यू में भी नीचे की ओर दो ऐरोज बने होते है। इन पर क्लिक करने पर इस मेन्यू में फाइल्स की सूची के ऊपर तीन विकल्प जुड जाते है। इनमें से छमू ॅपदकवू विकल्प का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट की एक नई विन्डो प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। ।ततंदहम ।सस विकल्प का प्रयोग वर्ड 2002 की एप्लीकेशन विन्डो में खुली हुई सभी विन्डोज को व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। विन्डो को विभाजित करने के लिए ैचसपज विकल्प का प्रयोग किया जाता है।
भ्मसच डमदन
पिछले अध्याय में हमने माइक्रोसाॅफ्ट आॅफिस ग्च् के सभी एप्लीकेशन प्रोग्राम्स के लिए हेल्प मेन्यू का प्रयोग करना विस्तार से बताया हे, उसी के अनुसार इस मेन्यू की सहायता से हम वर्ड 2002 से भी सहायता प्राप्त कर सकते है।
वर्ड 2002 की टूलबार्स
वर्ड 2002 में विभिन्न कार्यो को करने केे लिए विन्डोज के वातावरण मे कार्य करने वाले अन्य एप्लीकेशन प्रोग्राम्स के समान कमाण्ड्स विकल्पो के रूप मे मेन्यूज में स्थित तो होते ही है, साथ ही इसमे इन कार्यो को शीघ्रता से सम्पन्न करने के लिए ये कमाण्ड्स टुलबार्स पर टूल आइकन के रूप मे भी स्थित होती है। वर्ड 2002 में उन्नीस प्रकार की टूलबार्स दी होती है। वर्ड के लोड होने पर इसकी विन्डो टूलबार्स थ्वतउंजपदह एवं ैजंदकंतक प्रदर्शित होती है। अन्य टूलबार्स का प्रदर्शन कार्यानुसार स्वतः ही होता है और कार्य से पहले भी इनके प्रदर्शन निर्धारित कर सकते है।
वर्ड 2002 की विन्डो में टूलबार्स का प्रदर्शन निर्धारित करना
वर्ड 2002 की विन्डो मे टूलबार्स का प्रदर्शन से निर्धारित किया जा सकता है व्यू मेन्यू के विकल्प ज्ववसइंते का प्रयोग करके अथवा टूल बार पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दाया ं बटन क्लिक करके । व्यू मेन्यू के विकल्प ज्ववसइंते का प्रयोग करने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू और टूलबार पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शार्टकट मेन्यू दोनो समान होते है। दोनो ही मेन्यूज दो भांगो मे बंटे होते है और
च्ंहम 78
इनमे विकल्पो भी समान होते है। इस मेन्यू के पहले भाग मे दिए गए उन्नीस विकल्प टूलबार्स का प्रदर्शन निर्धारित करने के लिए और दूसरे भाग मे दिए गए एक विकल्प ब्नेजवउप्रम टूलबार्स को अपनी आवश्यकता एवं इच्छानुरूप प्रदर्शित
च्ंहम 79
करने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू में जिस टूलबार के नाम से पहले √ चिन्ह प्रदर्शित हो रहा है, वे टूलबार्स वर्ड 2002 की विन्डो में प्रदर्शित् हो रही होती है। इनमें से जिस टूलबार का प्रदर्शन हम वर्ड की विन्डो में करना चाहते है, उस टूलबार के नाम पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर क्लिक करने पर उसका प्रदर्शन वर्ड की विन्डो में होने लगता है।
इस मेन्यू के अन्तिम विकल्प ब्नेजवउप्रम का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। यदि हम वर्ड 2002 की विन्डो के ज्ववसे मेन्यू में दिए गए विकल्प ब्नेजवउप्रम का प्रयोग करते है, तो भी यही बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के तीन मुख्य विकल्प होते है ज्ववसइंतेए ब्वउउंदके तथा व्चजपवदे।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले मुख्य विकल्प ज्ववसइंते को चुनने पर इसका प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे ज्ववसइंते के नीचे दिए गए बाॅक्स मे ं वर्ड 2002 की सभी टूलबार्स के नाम प्रदर्शित होते है। इस चैक बाॅक्स पर क्लिक करते ही यह टूलबार चुन ली जाती है और इसका प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर होने लगता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे चार पुश बटन्स दिए होते हैै। पहले पु श बटन छमू पर क्लिक करने माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति छमू ज्ववसइंत डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ज्ववसइंत दंउम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे नई टूलबार का नाम टाइप कर दिया जाता है। यह टूलबार यदि इसी डाॅक्यूमेण्ट में लिए प्रभावी करनी है, तो डंाम जववसइंत ंअंपसंइसम जव के नीचे बने टैक्स्ट बाॅक्स में वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट का नाम चुन लेते है अन्यथा इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट का नाम चुन लेते है अन्यथा इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर बने डाउन ऐरेा पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होन वाली सूची में से छवतउंस विकल्प को चुनने पर यह सभी डाॅक्यूमेण्ट्स में प्रदर्शित होगी।
अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने अथवा म्दजमत ‘की‘ को दबाने पर इस नई टूलबार का नाम ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स मे ज्ववसइंते के नीचे दिए गए बाॅक्स मे चुना हुआ प्रदर्शित होता है और वर्ड 2002 की विन्डो मेें यह नई टूलबार भी अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति प्रदंिर्शत होती है।
ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए अन्य तीन विकल्प त्मदंउम ए क्मसमजम और त्मेमज का प्रयोग क्रमशः बनाई गई टूलबार का नाम बदनले , मिटाने और रिसेट करने के लिए किया जाता है। वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित टूलबार को चुनकर पुश बटन त्मेमज पर थ्क्लक करने पर संलग्न चित्र की भांति त्मेमज ज्ववसइंत डायलाॅग बाॅक्स प्रदंिर्शत होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में हमे यह निर्धारित करना होता है कि इस टूलाबर में किए गए परिवर्तन इसी डाॅक्यूमेण्ट फाइल के एिल प्रभावी होगे अथवा समस्त छवतउंस डाॅक्यूमेण्ट फाइल्स के लिए । यह पुश बटन केवल वर्ड 2002 की पूर्वनिर्धारित टूलबार्स को चुनने पर ही सक्रिय होता है, परन्तु इन टूलबार्स को चुनने पर त्मदंउम तथा क्मसमजम पुश बटन
च्ंहम 80
निष्क्रिय होते है। बनाई गई नई टूलबार विभिन्न कमाण्ड्स को आइकन्स के रूप में प्रदर्शित करने अथवा रिसैट की जा रही टूलबार पर अथवा किसी भी टूलबार पर अन्य कमाण्ड्स को टूलबार पर अन्य कमाण्ड्सए को टूल आइकन्स के रूप मे प्रदर्शित करने के लिए ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मूख्य विकल्प ब्वउउंदके का प्रयोग करना होता है।
इस मूख्य विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। डायलाॅग् बाॅक्स मे बाइगर्् आरे ब्ंजमहवतपमे के नीचे दिए गए बाॅक्स में वर्ड 2002 की समस्त कमाण्ड्स की श्रेणियो ;ब्ंजमहवतपमेद्ध की सूची प्रदर्शित होती है और दाई ब्वउउंदके के नीचे दिए गए बाॅक्स मेे बाई ओर के बाॅक्स मे चुनी गई श्रेणी मे स्थित कमाण्ड्स की सूची। बाई ओर श्रेणियों की सूची में से वांछित श्रेणी को
च्ंहम 81
चुनकर दाई ओर की सूची मे से वांिछत कमाण्ड पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करके ड्रैग करते हुए वांछित टूलबार पर लागर ड्राॅप कर देते है। पिछले पृष्ठ पर दिए गए अन्तिम चित्र में हम थ्पसम मेन्यू के विकल्प व्चमद को बनाई गई नई टूलबार पर ड्राॅप कर रहे है । अब यह टूल आइकन इस टूलबार पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होगा
ब्नेजवउप्रम डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प व्चजपवदे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो मे बंटा होता है।
पहला भाग च्मतेवदंसप्रमक डमदने ंदक ज्ववसइंते मे तीन विकल्प चैक बाॅक्स के रूप मे और एक विकल्प पुश बटन के रूप मे दिया होता है। पहले चैक बाॅक्स ैीवू ैजंदकंतक थ्वतउंजपदह जववसइंते ेींतम वद जूव तवूे को चुनकर पुश बटन ब्सवेम पर क्लिक करने पर स्टैण्डर्ड एवं फाॅरमेटिंग टूलबार्स दो पृथक् पंक्तियो मे प्रदर्शित होती है। दूसरे चैक बाॅक्स ।सूंले ेीवू निसस उमदने को चूनने से जब हम वर्ड की किसी मेन्यू पर माउस प्वाॅइन्टर को लाते है, तो उस मेन्यू को सभी विकल्प प्रदर्शित होते है और इस मेन्यू मे नीचे की ओर प्रदर्शित होने वाले दो डाउन ऐरो का प्रदर्शन बन्द हो जाता है। यदि हम इस चैक बाॅक्स को नही चुनते है, तो वर्ड 2002 की मेन्यूबार पर प्रयोग किए गए मेन्यू मे त्मबमदजसल प्रयोग की गई कमाण्ड्स का प्रदर्शन होता है और मेन्यू के अन्त मे दो डाउन ऐरो , जैसा कि हमने इसी अध्याय में मेन्यूज के बारे मे जानकारी देते समय बताया है। इस चैक बाॅक्स को चुनने पर तीसरा चैक बाॅक्स निष्क्रिय हो जाता है। दुसरे चेक बाॅक्स को चुनने पर तीसरे चैक बाॅक्स के सक्रिय होने पर इसे चुनकर पुश बटन ब्सवेम पर क्लिक करने के उपरान्त जब हम किसी मेन्यू को खोलते है, तो इस मेन्यू की कुछ कमाण्ड्स ही प्रदर्शित होती है, परन्तु कुछ समय उपरान्त इस मेन्यू की समस्त कमाण्ड्स प्रदर्शित होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे भाग व्जीमत के चार विकल्प चैक बाॅक्स के रूप में तथा एक सैलेक्शन बाॅक्स के रूप में दिया होता है। इस भाग के पहले विकल्प स्ंतहम प्बवदे पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 की विन्डो की सभी टूलबार्स पर टूल आइकन बडे आकार के प्रदर्शित होते है। दूसरे चैक बाॅक्स स्पेज विदज दंउम पद जीमपत विदज को चुनने पर फाॅन्ट का नाम उसी फाॅन्ट मे प्रर्दिर्शत होता है, जबकि इसे न चुनने पर यह वर्ड 2002 के क्मंिनसज फाॅन्ट में प्रदर्शित होते हैं । इस भाग के तीसरे बाॅक्स ैीवू ैबतममदज्पचे वद जववसइंते को चुनने से जब टूलबार के किसी टुलबार के किसी टूल पर
च्ंहम 82
यदि हम किसी टूलबार पर स्थित किसी टूल को मिटाना चाहते है, तो इस टूल पर आकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होन वाले शार्टकट मेन्यू मे से क्मसमजम विकल्प को चुनना होता है।
माउस प्वाॅइन्टर को लाया जाता है, तो एक पीले बाॅक्स मे एक इस टूल का नाम प्रदर्शित होता है तथा चैथे चैक बाॅक्स ैीवतज ेीवतजबनज ामले पद ैबतममदज्पचे को चुनने पर इस टूल का की-बोर्ड शार्टकट भी पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस भाग मे ंदिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर वर्ड 2002 की विन्डो में खुलने वाले मेन्यूल की शैली का निर्धारण किया जा सकता है।
वर्ड 2002 का प्रयोग
हम पहले भी चर्चा कर चुके है, कि वर्ड 2002 कए अत्यन्त समृद्ध एवं शक्तिशाली वर्ड प्रोसेसर है इस प्रोग्राम मे हम आधुनिक कार्यालय से सम्बन्धित विभिन्न प्रकार के पत्रो एवं प्रपत्रो का निर्माण अत्यन्त सरलता से एवं प्रभावशाली रूप् से कर सकते है।
इसके लिए हमें सर्वप्रथम पत्र अथा प्रपत्र की विषय-सूची को टाइप करना होता है, उसके बाद विषय-वस्तु को टाइप करने के बाद उसे पढंकर उसमे हुई त्रुटियों को दूर करके इसकी फाॅरमेटिंग करनी होती है। अब फाॅरमेटिंग के उपरान्त इसकी पृष्ठसज्जा और टैक्स्ट मे सुधार करके इसे किसी डिस्क् में सुरक्षित कर लिया जाता है तािा आवश्यकाता पडने पर इसका प्रिन्ट प्रिन्टर पर प्राप्त कर लिया जाता है। यह तो वर्ड 20002 का सामान्य कार्य है। इसमे हम अपने पत्र-व्यवहार को स्वाचालित कर सकते है और अपने डाॅक्युमेण्ट को वेब पेज की भांति प्रकाशित भी कर सकते है। अब हम वर्ड 2002 मे किए जा सकने वाले विभिन्न कार्यो के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।
वर्ड 2002 में नई फाइल बनाना
किसी भी प्रोग्राम में कोई भी कार्य करने के लिए कम-से-कम एक फाइल को बनाना आवश्यक होता है, इसीलिए हम वर्ड 2002 के प्रयोग में सबसे पहले हम इसमें फाइल बनाने के बारे में चर्चा करेंगे। वर्ड 2002 मे नई फाइल अनेक प्रकार से बनाई जा सकती है । वर्ड 2002 मेें नई रिक्त फाइल के अतिरिक्त वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित प्रारूपो पर आधारित नई फाइल भी बनाई जा सकती है।
वर्ड 2002 मेे नई रिक्त फाइल बनाना
वर्ड 2002 मे नई फाइल बनाने की निम्नांकित विधिया है
आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार पर दिए गए पहले टूल आइकन छमू व्ििपबम क्वबनउमदज पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले छमू व्ििपबम क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स में ठसंदा क्वबनउमदज विकल्प को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 मे एक नई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल खोजी जा सकती है।
वर्ड 20012 मे कार्य करते समय यदि हम की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ और छ ‘की‘ को एक साथ दबाने पर भी वर्ड 2002 में एक नई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल खोली जा सकती है।
वर्ड 2002 में कार्य करते समय नई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल बनाने के लिए इसकी एप्लीकेशन विन्डो मेें दाई ओर प्रदर्शित हाने वाले छमू क्वबनउमदज टास्क पेन में से ठसंदा क्वबनउमदज विकल्प पर क्लिक करना होगा।
च्ंहम 83
वर्ड 2002 मे कार्य करते समय नई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल बनाने के लिए इसकी विन्डो की मेन्यूबार बप दिए गए थ्पसम मेन्यू में प्रदर्शित होने वाले पूल डाउन मेन्यू मे से छमू विकल्प को चुने पर इसकी एप्लीकेशन विन्डो में प्रदर्शित होने वाले छमू क्वबनउमदज टास्क पेन मे से ठसंदा क्वबनउमदज विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
वर्ड 2002 में कार्य करते समय नई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल बनाने के लिए इसकी विन्डो की टूलबार पर दिएगए टूल आइकन छमू पर क्लिक करना होगा। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर तुरन्त नई रिक्त फाइल खुल जाएगी।
वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित प्रारूप के अनुरूप नई फाइल बनाना
वर्ड 2002 में दिए गए पूर्वनिर्धारित प्रारूप के अनुरूप नई फाइल बनाने के लिए आॅफिस ग्च् की शाॅर्टकट बार पर दिए गए पहले टूल आइकन छमू व्ििपबम क्वबनउमदज पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले छमू व्ििपबम क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स मेे दिए गए मूख्य विकल्प ळमदमतंस में रिक्त डाॅक्यूमेण्ट खोलने के लिए ठसंबा क्वबनउमदज को चुनने पहले हम यह निर्धारित करते है,कि नई फाइल बनाने का उद्देश्य क्या है?
च्ंहम 84
यहां पर हम यह मानकर चलते है कि हमे कोई पत्र लिखना है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स के मूख्य विकल्प स्मजजमत – ३ण् के चुनते है। जिस प्रकार हम पत्र के लिए पूर्वनिर्धारण प्रारूप का प्रयोग करेंगे उसी प्रकार अन्य उद्देश्य के लिए भी कर सकते है । इस मूख्य विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में पत्र से सम्बन्धित प्रारूपो का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र की भांति होता है। इसमें से वांछित प्रारूपो को चून लिया जाता है। तकनीकी भाषा में ये प्रारूपो टेम्पलेट फाइल्स कहलाती है। यदि हम ध्यान से देखेंगे तो पाएंगे इसमे कुछ प्रारूपो के नाम में ॅप्रंतके जुडा हुआ प्रदर्शन होता है, जिसमे से हम कह सकते है कि इस डायलाॅग बाॅक्स में विभिन्न टेम्पलेट फाइल्स एवं विजार्ड्स का प्रदर्शन होता है, जिसमें से हम आवश्यकतानुसार किसी को भी चुन सकते है।
यदि हम वर्ड 2002 की एप्लीकेशन विन्डो में दाई ओर प्रदर्शित होने वाली छमू क्वबनउमदज टास्क पेन विन्डो में छमू तिवउ जमउचसंजम के नीचे दिए गए विकल्प ळमदमतंस ज्मउचसंजम का प्रयोग करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाली ज्मउचसंजमे डायलाॅग बाॅक्स में भी यह सुविधा दी होती है
पूर्वनिर्धारित प्रारूप के अनुरूप पत्र तैयार करने के लिए छमू व्ििपबम क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स के मूख्य विकल्प स्मजजमत – थ्ंग को चुनने पर, इसमें टेम्पलेट फाइल्स एवं विजार्ड का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र की भांति तथा ज्मउचसंजमे डायलाॅग बाॅक्स में स्मजजमत – थ्ंग को चुनने पर , इसमे टेम्पलेट फाइल्स एवं विजार्ड का प्रदर्शन उपरोक्त चित्र की भांति होता है।
टेम्पलेट फाइल्स के आधार पर नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल बनाना
प्हले हम टेम्पलेट फाइल्स को प्रयोग करने के बारे मे ंजानकारी प्राप्त करते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में मान लीजिए , हम च्तवमिेेपवदस स्मजजमत नामक टेम्पलेट फाइल को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर वर्ड 2002 की विन्डो मेे इस टेम्पलेट का प्रदर्शन अग्रांकित चित्र की भांति होता है
टेम्पलेट फाइल्स एक ऐसी विशेष प्रकार की फाॅरमेटेड डाॅक्यूमेण्ट फाइल होती है, जिसमे अपनी आवश्यकतानुसार कुछ परिवर्तन करके हम डाॅक्यूमेण्ट को तैयार कर सकते है। टेम्पलेट फाइल्स पर कार्य करने पर इस मूल फाइल में कोई परिवर्तन नही होता है, बल्कि यह कए नई फाइल के रूप में प्रयोग लाई जाती है जिसे कि हम किसी भी नाम से सुरक्षित कर सकते है।
च्ंहम 85
यहा पर हम एक ही टेम्पलेट फाइल को प्रयोग करने के बारे मे बता रहे है, शेष टेम्पलेट फाइल्स का प्रयोग भी इस प्रकार किया जा सकता है।
इस टेम्पलेट फाइल में विभिन्न कार्यो के लिए विभिन्न कार्यो के लिए विभिन्न स्थान निर्धारित होते है, जैसे जो कम्पनी पत्र भेज रही है, उसका नाम ब्वउचंदल छंउम भ्मतम के स्थान पर टाइप कर दिया जाता है। इसी प्रकार सभी कार्यो को करके हम इस टेम्पलेट के अनुरूप् नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल तैयार कर सकते है।
विजार्ड का प्रयोग करके नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल बनाना
विजार्ड का प्रयोग करना अत्यन्त ही सरल है। छमू वििपबम क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स अथवा ज्मउचसंजमे डायलाॅग बाॅक्स मे कोई विजार्ड चुनकर उसके अनुरूप् कार्य किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में चार विजार्ड्स होते है म्दमअमसवच ॅप्रंतकए थ्ंग ॅप्रंतकए स्मजजमत ॅप्रंतक तथा डंपसपदह स्ंइमस ॅप्रंतक । इन विजार्ड्स में से किसी एक पर क्लिक करने पर उसके नाम के अनुरूप् डाॅक्यूमेण्ट तैयार किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में मान लीजिए, हम स्मजजमत ॅप्रंतक नामक विजार्ड को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे मान लीजिए , हम स्मजजमत ॅप्रंतक नामक विजार्ड को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है, तो वर्ड 2002 की विन्डो में आॅफिस असिस्टेन्ट अग्रांकित चित्र की भांति हमारे सम्मुख
विजार्ड किसी विशेष प्रकार की डाॅक्यूमेण्ट फाइल के निर्माण के लिए वांछित सूचनाओ को विभिन्न प्रकार के डायलाॅग बाॅक्स द्वारा हमसे ग्रहण करता है। विजार्ड को हम इस प्रकार भी परिभाषित कर सकते है ‘‘डायलाॅग बाॅक्स का वह समूह जिसके प्रयोग से किसी एक कार्य के बारे मे कदम-ब-कदम सूचनाएं प्रयोगकत्र्ता से प्राप्त करके कार्य को सम्पन्न करता है।‘‘
च्ंहम 86
तीन विकल्प पं्रस्तुत करता है ैमदक वदम समजजमत ए ैमदक स्मजजमते जव ं उंपसपदह सपेज तथा ब्ंदबमस । यद हमने वर्ड 2002 मे आॅफिस असिस्टेन्ट को आॅफ कर रखा है, तो हमे ये विकल्प संलग्न चित्र की भांति स्मजजमत ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
ैमदक वदम समजजमत विकल्प का प्रयोग इसमेे दिए जाने वाले पर ही पत्र भेजने के लिए डाॅक्यूमेण्ट तैयार करने के लिए, ैमदक स्मजजमते जव ं उंपसपदह सपेज विकल्प का प्रयोग तैयार किए जाने वाले पत्र को मेलिंग लिंस्ट द्वारा अनेक पतो पर भेजने के लिए एवं तीसरा विकल्प इस नए डाॅक्यूमेण्ट को ने बनाने के लिए होता है।
मान लीजिए, हमने ैमदक वदम समजजमत विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक किया । ऐसा करते ही माॅनीटर स्क्रीन पर स्मजजमत ॅप्रंतक रू ैजमच 1 व ि4 डायलाॅग बाॅक्स अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प स्मजजमत थ्वतउंज ए त्मबमपचपमदज प्दवि ए व्जीमत म्समउमदजे तथा ैमदकमत प्दवि होते है।
स्मजजमत ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स के पहले मुख्य विकल्प स्मजजमत थ्वतउंज को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र. की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे सबसे ऊपर पत्र में दिनांक की पंक्ति को लिखने के लिए विकल्प दिए होते है। क्ंजम स्पदम चैक बाॅक्स को चुनने पर यह भाग सक्रिय हो जाता है। इसके आगे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर पत्र में दिनांक को विभिन्न प्रकार से लिखे जाने से सम्बन्धित विकल्प दिए होते है। इनमे से किसी एक प्रकार को चुन लिया जाता है, यदि हम इन प्रकारो के अतिरिक्त किसी अन्य प्रकार से दिनांक की पंक्ति को टाइप करना चाहते है,तो इस टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप कर दिया
च्ंहम 87
जाता है। क्ंजम स्पदम के नीचे प्दबसनकम भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत ूपजी चंहम कमेपहद चैक बाॅक्स दिया होता है। इस चेक बाॅक्स को चुनने पर पत्र के दुसरे एवं इससे आगे वाले पृष्ठो पर हैडर व फूटर का प्रयोग किया जा सकता है। वर्तमान पत्र के पृष्ठ डिजाइन में यह विकल्प निष्क्रिय होता है।
इसके नीचे इस डायलाॅग बाॅक्स मे ब्ीववेम ं चंहम कमेपहद के नीचे एक टैक्स्ट बाॅक्स मे बनाई जाने वाली नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल के साथ जिस टेम्पलेट फाइल को सम्बद्ध ;।जजंबीद्ध करना चाहते है, का निर्धारण किया जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने विभिन्न टेम्पलेट्स फाइल्स की सूची प्रदर्शित होती है। चुनी गई टेम्पलेट के अनुरूप हमारा पत्र किस प्रकार प्रदर्शित होगा, इसका प्रदर्शन इस टैक्स्ट बाॅक्स के नीचे बने बाॅक्स में होता है। इस सूची में से जैसे ही हम कोई अन्य टेम्पलेेट फाइल चुनते है, तो इसके ऊपर चैक बाॅक्स के रूप दिया गया विकल्प प्दबसनकम भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत ूपजी चंहम कमेपहद सक्रिय हो जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ब्ीववेम ं समजजमत ेजलसम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर बने डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर इस पत्र केे लिए तीन स्टाइल्स की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में चुनी स्टाइल के अनुरूप हमारा पत्र किस प्रकार प्रदर्शित होगा, इसका प्रदर्शन इस टैक्स्ट बाॅक्स में बना होता है। यदि हमे बनाए जोन वाले पत्र का प्रिन्ट किसी पहले बने हूए लेटरहेड पर निकालना होता है तो हम इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे की ओर दिए गए चैक बाॅक्स च्तम.चतपदजमक समजजमतीमंक को चुनत है। अब इसके नीचे दिए गए दो विकल्पो सक्रिय हो जाते है। इन दोनो विकल्पो को प्रयोग क्रमशः लेटरहेड पृष्ठ में किस ओर है और इस लेटरहेड के लिए छोडे जाने वाले स्थान के बारे में सूचनाए देने के लिए किया जाता है।
स्मजजमत ॅप्रंतक के इस डायलाॅग बाॅक्स में सूचनाओ की पूर्ति करने के पश्चात् पुश बटन छमगज अथवा दूसरे
च्ंहम 88
इस डायलाॅग बाॅक्स मे यह पत्र व्यक्ति अथवा प्रतिष्ठान को भेजा जाना है, उसके नाम व पता आदि से सम्बन्धित सूचनाएं दी जाती है। यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो में बंटा होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले भाग में सबसे ऊपर ब्सपबा ीमतम जव नेम ।ककतमेे ठववा के सामने बने आइकन पर क्लिक करने से यदि हमने ।ककतमेे ठववा को लोड किया हुआ है, तो इसमें से किसी नाम व पते को चुना चा सकता है।
त्मबपचपमदजष्े छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे उस व्यक्ति का नाम टाइप किया जाता है, जिस व्यक्ति को हम यह पत्र प्रेषित करना है। एक बार जिस व्यक्ति का नाम इस टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप कर दिया जाता है, वह इस बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मे जुड जाता है। जब हम भविष्य में इसी व्यक्ति को पत्र प्रषित करते है, तो हम सूची मेे इस नाम को चुन सकते है। अब हमें इस नाम को टाइप नही करना होता है।
इसके नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में उस व्यक्ति का पता टाइप किया जाता है, जिसे यह पत्र भेजा जाना है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे भाग ैंसनजंजपवद में उस व्यक्ति को सम्बोधन एवं अभिवादन निर्धारित किया जाता है। इस भाग में इसके चार विकल्प रेडियो बटन्स के रूप मे दिए होते है। इन विकल्प में से वांछित विकल्प को चुनकर इस भाग में दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे वांछित सम्बोधन एवुं अभिवादन टाइप कर दिया जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स की दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाली सूची मेें से भी वांछित सम्बोधन एवं अभिवादन को चुना जा सकता है।
च्ंहम 89
यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो मे बंटो होता है, पहले भाग में पत्र मे जोडी जा सकने वाली पंक्तियो एवं दूसरे भाग मे प्रस्तुत पत्र की प्रति किस-किस व्यक्ति को भेजी जानी है, के बारे में सूचनाए देनी होती है। पहले भाग में दी गई शीर्षक पंक्तियो को उनके साथ बने येक बाॅक्स को चुनकर अपने पत्र में सम्मिलित किया जा सकता है। चैक बाॅक्स को चुनते ही इसके आगे बने टैक्स्ट बाॅक्सेज सक्रिय हो जाते है। अब इन टैक्स्ट बाॅक्सेज मे वांछित शीर्षक पंक्ति को टाइप किया जा सकता है अथवा इनके दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित हाने वाली सूची में से चुना जा सकता है। शीर्षक पंक्तियो के निर्धारण के पश्चात् अब ब्वनतजमेल ब्वचपमे में दिए जाने वाले नामो क लिए ।ककतमेे ठववा का प्रयोग कर सकते है अथवा इस भाग मेें दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप कर सकते है।
स्मजजमत ॅप्रंतक के इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित सूचनाओ की पूर्ति करने के पश्चात् पुश बटन छमगज अथवा चैथे मूख्य विकल्प ैमदकमत प्दवि पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति स्मजजमत ॅप्रंतक रू ैजमच 4 व ि4 प्रदर्शित होता है।
यह स्मजजमत ॅप्रंतक का चैथा तथा अन्तिम कदम होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में पत्र भेजने वाले से सम्बन्धित सूचनाए दी जात है। यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो में बंटा होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले भाग में भी ।ककतमेे ठववा का भी प्रयोग किया जा सकता है। ैमदकमतष्े दंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे पत्र भेजने वाले का नाम टाइप कर दिया जाता है। यदि हम किसी अन्य पत्र के लिए यह नाम पहले भी
च्ंहम 90
टाइप कर चुके है, तो इस टैक्स्ट के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मेें से उस नाम को चुना जा सकता है। यदि पत्र पर पत्र भेजने वाले का पता भी सम्मिलित करना है, तो इसके नीचे पर भेजने वाले का पता त्मजनतद ।ककतमेे के सम्मूख टाइप कर दिया जाता है और सम्मिलित नही करना है, तो इसके नीचे दिए गए चैक बाॅक्स व्उपज पर क्लिक कर दिया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे भाग में पत्र की समाप्ति से सम्बन्धित सूचनाए दी जाती है। ब्सवेपदह वाले भाग में सबसे पहले ब्वउचसपउमदजंतल ब्सवेपदह के सम्बन्ध मे सूचना दी जाती है। इसके सम्मूख बने टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप करके अथवा इसके दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले सूची में से चुनकर वांछित ब्वउचसपउमदजंतल ब्सवेपदह को निर्धारित किया जाता है।
इसी प्रकार श्रवइ जपजसम के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स में पत्र भेजने वाले के पदनाम , ब्वउचंदल के सामने पत्र भेजने वाले की कम्पनी के नाम, ओर यदि टाइपिस्ट का लघु नाम भी लिखा जाना है तो ॅतपजमतध्जलचपेज पदपजपंस के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप कर देते है। पत्र की ब्सवेपदह के लिए दी गई सूचनाओ के अनुरूप् पत्र में इन सूचनाओ का प्रदर्शन किस प्रकार का होगा , इसकी जानकारी च्तमअपमू वाले भाग मे होती रहती है।
स्मजजमत ॅप्रंतक के सभी चारो कदमो में वांछित सूचनाओ की पूर्ति के उपरान्त इस डायलाॅग बाॅक्स मे इससे पहले कदमो पर दी गई सूचनाओ को जांचना अथवा उनमे कोई संशोधन करना है, तो पुश बटन ढठंबा पर क्लिक करके पिछलेे कदमो पर जाकर किया जा सकता है। अब पुनः चैथे कदम पर आकर अथवा
च्ंहम 91
आॅफिस असिस्टेन्ट द्वारा पूछे गए प्रश्न क्व उवतम ूपजी जीम समजजमतघ् के नीचे दिए गए पहले विकल्प डंाम ंद मदअमसवचम का प्रयोग तैयार किए गए पत्र के लिए लिफाफा तैयार करने के लिए , दूसरे विकल्प डंाम ं उंपसपदह संइमस का प्रयोग मेलिंग लेबल बनाने के लिए तथा तीसरे विकल्प त्मजनतद स्मजजमत ॅप्रंतक का प्रयोग लेटर विजार्ड में वापस जाने के लिए इन विकल्पो पर क्लिक करके किया जाता है। पहले दोनो विकल्पो में से किसी भी एक विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर म्दअमसवचमे ंदक स्ंइमस डायलाॅग बाॅक्स मे संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मूख्य विकल्प म्दअमसवचमे और स्ंइमसे होते है। पहले मूख्य विकल्प म्दअमसवचमे को चुनकर इस डायलाॅग बाॅक्स मे लिफाफा तैयार करने से सम्बन्धित सूचनाएं देेनी होती है तथा दुसरे मूख्य विकल्प स्ंइमस को चुनकर मेलिंग लेबल बनाने से सम्बन्धित देनी होती है। उपरोक्त चित्र मे इस डायलाॅग बाॅक्स का
च्ंहम 92
प्हला मूख्य विकल्प म्दअमसवचमे चुना हुंआ है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे क्मसपअमतल ।ककतमेे के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे उस व्यक्ति का पता लिखा जाता है, जिसको यह पत्र प्रेषित किया जा रहा है, तथा त्मजनतद ।ककतमेे के नीचे दिए गए बाॅक्स में पत्र भेजने वाले का पता टाइप कर दिया जाता है।
लिफाफे के आकार एवं लिफाफे पर पतो के स्थान का निर्धारण ,इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए पुश बटन व्चजपवद पर अथवा इस डायलाॅग बाॅक्स में च्तमअपमू वाले भाग में प्रदर्शित होने वाले लिफाफे पर क्लिक करने पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होन वाले म्दअमसवचम व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स में किया जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मूख्य विकल्प म्दअमसवचम व्चजपवदे तथा च्तपदजपदह व्चजपवदे होते है। इस चित्र. में इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले मूख्य विकल्प म्दअमसवचम व्चजपवदे को चुना हुआ है । इस डायलाॅग बाॅक्स मे सबसे पहले लिफाफे के आकार को निर्धारित करने के लिए म्दअमसवचम ेप्रम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में वांछित आकार को चुन लिया जाता है। यदि हमारे लिफाफे का आकार इनसे भिन्न है तो , इस टैक्स्ट बाॅक्स में लिफाफे की लम्बाई और चैडाई को टाइप कर दिया जाता है।
क्मसपअमतल ।ककतमेे एवं त्मजनतद ।ककतमेे वाले भाग में इन पतो का लिफाफे पर स्थाप एवं फाॅन्ट नियत किया जाता है। इनमे दिए गए पुश बटन थ्वदज पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाले थ्वदज डायलाॅग बाॅक्स में फाॅन्ट का प्रकार एवं आकार निर्धारित किया जा सकता है। पतो का स्थान लिफाफे के बाएं सिरे तथा ऊपरी सिरे से दूरी क्रमशः थ्तवउ स्मजि तथा थ्तवउ ज्वच के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में इंचो मे निर्धारित की जाती है। इस प्रकार निर्धारित की गई दूरी के अनुरूप च्तमअपमू वाले भाग मे प्रदर्शित होने वाले लिफाफे मे ये दोनो पते प्रदर्शित होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मूख्य विकल्प च्तपदजपदह व्चजपवदे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति होता है।
यदि हमने म्दअमसवचमे ंदक स्ंइमसे डायलाॅग बाॅक्स मे थ्ममक वाले भाग में क्लिक किया होता ,तो भी इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति हो होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो मे बंटा होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के थ्ममक डमजीवक वाले भाग में यह निर्धारित किया जाता है
च्ंहम 93
कि लिफाफा प्रिन्टर में किस प्रकार लगाया जाएगा और थ्ममक तिवउ वाले भाग में यह निर्धारित किया जाता है कि लिफाफा प्रिन्टर में कहा रखा जाएगा ।
यदि हम लिफाफे के स्थान पर मेलिंग लेबल बनाना चाहते है, तो पृष्ठ 9़1 पर दिए गए पहले चित्र में आॅफिस असिस्टेन्ट द्वारा पूछे गए प्रश्न के उत्तर में दूसरा विकल्प डंाम ं उंपसपदह संइमस पर अथवा इसी पृष्ठ पर दिए गए चित्र मंें प्रदर्शित होने वाले म्दअमसवचमे ंदक स्ंइमसे डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मूख्य विकल्प स्ंइमस पर क्लिक करना होगा । अब इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संल्गन चित्र की भांति होता है। इस डयलाॅग बाॅक्स में पत्र प्राप्त करने वाले व्यक्ति का पता ।ककतमेे के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप किया जाता है। लेबल के आकार का निर्धारण पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर अथवा पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले स्ंइमस व्चजपवदे डायलाॅग् बाॅक्स मे किया जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में च्तपदजमत प्दवितउंजपवद के नीचे दिए गए दो विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। यदि हमारा प्रिन्टर डाॅट मैट्रिक्स प्रिन्टर है, तो पहले ंरेडियो बटन तथा यदि लेजर अथवा इंकजेट प्रिन्टर है, तो दूसरे रेडियो बटन पर क्लिक कर देते है। प्रिन्टर मे लेबल को किस प्रकार फीड किया जाएगा, इसका निर्धारण ज्तंल के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होन वाली सूची में से किसी विकल्प को चुनकर निर्धारित किया जाता है। लेबल का आकार च्तवकनबज छनउइमत के नीचे दी गई सूची में से निर्धारित किया जा सकता है। इस सूची में चुने गए लेबल के आकार के बारे में विस्तृत सूचनाएं स्ंइमस प्दवितउंजपवद के नीचे प्रदर्शित होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए पुश बटन क्मजंपसे पर अथवा स्ंइमस प्दवितउंजपवद में चूने गए लेबल के बारे में प्रदर्शित होने वाली सूचनाओ पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र. की भांति उस लेबल के बारे मे विस्तृत जानकारी प्रदर्शित होती है,इस डायलाॅग बाॅक्स में हम लेबल का आकार मे परिवर्तन भी कर सकते है। तैयार किए गए म्दअमसवचम अथवा स्ंइमस का प्रिन्ट म्दअमसवचमे ंदक स्ंइमसे डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन च्तपदज पर क्लिक करके प्रिन्टर पर प्राप्त किया जा सकता है।
च्ंहम 94
वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट को सुरक्षित करना
किसी भी प्रोग्राम पर कार्य करते समय उसे सुरक्षित करना आवश्यक होता है। वर्ड 2002 में उपरोक्तानुसार विजार्ड का प्रयोग करके बनाई गई नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल , अथवा इसके पहले बताए अनुसार बनाई गई रिक्त डाॅक्यूमेण्ट फाइल में टाइप किए गए टैक्स्ट अथवा किए गए काय्र को सुरक्षित करना अत्यन्त आवश्यक है। सुरक्षित किए गए कार्य को हम पुनः प्रयोग में भी ला सकते है।
यदि हम टैक्स्ट को सुरक्षित करते है और कार्य करते समय किसी कारणवश कम्प्युटर आॅफ हो जाता है, तो किया गया कार्य स्वतः ही मिट जाएगा । अतः डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य करते समय थोडी- थोडी देर बाद इसे सुरक्षित करते रहना चाहिए ।
वर्ड 2002 में डाॅक्यमेण्ट पर किए गए कार्य को तीन प्रकार से सुरक्षित किया जा सकता है। स्टैण्र्डड टूलबार पर दिए गए ैंअम आइकन पर क्लिक करके, मेन्यू बार पर फाइल मेन्यू मे से ैंअम विकल्प कांे चुनकर अथवा की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ एवं ै ‘की‘ दोनो को एक साथ दबाकर।
जब हम किसी नई फाइल को पहली बार सुरक्षित करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति ैंअम ।े डायलाॅग बाॅक्स भी प्रदर्शित होता है
इस डायलाॅग बाॅक्स मे ैंअम पद के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित फोल्डर अथवा डायरेक्ट्री को चुन लेते है, जिसमे कि हम इस नई डाॅक्यूमेण्ट फाइल को सुरक्षित करना चाहते है। इसकेे नीचे दिए गए बाॅक्स मे इस फोल्डर में स्थित अन्य फाइल्स के नामो की प्रदर्शन होता है। थ्पसम छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स जिसमे कि डंल 6 प्रदर्शित हो रहा है, मे इस फाइल का नाम वांछित नाम , जिस नाम से हम इस फाइल को सुरक्षित करना चाहते है, टाइप कर दिया जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर इससे पूर्व जिन नामो से डाॅक्यूमेण्ट फाइल्स को सुरक्षित किया गया था, उनकी सूची प्रदर्शित होती है। ैंअम ंे जलचम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे इस फाइल को किस प्रकार की फाइल के रूप सुरक्षित किया जाना है, यह सूचना दी जाती है। ठल क्मंिनसज इस टैक्स्ट बाॅक्स में ।े कवबनउमदज प्रदर्शित होता है। यदि हम किसी अन्य प्रकार की फाइल के रूप मे अपनी इस फाइल को सुरक्षित करना चाहते है तो इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 में सुरक्षित की जा सकने वाली फाइल के सम्भावित प्रकारो की सूची प्रदर्शित होती है, इस सूची मे से वांछित फाइल का प्राकर चुनकर फाइल को उसके अनुरूप को उसके सुरक्षित किया जा सकता है।
च्ंहम 95
ैंअम ।े डायलाॅग बाॅक्स की टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ज्ववसे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन प्रदर्शित होता है
इस उप-मेन्यू मे दिए गए विकल्प ैंअम व्चजपवदे को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैंअम डायलाॅग् बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में फाइल को सुरक्षित किए जाने से सम्बन्धित अनेक विकल्प दिए होते है।
चैक बाॅक्स के रूप में दिए गए पहले विकल्प ।सूंले बतमंजम इंबानच बवचल को चुनने से जब भी फाइल को सुरक्षित ;ैंअमद्ध किया जाता है, तो इसकी एक बैकअप फाइल, जिसका विस्तारित नाम ठ।ज्ञ होता है, बन जाती है। इसके बाद जब हम पुनः इस फाइल को सुरक्षित करते है, तो अब बनने वाली बैकअप फाइल, पहले बनी हुई बैकअप फाइल पर ओवरवेट हो जाती है अर्थात पहले वाली बैकअप फाइल के स्थान पर नई बैकअप फाइल बन जाती है। यह बैकअप फाइल उसी फोल्डर में बनती है, जिसमे कि हमारे सुरक्षित की गई डाॅक्यूमेण्ट फाइल स्थित है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे विकल्प ।ससवू ंिेज ेंअम का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट फाइल मे किए गए वर्तमान परिवर्तनो को भी स्मृति में रखते हुए फाइल को सुरक्षित करने के लिए किया जाता है फाइल को हम इस प्रकार सुरक्षित करने को थ्ंेज ैंअम कहा जाता है। इस विकल्प को चुूनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का चुना गया पहला विकल्प स्वतः ही क्मेमसमबज हो जाता है अर्थात् इन दोनो विकल्पो में से किसी एक विकल्प को ही चुना जा सकता है।
च्ंहम 96
वर्ड 2002 मे डाॅक्यूमेण्ट फाइल को थ्नसस ैंअम करना भी आवाश्यक है। थ्ंेज ैंअम करने पर डाॅक्यमेण्ट फाइल मंे किए गए समस्त परिवर्तनो को स्मृति मे रखा जाता है, अतः इस प्रकार सुरक्षित की गयी फाइल अधिक स्थान ग्रहण करती है, जबकि थ्नसस ैंअम मे फाइल का केवल वर्तमान प्रारूपो ही सुरक्षित होता है, और कोई भी परिवर्तन स्मृति नही होता , अतः इस प्रकार फाइल का आकार अपेक्षाकृत छोटा हो जाता है और यह डिस्क में कम स्थान घेरती है।
ैंअम डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए तीसरे विकल्प ।ससवू इंबाहतवनदक ेंअमे को चुनने पर इस डाॅक्यूमेण्ट को दूसरी बार अथवा इससे बार सुरक्षित करने पर डाॅक्यूमेण्ट को सुरक्षित करने का प्रक्रिया होते समय भी वर्ड 2002 में कार्य करते रह सकते है, फाइल को सुरक्षित करने के कार्य की प्रगति प्रदर्शन वर्ड 2002 की विन्डो की स्टेटसबार पर होता है।
चैथे विकल्प म्उइमक ज्तनम ज्लचम थ्वदजे को चुनने से वर्ड 2002 इस डाॅक्यूमेण्ट को सुरक्षित करते समय इसको तैयार करने में प्रयोग किए गए फाॅन्ट्स को भी इसके साथ सुरक्षित करता है। अब यदि इस डाॅक्यूमेण्ट को किस ऐसे कम्प्यूटर पर खोला जाता है जिसमे इस डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए फाॅन्ट्स स्थापित नही किए गए है, तो भी इस डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए फाॅन्ट्स का माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शन होगा और इसका प्रिन्ट भी प्राप्त किया जा सकता है।
इस विकल्प को चुनते ही इसके उप-विकल्प म्उइमक बींतंबजमते पद नेम वदसल तथा क्व दवज मउइमक बवउउवद ेलेजमउ विदजे भी सक्रिय हो जाते है अर्थात ये विकल्प ये केवल उसी समय सक्रिय होत है जबकि म्उइमक ज्तनम ज्लचम थ्वदजे विकल्प को चुना गया हो अन्यथा ये निष्क्रिय रहते है।
म्उइमक बींतंबजमते पद नेम वदसल विकल्प को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए फाॅन्ट के केवल उन्ही अक्षरो को सुरक्षित करता है जिनका कि प्रयोग इस डाॅक्यूमेण्ट मे किया गया है। क्व दवज मउइमक बवउउवउ ेलेजमउ विदजे विकल्प को चुनने से वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट को तैयार करने मे प्रयोग किए गए ऐसे ज्तनम ज्लचम फाॅन्ट्स , जिनका कि किसी भी कम्प्युटर में स्थापित होना आवश्यक-सा होता है अर्थात्, जोकि माइक्रोसाॅफ्ट विन्डोज आॅपरेटिंग सिस्टम तथा आॅफिस ग्च् में उपलब्ध होते है, डाॅक्यूमेण्ट के साथ ैजवतम नही होते है।
च्तवउचज वित कवबनउमदज चतवचमतजपमे विकल्प को चुनने पर जब हम इस फाइल को सुरक्षित करने के लिए ैंअम ंे डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ैंअम को दबाएंगे तो माॅनीटर स्क्रीन पर इस फाइल के लिए च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हम डाॅक्यूमेण्ट की प्राॅपर्टीज ; जैसे टाइटिल , विषय , लेखक आदि के बारे मे जानकारी प्रविष्ट कर सकते है। यह किसी भी डाॅक्यूमेण्ट को पहजी बार सुरक्षित करने पर ही प्रदर्शित होता है, जब हम किसी पहले तैयार ंडाॅक्यूमेण्ट को पुनः ैंअम ।े करते है , तो यह डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित नही होता ।
च्तवउचज जव ेंअम दवतउंस जमउचसंजम विकल्प को चुनने से अपना कार्य समाप्त करके वर्ड 2002 से बाहर आने पर वर्ड 2002 हमसे प्रत्येक बार इस डाॅक्यूमेण्ट की सैंटिंग ; जैसे हाशिये ;डंतहपदेद्धए फाॅन्ट ;थ्वदजद्ध आदि , को क्मंिनसज
वर्ड 2002 में किसी डाॅक्यूमेण्ट फाइल पर कार्य समाप्त करते समय फाइल को इस प्रकार सुरक्षित न करके फाइल मेन्यू के विकल्प ैंअम ।े का प्रयोग करना चाहिए । ैंअम ।े डायलाॅग बाॅक्स मेे इस फाइल के वर्तमान नाम से ही पुनः ैंअम करना चाहिए। वर्ड 2002 पहले से स्थित इस नाम से सुरक्षित की गई फाइल को त्मचसंबम करने के लिए हमसे पूछता है, यहां पर स्वीकृति देकर हम अपनी फाइल को लघु आकार सुरक्षित कर सकते है।
च्ंहम 97
सैटिंग के रूप सुरक्षित करने के लिए पूछता है और यदि इस चैक बाॅक्स को नही चुना हुआ है तो वर्ड 2002 हमसे पूछे बिना ही इसे छवतउंदस ज्मउचसंजम के रूप मे सुरक्षित करता है।
ैंअम सपदहनपेजपब कंजं विकल्प को चुनने पर वर्ड 2002 इस डाॅक्यूमेण्ट में प्रविष्ट किए गए स्पदहनपेजपब आंकडो; जैसे स्पीच तथा हस्तलिखित इनपुट आंकडे, को भी सुरक्षित करता है।
डंाम सवबंस बवचल व िेजवतमक वद दमजूवता वत तमउवअंइसम कतपअमे विकल्प को चुनने पर नेटवर्क अथवा त्मउवअंइसम क्तपअमे अर्थात फ्लाॅपी ड्राइव्स सुरक्षित फाइल की एक प्रति वर्तमान कार्यकारी ड्राइव्स मे अस्थाई रूप से सुरक्षित करता है। कार्य करते समय यदि किसी कारणवश मूल डाॅक्यूमेण्ट फाइल उपलब्ध नही है, तो वर्ड 2002 इस डाॅक्यूमेण्ट को किसी अन्य स्थान पर सुरक्षित करने के लिए सन्देश प्रदर्शित करता है, ताकि हमारे द्वारा इस फाइल पर किए गए कार्य , आंकडे अथवा फाइल ही क्षतिग्रस्त न हो।
ैंअम ।नजवत्मबवअमत पदवि मअमतल विकल्प को चुनकर हम यह निर्धारित करते है कि कितने समयान्तराल के उपरान्त वर्ड 2002 स्वतः ही उस डाॅक्यूमेण्ट के लिए एक अन्य त्मबवअमतल फाइल का निर्माण करे। इस समयान्तराल को इसके सामने बने मिनटबाॅक्स में निर्धारित किया जाता है। यह समयान्तराल 1 मिनट से 120 मिनट तक हो सकता है। यदि इस डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य करते समय अचानक लाइट चली जाती है ओर हमारा कम्प्यूटी बन्द हो जाता है अथवा किसी कारणवश हमारा कम्प्यूटर हैंग हो जाता है, तो वर्ड 2002 एक ।नजवत्मबवअमत फाइल को खोलता है। इस फाइल में वे सूचनाये भी होती है जिनको कि हम सुरक्षित नही कर पाये थे। किसी कारणवश यदि मूल डाॅक्यूमेण्ट क्षतिग्रस्त हो जाता है तो भी इस सुविधा के प्रयोग द्वारा हम इस डाॅक्यूमेण्ट को आंशिक अथवा पूर्ण रूप से पुनः प्राप्त कर सकते है।
ैंअम डायलाॅग बाॅक्स में ।नजवत्मबवअमत कमाण्ड का प्रयोग करने का तात्पर्य यह नही है, कि फाइल को सुरक्षित ही न किया जाए। डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य करते समय इस कार्य को समय-समय पर ैंअम करते रहना चाहिए और आप जब भी अपने डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य समापत करे तो ैंअम ।े कमाण्ड का प्रयोग करके डाॅक्यूमेण्ट को इसी नाम से पुनः सुरक्षित अवश्य करना चाहिए।
म्उइमक ेउंतज जंहे विकल्प को चुनने पर वर्ड 2002 इस डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए ैउंतज ज्ंहे को भी सुरक्षित करता है।
ैंअम ेउंतज जंह ंे ग्डच् चतवचमतजपमे पद ूमइ चंहमे विकल्प को चुनने पर वर्ड 2002 इस डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए सभी ैउंतज ज्ंहे एक स्थान पर एक भ्लचमतजमगज डंतानच स्ंदहनंहम ;भ्ज्डस्द्ध के रूप मे सुरक्षित करता है।
ैंअम ॅवतक पिसम ंे के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से चुने गए फाइल के प्रकारंो में से किसी एक को चुनकर यह निर्धारित किया जाता है कि इसके बाद जब भी हम डाॅक्यूमेण्ट फाइल को सुरक्षित करेगे , तो यह किस प्रकार की फाइल के ंरूप सुरक्षित हो। इसके नीचे दिए गए चैक बाॅक्स के रूप में दिए गए विकल्प क्पेंइसम मिंजनतमे पदजतवकनबमक ंजिमत के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में दिए गए विकल्पो के रूप मे दिए माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड के संस्करणो में से वांछित संस्करणो को चुनने से , जब इस
च्ंहम 98
फाइल को ैंअम किया जाएगा, तो चुने गए संस्करण के बाद के संस्करणो मे ंजिन नए मिंजनतमे को इसमें जोडा गया है, को उपयोग मे नही जाता है।
ैंअम ।े डायलाॅग बाॅक्स की टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ज्ववसे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर पृष्ठ 95 पर दिए गए चित्र की भांति इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू मे दिए गए विकल्प ैमबनतपजल व्चजपवदे का प्रयोग सुरक्षित किए जा रहे डाॅक्यूमेण्ट को और अधिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैमबनतपजल डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
ैमबनतपजल डायलाॅग बाॅक्स मे हम अपने डाॅक्यूमेण्ट को पासवर्ड देकर च्तवजमबज कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट को खोलने एवं डाॅक्यूमेण्ट को सम्पादित करने के लिए पासवर्ड निर्धारित कर सकते है। च्ंेेूवतक जव वचमद के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे कोई पासवर्ड निर्धारित करने पर , जब भी इस डाॅक्यूमेण्ट को खोला जाएगा , वर्ड 2002 हमसे इस पासवर्ड को मांगेगा और सही पासवर्ड मिलने पर ही यह फाइल खुलेगी, परन्तु फाइल के खुलने पर भी इस फाइन मे कोई भी परिवर्तन कर पाना सम्भवव नही होगा। यदि इस फाइल को किसी अन्य नाम से सुरक्षित कर दिया जाए तो उस नए नाम वाली फाइल मे कोई भी परिवर्तन किया जा सकता है।
पासवर्ड में 15 अक्षर तक हो सकता है। ये अक्षर कोई अंक एवं चिन्ह भी हो सकते है। पासवर्ड ब्ंेम.ेमदेपजपअम होता है अर्थात् पासवर्ड निर्धारित करते समय पासवर्ड में जहा पर हमने न्चचमतब्ंेम एवं स्वूमतब्ंेम के अक्षरो को प्रयोग किया, पासवर्ड का प्रयोग करके फाइल को खोलते समय वहां पर उसी ब्ंेम में अक्षरो को टाइप करना होगा। यदि ब्ंेम में कोई परिवर्तन है तो वर्ड 2002 उस पासवर्ड को नही मानेगा।
च्ंेेूवतक जव उवकपलि के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पासवर्ड निर्धारित करने पर डाॅक्यूमेण्ट फाइल खुल तो जाएगी परन्तु जैसेे ही हम इस फाइल मे कोई परिवर्तन करना चाहेगे , तो वर्ड 2002 हमसे इस पासवर्ड को पुछता है, अर्थात सही पासवर्ड टाइप करने के बाद ही हम इस फाइल मे कोई परिवर्तन अथवा सम्पादन कर सकते है। इसके नीचे दिए गए चैक बाॅक्स त्मंक.वदसल तमबवउउमदकमक को चुनने से फाइल को केवल देखने एवं पढने के लिए ही खोला जा सकता है उसमे कोई परिवर्तन कर पाना सम्भव नही होता। फाइल में परिवर्तन करने के लिए फाइल को किसी अन्य नाम से सुरक्षित करके उस नएर नाम वाली फाइल में ही परिवर्तन कर सकते है। इस विकल्प कांे चुनन पर कोई पासवर्ड निर्धारित करने की आवश्यकता नही होती ।
यदि हमने ैंअम डायलाॅग बाॅक्स में च्तवउचज वित क्वबनउमदज च्तवचमतजपमे विकल्प को चुना है, तो इस फाइल को सुरक्षित करने के लिए ैंअम ।े डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ैंअम को दबाने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर बाई ओर दिए गए चित्र की भांति इस फाइल के लिए च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स की टाइटिल बार पर डायलाॅग बाॅक्स के नाम के साथ फाइल का नाम भी प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पांय मुख्य विकल्प होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के प्रदर्शन के समय इसका दूसरा विकल्प चुना हुआ प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे ज्पजसम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे इस फाइल का शीर्षक निर्धारित
च्ंहम 99
करते है। यह शीर्षक फाइल के नाम से भिन्न हो सकता है। इस शीर्षक का प्रयोग इस फाइल की ैमंतबीपदह के दौरान किया जा सकता है। ैनइरमबज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में सुरक्षित की जाने वाली फाइल का विषय टाइप किया जाता है। इसका प्रयोग समान विषयों वाजी विभिन्न फाइल्स को ैमंतबी करने के लिए किया जाता है। ।नजीवत के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में फाइल के लेखक का नाम निर्धारित किया जाता है। इसी प्रकार इस डायलाॅग बाॅक्स में अन्य सूचनाएं दी जा सकती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले मुख्य विकल्प ळमदमतंस को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर डायलाॅग बाॅक्स ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में इस फाइल के बारे में विभिन्न सूचनाएं फाइल का नाम , फाइल का प्रकार , फाइल के फोल्डर की स्थिति , फाइल का आकार , फाइल का वह नाम जोकि डै.क्व्ै च्तवउचज पर प्रदर्शित होगा , फाइल कब तैयार की गयी , कब इसमेे सुधार किया गया आदि प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 100
इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प ैजंजपेजपबे कांे चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर बाई आरे दिए गए चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में फाइल कब तैयार की गयी, कब इसमें सुधार किया गया आदि सूचनाओ के साथ-साथ फाइल मे पृष्ठो , पैराग्राफ्स, पंक्तियो , अक्षरो एवं शब्दो के मध्य रिक्त स्थान अर्थात् स्पेस बार को भी एक अक्षर मानते हुए अक्षरो की संख्या के बारे में सूचनाएं प्रदर्शित होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के चैथे विकल्प ब्वदजमदजे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए बाॅक्स में फाइल के विभिन्न च्ंतजेय जैसे हेडिंग्स के नाम आदि प्रदर्शित होेते है। यह प्रदर्शन तभी होता है, जबकि हमने इस डायलाॅग बाॅक्स मे मुख्य विकल्प ैनउउंतल को चुनकर इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे प्रदर्शित होने वाले ैंअम च्तमअपमू च्पबजनतम चैक बाॅक्स को चुना हो।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पांचवे विकल्प ब्नेजवउ को चुनकर फाइल में अन्य विभिन्न सूचनाओ को जोडा अथवा मिटाया जा सकता है। इस विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे छंउम के सामने दिए गए बाॅक्स मे जोडी जाने वाली विभिन्न सूचनाओ की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में से वांछित सूचना को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में दिया गया पुश बटन ।कक सक्रिय हो जाता है।
इस सूचना से सम्बन्धित आंकडे किस प्रकार के है, इसका निर्धारण ज्लचम के सामने दिए गए बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मे से किसी एक को चुनकर किया जाता है और इस आंकडै को टंसनम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप कर दिया जाता है। अब पुश बटन ।कक पर क्लिक करने पर यह सूचना इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे च्तवचमतजपमे बाॅक्स में प्रदर्शित होने लगती है। किसी सूचना को मिटाने के लिए च्तवचमतजपमे बाॅक्स मे उसे चुनना होता है। इसको चुनते ही इस डायलाॅग बाॅक्स मेे दिया गया पुश बटन क्मसमजम सक्रिय हो जाता है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर च्तवचमतजपमे बाॅक्स मे चुनी गई सुचना इस डायलाॅग बाॅक्स मे से मिट जाती है।
अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर यह डाॅक्यूमेण्ट फाइल सुरक्षित हो जाती है।
वर्ड 2002 में रूलर का प्रयोग
वर्ड 2002 की विन्डो में ठल कमंिनसज क्षैतिज तथा ऊध्र्वाधर रूलर्स का प्रदर्शन होता है। इनका प्रदर्शन निर्धारित करने के लिए टपमू मेन्यू के विकल्प त्नसमत का प्रयोग किया जाता है। यह विकल्प टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है। एक बार इसका प्रयोग करने पर रूलर्स का प्रदर्शन होता है और दूसरी बार करने पर रूलर्स का प्रदर्शन नही होता है। रूलर्स को प्रयोग टैब निर्धारित करने, पैराग्राफ का इन्डेण्ट निर्धारित करने आदि के लिए किया जाता है। इनके बारे के विस्तृत चर्चा हम इसी अध्याय मे आगे करेंगें।
वर्ड 2002 में टैक्स्ट पर कार्य करना
वर्ड 2002 मे टैक्स्ट पर कार्य करने के अन्तर्गत टैक्स्ट को टाइप करना , टैक्स्ट को चुनना , काॅपी करना , इन्सर्ट करना और मिटाना आता है। साथ ही टैक्स्ट में स्पेलिंग एवं व्याकरण की जांच करना भी इसी के अन्तर्गत आता है। टैक्स्ट
च्ंहम 101
की फाॅरमेटिंग अर्थात टैक्स्ट के फाॅन्ट, पैराग्राफ , टैब्स, बाॅडर्स, बुलेट एवं नम्बर्स , ड्राॅप कैप, स्टाइल्स तथा की बैकग्राउण्ड ; भी टैक्स्ट पर कार्य करने मे विशेष महत्व रखती है।
टैक्स्ट टाइप करना
वर्ड 2002 में जब एक ठसंदा क्वबनउमदज फाइल खोली जाती है, तो इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल में कर्सर पृष्ठ के्र बाएं ऊपरी कोने अर्थात् पृष्ठ की पहली पंक्ति पर कार्य कर रहे है, तो जिस स्थान से हमे टैक्स्ट टाइप करना है, उस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करने पर कर्सर प्रदर्शित होने लगता है और हम यहां पर टाइप कर सकते है। टैक्स्ट टाइप करते समय लाइन बदलने के लिए टाइपराइटर के समान म्दजमत ‘की‘ को दबाने की आवश्यकता नही होती , वर्ड में लाइन के पूरी होते ही टैक्स्ट स्वतः ही अगली लाइन मे टाइप होता है। यदि हमने त्रुटिवश किसी लाइन में म्दजमत ‘की‘ को दबा दिया है, तो इस लाइन के अन्त मे कर्सर को माउस प्वाॅइन्टर अथवा ऐरो कीज की सहायता से लागर क्मस ‘की‘ को दबाने से अथवा इससे अगली लाइन के शुरू मे कर्सर को लाकर ठंबोचंबम ‘की‘ को दबाने से इस ़़त्रुटि को दूर किया जा सकता है।
वर्ड 2002 में टाइप करते समय म्दजमत ‘की‘ का प्रयोग केवल पैराग्राफ बदलने के लिए ही किया जाता है। किन्ही विशेष परिस्थितियों मे यदि पैराग्राफ बदले बिना ही नई लाइन प्रारम्भ करनी है, ैीपजि ‘की‘ एवं म्दजमत ‘की‘ दोनो को एक साथ दबाकर यह कार्य किया जा सकता है।
वर्ड 2002 में टैक्स्ट टाइप करते-करते यदि पृष्ठ पूरा हो जाता है तो हम स्वतः ही अगले पृष्ठ पर पहुंच जाते है। यदि किसी कारणवश हमें पृष्ठ को पूर्व ही नया पृष्ठ प्रारम्भ करना है तो ब्जतस ‘की‘ एवं म्दजमत ‘की‘ दोनो को एक साथ दबाकर यह कार्य किया जा सकता है।
टैक्स्ट टाइपिंग के मोड
वर्ड 2002 में हम डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट को दो मोड्स में टाइप कर सकते है। यह मोड है ंइन्सर्ट आॅन और इन्सर्ट आॅफ। वर्ड 2002 में सामान्यतः प्देमतज मोड में ही टैक्स्ट टाइप किया जाता है। इन्सर्ट मोड से आशय है कि यदि हमसे टाइप करते समय टैैक्स्ट में बीच में कुछ भाग छूट गया था और उसे कर्सर को उस स्थान पर रखकर टाइप करते है। इस मोड में टाइप करने से कर्सर के दाई ओर वाला टैक्स्ट टाइप किए जा रहे टैक्स्ट के साथ आगे बढता रहता है। यह इन्सर्ट आॅन मोड है। यदि हम इससे आगे के टैक्स्ट को मिटाते हुए टैक्स्ट टाइप करना चाहते है तो इसके लिए या तो हम इससे आगे के टैक्स्ट को चुनकर टैक्स्ट टाइप करते है या फिर वर्ड 2002 की स्टेटस बार पर निष्क्रिय व्टत् पर डबल क्लिक करने पर यह सक्रिय हो जाता है और अब टैक्स्ट को टाइप करने पर नया टैक्स्ट टाइप होता रहता है और इससे आगे का पहले वाला टैक्स्ट मिटाता चला जाता है। यह इन्सर्ट आॅफ मोड है।
की-बोर्ड पर प्देमतज ‘की‘ को दबाकर भी टैक्स्ट टाइपिंग के मोड में परिवर्तन किया जा सकता है।
आॅटो करेक्ट सुविधा टाइपिंग की त्रुटियोग का तुरन्त निराकरण करती है
टैक्स्ट को टाइप करते समय टाइपिस्ट कभी-कभी गलतियां कर देते है। सामान्यतः टाइप किए जाने वाले गलत शब्दो को वर्ड 2002 में दी गई आॅटो करेक्ट सुविधा स्वतः ही ठीक कर देता है। उदाहरण के लिए ।दक के स्थान पर
च्ंहम 102
।दक टाइप करने पर आॅटो करेक्ट इसे तुरन्त ही ।दक में परिवर्तित कर देता है। आॅटो करेक्ट के अन्तर्गत कुछ शब्द पूर्व परिभाषित होते है, इनके अतिरिक्त हम नए शब्दो को भी इसमे जोड सकते है। उदाहरण के लिए यदि हम यह चाहते है कि तचइ टाइप करने पर यह त्ंअप च्वबामज ठववो में परिवर्तित हो जाए, तो इसके लिए हमे वर्ड 2002 के टूल्स मेन्यू के विकल्प ।नजवब्वततमबज व्चजपवदे का प्रयोग करना होगा। इस विकल्प को प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पांच मुख्य विकल्प होते है। वर्ड 2002 की आॅटो करेक्ट सुविधा का प्रयोग करने से सम्बन्धित विभिन्न निर्धारण करने के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स के ।नजव ब्वततमबज मुख्य विकल्प का ही प्रयोग किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पहले चैक बाॅक्स ैीवू ।नजवब्वततमबज व्चजपवदे इनजजवदे को चुनने से टैक्स्ट को टाइप करते समय जो टैक्स्ट आॅटो करेक्ट सुविधा को लोन पर उसके नीचे एक नीले रंग का बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस बाॅक्स पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर सह एक बटन आइकन मे परिवर्तित हो जाता है। इस बटन आइकन पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति एक मेन्यू प्रदर्शित होता है, जिसमे तीन विकल्प दिए होते है। इस मेन्यू का पहला विकल्प इस आॅटो करेक्ट सुविधा से हुए कार्य को निरस्त करने के लिए होता है। दूसरा विकल्प आटो करेक्ट में इस कार्य को रोकने के लिए होता है तथा तीसरा विकल्प ।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स को प्रदर्शित करने के लिए होता है।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स ब्वततमबज ज्ॅव प्छपजपंस ब्।चपजंसे को चुनने से टाइप करते समय यदि हमने किसी शब्द के पहले दो अक्षर न्चचमत ब्ंेम अर्थात ब्ंचपजंसे में टाइप कर दिए है, तो आॅटो करेक्ट सुविधा उनमे से दूसरे अक्षर को स्वूमत ब्ंेम
में परिवर्तित कर देती है; जैसे यदि हम भ्ंचचल टाइप करते है, तो यह स्वतः ही भ्।चचल में परिवर्तित हो जाएगा ।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स ब्ंचपजंसप्रम पितेज समजजमत व िेमदजमदबमे को चुनने पर किसी भी वाक्य का पहला अक्षर न्चचमत ब्ंेम में स्वतः ही परिवर्तित हो जाता है। अंग्रेजी में वाक्य का प्रारम्भ पैराग्राफ के शुरू होने से अथवा फूल स्टाॅप (.) के बाद से होता है।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स ब्ंचपजंसप्रम पितेज समजजमत व िजंइसम बमससे को चुनने पर
च्ंहम 103
वर्ड 2002 में इन्सर्ट की गई टेबिल के सैल में टाइप किए गए टैक्स्ट का पहला अक्षर स्वतः ही न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाता है।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स ब्ंचपजंसप्रम दंउम व िकंले को चुनने पर दिनो का नाम टाइप करने पर उसका पहला अक्षर न्चचमत ब्ंेम मे स्वतः ही परिवर्तित हो जाता है।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स ब्वततमबज ंबबपकमदजंस नेम व िब्।च्े स्व्ब्ज्ञ ामल को चुनन पर , यदि टाइप करते समय दुर्घटनावश हमसे ब्ंचे स्वबा ‘की‘ दब गई है, तो यह उसे स्वतः ही उचित ब्ंेम में परिवर्तित कर देता है।
उदाहरण के लिए यदि भ्ंचचल टाइप करते समय ब्ंचे स्वबा ‘की‘ दब जाने से यह ी।च्च्ल् टाइप होता है, ।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स के चुने होने से यह स्वतः ही भ्ंचचल में परिवर्तित हो जाता है।
।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स त्मचसंबम जमगज ंे लवन जलचम को चुनने पर इसके नीचे दी गई सूची में बाएं काॅलम में दिए गए शब्द भी परिभाषित कर सकते है।
डदाहरण के लिए यदि हम यह चाहते है, कि तचइ टाइप होते ही यह त्ंअप च्वबामज ठववो में परिवर्तित हो जाए, तो इसके लिए हमे त्मचसंबम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅकस में तचइ टाइप करना होगा तथा ूपजी के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे त्ंअप च्वबामज ठववो । अब सक्रिय होने वाले पुश बटन ।कक पर क्लिक करने पर यह भी इसके नीचे प्रदर्शित होने वाले सूची मे जुड जाएगा। इस सूची मे से किसी शब्द को मिटाने के लिए उस शब्द को चुनने पर सक्रिय होने वाले क्मसमजम पुश बटन पर क्लिक कर देना ही पर्याप्त होगा।
।नजव ब्वततमबज के लिए विभिन्न अपवादो का निर्धारण करने के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए म्गबमचजपवदे पुश बटप पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति ।नजवब्वततमबज म्गबमचजपवदे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के तीन मुख्य विकल्प होते है। इस समय इसका पहला मुख्य विकल्प थ्पतेज स्मजजमत चुना होता है। इस प्रदर्शन मे हम यह निर्धारित करते है कि संक्षिप्त शब्द ;।इइतमअपंजपवदद्ध , जिसके अन्त में थ्नसस ैजवच ;ण्द्ध का प्रयोग होता है , के बाद आने वाले शब्द के उपरान्त आने वाले शब्द का पहला अक्षर न्चचमत ब्ंेम में न परिवर्तित हो जाए। यहां पर वर्ड 2002 मे पूर्व निर्धारित संक्षिप्त शब्दो की सूची प्रदर्शित होती है। हम उस सूची मे नए संक्षिप्त शब्द को जोडने का कार्य क्वदष्ज बंचपजंसप्रम ंजिमत के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में वांछित संक्षिप्त शब्द को टाइप करके पुश बटन ।कक पर क्लिक करके किया जा सकता है। अब यह शब्द भी इसके नीचे प्रदर्शित होने वाली सूची मे जुउ जाता है। पुश बटन ।कक इस टैक्स्ट बाॅक्स में कुछ भी टाइप करते ही सक्रिय हो जाता है। यदि हम इस सूची में दिए गए किसी संक्षिप्त शब्द को मिटाना चाहते है, तो उसे इस सूची मे से चुनने पर सक्रिय हो जाता है। यदि हम इस सूची मे दिए गए किसी संक्षिप्त शब्द को मिटाना चाहते है, तो उसे इस सूची में से चुनने पर सक्रिय होने वाले पुश बटन क्मसमजम पर क्लिक करना होगा ।
च्ंहम 104
इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मूख्य विकल्प प्छपजपंस ब्।चे का प्रयोग करने पर इस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शन पिछले पुष्ठ पर दिए गए मध्य के चित्र की भांति होता है।
इस प्रदर्शन में हम उन शब्दो का निर्धारण करते है, जिनके पहले दो अक्षरो हमेे न्चचमत ब्ंेम मे अवश्य चाहिए अर्थात इस प्रदर्शन मे हम निर्धारित शब्दो के पहले दो अक्षरो न्चचमत ब्ंेम मे होने पर वर्ड 2002 स्वतः ही उस शब्द का दूसरा अक्षर स्वूमत ब्ंेम में परिवर्तित नही करता है।
इसके अतिरिक्त यदि हम कुछ अन्य शब्दो के लिए भी यह चाहते है, कि आॅटो करेक्ट उनको स्वतः ही ठीक न करे , तो इसके बाद हमे इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प व्जीमत ब्वततमबजपवदे कांे चुनना होता है। इस मुख्य विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर दिए गए दाई ओर वाले चित्र की भांति होता है। इस प्रदर्शन में वांछित शब्द को क्वदष्ज ब्वततमबज के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप करके पुश बटन ।कक पर क्लिक कर दिया जाता है।
आॅटो टैक्स्ट सुविधा टाइपिंग को सरल बनाती है
वर्ड 2002 में दी गई आॅटो टैक्स्ट सुविधा इसमे टैक्स्ट को टाइप करना अथवा सरल बनाती है। इस सुविधा के अन्तर्गत वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट फाइल मे टाइप करते समय कुछ विशेष शब्दो अथवा वाक्यो के पहले कुछ अक्षरो को टाइप करते ही वे पीले बाॅक्स मे कर्सर के ऊपर प्रदर्शित होते है, अब म्दजमत ‘की‘ को दबाते है यह शब्द अथवा वाक्य हमारे डाॅक्यूमेण्ट मे टाइप किए गए अक्षरो से पूर्ण होते हुए जुड जाते है। आॅओ टैक्स्ट के लिए वर्ड 2002 मे अनेक शब्द पूर्व परिभाषित होते है। इसमें नए शब्दो को परिभाषित करने के लिए वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू क ।नजव ज्मगज विकल्प को चुनने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के पहले विकल्प ।नजव ज्मगज का प्रयोग करना होता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर निम्नांकित चित्र की भांति ।नजवब्वततमबज डायलाॅग बाॅक्स स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है
इस डायलाॅग बाॅक्स में म्दजमत ।नजवज्मगज मदजतपमे ीमतम के नीचे बने हुए टैक्स्ट बाॅक्स मे नया शब्द अथवा वाक्य टाइप कर दिया जाता है, अब पुश बटन ।कक पर क्लिक करने पर यह भी इसके नीचे प्रदर्शित होने वाली सूची में जुड जाता है। अब जब भी हम डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट टाइप करते जैसे ही इसके पहले कुछ अक्षर टाइप करेंगे, तो एक
च्ंहम 105
पीले बाॅक्स मे यह शब्द अथवा वाक्य माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। पिछले पृष्ठ पर दाई आरे दिए गए पहले चित्र. मे हमेन त्ंअप च्वबामज ठववो को ।नजव ज्मगज के रूप मे प्रयोग करने के लिए निर्धारित करने के लिए म्दजमत ।नजवज्मगज मदजतपमे ीमतम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे इसे टाइप किया तथा अब सक्रिय होनेे वाले पुश बटन ।कक पर क्लिक कर दिया । अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके इसे प्रभावी कर दिया। अब हम जब भी टैक्स्ट टाइप करते समय जैसे ही त्ंअप टाइप करेंगे, तो निम्नांकित चित्र की भांति पीले बाॅक्स में त्ंअप च्वबामज ठववो प्रदर्शित होगा । म्दजमत ‘की‘ को दबाते ही त्ंअप के स्थान पर त्ंअप च्वबामज ठववो प्रदर्शित होने लगेगा।
टैक्स्ट पर कार्य करते समय प्रयोग किए जाने वाले की-बोर्ड शाॅर्टकट्स
सामान्यतः तीव्र गति से कार्य करने के लिए माउस का प्रयोग किया जाता है , परन्तु टैक्स्ट को टाइप करते समय हमारे दोनो हाथ की-बोर्ड पर होते है। अतः बार-बार माउस का प्रयोग करने में असुविधा होती है, इसलिए वर्ड 2002 में टैक्स्ट पर कार्य करते समय कुछ आवश् यक कार्यो के लिए निम्नलिखित की-बोर्ड शाॅर्टकट्स का प्रयोग भी किया जाता है
ऐरो ‘की‘ कर्सर को एक अक्षर दाई ओर ले जाने के लिए।
ऐरो ‘की‘ कर्सर को एक अक्षर बाई ओर ले जाने के लिए।
एरो ‘की‘ कर्सर को एक लाइन ऊपर की ओर ले जाने के लिए ।
ऐरो ‘की‘ कर्सर को एक लाइन नीचे की ओर ले जाने के लिए ।
ब्जतस तथा ऐरो की कर्सर को एक शब्द दाई ओर ले जाने के लिए ।
ब्जतस तथा ऐरो ‘की‘ कर्सर को एक शब्द बाई ओर ले जाने के लिए।
ब्जतस तथा ऐरो ‘की‘ कर्सर को वर्तमान पैराग्राफ के पहली लाइन के पहले काॅलम मे ले जाने के लिए।
ब्जतस तथा ऐरो ‘की‘ कर्सर को वर्तमान पैराग्राफ के अन्तिम लाइन के अन्तिम शब्द के बाद ले जाने के लिए।
म्दक ‘की‘ कर्सर को वर्तमान लाइन के अन्त में ले जाने के लिए।
भ्वउम ‘की‘ कर्सर को वर्तमान लाइन के शुरू में ले जाने के लिए ।
ब्जतस एवं म्दक ‘की‘ कर्सर को डाॅक्यूमेण्ट लाइन के अन्त में ले जाने के लिए ।
ब्जतस एवं भ्वउम ‘की‘ कर्सर को डाॅक्यूमेण्ट लाइन के प्रारम्भ में ले जाने के लिए।
च्हन्च ‘की‘ डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित होने वाले पृष्ठ में कर्सर को वर्तमान लाइन से लगभग 12-13 लाइन ऊपर ले जाने के लिए।
च्हक्द ‘की‘ डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित होने वाले पृष्ठ में कर्सर को वर्तमान लाइन से लगभग 12-13 लाइन नीचे ले जाने के लिए।
अक्षर का आशय एक ब्ींतंबजमत से है, जोकि की-बोर्ड पर किसी एक ‘की‘ को दबाने पर बनता है, उदाहरण के लिए ैीनइींउ एक ऐसा शब्द हे, जिसमे ैएीएनएइएीएं तथा उ सात अक्षर है।
च्ंहम 106
टैक्स्ट को चुनना
टैक्स्ट को किसी भाग को चुंनने की आवश्यकता शब्द संसाधन ;ॅवतक च्तवबमेेपदहद्ध के कार्य में पडती ही रहती है। टैक्स्ट के किसी भाग को चुनना टैक्स्ट पर कार्य करने के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण कदम है। टैक्स्ट को चुनकर हम टैक्स्ट को मिटा सकते है, उसकी फाॅरमेटिंग कर सकते है, उसके ऊपर नया टैक्स्ट टाइप अथवा प्देमतज कर सकते है। वर्ड 2002 में टैक्स्ट को माउस एवं की-बोर्ड पर विभिन्न कीज का प्रयोग करके चुना जा सकता है।
माउस की सहायता से टैक्स्ट को चुनना
माउस द्वारा टैक्स्ट के किसी भाग को चुनने के लिए माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से उस स्थान पर क्लिक करना होगा जहां से हमे यह टैक्स्ट चुनना है, अब माउस को ड्रैग करते हुए उस स्थान तक ले जाते है, जहां तक का टैक्स्ट हमें चुनना है। जैसे-जैसे हम माउस को ड्रैग करते है, टैक्स्ट चुनता चला जाएगा ।चुना हुआ टैक्स्ट काले रंग की पट्टी में सफेद रंग से लिखा हुआ प्रदर्शित होता है। टैक्स्ट को चुनने का यह पारम्परिक तरीका है। माउस के द्वारा टैक्स्ट को हम निम्न प्रकार से भी चुन सकते है।
किसी शब्द पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर डबल क्लिक करके उसे चुना जा सकते है।
पैराग्राफ में किसी स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर लगातार तीन बार क्लिक करने पर इस पूरे पैराग्राफ को चुना जा सकता है।
टैक्स्ट मे किसी स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर चुनने का कार्य करने पर हम विभिन्न स्थानो का कार्य एक साथ कर सकते है। इसे हम मल्टीपल अथवा नाॅन-कान्टीनुअस सैलेक्शन कहते है। निम्नांकित चित्र में इसी प्रकार मल्टीपर सैलेक्शन को दर्शाया गया है।
टैक्स्ट में उस स्थान पर जहां से टैक्स्ट को चुनना है क्लिक करने के बाद की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर ,
च्ंहम 107
जहां तक का टैक्स्ट चुनना है, उस स्थान पर क्लिक करके वांछित टैक्स्ट चुना जा सकता है। इस प्रकार के चुनाव मे यदि हमेन शब्द के मध्य क्लिक किया है, तो यह शब्द पूरा चुन लिया जाता है।
किसी लाइन के शुरू में माउस प्वाॅइन्टर को लाने पर जब इसकी आकृति तीर के समान हो जाती है, क्लिक करने पर उस पूरा लाइन को चुना जा सकता है।
वर्ड 2002 के म्कपज मेन्यू के विकल्प ैमसमबज ।सस का प्रयोग करने पर सम्पूर्ण डाॅक्यूमेण्ट अपने सभी आॅब्जैक्ट्स के साथ चुन लिया जाता है।
की-बोर्ड की सहायता से टैक्स्ट को चुनना
की-बोर्ड की सहायता से टैक्स्ट को चुनने में ैीपजि ‘की‘ का विशेष महत्व है। किसी एक शब्द को चुनने के लिए ऐरो ‘की‘ की सहायता से उस शब्द के अन्त अथवा शुरू मे कर्सर को ले जाया जाता है। अब ैीपजि को दबाकर यदि कर्सर शब्द के शुरू में है तो त्पहीज ।ततवू ज्ञमल ; द्ध की सहायता से और यदि कर्सर शब्द के अन्त में है तो स्मजि ।ततवू ज्ञमल ; द्ध की सहायता से शब्द के क्रमशः अन्त अथवा शुरू मे आकर इसको चुना जा सकता है।
यदि हमने ऐरो कीज का प्रयोग करते समय ैीपजि ‘की‘ के साथ-साथ ब्जतस ‘की‘ को भी दबा रखा है तो ऐरो ‘की‘ को एक बार दबाने से ही शब्द चुन लिया जाता है।
यदि हम टैक्स्ट के किसी पूरे पैराग्राफ को चुनन चाहते है, तो कर्सर को इस पैराग्राफ की पहली पंक्ति के पहले अक्षर से पहले रखकर अथवा अन्तिम शब्द के बाद रखकर की-बोर्ड पर क्रमशः ब्जतस ‘की‘, ैीपजि ‘की‘ एवं क्वूद ।ततवू ज्ञमल ; द्ध अथवा ब्जतस ‘की‘ , ैीपजि ‘की‘ एवं न्च ।ततवू ज्ञमल ; द्ध को एक साथ दबाना होगा। यदि ैीपजि ‘की‘ को दबाकर क्वूद ।ततवू ज्ञमल ; द्ध को दबाया जाता है तो कर्सर के स्थान से दाई ओर लिखे अक्षर एवं इससे नीचे की लाइन मे कर्सर से पहले के अक्षर तक का टैक्स्ट चुन लिया जाता है।
इसी प्रकार इसके ठीक विपरीत यदि हम ैीपजि ‘की‘ को दबाकर न्च ।ततवू ज्ञमल ; द्ध को दबाते है तो कर्सर के स्थान से बाई ओर लिखे अक्षर एवं इससे ऊपर की लाइन में कर्सर की स्थिति के बाद के अक्षर तक का टैक्स्ट चुन लिया जाता है।
टैक्स्ट को मिटाना
टैक्स्ट पर कार्य करते समय कभी-कभी अनावश्यक टैक्स्ट भी टाइप हो जाता है अथवा टाइप किया गया टैक्स्ट गलत टाइप हो जाता है, तो इसे मिटाने के लिए आवश्यक हो जाता है। इस प्रकार के अनावश्यक अथवा गलत टैक्स्ट को मिटाने के लिए सामान्यतः की-बोर्ड पर क्मस ‘की‘ एवं ठंबोचंबम ‘की‘ का प्रयोग किया जाता है।
क्मस ‘की‘ का प्रयोग कर्सर की वर्तमान स्थिति से दाई ओर वाला अक्षर तथा ठंबोचंबम ‘की‘ का प्रयोग कर्सर की वर्तमान स्थिति से बाई ओर वाला अक्षर मिटाने के लिए किया जाता है। एक से अधिक अक्षरो , शब्दो अथवा वाक्यो को मिटाने के लिए इसे पहले बताई गई विधियो के अनुसार चुनकर की-बोर्ड पर क्मस ‘की‘ अथवा ठंबोचंबम ‘की‘ को दबाना होता है।
टैक्स्ट को काॅपी व इन्सर्ट करना
कभी-कभी एक जैसा ही टैक्स्ट अनेक स्थानो पर टाइप करना होता है। ऐसी स्थिति में वांेछित टैक्स्ट को विन्डोज
च्ंहम 108
के क्लिपबोर्ड पर काॅपी कर लिया जाता है। विन्डोज के क्लिपबोर्ड पर काॅपी करने के लिए टैक्स्ट के उस भाग को चुन लिया जाता हे, जिसे हम काॅपी करना चाहते है।
अब यदि हम यह चाहते हैं कि टैक्स्ट अपने स्थान से मिट जाए और क्लिपबोर्ड पर काॅपी हो जाए तो इसके लिए वर्ड 2002 की स्टेण्डर्ड टूलाबर पर स्थित टूल आइकन ब्नज का प्रयोग करते है अथवा की-बोर्ड पर ैीपजि एवं क्मस दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है।
यदि हम यह चाहते है कि टैक्स्ट अपने स्थान पर भी रहे और विन्डोज क्लिपबोर्ड पर काॅपी भी हो जाए तो इसके लिए वर्ड 2002 की स्टैण्डर्ड टूलबार पर स्थित टूल आइकन ब्वचल का प्रयोग करते है अथवा की-बोर्ड पर ब्जतस एवं प्देमतज दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है।
डपरोक्त दोनो प्रकार में से किसी भी प्रकार से विन्डोज के क्लिपबोर्ड पर काॅपी किए गए टैक्स्ट को डाॅक्यूमेण्ट में जिस स्थान पर प्रयोग करना होता है, उस स्थान पर कर्सर को लाकर वर्ड 2002 की स्टैण्डर्ड टूलबार पर स्थित टूल आइकन च्ंेजम का प्रयोग करते है अथवा की-बोर्ड पर ैीपजि एवं प्देमतज दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है। ऐसा करने से विन्डोज के क्लिपबोर्ड पर स्थित टैक्स्ट के दाई ओर च्ंेजम और प्देमतज हो जाता है। इस प्रकार इन्सर्ट किया गया टैक्स्ट अब से पहले काॅपी किया गया टैक्स्ट ही होता है।
वर्ड 2002 में एक दो नही पूरे चैबीस क्लिपबोर्ड की सुविधा दी गई है अर्थात् वर्ड 2002 में हमे 24 क्लिपबोर्ड्स का प्रयोग कर सकते है। इनका प्रयोग करने की विन्डो में ब्सपचइवंतक टास्क पेन को प्रदर्शित करना होगा । इसके लिए वर्ड 2002 की एप्लीकेशन विन्डो मे दाई ओर प्रदर्शित होने वाली टास्क पेनं में ऊपर दिए गए डाउन ऐरो के चिन्ह पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले मेन्यू के विकल्प ब्सपचइवंतक को चूनना होगा । अब टास्क पेन विन्डो में क्लिपबोर्ड टास्क पेन का प्रदर्शन होने लगता है। क्लिपबोर्ड टास्क पेन का प्रयोग करना हम पहले अध्याय के पृष्ठ 50 से 52 बताया है। क्लिप बोर्ड पर काॅपी किए गए आॅब्जैक्ट्स क्लिपबोर्ड टास्क पेन पर प्रदर्शित होते । इनमे से वांछित आॅब्जैक्ट पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर करने से वह आॅब्जैक्ट डाॅक्यूमेण्ट मे कर्सर के स्थान पर पेस्ट हो जाता है। वर्ड 2002 मे ज्यो ही काॅपी अथवा कट द्वारा आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी किए गए टैक्स्ट को पेस्ट करते है, च्ंेजम व्चजपवद बटन पेस्ट किए गए टैक्स्ट के बाद ठीक नीचे उपरोक्त चित्र की भांति के अनुसार इसके चार विकल्प प्रदर्शित होते है।
ज्ञममच ैवनतबम थ्वतउंजजपदह इस विकल्प को चुनने पर पेस्ट किया गया टैक्स्ट फाॅरमेट में रहता है।
डंजबी क्मेजपदंजपवद थ्वतउंजजपदह इस विकल्प को चुनने पर पेस्ट किया टैक्स्ट , उस स्थान के टैक्स्ट की फाॅरमेट के अनुरूप् हो जाता है, जिस स्थान पर टैक्स्ट को काॅपी किया गया है।
ज्ञममच ज्मगज व्दसल इस विकल्प को चुनने पर पेस्ट किए गए आॅब्जैक्ट में से केवल टैक्स्ट को ही पेस्ट करने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए यदि हम आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी की गई किसी टेबिल को डाॅक्यूमेण्ट
च्ंहम 109
में पेस्ट कर रहे हैं, तो यह एक टेबिल के रूप मे ही पेस्ट होती है, परन्तु यदि हम इस विकल्प का प्रयोग कर लेते हैं, तो यहां पर केवल इस टेबिल के विभिन्न सैल्स में टाइप किया गया टैक्स्ट ही वर्ड 2002 में कर्सर के स्थान पर पेस्ट होता है।
।चचसल ैजलसम व्त थ्वतउंजजपदह इस विकल्प का प्रयोग करने पर वर्ड 2002 की एप्लिकेशन विन्डो की टास्क पेन विन्डो में ैजलसमे ंदक थ्वतउंजजपदह ं नामक टेस्क पेन का पदर्शन होता है। जंहा से इस पेस्ट किए गए टैक्स्ट को नए फाॅरमेट कर सकते है।
यदि हम नही चाहते कि किसी टैक्स्ट अथवा आॅब्जेक्ट को पेस्ट करने पर च्ंेजम व्चजपवदे बटन का पदर्शन हो, तो इसके लिए ज्ववसे मेन्य के विकल्प व्चजपवदे को चुनने पर पदर्शित होने वाले व्चजपवदे का डाॅयलाग बाॅक्स में ब्नज ंदक च्ंेजम व्चजपवदे के नीचे दिए गए ैीवू च्ंेजम व्चजपवदे इनजजवदे बटन पर क्लिक करके इसे रिक्त अर्थात् अनचेक्ड करके पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है। अब च्ंेजम करने पर पेस्ट के लिए आॅब्जेक्ट च्ंेजम व्चजपवदे बटन पदर्शित नही होगा।
च्ंहम 110
ड्रैग एवं ड्राॅप का प्रयोग
वर्ड 2002 में टैक्स्ट अथवा किसी आॅब्जैक्ट उसके मूल स्थान पर किसी अन्स स्थान पर काॅपी अथवा मूव करने अथवा लिंक या हाइपर लिंक करने के लिए ड्रैग एवं ड्राॅप सुविधा का प्रयोग किया जाता है। इस सुविधा का उपयोग अधिक उपयोगी होता है, जब हमे सोर्स ;ैवनतबमद्ध दो तथा ;क्मेजपदंजपवदद्ध दो ही लोकेशन्स को डाॅक्यूमेण्ट पर आसानी से देख जा सकता है। इस कार्य को करने के लिए वांछित आॅब्जैक्ट को चुनकर माउस का दायां बटन दबाए हुए वांछित लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर लाकर माउस का दांया बटन छोडने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति एक मेन्यू प्रदर्शित होता है
इस मेन्यू के पहले विकल्प डवअम भ्मतम पर क्लिक करने पर चुना गया आॅब्जैक्ट अपने मूल स्थान से मिटकर इस नए स्थान अर्थात् लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर विस्थापित हो जाती है।
दूसरे विकल्प ब्वचल भ्मतम पर क्लिक करने पर चुना गया आॅब्जैक्ट अपने मूल स्थान पर बना रहता है और साथ ही इसकी प्रति इस नए स्थान अर्थात् लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर भी काॅपी हो जाता है।
तीसरे विकल्प स्पदा भ्मतम पर क्लिक करने पर चुना गया आॅब्जैक्ट अपने मूल स्थान पर बना रहता है और साथ ही इसकी एक प्रति अपने मूल फाॅरमेट एवं स्टाइल में इस नए स्थान अर्थात् लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर भी काॅपी हो जाती है। परन्तु अब यदि मूल स्थान पर स्थित आॅब्जैक्ट में कोई भी परिवर्तन किया जाता है, लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर स्थित इसकी काॅपी में वह परिवर्तन स्वतः प्रभावी होेता है।
चैथे विकल्प ब्तमंजम भ्लचमतसपदा भ्मतम पर क्लिक करने पर चुना गया आॅब्जैक्ट अपने मूल स्थान पर बना रहता है और साथ ही इसकी एक प्रति हाइपर लिंक के रूप में अपने मूल फाॅरमेट एवं स्टाइल में इस नए स्थान अर्थात् लक्ष्य ;क्मेजपदंजपवदद्ध लोकेशन पर भी हो जाती है। इस हाइपर लिंक का प्रयोग उस समय अधिक प्रभावी होता है, जब हम अपने डाॅक्यूमेण्ट को इन्टरनेट पर पब्लिश।

च्ंहम 111
डैªग एवं ड्राॅप प्रक्रिया का प्रयोग हम एक साथ दो डाॅक्युमेण्ट्स को खोलकर एक डाॅक्युमेण्ट से दूसरे डाॅक्युमेण्ट में भी किया जा सकता है। इसके पहले वर्ड 2002 के ॅपदकवू मेन्यु के ।ततंदहम ।सस विकल्प का प्रयोग करने पर दोनो डाॅक्युमेण्ट एक साथ प्रदर्शित होने लगते है। अब एक डाॅक्युमेण्ट से डैªग करते हुए दूसरे डाॅक्युमेण्ट मे लाकर ड्राॅप किया जा सकता है।
टाइप किए गए टैक्स्ट में शब्दो की स्पेलिंग तथा व्याकरण की जांच करना
वर्ड 2002 हमें अपने डाॅक्युमेण्ट मंे टाइप किए गए टैक्स्ट में स्पेलिंग तथा व्याकरण की जांच करने की सुविधा भी उपलब्ध कराता है। यह कार्य हम दो प्रकार से कर सकते है पहला शाॅर्टकट मेन्यु की सहायता से तथा दूसरा स्पेलिंग एण्ड ग्रामर डाॅयलाग बाॅक्स की सहायता से।
शाॅर्टकट मेन्यु की सहायता ये स्पेलिंग तथा व्याकरण की जांच करना
वर्ड 2002 में टैक्स्ट टाइप करते समय टैक्स्ट में यदि किसी शब्द के नीचे एक लाल अथवा हरे रंग की लहरदार रेखा प्रदर्शित होती है। लाल रंग की लहरदार रंेखा के प्रदर्शित होने का तात्पर्य है कि यंहा पर टैक्स में व्याकरण की गलती है। टाइपिस्ट इस ,त्रुटि का उसी समय अपने विवके एवं ज्ञान से भी ठीक कर सकता है और 2002 की सहायता से भी।
इस समय वर्ड 2002 से सहायता प्राप्त करने के लिए टाइपिस्ट को उस शब्द पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन दबाना होगा। अब माॅनिटर स्क्रीन पर एक शाॅर्टकट मेन्यू निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस शाॅर्टकट मेन्यू में ऊपर की ओर इस त्रुटि को दुर करने के लिए अन्य विकल्प दिए होतें है इनमे से उचित विकल्प को चुनकर इस त्रुटि को दूर किया जा सकता है।
चंहम 112
अब हम उपरोक्त चित्र का अध्ययन करते है । इस चित्र में लाल रंग की लहरदार रेखा का प्रदर्शन च्तवचमत छवनदे के अतिरिक्त मंतं के नींचे हो रहा है। चूंकि च्तवचमत छवनदे वाले शब्द डिक्शनरी मे नही होते है। अतः इनकी स्पेलिंग सही होने के बावजुद भी इन शब्दो के नीचें लाल रंग की लहरदार रेखा का प्रदर्शन हो रहा हैं, परंतु मंतं के नीचे लाल रंग की लहरदार रेखा का प्रदर्शन यह दर्शाता है, कि इस स्थान पर स्पेलिंग की त्रुटि हैै। इस शब्द पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्र्रदर्शित उपरोक्त चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में इस शब्द के लिए विभिन्न वैक्लिपिक शब्दों की सुची प्रदर्शित होती है। इस सुची मे से वंछित सही शब्द पर क्लिक करने पर यह सही शब्द गलत शब्द के स्थान पर डाॅक्युमेण्ट मे प्रदर्शित होने लगता है।
निम्नांकित चित्र में ज्ीमतम ूंे के नीचे हरे रंगकी लहरदार रेखा का प्रदर्शन यह दर्शाता है कि यंहा पर स्पेलिंग की त्रुटि न होकर व्याकरण की कोई त्रुटि है, क्योंकि ज्ीमतम और ूंे दोनो की स्पेलिंग सही है। यदि हम यंहा पर ध्यान से देखते है , तो पाते है, न दोनो शब्दो के मध्य एक से अधिक बारं ैचंबम ठंत का प्रयोग किया गया हैै। अब इस स्थान पर माउस का प्वाॅइन्टर लाकर दायां क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र के भांति प्रदर्शित होने वाले मेन्यु मे पूनः ज्ीमतम ूंे ही प्रदर्शित हो रहा है , परन्तु इन दोनो के मध्य एक रिक्त स्थान का ही प्रयोग किया गया है।
इसे चुनकर इस त्रुटि को दुर किया जा सकता है।
अगले पृष्ठ पर दिए चित्र मेेेें ज्ीमल के बाद ींे के नीचे हरे रंग की लहरदार रेखा का प्रदर्शन यह दर्शाता है कि यंहा पर भी स्पेलिंग की त्रुटि की कोई त्रुटि है। अब इस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन क्लिक करने पर दिए गए पहले चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में ींअम ही प्रदर्शित हो रहा है।
व्याकरण के अनुसार सही है, क्योंकि जीमल बहुवचन है, और ींे एकवचन के साथ प्रयोग होता है। शार्टकट मेन्यू में इसे चुनकर इस त्रुटि किया जा सकता है।
च्ंहम 113
स्पेलिंग एण्ड ग्रामर की सहायता से स्पेलिंग तथा व्याकरण की जांच करना
यदि टाइपिस्ट टाइप में होने वाली त्रुटियो को उस समय ठीक नहीं करता है, तो टाइप करने के बाद भी लाला लहरदार रेखा से रेखांकित शब्दो पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू का प्रयोग करके उस त्रुटि को दूर करना एक थका देने वाला कार्य प्रतीत होता है। ऐसी परिस्थिति के लिए वर्ड 2002 में ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत सुविधा को समाहित किया गया है।
वर्ड 2002 की स्टैण्डर्ड टूलबार पर ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत आइकन पर क्लिक करके अथवा इसको मेन्यूबार पर स्थित ज्ववसे मेेेन्यू के प्रथम विकल्प ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत को चुनकर अथवा की-बोर्ड पर फंक्शन ‘की‘ थ्7 को दबाकर स्पेलिंग एवं व्याकरण की जांच की जा सकती है। इन तीनों कार्यो में से कोई भी कार्य करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत डाॅयलाग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में शीर्षक पंक्ति में सह स्पेलिंग की जांच किस भाषा के लिए की जा रही है, यह सुचना भी प्रदर्शित होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ऊपर की ओर त्रुटि से सम्बन्धित जानकारी प्रदर्शित होती है। इसे इस प्रकार समझते हैं कि यदि त्रुटि स्पेलिंग से सम्बन्धित है, तो यहां पर छवज पद क्पबजपवदंतल प्रदर्शित होता है, यदि कर्ता और क्रिया से सम्बन्धित कोई त्रुटि है, तो ैनइरमबज दृ टमतइ ।हतममउमदज प्रदर्शित होता है, यदि शब्दो के मध्य अतिरिक्त रिक्त स्थान से सम्बन्धित त्रुटि है, तो म्गजतं ैचंबम इमजूममद ॅवतके प्रदर्शित होता है।
क्योंकि चित्र में छवज पद क्पबजपवदंतल प्रदर्शित हो रहा है और इसके नीचे वाले बाॅक्स में त्ंअप शब्द लाल रंग
च्ंहम 114
से दर्शाया गया है । चूंकि त्ंअप शब्द एक च्तवचमत छवनद है, और अधिकांश च्तवचमत छवनदे डिक्शनरी में नही होते है। अतः वर्ड 2002 इस शब्द को भी, त्रुटिपूर्ण दर्शाता ळै । चूंकि यह शब्द हमारे अनुसार सही है, अतः इस डायलाॅग बाॅक्स मे प्हदवतम ।सस पुश बटन पर क्लिक करते है।
यदि हम उस डायलाॅग बाॅक्स मे पुश बटन प्हदवतम व्दबम पर क्लिक करते है, तो डाॅक्युमेण्ट अन्य किसी स्थान पर इस शब्द के आने पर पुनः इस शब्द को त्रुटिपूर्ण शब्द के रूप में दर्शाया जाता है, परन्तु प्हदवतम ।सस पुश बटन पर क्लिक करके पर डाॅक्युमेण्ट में ये शब्द जितने स्थानो पर प्रयोग किया गया होगा, उन सभी स्पेलिंग एवं व्याकरण की जांच के दौरान त्रुटिपूर्ण नही दर्शाया जाएगा।
अब यह प्रोग्राम अगली त्रुटि को जांचता है और, अब निम्नांकित चित्र की भांति छवज पद क्पबजपवदंतल के स्थान पर ैनइरमबज दृ टमतइ ।हतममउमदज प्रदर्शित हो रहा है और इसके नीचे डाॅक्युमेण्ट में इस त्रुटि के साथ कुछ अन्य शब्द भी प्रदर्शित होते हैं।
यदि यह त्रुटि स्पेलिंग की होती है तो, ैनइरमबज दृ टमतइ ।हतममउमदज के स्थान पर छवज पद क्पबजपवदंतल प्रदर्शित हो रहा होता और इसके नीचे बने टैक्स्ट बाॅक्स में डाॅक्युमेण्ट का कुछ भाग प्रदर्शित होता है, एवं सम्भावित त्रुटि वाले शब्द लाल रंग से प्रदर्शित होते है । ये सम्भावित त्रुटिया शब्द की गलत स्पेलिंग, शब्दो को दोहराव, व्याकरण की त्रुटि अथवा गलत स्थान पर ब्ंचपजंस स्मजजमते का प्रयोग किया जाना इत्यादि हो सकती है।
इस टैक्स्ट बाॅक्स में हम इस त्रुटि का निवारण अपने ज्ञान व विवेक से भी कर सकते हैं या फिर इसमें ैनहहमेजपवदे के नीचे इस त्रुटि के निवारण लिए कुछ सुझाव की सुची प्रदर्शित होती है। इस सुची मे प्रथम शब्द वर्ड 2002 इस त्रुटि के निवारण के सर्वोपयुक्त मानता है, यदि आपके अनुसार इस शब्द के इस सुची में दिया गया कोईै अन्य शब्द उचित है तो उस शब्द को चुनकर पुश बटन ब्ींदहम पर क्लिक करले से गलत शब्द चुने गए शब्द से बदल जाता है।
चंहम 115
स्पेलिंग तथा व्याकरण की त्रुटियो के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाले विभिन्न पुश बटन्स में परिवर्तन हो जाता है।
केवल स्पेलिंग सम्बन्धी त्रुटियो के लिए प्रदर्शित होने वाले विभिन्न पुश बटन्स निम्नलिखित है
प्हदवतम ंसस इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि यह त्रुटि डाॅक्युमेण्ट में अन्यत्र किसी भी स्थान पर उसे अपरिवर्तित ही छोड दिया जाए। अब उसे पुनः इस डायलाॅग बाॅक्स में नही दर्शाया जाएगा।
।कक जव क्पबजपवदंतल इस पुश बटन पर क्लिक का तात्पर्य यह है, कि हम हाइलाइट शब्द को, जिसे कि वर्ड 2002 त्रुटिपूर्ण दर्शा रहा है, और हम उसे ठीक समझाते है, वर्ड 2002 को डिक्शनरी में जोड़ रहे है, ताकि यह इस शब्द को भविष्य में त्रुटिपूर्ण न दर्शाए।
ब्ींदहम ।सस इस पुश बटन पर क्लिक का तात्पर्य यह है, यह गलत शब्द डाॅक्युमेण्ट में जिस-जिस स्थान पर प्रयोग किया होगा, प्रत्येक उस स्थान यह ैनहहमेजपवदे वाले बाॅक्स मे चुने गए शब्द से विस्थापित हो जाए।
।नजवब्वततमबज इस पुश बटन पर क्लिक का तात्पर्य यह है, यह त्रुटिपुर्ण शब्द एवं ैनहहमेजपवदे वाले बाॅक्स में चुना गया इसका सही शब्द ।नजव ब्वततमबज में जुड जाए। इसके उपरान्त जब हम कभी भी इस शब्द को किसी डाॅक्युमेण्ट मेें टाइप करते है तो वर्ड 2002 इस शब्द की स्पेलिंग स्वतः ही सही कर देता है।
केवल व्याकरण सम्बन्धी त्रुटियों के लिए प्रदर्शित होने वाले पुश बटन्स निम्नलिखित है
प्हदवतम त्नसम इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि इस डाॅक्युमेण्ट में व्याकरण सम्बन्धी इस ़़़त्रुटि के लिए डिक्शनरी में परिभाषित नियम की अवहेलना कर दी जाए अर्थात् डाॅक्युमेण्ट में प्रत्येक उस स्थान पर जंहा व्याकरण सम्बन्धी यह त्रुटि है, उसे पुनः इस डायलाॅग बाॅक्स में न दर्शाया जाए।
छमगज ैमदजमदबम इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि इस डाॅक्युमेण्ट में व्याकरण सम्बन्धी इस त्रुटि को डाॅक्युमेण्ट विन्डो में क्लिक करके डंदनंससल इसमें वांछित सुधार करने के उपरान्त, इस सुधार को स्वीकारते हुए किसी अन्य त्रुटि को खोजने का कार्य प्रारम्भ किया जाए।
म्गचसंपद इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि इस डाॅक्युमेण्ट में व्याकरण सम्बन्धी इस त्रुटि से सम्बन्धित नियम को आॅफिस असिस्टेन्ट प्रदर्शित करे । पृष्ठ 113 पर दिए गए चित्र में इस नियम का प्रदर्शन हो रहा है।
दोनो ही प्रकार की त्रुटियों के लिए प्रदर्शित हेाने वाले पुश बटन्स निम्नलिखित हैं
प्हदवतम व्दबम इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि त्रुटि को केवल इसी स्थान पर इस त्रुटि को छोड देना। डाॅक्युमेण्ट में अन्य किसी स्थान पर इस स्थान पर इस त्रुटि के प्राप्त होने पर उसे पुनः इस डायलाॅग बाॅक्स में दर्शाया जाएगा।
ब्ींदहम इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि त्रुटि को केवल इसी स्थान पर सही करना। डाॅक्युमेण्ट में अन्य किसी सथाप पर इस त्रुटि के प्राप्त होेने पर उसे पुनः इस डायलाॅग बाॅक्स में दर्शाया जाएगा।?
व्चजपवदे स्पेलिंग की जांच करने के लिए विभिन्न कार्यो का निर्धारण इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले ैचमससपदह – ळतंउउंत डाॅयलाग बाॅक्स में किया जा सकता है।
यह डायलाॅग बाॅक्स के तीन भागो ैचमससपदह ए ळतंउउंत और च्तववपिदह ज्ववसे में बंटा होता है। ैचमससपदह वाले भाग में सात चैक बाॅक्स होते है। यदि चैक बाॅक्स ब्ीमबा ैचमससपदह ंे लवन जलचम को चुना हुआ है तो टैक्स्ट
च्ंहम 116
टाइप करते समय गलत स्पेलिंग होने पर शब्द के नीचे लाल रंग की लहरदार रेखा प्रदर्शित होती है और यदि इसे नहीं चुना हुआ है तो टाइप के समय स्पेलिंग गलत होने की जानकारी नहीं प्राप्त होती, साथ ही इसके नीचे दिया गया चैक बाॅक्स क्रियाशील नही होता। भ्पकम ैचमससपदह म्ततवते वद जीपे कवबनउमदज चैकबाॅक्स को चुनने पर गलत स्लेलिंग वाले शब्दों के नीचे लाल रंग की लहरदार लाइन नही प्रदर्शित होती है और यदि नही चुना हुआ है तो प्रदर्शित होती है।
चैक बाॅक्स ।सूंले ेनहहमेज बवततमबजपवदे को चुनने पर स्पेलिंग जांच के समय ैनहहमेजपवद वाले बाॅक्स में गलत स्पेलिंग वाले शब्द के लिए उचित शब्द का प्रदर्शन होता है और यदि इस चैक बाॅक्स को नही चुनते हैं तो ैनहहमेजपवद वाला बाॅक्स रिक्त प्रदर्शित होता है।
सम्भावित गलत स्पेलिंग के शब्दो के नीचे लहरदार लाल रंग की रेखा प्रदर्शित होती है। चैक बाॅक्स ैनहहमेज तिवउ उंपद कपबजपवदंतल वदसल को चुनने का तात्पर्य है कि स्पेलिंग की जांच 2002 में दी गई मुख्य डिक्शनरी से ही हो , लोड की गई किसी अन्य डिक्शनरी से नही।
यदि हम इस चैकबाॅक्स को नही चुनते हैं तो स्पेलिंग की जांच वर्ड 2002 की मुख्य डिक्शनरी के साथ-साथ किसी लोड की गई किसी अन्य डिक्शनरी से भी सम्भावित शब्दो का भी प्रदर्शन ैनहहमेजपवदे वाले बाॅक्स में होता है। चैक बाॅक्स प्हदवतम ूवतके पद न्च्च्म्त्ब्।ैम् को चुनने पर स्पेलिंग की जांच के समय डाॅक्युमेण्ट में वाक्यो के मध्य न्चचमत ब्ंेम के अक्षरोें में टाइप किए गए शब्दो को व्याकरण की त्रुटि मानी जाती है। चैक बाॅक्स प्हदवतम ूवतके ूपजी दनउइमते को चुनने पर स्पेलिंग की जांच के दौरान उन शब्दों को भी त्रुटिपर्ण नही माना जाता। चैक बाॅक्स प्हदवतम प्दजमतदमज ंदक पिसम ंककतमेेमे को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट में इन्टरनेट पते, फाइल्स के नाम एवं इलैक्ट्रानिक मेल (ई-मेल) को भी त्रुटिपूर्ण नही माना जाता। पुश बटन क्पबजपवदंतपमे पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में से कम्पयुटर में स्थापित अन्य डिक्शनरी को भी स्पेलिंग की जांच के लिए जोडा जा सकता है।
ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत डायलाॅग बाॅक्स के दुसरे भाग में व्याकरण की जांच से सम्बन्धित चार विकल्प चैक बाॅक्स के रूप मेे दिए होते है। इस भाग में दिए गए पहले चैक बाॅक्स ब्ीमबा ळतंउउंत ंे लवन जलचम को चुनने पर टैक्स्ट को टाइप करते समय यदि कोई व्याकरण की त्रुटि होती हेै, इसके नीचे भी एक हरे रंग की लहरदार रेखा प्रदर्शित होती है। यदि हम अपने डाॅक्युमेण्ट में व्याकरण की़ त्रुटि के नीचे इस लहरदार रेखा का प्रदर्शन नही चाहते है, तो इस भाग के दुंसरे चैक बाॅक्स भ्पकम ळतंउउंजपबंस मततवते पद जीपे कवबनउमदज को चुनना होगा । इसके नीचे दिए गए चैक बाॅक्स ब्ीमबा हतंउउंत ूपजी ेचमससपदह को चुनने से स्पेलिंग की जांच के समय ही व्याकरण सम्बन्धी त्रुटियो की भी जांच होती है, इसके लिए अलग से कोइ कमाण्ड नही देनी होती। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ैमजजपदहे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर सलंग्न चित्र की भांति ळतंउउंत ैमजजपदहे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मंें ॅतपजपदह ैजलसम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दांए कोने पर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने
च्ंहम 117
वाली ॅतपजपदह ैजलसमे में से वांछित ॅतपजपदह ैजलसम को चुना लिया जाता है। चुनी गई स्टाइल के अनुरूप ही इसके नीचे दी गई सूची में विभिन्न विकल्प स्वतः ही चुन लिए जाते है। यदि हम अपनी नई ॅतपजपदह ैजलसम बनाना चाहते है, तो इस सूची में से ब्नेजवउ विकल्प को चुन सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे ंळतंउउंत ंदक ेजलसम वचजपवदे के नीचे दिए गए बाॅक्स में दिए गए विकल्पो को अपनी स्टाइल के लिए निर्धारित कर सकते है। किसी पहले से बनी ॅतपजपदह ेजलसम के लिए निर्धारित विकल्पो मे परिवर्तन भी किया जा सकता है। इस हम डाॅक्यूमेण्अ के टैक्स्ट में स्पेलिंग एवं व्याकरण की त्रुटियो की जांच करके उन्हे दूर कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के उपरान्त व्ज्ञ पुश बटन पर क्लिक करने पर हम वापस ैचमससपदह – ळतंउउंत डायलाॅग बाॅक्स मे आ जाते है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में पूनः स्पेलिंग एवं व्याकरण की जांच होती है। वर्ड 2002 इससे पहले प्हदवतम ।सस पुश बटन द्वारा जिन शब्दो की अवहेलना की गई थी, उनको भी पुनः जांचता है।
न्दकव इस पुश बटन पर क्लिक करने का तात्पर्य है कि इससे पहले किए गए कार्य को निरस्त करना । इस पुश बटन पर क्लिक करने पर , स्पेल चैक प्रोग्राम , इससे पूर्व जांची गई स्पेलिंग अथवा व्याकरण की त्रुटि पर पंहुच जाता है और इसके लिए जो भी निर्धारण किया गया था, उसको निरस्त कर देता है।
ब्ीमबा ळतंउउंत यदि हम स्पेलिंग की जांच के साथ व्याकरण ;ळतंउउंतद्ध की जांच नही करना चाहते, तो इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे दिए गए चैक बाॅक्स ब्ीमबा ळतंउउंत पर क्लिकम करके इसे रिक्त कर देते है और यदि व्याकरण की जांच करना चाहते है तो इस चैक बाॅक्स पर क्लिक करके चुन लेते है। चुन हुए चैक बाॅक्स मे √ प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 118
डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट बाॅक्स का प्रयोग वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू के विकल्प ज्मगज ठवग को चुनकर किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार ़ हो जाती है।
अब इस माउस प्वाॅइन्टर को वर्ड 2002 की विन्डो में जिस स्थान पर हमे टैक्स्ट बाॅक्स चाहिए क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्न चित्र की भांति एक टैक्स्ट बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस टैक्स्ट बाॅक्स के आकार में परिवर्तन हम माउस प्वाॅइन्टर को इस टैक्स्ट बाॅक्स की परिधि पर क्लिक करने पर इसके चारो ओर बनी आठ नोड्स पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करके ड्रैग करते हुए कर सकते है। यदि हम नोड्स के अतिरिक्त परिधि पर किसी अन्य स्थान पर क्लिक करके ड्रैग करते है , तो डाॅक्यूमेण्ट में स्थान बदला जा सकता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स में हम वांछित टैक्स्ट टाइप कर सकते है। टैक्स्ट बाॅक्स को मिटाने के लिए इसकी परिधि पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करके क्मस ‘की‘ को दबाना होगा ।
टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार
टैक्स्ट बाॅक्स पर कार्य करने के लिए इस समय एक नई टूलबार ज्मगज ठवग भी वर्ड 2002 की विन्डो में प्रदर्शित होने लगती है। इस टूलबार को उपरोक्त चित्र मेे एक आयत से घिरा हुआ दर्शाया गया है। इस टैक्स्ट बाॅक्स पर स्थित विभिन्न टूल बटन्स एवं उनके कार्य निम्नलिखित है
ब्तमंजम ज्मगज ठवग स्पदा टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार पर स्थित इस टूल बटन का प्रयोग दो टैक्स्ट बाॅक्सेज को आपस में लिंक करने के लिए किा जाता है ताकि पहले टैक्स्ट बाॅक्स का अधिक होने पर दूसरे टैक्स्ट बाॅक्स मे जा सके। लिंक किया जाने वाला दूसरा टैक्स्ट बाॅक्स रिक्त होना चाहिए तथा कोई अन्य टैक्स्ट बाॅक्स नही होना चाहिए । जिस टैक्स्ट बाॅक्स से किसी रिक्त टैक्स्ट बाॅक्स को लिंक करना है, उसे चुनकर माउस प्वाॅइन्टर को इस टूल पर लाकर क्लिक करने पर माउस प्वाॅइन्टर की आकृति एक काॅफी मग की भांति हो जाती है और अब माउस प्वाॅइन्टर को किसी रिक्त टैक्स्ट बाॅक्स पर लाने पर इसकी आकृति अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति हो जाती है। अब इसे क्लिक करके पर यह टैक्स्ट बाॅक्स पहले टैक्स्ट बाॅक्स से अन्य टैक्स्ट बाॅक्स पहले से ही लिंक्ड है, तो माउस प्वाॅइन्टर की आकृति काॅफी मग की ही रहती है, परन्तु यदि यह
च्ंहम 119
किसी अन्य टैक्स्ट बाॅक्स से लिंक्ड है,तो यह लिंक किया जा सकता है। इसे इस प्रकार समझते है कि यदि टैक्स्ट बाॅक्स । को टैक्स्ट बाॅक्स ठ से लिंक किया गया है, तो अब टैक्स्ट बाॅक्स । को किसी अन्य टैक्स्ट बाॅक्स से लिंक नही किया सकता परन्तु टैक्स्ट बाॅक्स ठ को किसी अन्य टैक्स्ट बाॅक्स से लिंक किया जा सकता है। अब यदि टैक्स्ट बाॅक्स । में टाइप किया गया टैक्स्ट इस टैक्स्ट बाॅक्स के आकार से अधिक होता है, वह स्वतः ही टैक्स्ट बाॅक्स ठ में प्रवाहित होता है। लिंक्ड टैक्स्ट बाॅक्सेज एक ही डाॅक्यूमेण्ट के ही होने चाहिए। किसी अनरू डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट बाॅक्स को लिंक नही किया जा सकता ।
ठतमंा थ्वतूंतक स्पदा टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार पर स्थित इस टूल बटन का प्रयोग लिंक्ड दो टैक्स्ट बाॅक्सेज के लिंक को तोडने के लिए किया जाता है। किसी अन्य टैक्स्ट बाॅक्स से लिंक्ड टैक्स्ट बाॅक्स को चुनने पर ही यह टूल बटन सक्रिय होता है। यदि हमने टैक्स्ट बाॅक्स । को टैक्स्ट बाॅक्स ठ लिंक किया है, तो यह टूल बटन केवल तभी सक्रिय होता है, जबकि हमने टैक्स्ट बाॅक्स । को चुना हो। लिंक को टूटने पर दूसरे टैक्स्ट बाॅक्स में प्रवाहित हूआ टैक्स्ट पहले टैक्स्ट बाॅक्स में ही रह जाता है। अब इस टैक्स्ट बाॅक्स का आकार बढांकर इसे इस टैक्स्ट बाॅक्स में देखा जा सकता है।
च्तमअपवने ज्मगज ठवग टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार पर स्थित इस टूल बटन का प्रयोग लिंक्ड टैक्स्ट बाॅक्सेज में वर्तमान टैक्स्ट बाॅक्स से पहले टैक्स्ट बाॅक्स पर पहुंचने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लए यदि हमने टैक्स्ट बाॅक्स । को बाॅक्स ठ से , तथा टैक्स्ट बाॅक्स ठ को टैक्स्ट बाॅक्स ब् लिंक किया है, तो यह टूल बटन केवल तभी सक्रिय होता है, जबकि टैक्स्ट बाॅक्स ठ अथवा टैक्स्ट बाॅक्स ब् को चुना हो। यदि हमने टैक्स्ट बाॅक्स ब् को चुना है, तो इस टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट करने पर टैक्स्ट बाॅक्स ठ चुन लिया जाता है और यदि टैक्स्ट बाॅक्स ठ को चुना हुआ है, तो इस टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट बाॅक्स । चुन लिया जाता है।
छमगज ज्मगज ठवग टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार पर स्थित इस टूल बटन का प्रयोग लिंक्ड टैक्स्ट बाॅक्सेज में वर्तमान टैक्स्ट के बाद वाले टैक्स्ट बाॅक्स पर पंहुचने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए यदि हमने टैक्स्ट बाॅक्स । को एक बाॅक्स ठ से , तथा टैक्स्ट बाॅक्स ठ को टैक्स्ट बाॅक्स ब् से लिंक किया है, तो यह टूल बटन केवल तभी सक्रिय होता है, जबकि टैक्स्ट बाॅक्स । अथवा टैक्स्ट बाॅक्स ठ को चुना हो। यदि हमने टैक्स्ट बाॅक्स । को चुना है , तो इस टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट बाॅक्स ठ चुन लिया जाता है और यदि टैक्स्ट बाॅक्स ठ को चुना हुआ है, तो इस टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट बाॅक्स ब् चुन लिया जाता है।
ब्ींदहम ज्मगज क्पतमबजपवद टैक्स्ट बाॅक्स टूलबार पर स्थित इस टूल बटन का प्रयोग टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप किए गए टैक्स्ट बाॅक्स की दिशा को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट बाॅक्स टैक्स्ट बाॅक्स 900 घूमा जाता है।
च्ंहम 120
फाॅन्ट का निर्धारण
टैक्स्ट का फाॅन्ट निर्धारित करने का तात्पर्य टैक्स्ट के अक्षरो की आकृति बदलने से है। विभिन्न फाॅन्ट्स के अनुरूप अक्षरो की आकृति भिन्न-भिन्न होती है। उदाहरण के लिए त्।टप् च्व्ब्ज्ञम्ज् ठव्व्ज्ञै को ज्पउमे छमू त्वउंद फाॅन्ट्स से लिखा गया है यदि हम इसे भ्मसअमजपबं फाॅन्ट में लिखते है, तो इसका प्रदर्शन त्।टप् च्व्ब्ज्ञम्ज् ठव्व्ज्ञै होगा । इन दोनो में अक्षरो की आकृति भिन्न-भिन्न हैं।
चूंकि फाॅन्ट्स का व्यवस्थापन विन्डोज आॅपरेटिंग सिस्टम के द्वारा किया जाता है, अतः आॅफिस ग्च् के सभी एप्लीकेशन्स में सभी फाॅन्ट्स उपलब्ध होते है। अक्षरो की आकृति बदलने , टैक्स्ट के फाॅन्ट का निर्धारण वांछित टैक्स्ट को चुनकर किया जाता है। टैक्स्ट के फाॅन्ट के निर्धारण में टैक्स्ट का फाॅन्ट बदलना, फाॅन्ट का आकार बदलना , फाॅन्ट की स्टाइल बदलना, फाॅन्ट का रंग बदलना आदि कार्य आते है। टैक्स्ट को बिना चुने फाॅन्ट के निर्धारण के लिए फाॅरमेटिंग टूलबार एवं थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए प्रथम विकल्प थ्वदज का प्रयोग किया जाता है।
फाॅरमेटिंग टूलबार का प्रयोग करके फाॅन्ट का निर्धारण करना
डाॅक्यूमेण्ट में टाइप किए टैक्स्ट के फाॅन्ट प्रकार तथा आकार को बदलने के लिए स्टैण्डर्ड टूलबार पर दिए गए विभिन्न टूल्स का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए प्रयोग किए जाने वाले प्रमुख टूल्स निम्नलिखित हैं
थ्वदज
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के चुने हुए टैक्स्ट का फाॅन्ट बदलने अथवा फाॅन्ट को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने के लिए किया जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर हमारे कम्प्यूटर में लोड किए गए विभिन्न फाॅन्ट्स की सूची निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होती है
इस सूची मे से वांछित फाॅन्ट को चुन लिया जाता है। फाॅन्ट का चुनाव टैक्स्ट को टाइप करने का उपरान्त उसे चुनकर अथवा टैक्स्ट टाइप करने से पूर्व भी किया जा सकता है।
थ्वदज ैप्रम
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित यह टूल आइकन थ्वदज टूल आइकन के दाई ओर स्थित होता है। इसका प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्अ फाइल के चुने हुए टैक्स्ट के फाॅन्ट का आकार बदलने अथवा फाॅन्ट के वांछित आकार को
च्ंहम 121
चुनकर टैक्स्ट टाइप करने के लिए किया जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर फाॅन्ट्स के विभिन्न आकारो की सूची प्रदर्शित होती है, इस सूची में से वांछित फाॅन्ट के आकार को चुन लिया जाता है। यदि आकार इस सूची में प्रदर्शित नही हो रहा है और हमें टैक्स्ट का आकार वही करना है, उस आकार को इस टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप किया जा सकता है। फाॅन्ट का आकार 1 प्वाॅइन्ट से 1638 प्वाॅइन्ट के मध्य हो सकता है तथा इसका न्यूनतम वृद्धि 0.5 की हो सकती है। उदाहरण के लिए इस सूची में 12 के 14 ही प्रदर्शित होता है और हमें अपने टैक्स्ट का फाॅन्ट आकार 13.5 प्वाॅइन्ट रखना है, तो इस बाॅक्स में 13.5 टाइप कर देने से चुने गए टैक्स्ट अथवा टाइप किए जाने वाले टैक्स्ट का आकार 13.5 हो जाएगा ।
फाॅन्ट का आकार उसकी ऊंचाई के अनुरूप माना जाता है। जिस अनुपात में फाॅन्ट की ऊंचाई बढ़ती अथवा घटती है, उसी अनुपात में फाॅन्ट की चैडाई भी बढ़ती अथवा घटती है। एक इंच में 72 प्वाॅइन्ट्स होते है।
ठवसक ;ठद्ध
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के चुने हुए टैक्स्ट के फाॅन्ट को गहरे रंग ;ठवसकद्ध का करने के लिए किया जाता है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, एक बार चुनने पर टैक्स्ट का रंग गहरा और दूसरी बार चुनने पर पूनः सामान्य हल्के रंग का हो जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने पर भी वह ठवसक ही टाइप होगा , जब तक कि पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक नही किया जाता है।
प्जंसपब;प्द्ध
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के चुने हुए टैक्स्ट के फाॅन्ट को तिरछा ;प्जंसपबद्ध करने के लिए किया जाता है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, एक बार चुनने पर टैक्स्ट तिरछा और दूसरी बार चुनने पर पुनः सामान्य हो जाता है । इस टूल आइकन को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने पर भी वह प्जंसपब ही टाइप होगा , जब तक कि पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक नही किया जाता है।
न्दकमतसपदम ;न्द्ध
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के चुने हुए टैक्स्ट के फाॅन्ट को रेखांकित ;न्दकमतसपदमकद्ध करने के लिए किया जाता है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, एक बार चुनने पर टैक्स्ट रेखांकित और दूसरी बार चुनने पर पुनः सामान्य हो जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने पर भी वह रेखांकित ही टाइप होगा , जब तक कि पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक नही किया जाता है।
थ्वदज ब्वसवत
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित यह टूल आइकन सबसे दाई ओर प्रदर्शित होता है। पृष्ठ 120 पर दिए गए चित्र में इसे एक दीर्घवृत्त से घिरा हुआ दर्शाया गया है। इसका प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट फाइल के चुने हुए टैक्स्ट के फाॅन्ट के रंग को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। वर्ड 2002 में टैक्स्ट का पूर्वनिर्धारित रंग काला होता है, परन्तु यदि हम किसी अन्य रंग मे टैक्स्ट को चाहते है, तो इस टैक्स्ट के उस भाग को चुनकर इस बटन पर क्लिक करने से टैक्स्ट का रंग वह हो जाता है, जोकि इस टूल आइकन में । के नीचे प्रदर्शित हो रहा होता है। यदि यह
चंहम 122
रंग भी हमारा वांछित रंग नही है, तो इस टुल आइकन के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाली विभिन्न रंगो की सुंची में से वांछित रंग को चुना जा सकता है।
यदि इस सुची में भी हमारा वांछित रंग नही है, तो इस सुची में नीचे दिए गए विकल्प डवतम ब्वसवते पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र.की भांति ब्वसवते डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में से वांछित रंग चुनकर हम टैक्स्ट के फाॅन्ट के लिए निर्धारित कर सकते हैं। इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य विकल्प ैजंदकंतक एवं ब्नेजवउ होते है।
यदि हमारा वांछित रंग ैजंदकंतक रंगो में नही है, तो इसके दूसरे मुख्य विकल्प ब्नेजवउ का प्रयोग करने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र. की भांति होता है। इस डाॅयलाग बाॅक्स में नीचे त्मकण् ळतममद एवं ठसनम रं्र्रगों की प्रतिशत मात्रा टाइप करके वांछित रंग र्निधारित किया जा सकता है। टैक्स्ट के फाॅन्ट का वांछित रंग निर्धारित करने के बाद यदि हम इस टूल आइकन पर क्लिक करके टैक्स्ट को टाइप करते हैं तो निर्घारित किए गए रंग में टैक्स्ट टाइप होता है। टैक्स्ट का यह रंग केवल माॅनीटर पर ही प्रदर्शित नही होता है, यदि हम इसका प्रिन्ट किसी रंगीन प्रिन्टर पर प्राप्त करेंगे तो भी इसका रंग यही होगा ।
फाॅरमेटिेंग टूलबार पर दिए गए विभिन्न टूल्स ही टैक्स्ट के फाॅन्ट फाॅरमेट करने के लिए पर्याप्त नही है। उदाहरण के लिए यदि हमे अपने डाॅक्युमेण्ट मंें ब्व्2ए भ्2ैव्4 अथवा ग2़ल2 त्र ्र2 लिखना है, तो इसके लिए आवश्यक
च्ंहम 123
टूल्स फाॅरमेटिंग टूलबार पर नही दिए गए है। हमें इसके लिए वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए पहले विकल्प थ्वदज का प्रयोग करना होता है।
फाॅरमेट मेन्यू प्रयोग करके फाॅन्ट का निर्धारण करना
वर्ड 2002 की मेन्यूबार पर थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए पहले विकल्प थ्वदज का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति थ्वदज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में हम फाॅन्ट, फाॅन्ट का आकार , फाॅन्ट की स्टाइल के साथ-साथ अक्षरो के बीच की दूरी भी निर्धारित कर सकते है। इस डायालाॅग बाॅक्स के तीन मुख्य विकल्प थ्वदजए ब्ींतंबजमत ैचंबपदह और ज्मगज म्ििमबज होते है। फाॅन्ट का निर्धारण करने के लिए पहले मुख्य विकल्प थ्वदज का प्रयोग किया जाता है। पहले मुख्य विकल्प थ्वदज को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन उपरोक्त चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वदज के नीचे प्रदर्शित होने वाले ज्मगज ठवग में वांिछत थ्वदज का नाम टाइप करते हैं अथवा इसके नीचे दी गई सूची में से वांछित प्रकार का थ्वदज चुन सकते है। थ्वदज ैजलसम के नीचे चुने गए थ्वदज के लिए हमारे पास उपलब्ध ैजलसमे दृ त्महनसंतए ठवसक ए प्जंसपब और ठवसक प्जंसपब प्रदर्शित होते है। यदि हमारे पास इन चारो में से किसी थ्वदज के लिए सभी ैजलसमे उपलब्ध नही है, तो जो भी ैजलसमे उपलब्ध नही है, तो जो भी ैजलसमे उपलब्ध है, उनकी सूची यहां प्रदर्शित होगी। टैक्स्ट के लिए वांछित स्टाइल इस सूची मे चुना जा सकती है। इसी प्रकार ैप्रम के नीचे बने ज्मगज ठवग में टैक्स्ट के फाॅन्ट का आकार निर्धारित किया जाता है। फॅान्ट को जो भी आकार , प्वाॅइन्ट्स में देना चाहते है, वह संख्या ज्लचम कर सकते है अथवा इसके नीचे दी गई सूची में वांछित आकार चुन सकते है। यदि हमे फाॅन्ट की ऊंचाई एक इंच करनी है, तो इसमे 72 टाइप किया जाएगा । एक इंच में 72 प्वाॅइन्ट्स होते है।
थ्वदज बवसवत के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करके टैक्स्ट के फाॅन्ट के रंग का निर्धारण किया जा सकता है। इस ऐरो पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाली विभिन्न रंगो की सूची में से वांछित रंग मे चुना जा सकता है।
न्दकमतसपदम ैजलसम के नीचे बने टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करके टैक्स्ट को रेखांकित ;न्दकमतसपदमद्ध करने के लिए रेखा का निर्धारण किया जाता है। इस डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सत्रह विकल्पो की सूची में से किसी एक को चुना जा सकता है। इनमे से पहले दो विकल्पो छवदम और ॅवतके वदसल होते है। छवदम विकल्प का प्रयोग टैक्स्ट रेखांकित न करने एवं ॅवतके व्दसल का प्रयोग केवल शब्द को ही रेखांकित करने के लिए किया जाता है। ॅवतके वदसल विकल्प का प्रयोग करने पर केवल शब्द होते है उनके मघ्य का स्पेस नही । यह स्पेसबार अथवा ज्ंइ ‘की‘ के प्रयोग से आता है। इसके नीचे टैक्स्ट को रेखांकित करने के लिए विभिन्न प्रकार
च्ंहम 124
की रेखाओ का प्रदर्शन होता है। इनमे से वांछित रेखा की रेखांकित के लिए जा सकता है। च्तमअपमू वाले भाग मे चुने गए फाॅन्ट के नाम पर फाॅन्ट का स्टाइल, आकार तथा रंग अनुंरूप प्रदर्शन होता रहता है।
टैक्स्ट पर विभिन्न इफैक्ट्स का प्रयोग
थ्वदज डायलाॅग बाॅक्स के म्ििमबजे वाले भाग में दिए गए 11 विभिन्न चैक बाॅक्स में से आवाश्यकतानुसार एक अथवा अधिक चैक बाॅक्स को चुनकर हम अपने टैक्स्ट के लिए म्ििमबज निर्धारित कर सकते है। निम्नांकित चित्र मेे हमने इन ग्यारहो म्ििमबजे को त्ंअप च्वबामज ठववो पर करके दर्शाया है
ैजतपामजीतवनही म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट के मध्य से एक क्षैतिज पतली रेखा टैक्स्ट को काटती हुई प्रदर्शित होती है। क्वनइसम ैतजपामजीतवनही म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट के मध्य से दो समानान्तर क्षैतिज पतली रेखाएं टैक्स्ट को काटती हुुई प्रदर्शित होती है। इन दोनो म्ििमबजे मे से एक ही म्ििमबज चुना जा सकता है। ैनचमतेबतपचज ब्ीमबा ठवग पर क्लिक करने से ज्मगज अपने वास्तविक आकार से छोटा और अपने स्थान से कुछ नीचे प्रदर्शित होता है। इन दोनो म्ििमबजे मे से एक ही म्ििमबज को चुना जा सकता है। ैींकवू म्ििमबज को चुनने पर टैक्स्ट के नीचे दाईै ओर टैक्स्ट के अनुरूप् एक छाया प्रदर्शित होती है। व्नजसपदम म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट का फाॅन्ट आउटलाइन के रूप में प्रदर्शित होता है अर्थात् फाॅन्ट के अक्षरो की बाहरी रेखाएं तो चुने गए रंग में प्रदर्शित होती है, परन्तु इन रेखाओ के मध्य रिक्त स्थान अथवा सफेछ रंग प्रदर्शित होता है। म्उइवेे म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट का प्रदर्शन इस प्रकार का होता है कि वह पृष्ठ से कुछ उठा हुआ प्रतीत होता है। म्दहतंअम म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट का प्रदर्शन इस प्रकार का होता है कि वह पृष्ठ में खुरचा हुआ-सा प्रतीत होता है। ैउंसस ब्ंचे म्ििमबज का प्रयोग करने पर टैक्स्ट के सभी स्वूमत ब्ंेम के अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है, परन्तु इनका आकार ज्मगज में न्चचमत ब्ंेम के अक्षरो से कुछ छोटा होता है। ।सस ब्ंचे म्ििमबज का प्रयोग करने से टैक्स्ट मे किसी भी ब्ंेम मे टाइप किए
च्ंहम 125
गए अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है। भ्पककमद ब्ीमबा ठवग पर क्लिक करने से ज्मगज डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित नही होता। च्तमअपमू वाले भाग में चुने गए फाॅन्ट पर प्रयोग किए गए म्ििमबजे के अनुरूप् प्रदर्शन होता रहता है।
टैक्स्ट के कैरेक्टर्स में मध्य की दूरी निर्धारण करना
टैक्स्ट बाॅक्स कैरेक्टर्स के मध्य की दूरी का निर्धारण करने के लिए थ्वदज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए दूसरे मुख्य विकल्प ब्ींतंबजमत ैचमससपदह का प्रयोग किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ब्ींतंबजमत ैचंबपदह को चुनने पर इसका प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ैबंसम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में फाॅन्ट का क्षैतिज विस्तार का निर्धारण किया जाता है। यदि इस सूची में से 100ः से अधिक चुनते है, तो इसकी चैडांई अधिक तथा यदि 100ः से कम चुनते है इसकी चैडाई कम हो जाती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ैचंबपदह के सामने दिए गए बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाली तीन प्रकार की ैचंबपदह में से किसी भी एक प्रकार की ैचंबपदह को चुना जाता है। छवतउंस ैचंबपदह को चुनने पर अक्षरो के बीच वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित अक्षरो के बीच की दूरी से कम और म्गचंदकमक ैचंबपदह को चुनने पर पूर्वनिर्धारित अक्षरो के बीच की दूरी से अधिक निर्धारित की जाती है। पूर्वनिर्धारित दूरी से यह कितना कम अथवा अधिक होगी, इसका प्रदर्शन इनके आगे बने ठल टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होता है। इन विकल्पो को चुनने पर इस टैक्स्ट बाॅक्स में 1चजण् लिखा हुआ प्रदर्शित होता है। इसका तात्पर्य यह है कि अब अक्षरो के बीचे की दूरी ॅवतक की पूर्वनिर्धारित दूरी से 1 प्वाॅइन्ट कम अथवा अधिक होगी। इस दूरी में परिवर्तन करने के लिए वांछित दूरी को ठल टैक्स्ट बाॅक्स में च्वपदजे में टाइप कर दिया जाता है। इसी प्रकार च्वेपजपवद के सामने दिए गए बाॅक्स के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर अक्षरो की सम्भावित च्वेपजपवदे के लिए तीन विकल्प दिए होते है। छवतउंस च्वेपजपवद अक्षरो की सामान्य स्थिति को दर्शाती है। त्ंपेमक विकल्प को चुनने पर टैक्स्ट अपने वास्तविक स्थान से ऊपर की ओर तथा स्वूमतमक विकल्प को चुनने पर नीचे की ओर विस्थापित हो जाता है। वर्ड 2002 में ठल क्मंिनसज यह विस्थापन 3 प्वाॅइन्ट का होता है।
टैक्स्ट में एनीमेटेड इफैक्ट्स का प्रयोग करना
टैक्स्ट में एनिमेटेड इफेक्ट का प्रयोग स्क्रीन पर डाॅक्यूमेण्ट में विशेष टैक्स्ट की ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए किया जाता है। इसके लि थ्वदजे डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प का प्रयोग किया जाता है। थ्वदजे डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प ज्मगज म्ििमबजे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ।दपउंजपवदे के नीचे दिए गए बाॅक्स में वर्ड 2002 में स्थित टैक्स्ट के लिए निर्धारित किए गए छह प्रकार के ।दपउंजपवद म्ििमबजे की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में वांछित ।दपउंजपवद म्ििमबज को चुनकर चुने गए टैक्स्ट के लिए प्रभावी कर सकते है। इन ।दपउंजपवद म्ििमबजे को केवल माॅनीटर स्क्रीन पर ही देखा जा सकता
च्ंहम 126
है, इनका प्रिन्ट नही प्राप्त किया जा सकता। एक बार में केवल एक ही ।दपउंदजपवद म्ििमबज को प्रयोग में लाया जा सकता है। इन ।दपउंजपवद म्ििमबजे का प्रयोग वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट फाइल का प्रयोग वेब पेज की भांति करने पर किया जाना अधिक प्रभावाशाली होता है। चुने गए ।दपउंजपवद म्ििमबज का प्रदर्शन च्तमअपमू बाॅक्स में होता है।
फाॅन्ट के निर्धारण के लिए वर्ड 2002 में कुछ की-बोर्ड शाॅर्टकट्स भी दिए गए है। इनके प्रयोग से हम फाॅन्ट के निर्धारण से सम्बन्धित विशेष कार्यो को शीघ्रतापूर्वक सम्पन्न कर सकते है। इन की-बोर्ड शाॅर्टकट्स का विवरण निम्नानुसार है
ब्जतसए ैीपजि तथा , ;ब्वउउंद्ध तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट का आकार , सूची में प्रदर्शित होने वाले आकार से छोटे आकार का हो जाता था । मान लीजिए, हमारा टैक्स्ट इस समय 16 प्वाॅइन्ट के आकार में है और हम इन तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है तो हमारे टैक्स्ट का आकार 14 प्वाॅइन्ट हो जाएगा क्योंकि इस सूची में 16 प्वाॅइन्ट से ठीक ऊपर 14प्वाॅइन्ट दिया हुआ है।
ब्जतस ए ैीपजि तथा , ;थ्नससेजवचद्ध तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट का आकार, सूची में प्रदर्शित होने वाले आकार से बडे आकार का हो जाता है। मान लीजिए, हमारा टैक्स्ट इस समय 14 प्वाॅइन्ट के आकार में हे और हम इन तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है तेा हमारे टैक्स्ट का आकार 16 प्वाॅइन्ट हो जाएगा , क्योंकि इस सुची में 16 प्वाॅइन्ट से ठीक ऊपर 14 प्वाॅइन्ट दिया हुआ है।
ब्जतस तथा , दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट मे चुने गए टैक्स्ट का आकार , एक प्वाॅइन्ट छोटा हो जाता है।
ब्जतस तथा ख् दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट का आकार , एक प्वाॅइन्ट बडा
च्ंहम 127
हो जाता है। मान लीजिए, हमारा टैक्स्ट इस समय 14 प्वाॅइन्ट के आकार में है ओैर हम इन दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाते है तो हमारे टैक्स्ट का आकार 15 प्वाॅइन्ट हो जाएगा जबकि फाॅन्ट के आकार की सूची में 15 प्वाॅइन्ट का आकार नही दिया गया है।
ैीपजि तथा फंक्शन ‘की‘ थ्3 दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट का ब्ंेम बदल जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है अर्थात् एक बार दबाने से कार्य होता है और दूसरी बार दबाने से कार्य निरस्त होता है। मान लीजिए, हमने ैीनइींउ को चुनकर इन दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाया तो यह ैभ्न्ठभ्।ड प्रदर्शित होगा। अब यदि हम पुनः इन दोनो ‘कीज‘ को दबाते है तो यह ेीनइींउ प्रदर्शित होगा अर्थात् एक बार प्रयोग करने पर सभी अक्षर न्चचमत ब्ंेम में तथा दूसरी बार प्रयोग करने पर सभी अक्षर स्वूमत ब्ंेम में हो जाएंगे।
ब्जतसए ैीपजि तथा । तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट के सभी अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है। मान लीजिए, हमने ैीनइींउ को चुनकर इन दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाया तो यह ैभ्न्ठभ्।ड प्रदर्शित होगा । अब यदि हम पुनः इन दोनो ‘कीज‘ को दबाते हैं तो यह ैीनइींउ प्रदर्शित होगा।
डपरोक्त दोनो संयोजनो में से पहले संयोजन ;ैीपज़िथ्3द्ध के अनुसार, दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने पर चुने गए टैक्स्ट के सभी अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है, पुनः इन दोनो ‘कीज‘ को दबाने पर ये सभी अक्षर स्वूमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है, भले ही इनके सभी अक्षर टैक्स्ट में पहले न्चचमत ब्ंेम में रहे हों, परन्तु दूसरे संयोजन ;ब्जतस़ैीपज़ि।द्ध के अनुसार तीनो ‘कीज‘ को दबाने से चुने गए टैक्स्ट के सभी अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है, परन्तु पुनः ‘कीज‘ को दबाने से टैक्स्ट के सभी अक्षर अपनी पुर्वस्थिति मे आ जाते है।
ब्जतस तथा ठ दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट बोल्ड हो जाता है। इन दोनो ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है, अर्थात् चुना गया टैक्स्ट पहले से ही बोल्ड है, तो इन ‘कीज‘ को दबाने से यह रेगुलर हो जाता है।
ब्जतस तथा प् (आई) दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट इटैलिक (तिरछा) हो जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के सामने कार्य करता है।
ब्जतस तथा न् दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट एक पतली रेखा द्वारा रेखांकित हो जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है।
ब्जतसए ैीपजि तथा ॅ तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुने गए टैक्स्ट के शब्द एक पतली रेखा द्वारा रेखांकित हो जाते है, शब्दो रिक्त स्थान रेखांकित नही होता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है।
ब्जतसए ैीपजि तथा क् तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट दो समानान्तर पतली रेखाओ द्वारा रेखांकित हो जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है।
ब्जतस एैीपजि तथा भ् तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट भ्पककमद हो जाता है, अर्थात् अब इसका प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर नही होता। इन ‘कीज‘ का संयोजन ‘टाॅगल की‘ से समान काय्र नही करता है।
च्ंहम 128
ब्जतसए ैीपजि तथा त्र तथा ‘कीज़‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट चुना गया टैक्स्ट ैनचमतेबतपचज हो जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है।
ब्जतस तथा त्र दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट ैनइेबतपचज हो जाता है। इन ‘कीज‘ का संयोजन भी ‘टाॅगल की‘ के समान कार्य करता है।
ब्जतसए ैीपजि तर्था तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाने से चुन गए टैक्स्ट पर की गई फाॅरमेटिंग निरस्त हो जाती है।
ब्जतसएैीपजि तथा फ तीनो ‘कीज‘ का एक साथ दबाने से चुना गया टैक्स्ट पर का फाॅन्ट कोई भी हो, वह ैलउइवस हो जाता है।
पैराग्राफ का निर्धारण करना
पैराग्राफ का निर्धारण के अन्तर्गत डाॅक्युमेण्ट के टैक्स्ट के ।सपहदउमदजए पैराग्राफ्स में प्दकमदज तथा पैराग्राफ के लाइन्स के बीच की दुरी को निर्धारित करना आता है। वर्ड 2002 में पैराग्राफ के निर्धारण के लिए थ्वतउंज मेन्यु में दिए गए च्ंतंहतंची विकल्प तथा फारमेटिंग टुल बार स्थित टूल का आइकन्स का प्रयोग करके पैराग्राफ का निर्धारण करना सीखते है।
चंहम 129
फाॅरमेटिंग टुलबार के टूल आइकन्स के प्रयोग करके पैराग्राफ का निर्धारण
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित कुछ टूल आइकन्स, जोकि निम्नालिखित हैे, का प्रयोग पैराग्राफ के निर्धारण के लिए किया जाता है
।सपहद स्मजि
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकान का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के जिस पैराग्राफ में कर्सर स्थित है, उसे केवल बाई ओर से सीधा में करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टाइप किए जाने वाला टैक्स्ट भी केवल बाई ओर से सीध मे रहेगा, दाई ओर से नही ।
ब्मदजमत
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के जिस पैराग्राफ में कर्सर स्थित है, उसे पुष्ठ की चैडाई के मध्य से सीध में करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकान को चुनकर टाअप किए जाने वाला टैक्स्ट भी केवल पुष्ठ की चैडाई के मध्य से ही सीधा में रहेगा, दाई अथवा बाई ओर से नही।
।सपहद त्पहीज
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल जिस पैराग्राफ में कर्सर स्थित है, उसे केवल दाई ओर से सीध में करने के लिए किया जाता है । इस टूल आइकन को चूनकर टाइप किए जाने वाला टैक्स्ट भी केवल दाई ओर से सीध मे रहेगा , बाई ओर से नही ।
श्रनेजपलि
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के जिस पैराग्राफ में कर्सर स्थित है, उसे दाई और बाई ओर दोनो से सीध मे करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टाइप किए जाने वाला टैक्स्ट भी दाई और बाई दोनो ओर से सीध में रहेगा। इस पैराग्राफ की अन्तिम पंक्ति केवल बाई ओर से सीध मे रहेगी।
स्पदम ैचंबपदह
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन को प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ्स की लाइन्स के मध्य की दुरी को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन के दाई ओर से बने हुए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर एक सुची प्रदर्शित होती है। इस सुची में 1.0, 1.5, 2.0, 2.5, 3.0 तथा उवतम विकल्प प्रदर्शित होते है। 1.0 विकल्प का प्रयोग चुने गए पैराग्राफ की लाइन्स के मध्य में एक लाइन की दूरी निर्धारित किया जाता है। इसी प्रकार 1.5 विकल्प का प्रयोग लाइन्स के मध्य में डेढ़ लाइन, 2.0 विकल्प का प्रयोग लाइन्स के मघ्य मे दो लाइन, 2.5 विकल्प का प्रयोग लाइन्स के मध्य में ढ़ाई लाइन तथा 3.0 विकल्प का प्रयोग लाइन्स के मघ्य में तीन लाइन्स की दूरी निर्धरित करने के लिए किया जाता है।
छनउइमतपदह
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ के पहले प्रत्येक पैराग्राफ को क्रमांक देने के लिए किया जाता है। इस टूल पर आइकन पर क्लिक करने पर चुने गए पैराग्राफ के पहले प्दकमदज में पैराग्राफ के क्रमांक प्रदर्शित होने लगते है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, एक बार चुनने पर चुने गए पैराग्राफ्स के क्रमांक प्रदर्शित होने लगते है और दुसरी बार चुनने
च्ंहम 130
पर पैराग्राफ्स के क्रमांक का प्रदर्शन बन्द हो जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने पर, प्रत्येक पैराग्राफ के लिए प्रदर्शित होगा, जब तक कि पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक नही किया जाता है।
ठनससमजे
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ्स के पहले प्रत्येक पैराग्राफ से पूर्व ठनससमज (पैराग्राफ्स को पृथक् करने के लिए विशेष चिन्ह; जैसे ण् आदि) प्रदर्शित के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक गरेन पर चुने गए पैराग्राफ्स के पहले प्दकमदज में पैराग्राफ से पूर्व ठनससमजे प्रदर्शित होने लगते है और दूसरी बार चुनने पर इनका प्रदर्शन बन्द हो जाता है। इस टूल आइकन को चुनकर टैक्स्ट टाइप करने पर, प्रत्येक पैराग्राफ के लिए ठनससमज प्रदर्शित होगा, जब तक कि पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक नही किया जाता।
प्दबतमंेपदह प्दकमदज
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ्स को पृष्ठ के बाएं तरफ सिरे से 0.5 इंच दाई ओर से व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर चुने गए पैराग्राफ्स पृष्ठ के बांए सिरे से 0.5 इंच दाई और खिसक जाते है। यह टूल आइकन पर पूनः क्लिक करने पर वर्तमान स्थिति से और 0.5 इंच दाई ओर खिसकता जाएगा। इस टूल आइकन का प्रयोग करने के उपरान्त पृष्ठ के बाए ंसिरे पर निर्धारित की गइ दूरी पर ही टैक्स्ट टाइप होता है।
क्मबतमंेपदह प्दकमदज
फाॅरमेटिंग टूलबार पर स्थित इस टुल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ्स , जोकि पृष्ठ के बाएं सिरे से 0.5 इंच अधिक दूरी पर स्थित है, को वर्तमान स्थिति से 0.5 इंच बाई ओर से व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर चुने गए पैराग्राफ्स वर्तमान स्थिति से पृष्ठ के बांए सिरे की ओर 0.5 इंच खिसक जाते है। यह टूल आइकन पर पुनः क्लिक करने पर वर्तमान स्थिति से पृष्ठ के बाएं सिरे की ओर 0.5 इंच खिसक जाते है। इस प्रकार हम जितनी बार इस टूल आइकन पर क्लिक करेंगे पैराग्राफ्स उतनी ही बार 0.5 इंच बाई ओर खिसकता जाएगा, परन्तु पृष्ठ के बाएं सिरे पर पैराग्राफ के आने के पश्चात् इस टूल आइकन का प्रयोग अप्रभावी होगा।
व्नजेपकम ठवतकमत
फॅारमेटिंग टूलबार स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 में डाॅक्युमेण्ट फाइल के चुने गए पैराग्राफ्स अथवा पैराग्राफ के टैक्स्ट के चारो ओर बाॅर्डर बनाने के लिए किया जाता है। इस टुल आइकन के दाएं सिरे पर दिए कए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति बाॅर्डर के लिए विभिन्न विकल्प आइकन्स के रूप में प्रदर्शित होते है।
च्ंहम 131
इनमे से वांछित प्रकार के बाॅर्डर को चुनकर हम अपने चुने गए पैराग्राफ अथवा टैक्स्ट के लिए प्रभावी कर सकते है। यदि हमने पैराग्राफ अथवा चुने गए टैक्स्ट के लिए बाॅर्डर का निर्धारण कर रखा है, तो इनका पुनः प्रयोग करके उसे अप्रभावी भी कर सकते है।
थ्वतउंज मेन्यू के च्ंतंहतंची विकल्प का प्रयोग करके पैराग्राफ का निर्धारण
वर्ड 2002 में पैराग्राफ के निर्धारण के लिए थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए च्ंतंहतंची विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति च्ंतंहतंची डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य भाग होते है प्दकमदज ंदक ैचंबपदह एवं स्पदम ंदक च्ंहम ठतमंो । इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले विकल्प प्दकमदजे ंदक ैचंबपदह को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन उपरोक्त चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे ळमदमतंस वाले भाग मे सबसे पहले पैराग्राफ के एलाइन्मेंट के बारे मे सूचना देनी होती है। ।सपहदउमदज के सामने दिए गए बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर पैराग्राफ को दिए जा सकने वाले चार प्रकार के ।सपहदउमदजे की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में प्रदर्शित ।सपहदउमदजे में से किसी एक को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में जिस पैराग्राफ में हमारा कर्सर है उसक लिए ।सपहदउमदज निर्धारण कर सकते है। ।सपहदउमदज का तात्पर्य सीध से है। इस सूची में से स्मजि विकल्प को चुनने से पैराग्राफ की सभी लाइने बाई ओर से सीध में हो जाती है। ब्मदजमतमक विकल्प को चुनने से पैराग्राफ की सभी लाइन्स पैराग्राफ की चैडाई के मध्य से सीध मे हो जाती है परन्तु बाई और दाई से सीध मे नही होती , वरन् छोटी-बडी रहती है। त्पहीज विकल्प को चुनने से पैराग्राफ की सभी लाइन्स दाई ओर से ।सपहद (सीध मे) हो जाती हैं परन्तु बाई ओर से सीध में नही होती , वरन् छोटी-बडी रहती है। श्रनेजपपिमक विकल्प को चुनने से पैराग्राफ की सभी लाइन्स बाई और दाई ओर से ।सपहद (सीध में ) हो जाती है परन्तु पैराग्राफ की अन्तिम लाइन बाई ओर से सीध में होती है। इस भाग में ।सपहदउमदज के आगे दिए गए विकल्प व्नजसपदम समअमस दिया होता है। डाॅक्यूमेण्ट के आउटलाइन व्यू अथवा डाॅक्यूमेण्ट मैप में कार्य करते समय डाॅक्यूमेण्ट मैप मे कार्य करते समय डाॅक्यूमेण्ट के मुख्य प्रारूप का प्रदर्शन होता है। इसके लिए टैक्स्ट की फाॅरमेटिंग दो प्रकार से की जाती है वर्ड 2002 मे बनी हुई स्टाइल्स का प्रयोग करके अथवा व्नजसपदम समअमस पैराग्राफ फाॅरमेट का प्रयोग करके । व्नजसपदम स्मअमसे मे इन्ही पैराग्राफ फाॅरमेट्स का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में वांछित व्नजसपदम स्मअमस को चुनकर डाॅक्यूूमेण्ट में जिस पैराग्राफ में कर्सर स्थित है, उसके लिए प्रभावी किया जा सकता है।
पैराग्राफ का एलाइन्मेंट की-बोर्ड शाॅर्टकट्स का प्रयोग करके शीघ्रता से किया जा सकता है। डाॅक्यूमेण्ट मे वांछित टैक्स्ट को चुनकर ब्जतस तथा स् दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर बाई ओर से ,ब्जतस तथा त् दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर दाई ओर से , ब्जतस तथा म् दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर पृष्ठ की चैडाई के मध्य से तथा ब्जतस तथा श्र दोनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर बाई एवं दाई दोनो ओर से सीध मे करने के लिए किया जा सकता है।
च्ंहम 132
इस डायलाॅग बाॅक्स के प्दकमदजंजपवद वाले भाग में पैराग्राफ की पृष्ठ के बाएं और दाएं हाशिए से दूरी का निर्धारण किया जाता है। स्मजि के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स में पैराग्राफ की लाइने पृष्ठ के बाएं हाशिए से वांछित दूरी को इंचो मेे टाइप किया जाता है अथवा न्च ।ततवू बटन या क्वूद ।ततवू बटन की सहायता से चुना जाता है। त्पहीज के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स में पैराग्राफ की लाइन्स पृष्ठ के दाएं हाशिए से वांछित दूरी को टाइप किया जा सकता है। त्पहीज के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स मे पैराग्राफ की लाइन्स पृष्ठ के दाएं हाशिए से वांछित दूरी को टाइप किया जाता है अथवा न्च ।ततवू बटन या क्वूद ।ततवू बटन की सहायता से चुना जाता है। यदि हम पैराग्राफ के टैक्स्ट को पृष्ठ के दाए हाशिए से बाहर निकालना चाहते है तो यहां पर हम वह दूरी ऋण् (-) चिन्ह के साथ टाइप अथवा चुनते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ैचमबपंस के नीचे बने टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर तीन विकल्प प्रदर्शित होते है। इन विकल्पो में किसी एक का प्रयोग करके पैराग्राफ की अन्य लाइन्स की अपेक्षा विशेष दूरी पर लाने के लिए किया जाता है। इसमे छवदम विकल्प को चुनने पर पैराग्राफ की पहली लाइन अन्य लाइनो के समान ही प्दकमदजंजपवद वाले भाग में दी गई दूरी से ही प्रदर्शित होती है। थ्पतेज स्पदम विकल्प को चुनने पर इसके सम्मूख दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स ठल में टाइप की गई दूरी यह निर्धारित करती है कि पैराग्राफ की पहली लाइन पैराग्राफ की अन्य लाइन्स की अपेक्षा इतनी दूरी दाई ओर हटाकर प्रदर्शित होगी तथा भ्ंदहपदह विकल्प को चनने से पैराग्राफ की अन्य लाइन्स पैराग्राफ की पहली लाइन से ठल टैक्स्ट बाॅक्स में दी गई दूरी के अनुरूप पैराग्राफ की अन्य की लाइन्स की अपेक्षा बाई ओर हटकर प्रदर्शित होगी।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ैचंबपदह वाले भाग मे दो पैराग्राफ्स एवं पैराग्राफ की लाइन्स के बीच की दूरी का निवारण किया जाता है। ठमवितम के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स में वह धनात्मक दूरी टाइप की अथवा चुनी जाती है, जोकि पैराग्राफ के के पहले दी जानी है और ।जिमत के सामने बने टैक्स्ट बाॅक्स में वह धनात्मक दूरी टाइप की अथवा चुनी जाती है, जोकि पैराग्राफ के बाद मे दी जानी है। इस संख्या मे दशमलव का प्रयोग भी किया जाता है। स्पदम ैचंबपदह के नीचे बने बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में पैराग्राफ की लाइन्स के मध्य दुरी को निर्धारित करने वाले अनेक विकल्प दिए होते है। इनमे से वांछित विकल्पो को चुनकर लाइन्स के मध्य की दूरी का निर्धारण किया जा सकता है। यह दूरी पैराग्राफ की लाइन मे अधिकतम आकार वाले थ्वदज अथवा प्देमतज की गई पिक्चर के अनुरूप होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में निर्धारित सूचनाओ के अनुरूप पैराग्राफ हमोर डाॅक्यूमेण्ट में किस प्रकार का होगा , इसका प्रदर्शन इस डायलाॅग बाॅक्स मे च्तमअपमू वाले भाग में होता है। इस भाग में प्रदर्शित होने वाला पैराग्राफ वही होता है, जिस पैराग्राफ में कर्सर इस डायलाॅग बाॅक्स को खोलते समय स्थित होता है।
च्ंतंहतंची डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे विकल्प स्पदम ंदक च्ंहम ठतमंो को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन निम्न चित्र की भांति होता है।
यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो में बंटा होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट में च्ंहम ठतमंो ए भ्लचीमदंलपवद और स्पदम छनउइमते से सम्बन्धित निर्धारण किया जाता है। ॅपकवूध्व्तचींद ब्वदजतवस चैक बाॅक्स को चनकर पैराग्राफ की अन्तिम लाइन को अगले पृष्ठ की पहली लाइन ;ॅपकवूद्ध एवं पैराग्राफ की पहली लाइन को वर्तमान पृष्ठ की अन्तिम लाइन ;व्तचींदद्ध होने से रोका जा सकता है। ज्ञममच स्पदमे ज्वहमजीमत चैक बाॅक्स को चुनने से , यदि पैराग्राफ के मध्य में ही वर्तमान
च्ंहम 133
पृष्ठ समाप्त होकर नया पृष्ठ शुरू हो रहा है तो , यह पैराग्राफ अगले पृष्ठ पर चला जाएगा अर्थात् यह पैराग्राफ के मध्य से च्ंहम ठतमंा को रोकता है। ज्ञममच ॅपजी छमगज चैक बाॅक्स पर क्लिक करने से वर्तमान पैराग्राफ एवं अगले पैराग्राफ के मध्य च्ंहम ठतमंा होने से रोका जा सकता है। च्ंहम ठतमंा ठमवितम चैक बाॅक्स पर क्लिक करने से वर्तमान पैराग्राफ के शुरू होने से पूर्व च्ंहम ठतमंा अर्थात् नया पृष्ठ शुरू होता है। ैनचतमेे स्पदम छनउइमते चैक बाॅक्स को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित होने वाले स्पदम छनउइमते डाॅक्यूमेण्ट मे प्रदर्शित नही होगे। क्वदष्ज भ्लचीमदंजम चैक बाॅक्स को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट मे चुने गए ।नजवउंजपब भ्लचीमदंजपवद के प्रभाव को निरस्त किया जा सकता है।
ज्ंइे का निर्धारण करना
वर्ड 2002 में टैक्स्ट की फाॅरमेटिंग में टैक्स्ट में कई स्थान पर ज्ंइ ‘केी‘ का प्रयोग करना होता है। इसके लिए वर्ड 2002 में निम्नलिखित पांच के टैब्स दिए गए हैं
स्मजि ज्ंइ इस टैब स्टाॅप का प्रयोग करने पर किसी पैराग्राफ में टाइप किया गया टैक्स्ट , टैब स्टाॅप के दाई ओर से प्रदर्शित होता है।
ब्मदजमत ज्ंइ इस टैब स्टाॅप का प्रयोग करने पर किसी पैराग्राफ मेे टाइप किया गया टैक्स्ट, टैब स्टाॅप के मध्य मेे प्रदर्शित होता है।
त्पहीज ज्ंइ इस टैब स्टाॅप का प्रयोग करने पर किसी पैराग्राफ मे टाइप किय गया टैक्स्ट , टैब स्टाॅप के बाई ओर से प्रदर्शित होता है।
क्मबपउंस ज्ंइ इस टैब स्टाॅप का प्रयोग न्यूमेरिक डेटा के लिए किया जाता है। इस टैब स्टाॅप का प्रयोग करने पर न्यूमेरिक डेटा का डेसिमल का चिन्ह डेसिमल टैब की ठीक नीचे प्रदर्शित होता है।
ठंत ज्ंइ इस टैब स्टाॅप का प्रयोग पैराग्राफ मे वर्टिकल (उदग्र) बार या लाइन को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
वर्ड 2002 में टैब्स का निर्धारण दो प्रकार से किया जा सकता है थ्वतउंज मेन्यू के विकल्प ज्ंइे का प्रयोग करके तथा रूलर का प्रयोग करके।
थ्वतउंज मेन्यू के विकल्प ज्ंइे का प्रयोग करके टैब्स का निर्धारण
टैब्स की फाॅरमेटिंग का कार्य करने से वर्ड 2002 की मेन्यू बार पर दिए गए थ्वतउंज मेन्यू के ज्ंइे विकल्प का प्रयोग करने अथवा च्ंतंहतंची डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ज्ंइे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ज्ंइे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट में ज्ंइ ैजवचे लगाने के लिए किया जाता है। ज्ंइ ैजवच की स्थिति, उसका ।सपहदउमदज एवं ज्ंइ के द्वारा रिक्त स्थान में प्रयोग के द्वारा किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ज्ंइ ैजवच च्वेपजपवद के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में नए ज्ंइ ैजवच के लिए स्मजि डंतहपद से दूरी टाइप की जाती है। यदि पहले से ही डाॅक्यूमेण्ट में ज्ंइ ैजवच निर्धारित किए गए है तो इस बाॅक्स में स्मजि डंतहपद के सबसे निकट वाला ज्ंइ ैजवच प्रदर्शित होता है और इसके नीचे बने बाॅक्स में सभी ज्ंइ ैजवचे की सूची । यदि डाॅक्यूमेण्ट में 8 से अधिक ज्ंइ ैजवच निर्धारित किए गए हैं तो इस बाॅक्स में दी गई ऊध्र्वाधर स्क्रोल
च्ंहम 134
बार कार्यकारी हो जाती है। यदि पहले से निर्धारित किसी ज्ंइ ैजवच में परिवर्तन करना है तो उसे हम इस सूची मे से चुनकर इससे ऊपर बने बाॅक्स में इस ज्ंइ ैजवच के लिए नई दूरी टाइप कर दिया जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के ।सपहदउमदज वाले भाग में ज्ंइ ैजवच के लिए पांच विभिन्न प्रकार के विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। रेडियो बटन स्मजि को चुूनने पर टैक्स्ट का पहला अक्षर टैब के निर्धारित स्थान से शुरू होता है। रेडियो बटन ब्मदजमत को चुनने पर टैक्स्ट में की-बोर्ड की सहायता से ज्ंइ ‘की‘ का प्रयोग करने पर इस टैब और इससे अगले टैब के मध्य के टैक्स्ट की चैडाई के मध्य वाला अक्षर टैब के निर्धारित स्थान पर होता है। रेडियो बटन त्पहीज को चुूनने पर टैक्स्ट का अन्तिम अक्षर टैब के लिए निर्धारित स्थान पर होता है। रेडियो बटन क्मबपउंस को चुनने पर टैक्स्ट मे यदि दश्मलव का प्रयोग किया गया है तो टैब के लिए निर्धारित स्थान पर यह दश्मलव होता है और यदि दश्मलव को प्रयोग नही किया गया है तो यह त्पहीज ।सपहद ज्ंइ की भांति व्यवहार करता है। ठंत ज्ंइ में के स्थान पर ऊध्र्वाधर छोटी रेखा प्रदर्शित होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के स्मंकमत वाले भाग में रेडियो बटन्स के रूप मे दिए गए चार विकल्पो में से किसी एक को चुनकर , यह निर्धारित किया जाता है, कि ज्ंइ को प्रयोग करने पर रिक्त स्थान को किस प्रकार भरा जाना है।
पुश बटन ैमज पर क्लिक करके नए ज्ंइ ैजवच को अथवा पहले से बने ज्ंइ में किए गए परिवर्तन को ैमज कर देते है। पुश बटन ब्समंत का प्रयोग चुने हुए ज्ंइ को मिटाने के लिए किया जाता है। पुश बटन ब्समंत ।सस का प्रयोग पैराग्राफ के सभी ज्ंइ ैजवचे को मिटाने के लिए किया जाता है। पैराग्राफ में आवश्यक ज्ंइ ैजवचे को निर्धारित करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके हम डाॅक्यूमेण्ट पर आ जाते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में निर्धारित किए गए टैब्स वर्ड की विन्डो में क्षैतिज रूलर पर होता है।
रूलर का प्रयोग करके टैब्स का निर्धारण
वर्ड 2002 की एप्लीकेशन विन्डो में थ्वतउंजपदह टूलबार के नीचे रूलर प्रदर्शित होता है, जिस पर ठल क्मंिनसज टैब्स आधे-आधे इंच की दूरी निर्धारित होते है। यदि हमारी एप्लीकेशन विन्डो में रूलर प्रदर्शित नही हो रहा है, तो टपमू मेन्यू पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले विकल्पो में से त्नसमत विकल्प पर क्लिक करने पर रूलर का प्रदर्शन होने लगता है।
वर्ड 2002 में रूलर के द्वारा भी टैब्स का निर्धारण किया जा सकता है। टैब्स का इस प्रकार का निर्धारण ज्ंइे डायलाॅग बाॅक्स में किए जाने वाले टैब्स के निर्धारण से अत्यन्त सरलता से कम समय में किया जा सकता है।
क्षैतिज रूलर और ऊध्र्वाधर रूलर के मिलने के स्थान पर एक छोटे-से बाॅक्स में टैब का चिन्ह प्रदर्शित होता रहता है, इसे टैब बटन कहा जाता है । इस टैब में सभी प्रकार के टैब्स स्थित होते है। टैब बटन पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करने पर भिन्न-भिन्न टैब्स का प्रदर्शन होता रहता है।
अब हमे जिस पैराग्राफ के लिए टैब्स का निर्धारण करना है, उस पैराग्राफ में कर्सर को रखना होगा । अब टैब बटन पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से वांछित प्रकार का टैब चुन लिया जाता है। टैब को चुनकर माउस प्वाॅइन्टर को क्षैतिज रूलर पर लाते है। हमें जिस स्थान पर चुना गया टैब चाहिए उस स्थान पर क्लिक करने पर रूलर पर वह टैब प्रदर्शित होने लगता है। हम जिस स्थान पर चुना गया टैब चाहिए उस स्थान पर क्लिक करने पर रूलर पर वह टैब प्रदर्शित होने लगता है। हम इसी प्रकार रूलर पर अनेक टैब्स निर्धारित कर सकते है। यदि किसी टैब के स्थान में परिवर्तन करना है, तो रूलर पर उस टैब पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करके वांछित स्थान तक ड्रैग करते है। यदि
च्ंहम 135
वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य करते समय हमे जिस स्थान पर भी टैब चाहिए , उस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर डबल क्लिक करने से उस स्थान के लिए स्मजि ।सपहद टैब का निर्धारण किया जा सकता है।
किसी टैब को हमे समाप्त करना है तो रूलर पर उस टैब को माउस प्वाॅइन्टर से क्लिक करके रूलर से नीचे की ओर अर्थातृ डाॅक्यूमेण्ट की ओर ड्रैग करने पर वह टैब रूलर से मिट जाता है।
उपरोक्त चित्र में हमने पांचो प्रकार के टैब्स को प्रयोग दर्शाया है। साथ ही टैब्स के मध्य के रिक्त स्थान की पूर्ति करने के लिए विभिन्न स्मंकमत का प्रयोग किया है।
पैराग्राफ इन्डेन्ट का प्रयोग
इन्डेन्ट किसी टैक्स्ट के अवस्थापन ;च्वेपजपवदपदह व िज्मगज्द्ध में अत्यन्त महत्व रखते है। पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र मे हमने रूलर पर चार प्रकार के इन्डेन्ट दर्शाए है, तथा निम्नांकित चित्र मे इन चारो का प्रयोग करने पर टैक्स्ट के अवस्थापन को दर्शाया है।
च्ंहम 136
थ्पतेज स्पदम प्दकमदज इसका प्रयोग ज्ंइ ‘की‘ को प्रयोग करने के समान है। इसका प्रयोग करने के लिए कर्सर को माउस अथवा ऐरो ‘कहज‘ की सहायता से उस पैराग्राफ पर ले आते है, जिसकी प्रथम लाइन पर थ्पतेज स्पदम प्दकमदज का प्रयोग करना है। इसके उपरान्त रूलर पर प्रदर्शित हो रहे थ्पतेज स्पदम प्दकमदज को ड्रैग करके , रूलर पर वहां स्थापित करते है, जहां से हमको उस पैराग्राफ के प्रथम लाइन को शुरू करना है।
स्मजि प्दकमदज इसका प्रयोग किसी पैराग्राफ की लाइन्स को ही पृष्ठ के दाएं हाशिए ;स्मजि डंतहपदद्ध से पृष्ठ के अन्दर वांछित दूरी पर अवस्थापित करने के लिए किया जाता है।
त्पहीज प्दकमदज इसका प्रयोग किसी पैराग्राफ की समस्त लाइन्स को ही पृष्ठ के दाएं हाशिए ;त्पहीज डंतहपदद्ध से पृष्ठ के अन्दर वांछित दूरी पर अवस्थापित करने के लिए किया जाता है।
भ्ंदहपदह प्दकमदज इसका प्रयोग किसी पैराग्राफ के प्रथम लाइन के अतिरिक्त अन्य लाइन्स को पृष्ठ के बाएं हाशिए से पृष्ठ के अन्दर वांछित दूरी पर अवस्थापित करने के लिए किया जाता है। भ्ंदहपदह प्दकमदज ए पैराग्राफ के थ्पतेज स्पदम प्दकमदज तथा त्पहीज प्दकमदज को प्रभावित नही करता है।
वर्ड 2002 की फाॅरमेंिटंग टूलबार पर दिए गए टूल आइकन्स प्दबतमंेम प्दकमदज एवं क्मबतमंेम प्दकमदज का पैराग्राफ का बायां इन्डेन्ट बढाना है, उस पैराग्राफ पर कर्सर को लाकर प्दबतमंेम प्दकमदज पर क्लिक करने से पैराग्राफ का बायां इन्डेन्ट वर्तमान इन्डेन्ट से े0.5 इंच बढ़ जाता है। हम इस टूल आइकन पर जितनी बार क्लिक करते है, उतनी ही बार यह इन्डेन्ट 0.5 इंच बढ़ जाता है। हम इस आइकन पर जितनी बार क्लिक करते है, उतनी ही बार यह इन्डेन्ट 0.5 इंच बढ़ता जाता है। इसके ठीक विपरीत क्मबतमंेम प्दकमदज टूल आइकन का प्रयोग बाएं इन्डेन्ट को कम करने के लिए किया जाता है। हम इस टूल आइकन पर जितनी बार क्लिक करते है, उतनी ही बार यह इन्डेन्ट 0.5 इंच कम होता जाता है।
स्मजि तथा त्पहीज इन्डेन्ट का निर्धारण करते समय यह ध्यान रखना आवश्यक है, कि पृष्ठ के बाएं तथा दाएं हाशिए ;स्मजि ंदक त्पहीज डंतहपद द्ध के अन्दर ही हो।
पैराग्राफ के लिए बुलेट्स तथा नम्बरिंग का प्रयोग
बुलेट्स का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट के किसी टैक्स्ट को बिन्दुवार प्रदर्शित करते हुए विशेष रूप से हाईलाइट करने के लिए किया जाता है। नम्बरिंग का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट को टाइप करने के उपरान्त उसे एक निश्चित क्रम में व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है।
वर्ड 2002 में पैराग्राफ के बाई ओर विशेष चिन्ह अथवा पैराग्राफ क्रमांक प्रदर्शित करने के लिए अत्यन्त सरल सुविधा दी गई है; जबकि अधिकांश शब्द संसाधक प्रोग्राम्स में पैराग्राफ्स के बाई ओर विशेष चिन्ह अथवा पैराग्राफ क्रमांक के लिए प्रयोगकत्र्ता को स्वयं तैयार करने होते है।स्वयं तैयार किए गए पैराग्राफ क्रमांक मे यदि हमे किसी कारणवश इनके मध्य एक से अधिक अन्य पैराग्राफ्स जोडने पडते है, तो पैराग्राफ के क्रमांक गलत हो जाएंगं और हमें स्वयं ही इन्हे एक-एक करके सही करना होगा । वर्ड 2002 में दी गई इस सुविधा का प्रयोग करके पैराग्राफ पर छनउइमते डालने से यह लाभ होता है कि यदि किसी कारणवश हमें इन पैराग्राफ्स में किसी को मिटाना अथवा नया पैराग्राफ जोडना होता है तो इनके क्रमांक स्वतः ही ठीक हो जाते है।
वर्ड 2002 के फाॅरमेट मेन्यू के ठनससमजे ंदक छनउइमतपदह विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ठनससमजे ंदक छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 137
ठनससमजे ंदक छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प है ठनससमजमकए छनउइमतमक ए व्नजसपदम छनउइमतमक तथा स्पेज ैजलसमे।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले मुख्य विकल्प ठनससमजमक को चुनने पर यह डायलाॅग बाॅक्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इसमें दिए गए 8 प्रकार के ठनससमजे थ्वतउंजे में से किसी एक को चुनकर डाॅक्यमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ्स के शुरू में ठनससमजे का निर्धारण किया जा सकता है। इनमे से पहला प्रकार किसी भी प्रकार के ठनससमजे का प्रयोग न किए जाने के लिए है। इस प्रकार की ठनससमज के ठनससमजे का प्रयोग न किए जाने के लिए है। इस प्रकार किसी भी प्रकार के ठनससमजे का प्रयोग न किए जाने के लिए है। इस प्रकार की पुश ठनससमज थ्वतउंज को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में दिया गया पुश बटन ब्नेजवउप्रम सक्रिय नही होता है,इसके अतिरिक्त किसी अन्य प्रकार के ठनससमज थ्वतउंज को चुनने पर ही यह पुश बटन सक्रिय होता है।
इस पुश बटन पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाले ब्नेजवउप्रम ठनससमजमक स्पेज डायलाॅग बाॅक्स में ठनससमज की थ्वतउंज को अपनी इच्छानुसार निश्चित भी किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में तीन मुख्य भाग होते है ठनससमज ब्ींतंबजमतए ठनससमज च्वेपजपवद और ज्मगज च्वेपजपवद । इसके पहल भाग ठनससमज ब्ींतंबजमतए ठनससमज च्वेपजपवद और ज्मगज च्वेपजपवद । इसके पहले भाग ठनससमज ब्ींतंबजमत में पैराग्राफ के शुरू में प्रयोग की जाने वाली ठनससमज का निर्धारण किया जा सकता है।
यदि हम भाग में प्रदर्शित छह ठनससमजे के अतिरिक्त कोई अन्य ठनससमज चाहते हैं तो पुश बटन थ्वदज तथा ब्ींतंबजमत अथवा च्पबजनतम का प्रयोग किया जाता है। थ्वदज पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर फाॅन्ट डायलाॅग बाॅक्स, जिसको प्रयोग करना हम इसी अध्याय में पहले सीख चुके है, प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में से वांछित फाॅन्ट का चुनाव किया जा सकता है। ठनससमज ब्ींतंबजमत के नीचे प्रदर्शित होने वाली विभिन्न बुलेट्स में से जिसको चुनकर थ्वदज पुश बटन पर क्लिक किया गया है, उसी का फाॅन्ट परिवर्तित किया जा सकता है।
ब्ींतंबजमत पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैलउइवस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हम बुलेट के फाॅन्ट के साथ उसके कैरेक्टर का भी चुनाव कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वदज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर कम्प्यूटर में स्थापित विभिन्न फाॅन्ट्स की सूची प्रदर्शित होती है। इसमें से वांछित फाॅन्ट का चुनाव करने पर उस फाॅन्ट के विभिन्न कैरेक्टर्स इसके नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होने लगते है। इनमे से वांछित कैरेक्टर को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ के लिए प्रभावी किया जा सकता है।
च्ंहम 138
ब्नेजवउप्रम ठनससमजमक स्पेज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन च्पबजनतम का प्रयोग बुलेट के स्थान पर कोई पिक्चर प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति च्पबजनतम ठनससमज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में अनेक विभिन्न प्रकार की बुलेट्स दी होती है, जिनमे से वांछित बुलेट को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ के लिए प्रभावी किया जा सकता है।
ठनससमज ंदक छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प छनउइमतमक को चुनने पर यह डायलाॅग बाॅक्स ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए 8 प्रकार के छनउइमतपदह थ्वतउंजे में से किसी एक को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ्स के शुरू में विभिन्न प्रकार से पैराग्राफ का क्रमांक निर्धारित किया जा सकता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ब्नेजवउप्रम पर क्लिक करके छनउइमत थ्वतउंजए छनउइमत ैजलसम को निर्धारित किया जा सकता है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्नेजवउप्रम छनउइमतमक स्पेज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में छनउइमत ैजलसम को इस बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न छनउइमत ैजलसमे में से चुनकर निर्धारित करते है। इसके बाद इसके ऊपर और छनउइमत वितउंज के नीचे प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में चुनी गई स्टाइल में छनउइमत का प्रदर्शन होने लगता है। यदि हमे इस स्टाइल के साथ कुछ अन्य ऐसा भी प्रदर्शित करना है, जो प्रत्येक पैराग्राफ में समान ही रहे तो इस टैक्स्ट बाॅक्स में इस स्टाइल के साथ इसे कर दिया जाता है।
उदाहरण के लिए, यदि हम चुने गए प्रत्येक पैराग्राफ के क्रमांक के साथ त्।टप् लिखना चाहते है तो इस टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाली छनउइमतपदह ैजलसम के साथ त्।टप् टाइप कर देंगे। इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन थ्वदज पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में से पैराग्राफ के क्रमांक के लिए थ्वदज का भी निर्धारण किया जा सकता है। डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ्स का क्रमांक किस अंक से शुरू होना है, इसका
च्ंहम 139
निर्धारण ैजंतज ंज के नीचे दिए गए टैक्स्ट में किया जाता है। छनउइमत च्वेपजपवद एवं ज्मगज च्वेपजपवद के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में क्रमांक की बाएं हाशिाए से दूरी क्रमांक की पैराग्राफ के टैक्स्ट से दूरी का निर्धारण किया जाता है।
ठनससमज ंदक छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प व्नजसपदमक छनउइमतमक को चुनने पर यह डायलाॅग बाॅक्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में भी विभिन्न लेवल्स के लिए 8 प्रकार के प्रारूप् दिए होते है। इनमे से वांछित प्रारूप को चुनकर हम डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ्स में ठनससमजे एवं छनउइमतपदह को संयुक्त से भी प्रयोग कर सकते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ब्नेजवउप्रम पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ब्नेजवउप्रम व्नजसपदम छनउइमतमक स्पेज डायालाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन निम्नांकित चित्र की भांति होता है
इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रत्येक स्मअमस के लिए भिन्न-भिन्न नम्बर निर्धारित कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में स्मअमसे के नीचे दिए गए बाॅक्स में उस स्मअमस को चुन लिया जाता है जिसके लिए हमें निर्धारण करना है। इसके बाद छनउइमत वितउंज वाले भाग में छनउइमत ैजलसम के नीचे दिए गए बाॅक्स के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से इस स्मअमस के लिए आवश्यकतानुसार छनउइमत तथा ठनससमज स्टाइल को चुन लिया जाता है। इसके ऊपर और छनउइमत वितउंज के नीचे प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में चुनी गई स्टाइल में छनउइमत अथवा ठनससमज का प्रदर्शन होने लगता है।
ठनससमज ंदक छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स के चैथे मुख्य विकल्प स्पेज ैजलसमे को चुनने पर यह डायलाॅग बाॅक्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में स्पेज ैजलसमे के नीचे दिए गए बाॅक्स में एक विकल्प छव स्पेज तथा अन्य विकल्प विभिन्न लिस्ट स्टाइल्स के नाम होते है। इनमें से वांछित लिस्ट स्टाइल
च्ंहम 140
को चुनकर हम डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए पैराग्राफ्स में चुने गए पैराग्राफ्स में ठनससमजे एवं छनउइमतपदह को संयुक्त रूप से कर सकते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ।कक का प्रयोग करके नई लिस्ट स्टाइल का निर्माण किया जा सकता है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्तवचमतजपमे वाले भाग छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे बनाई जाने वाली नई लिस्ट स्टाइल का नाम टाइप करते है। थ्वतउंजपदह वाले भाग क्रमांक किसी संख्या से प्रारम्भ होना है, इसका निर्धारण ैजंतज ंज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे करते है। अब लिस्ट स्टाइल के किस लेविल के लिए निर्धारण किया जाना है, इसका चुनाव ।चचसल वितउंजजपदह जव के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न लेविल्स की सूची में से वांछित सूची को चुनकर किया जाता है। चुने गए लेविल के लिए क्रमांक का प्रकार , उसका फाॅन्ट , फाॅन्ट का आकार , फाॅन्ट की स्टाइल , इन्डेन्ट आदि का निर्धारण किया जाता है । किया गया निर्धारण नीचे एक डिस्प्ले बाॅक्स में प्रदर्शित होता है।
टैक्स्ट में बाॅर्डर एवं शेडोज का प्रयोग
वर्ड 2002 में चुने गए पेराग्राफ , ग्राफिक्स , फ्रेम , टेबिल सैल्स के चारो ओर बाॅर्डर अथवा बाॅक्स का प्रयोग किया जा सकता है। वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए विकल्प ठवतकमत ंदक ैींकवू का प्रयोग इस कार्य के लिए किया जाता है। इस विकल्प को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ठवतकमत ंदक ैींकवू डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के तीन मुख्य विकल्प होते है ठवतकमतेए च्ंहम ठवतकमत और ैींकपदह । पहले मुख्य विकल्प ठवतकमत को चुनने पर होने वाले इस डायलाॅग बाॅक्स के प्रदर्शन में ैमजजपदह वाले भाग में पांच विकल्प दिए होते है ,इनमे से पहला विकल्प छवदम का प्रयोग चुने गए पैराग्राफ अथवा आइटम के चारो ओर किसी भी प्रकार का ठवतकमत न प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।।दूसरा विकल्प ठवग का प्रयोग चुने हुए पैराग्राफ अथवा आइटम के चारो ओर केवल रेखाए प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। तीसरा विकल्प ैींकवू का प्रयोग चुने हुए पैराग्राफ अथवा आइटम के चारो ओर रेखाओ के बाॅर्डर की छाया को भी प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। चैथे विकल्प 3.क् का प्रयोग करने से बाॅर्डर त्रिविमीय प्रदर्शित होता है। पांचवे और अन्तिम विकल्प ब्नेजवउ का प्रयोग करने पर बाॅर्डर चारो रेखाओ को इच्छानुसार भी चुन सकते है अर्थात् बाॅर्डर की चारो रेखाएं भिन्न-भिन्न हो सकती है। ैजलसम के नीचे वाले बाॅक्स में दी गई विभिन्न सपदम ेजलसमे में किसी एक को बाॅर्डर की चारो ओर की रेखाओ की भिन्न-भिन्न
च्ंहम 141
प्रकार की चुन सकते है। ब्वसवत के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न रंगो की सूची में रंगो चुनकर चारो ओर में रेखा का रंग निर्धारित कर सकते है। इसी प्रकार ॅपकजी के नीचे बने बाॅक्स में बाॅर्डर की रेखाओ की मोटाई का निर्धारण किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के च्तमअपमू वाले भाग में चुने गए ठवतकमत के अनुरूप बाॅर्डर का प्रदर्शन होता है। इस भाग में चार अन्य बटन्स भी होते है, इन बटन्स में बाॅर्डर की चारो रेखाओ का प्रदर्शन होता हैै। इन बटन्स का प्रयोग वांछित बटन में दी गई रेखा का प्रदर्शन करने अथवा न करने के लिए किया जाता है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट मेें एक से अधिक आइटम को चुना हुआ है अर्थात टैक्स्ट , टेबिल आदि को इस डायलाॅग बाॅक्स मेे ।चचसल जव के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर चुने गए आइटम के लिए बाॅर्डर को प्रभावी किया जाना है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले ठवतकमत ंदक ैींकपदह व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स मे टैक्स्ट से बाॅर्डर की दूरी निर्धारित की जाती है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वतउ ज्मगज के नीचे चार बाॅक्स बने होते है। इनमें टैक्स्ट से ऊपर , नीचे , दाई और बाई ओर से कितनी दूरी पर बाॅर्डर होगा , यह निर्धारित किया जाता है। यह दूरी 1 प्वाॅइन्ट से लेकर 31 प्वाॅइन्ट्स तक दी जा सकती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में कार्य करने के उपरान्त पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके हम वापिस ठवतकमत ंदक ैींकपदह डायलाॅग बाॅक्स में वापिस आ जातेे है। अब इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरं मुख्य विकल्प च्ंहम ठवतकमत को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन अगले पुष्ठ पर दिए पहले चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ के चारो ओर बाॅर्डर प्रदर्शित करने के लिए विभिन्न विकल्प दिए होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे अन्य विकल्पो का प्रदर्शन तो पहले मुख्य विकल्प ठवतकमत को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स के प्रदर्शन की भांति ही होता है और उनका प्रयोग भी पूर्वोक्तानुसार किया जाता है, परन्तु इसमे ॅपकजी के नीचे एक अन्य विकल्प ।तज जुड जाता है। इस विकल्प के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर पृष्ठ के चारो ओर लाइन के स्थान पर प्रदर्शित की जा सकने वाली विभिन्न ड्राइंग्स की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में से वांछित ड्राइंग को चुनकर पृष्ठ के चारो ओर बाॅर्डर के चारो ओर प्रयोग मे लाया जा सकता है।यदि ब्नेजवउ बाॅर्डर का प्रयोग किया जा रहा है, तो बाॅर्डर की चारो भुजाओ के लिए विभिन्न प्रकार की ड्राइंग्स का भी प्रयोग किया जा सकता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ठवतकमत ंदक ैींकपदह व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इस डायलाॅग का शीर्षक तो पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र में प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स का ही होता है , परन्तु यह डायलाॅग बाॅक्स इससे भिन्न होता है।
च्ंहम 142
इस डायलाॅग बाॅक्स में डंतहपदे के नीचे दिए गए चारो ठवगमे में बाॅर्डर की पृष्ठो के सिरो से है अथवा टैक्स्ट से इसका निर्धारण डमंेनतम थ्तवउ के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से चुनकर किया जाता है। इसके नीचे व्चजपवदे वाले भाग मे चार चैक बाॅक्स दिए होते है।
यदि हमने डमंेनतम थ्तवउ में म्कहम व िच्ंहम विकल्प को चुना है, इन चारो में से केवल एक चैक बाॅक्स ।सूंले कपेचसंल पद तिवदज ही सक्रिय होता है शेष तीनो निष्क्रिय रहते है, परन्तु यदि हमने डमंेनतम थ्तवउ में ज्मगज विकल्प को चुना है तो ये चारो ही सक्रिय होते है।
ठवतकमत ंदक ैींकपदह व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वाले भाग में दिए गए चैक बाॅक्स ।सपहदे चंतंहतंची इवतकमते ंदक जंइसम मकहमे को चुनने का तात्पर्य है कि सम्पूर्ण डाॅक्यूमेण्ट में पैराग्राफ एवं टेबिल बाॅर्डर पृष्ठ के बाॅर्डर की सीध में हो । चैक बाॅक्स ।सूंले कपेचसंल पद तिवदज को चुनने का तात्पर्य है, कि बाॅर्डर को काटने वाले किसी भी टैक्स्ट अथवा अन्य आॅब्जेक्ट के ऊपर बाॅर्डर का प्रदर्शन हो। चैक बाॅक्स ैनततवनदक भ्मंकमत को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ पर प्रयोग किया गया हैडर भी बाॅर्डर के अन्दर ही होता है। यदि हम हैडर को बाॅर्डर के बाहर रखना चाहते है तो इस चैक बाॅक्स को रिक्त करना होगा । इसी प्रकार ैनततवनदक थ्ववजमत को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ पर प्रयोग किया गया फूटर भी बाॅर्डर के अन्दर एवं न चुनने से बाॅर्डर के बाहर प्रदर्शित किया जा सकता है।
ठवतकमत ंदक ैींकपदह डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प ैींकपदह को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में चुने गए पैराग्राफ अथवा टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड का शेड निर्धारित किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के थ्पसस वाले भाग में बैकग्राउण्ड के शेड का रंग निर्धारित किया जाता है। च्ंजजमतद वाले भाग में इसका च्ंजजमतद निर्धारित किया जाता है। पैटर्न में प्रयोग किए जाने वाले बैकग्राउण्ड के रंग के अतिरिक्त अन्य रंग का निर्धारण इसके नीचे दिए गए ब्वसवत बाॅक्य मे किया जाता है। ये निर्धारण सम्पूर्ण पैराग्राफ के लिए किया जा रहा है अथवा टैक्स्ट के लिए इसका निर्धारण ।चचसल जव के नीचे दिए गए बाॅक्स में किया जाता है।
च्ंहम 143
ठवतकमत ंदक ैींकवू डायलाॅग बाॅक्स में एक पुश बटन भ्वतप्रवदजंस स्पदम दिया होता है। इस पुश बटन का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए दाई ओर वाले चित्र की भांति भ्वतप्रवदजंस स्पदम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वर्ड 2002 में दी गई अनेक विभिन्न प्रकार की रंगीन एवं आकर्षक लाइन्स प्रदर्शित होती है। हम इन लाइन्स में से किसी एक वांछित लाइन को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर प्रयोग कर सकते है।
स्पेशल कैरेक्टर्स को इन्सर्ट करना
जब हम कोई बिजनेस डाॅक्यूमेण्ट तैयार करते है, तो अनेक ऐसे कैरेक्टर्स का प्रयोग करना पड़ता है, जोकि सीधे-सीधे की-बोर्ड पर उपलब्ध नही होते है; जैसे ®एज्ड ए© आदि । वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट पर कार्य करते समय टैक्स्ट के साथ-साथ इस प्रकार के विशेष चिन्हो का भी प्रयोग करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के ैलउइवस विकल्प का प्रयोग किया जाता है।
इस विकल्प को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैलउइवस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य विकल्प ैलउइवसे एवं ैचमबपंस ब्ींतंबजमते होते है। पहले मुख्य विकल्प ैलउइवसे को चुनने पर इसका प्रदर्शन उपरोक्त अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वदज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में चुने गए फाॅन्ट के समस्त अक्षरो का प्रदर्शन इसके नीचे एक तालिका के रूप में होता है। इस तालिका में से हमें जो विशेष चिन्ह प्देमतज करना है उसे चुनकर पुश बटन प्देमतज पर क्लिक करके , उस डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर प्देमतज किया जा सकता है।
ैलउइवस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ैचमबपंस ब्ींतंबजमत को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वर्ड 2002 में पूर्व परिभाषित विशेष चिन्हो एवं उनकी शाॅर्टकट ‘कीज‘ की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में से भी वांछित विशेष चिन्ह किया जा सकता है।
टैक्स्ट में ड्राॅप का प्रयोग
वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए क्तवच ब्ंच विकल्प का प्रयोग चुने गए पैराग्राफ के प्रथम अक्षर को अन्य अक्षरो से बडा करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इस अक्षर का ऊपरी भाग तो इस लाइन के अन्य अक्षरो के अनुरूप

च्ंहम 144
होता है, परन्तु यह नीचे की ओर बडा प्रदर्शित होता है । इस विकल्प का प्रयोग करने पर संलग्न चित्र की भांति क्तवच ब्ंच डायलाॅग माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में क्तवच ब्ंच की च्वेपजपवद को इस डायलाॅग बाॅक्स में च्वेपजपवद वाले भाग में दी गई तीनो स्थितियो में से एक स्थिति को चुनकर निर्धारित किया जाता है। छवदम स्थिति तो ज्मगज के सामान्य प्रदर्शन के लिए होती है। क्तवचचमक स्थिति को चुनने पर इस चित्र में दिए गए पहले क्तवच ब्ंच के अनुरूप प्रदर्शन होता है एवं प्द डंतहपद स्थिति को चुनने पर दूसरे क्तवच ब्ंच के अनुरूप । इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वदज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाली सूची में वांछित थ्वदज भी इस क्तवच ब्ंच अक्षर के लिए निर्धारित किया जा सकता है। स्पदमे जव क्तवच के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में क्तवच ब्ंच का आकार जिवनी लाइन्स के बराबर चाहिए, वह लाइन संख्या टाइप अथवा चुनी जाती है। ठल क्मंिनसज यह 3 होती है। क्पेजंदबम तिवउ ज्मगज के सामेन बने टैक्स्ट बाॅक्स में क्तवच ब्ंच पैराग्राफ के अन्य टैक्स्ट से कितनी दूरी पर प्रदर्शित हो, यह निर्धारण किया जाता है। निम्नांकित चित्र मे पहले पैराग्राफ क्तवचचमक विकल्प तथा दूसरे पैराग्राफ मंे प्द डंतहपद विकल्प का प्रयोग किया गया है।
टैक्स्ट का ब्ंेम बदलना
टैक्स्ट को टाइप करते समय कभी – कभी त्रुटिवश कैप्सलाॅक दब जाता है और टैक्स्ट न्चचमत ब्ंेम में टाइप हो जाता है अथवा टैक्स्ट के किसी भाग को अधिक महत्व देने के लिए उसके सभी अक्षरो को न्चचमत ब्ंेम में अथवा किसी ब्ंेम की किसी अन्य सन्धि का प्रयोग करना चाहते है तो वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए विकल्प ब्ींदहम ब्ंेम का प्रयोग किया जाता है।
इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्ींदहम ब्ंेम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में विभिन्न ब्ंेम के लिए पांच विकल्प दिए होते है। इसके पहले विकल्प ैमदजमदबम बंेम को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट चुनने से डाॅक्यूमेण्ट मे चुने गए टैक्स्ट में वाक्य के प्रथम शब्द का प्रथम अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाएगा एवं प्रथम शब्द के शेष अक्षर एव शेष शब्दो के सभी अक्षर स्वूमत ब्ंेम में; जैसाकि अग्रांकित चित्र के पहले पैराग्राफ में दर्शाया गया है।
च्ंहम 145
को चुनने से डाॅक्यूूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट के सभी अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है; जैसाकि उपरोक्त चित्र के तीसरे पेराग्राफ में दर्शाया गया है। चैथे विकल्प ज्पजसम ब्ंेम को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट के च्तमचवेपजपवदे और ब्वदरनबजपवदे के अतिरिक्त अन्य समस्त शब्दो के प्रथम अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है; जैसाकि उपरोक्त चित्र के चैथे पैराग्राफ में दर्शाया गया है। पांचवे विकल्प जव्ळळस्म् ब।ैम् को चुनने से डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए टैक्स्ट के वे अक्षर जोकि न्चचमत ब्ंेमे में है, स्वूमत ब्ंेम अक्षर न्चचमत ब्ंेम में परिवर्तित हो जाते है; जैसाकि उपरोक्त चित्र के पांचवे पैराग्राफ में दर्शाया गया है।
टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड का निर्धारण
वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड में विभिन्न रंगो और रंगो पर आधारित विभिन्न म्ििमबजे का प्रयोग करने के लिए इसके थ्वतउंज मेन्यू में दिए गए विकल्प ठंबाहतवनदक का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर एक उप-मेन्यू संलग्न चित्र. की भांति प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू मे विभिन्न रंग एवं तीन विकल्प डवतम ब्वसवतेए थ्पसस म्ििमबजे तथा च्तपदजमक ॅंजमतउंता होते है।
टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड में रंग का निर्धारण
इस उप-मेन्यू में प्रदर्शित रंगो में से हम इच्छानुसार रंग का चुनाव करके अपने डाॅक्यूमेण्ट की बैकग्राउण्ड को प्रभावी कर सकते है। यदि हम उन रंगो के अतिरिक्त कोई अन्य प्रयोग करना है तो इस उप-मेन्यू के विकल्प डवतम ब्वसवते पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ब्वसवते डायलाॅग बाॅक्स मे से रंग का चुनाव कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग करना हम इसी अध्याय मे पृष्ठ 122 पर सीख चुके है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य विकल्प होते है। पहले मुख्य विकल्प ैजंदकंतक को चुनकर वर्ड 2002 में दिए गए पूर्वनिर्धारित मानक रंगो का प्रयोग किया जाता है। दूसरे मुख्य विकल्प ब्नेजवउ को चूुनकर हम त्मक ए ळतममद और ठसनम रंगो की विभिन्न प्रतिशत मात्रा द्वारा नया रंग तैयार किया जा सकता है।
टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड का विशेष निर्धारण
वर्ड 2002 के फाॅरमेट मेन्यू के विकल्प ठंबाहतवनदक के उप-मेन्यू के थ्पसस म्ििमबज विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर थ्पसस म्ििमबज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प होते है।
च्ंहम 146
ळतंकपंदज
थ्पसस म्ििमबज डायलाॅग के पहले मुख्य विकल्प ळतंकपंदज को चुनकर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति इस डायलाॅग बाॅक्स के प्रदर्शन में शेड्स में बैग्राउण्ड का रंग तैयार किया जा सकता है। ये शेड्स कितने रंगो का होगा , इसका निर्धारण ब्वसवते वाले भाग में दिए गए तीन रेडियो बटन्स व्दम ब्वसवतए ज्ूव ब्वसवते में से किसी एक को चुनकर किया जाता है। वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित विभिन्न शेड्स का प्रयोग इस भाग में दिए गए रेडियो बटन च्तमेमजे को चुनकर किया जा सकता है। इन तीनो रेडियो बटन्स मेें से किसी एक को ही चुना जा सकता है और प्रत्येक के लिए इस भाग में प्रदर्शित होने वाले अन्य विकल्पो में उनके अनुरूप परिवर्तन हो जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे चुने गए शेड्स की दिशा का निर्धारण ैींकपदह ैजलसमे में दिए गए रेडियो बटन्स में से किसी एक को चुनकर किया जाता है। चुनी गई दिशा निर्धारण के अनुरूप चुने गए शेड के सम्भावित प्रकार का प्रदर्शन टंतपंदजे के नीचे होता है। इन प्रकारो में से किसी एक प्रकार को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप में प्रयोग किया जा सकता है।
ज्मगजनतम
थ्पसस म्ििमबज डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ज्मगजनतम को चुनने पर ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति इसके प्रदर्शन में वर्ड 2002 में दिए गए विभिन्न ज्मगजनतमे का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप मे किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में विभिन्न ज्मगजनतमे का प्रदर्शन होता है। यदि इन ज्मगजनतमे के अतिरिक्त अन्य ज्मगजनतमे प्रयोग करना है तो बाॅक्स में उस फोल्डर को चुन लिया जाता है, जिसमें कि अन्य ज्मगजनतमे अन्य स्थित है। अब इन ज्मगजनतमे में से वांछित ज्मगजनतम को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप में प्रयोग किया जा सकता है।
च्ंजजमतद
थ्पसस म्ििमबज डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प च्ंजजमतद को चुनकर अगले पृष्ठ पर बाई ओर दिए गए चित्र की भांति इस डायलाॅग बाॅकस के प्रदर्शन में वर्ड 2002 में पूर्वनिर्धारित विभिन्न च्ंजजमतदे का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट
च्ंहम 147
में बेकग्राउण्ड के रूप मे किया जाता है। ये च्ंजजमतदे दो रंगो के प्रयोग द्वारा तैयार होते है। इन दोनो रंगो का निर्धारण थ्वतमहतवनदक एवं ठंबाहतवनदक के नीचे दिए गए कलर बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित रंगो को चुनकर किया जा सकता है।
च्पबजनतम
थ्पसस म्ििमबज डायलाॅग बाॅक्स के चैथे मुख्य विकल्प च्पबजनतम को चुनकर ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति इस डायलाॅग बाॅक्स के प्रदर्शन मे किसी पिक्चर को डाॅक्यूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप मे प्रयोग मे लाया जा सकता है। यदि किसी पिक्चर को डाॅक्यूमेण्ट के बैकग्राउण्ड के लिए निर्धारित नहीं किया गया है तो यह डायलाॅग बाॅक्स रिक्त प्रदर्शित होता है। अब पुश बटन ैमसमबज च्पबजनतम पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में सर्वप्रथम उस फोल्डर को चुना जाता है जिसमे कि च्पबजनतम फाइल्स स्थित है। इन फाइल्स में से वांछित फाइल को चुनकर डाॅक्यूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप में प्रयोग मे लाया जाता है। निम्नांकित चित्र की भांति हमने ब्सपिि पद ब्सवनके पिक्चर फाइल को डाॅक्यूूमेण्ट में बैकग्राउण्ड के रूप मे प्रयोग करने
च्ंहम 148
के लिए चुना है, इसीलिए डायलाॅग बाॅक्स में च्पबजनतम के नीचे पिक्चर , इसके नीचे इस पिक्चर फाइल नाम का प्रदर्शन हो रहा है। इन चानो डायलाॅग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट के लिए निर्धारित की गई बैकग्राउण्ड केवल वही प्रभावी होती है, जिस चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर निर्धारित की गई बैकग्राउण्ड केवल वही प्रभावी होती है, जिसे चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक किया जाता है, अन्य मुख्य विकल्पो का चुनाव अप्रभावी रहता है।
टैक्स्ट की बैकग्राउण्ड में वाटरमार्क का निर्धारण
वर्ड 2002 के फाॅरमेट मेन्यू के विकल्प ठंबाहतवनदक के उप-मेन्यू के च्तपदजमक ॅंजमतउंता विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न की भांति च्तपदजमक ॅंजमतउंता डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में रेडियो बटन डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे रेडियोे बटन छव ूंजमतउंता को चुनने का तात्पर्य है, कि हम अपने डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ की बैकग्राउण्ड में किसी भी प्रकार का वाटरमार्क नही प्रदर्शित करना चाहते है। रेडियो बटन च्पबजनतम ॅंजमतउंता को चुनने पर इसके नीचे दिए गए विभिन्न विकल्प सक्रिय हो जाते है। अब पुश बटन ैमसमबज च्पबजनतम पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले प्देमतज च्पबजनतम डायलाॅग बाॅक्स में वांछित फोल्डर में जाकर वांछित पिक्चर फाइल को चुन लिया जाता है। यह पिक्चर पृष्ठ की बैकग्राउण्ड में किस आकार में वाटरमार्क के रूप में प्रदर्शित होगी , इसका निर्धारण ैबंसम के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स ॅंेीवनज को चुनने से वर्ड 2002 इस पिक्चर की ब्वदजतंेज तथा ठतपहीजदमेे का इस प्रकार समायोजन करता है, कि यह पिक्चर टैक्स्ट के पीछे कम दिखे। रेडियो बटन ज्मगज ूंजमतउंता को चुनने पर इसके नीचे दिए गए विकल्प सक्रिय हो जाते है और च्पबजनतम ूंजमतउंता नीचे दिए गए विकल्प निष्क्रिय हो जाते है। इस भाग में ज्मगज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर टाइप भी किया जा सकता है; जैसे कि उपरोक्त में हमने त्।टप् च्व्ब्ज्ञम्ज् ठव्व्ज्ञै टैक्स्ट इस बाॅक्स में टाइप किया हुआ है। इस टैक्स्ट के फाॅन्ट का निर्धारण थ्वदज के सामने , टैक्स्ट के फाॅन्ट का आकार ैप्रम के सामने तथा टैक्स्ट रंग का निर्धारण ब्वसवत के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्सेज में किया जाता है। इस भाग में दिए गए चैक बाॅक्स ैमउपजतंदेचंतमदज को चुनने पर टैक्स्ट वाटरमार्क अर्द्धपारदर्शी प्रदर्शित प्रतीत होता है। पृष्ठ पर यह टैक्स्ट किस प्रकार प्रदर्शित होगा , इसका निर्धारण स्ंलवनज के सामने दिए गए दो रेडियो बटन्स क्पंहवदंस तथा भ्वतप्रवदजंस में से किसी एक को चुनकर किया जाता है।
वाटरमार्क ;ॅंजमतउंताद्ध ऐसा चित्र अथवा टैक्स्ट होता है, जोकि डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ पर टैक्स्ट के पीछे हल्के रंग मे इस प्रकार प्रदर्शित होता है, कि टैक्स्ट को पढ़ने में भी कोई भी परेशानी न हो।
डाॅक्यूमेण्ट में दिनांक व समय का प्रयोग
डाॅक्यूमेण्ट में दिनांक व समय का प्रयोग दो उद्देश्य की पूर्ति करता है, पहला कर्सर के स्थान पर वर्तमान दिनांक तथा समय को दर्शाता है तथा दूसरा वर्ड 2002 में बनाए गए डाॅक्यूमेण्ट को खोलने के साथ डाॅक्यूमेण्ट की ।बबमेे क्ंजम
च्ंहम 149
– ज्पउम स्वतः ही अपडेट करने के लिए । उदाहरण के लिए कोई व्यापारिक पत्र आवेदन तैयार करते समय उसमें दिनांक तथा समय का प्रयोग। डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर क स्थान पर वर्तमान दिनांक एवं समय का प्रयोग करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के विकल्प क्ंजम ंदक ज्पउम प्रयोग करने पर संलग्न चित्र की भांति क्ंजम ंदक ज्पउम डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिनांक एवं समय के लिए वर्ड 2002 में उपलब्ध 17 विभिन्न थ्वतउंजे की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में वांछित थ्वतउंज को चुनकर प्रयोग में लाया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स न्चकंजम ।नजवउंजपबंससल को चुनने पर , इसमें √ का चिन्ह प्रदर्शित होने लगता है और अब डाॅक्यूमेण्ट में समय एवं दिनांक मे निरन्तर स्वतः ही परिवर्तन होता रहता है। समय के बढने के साथ समय में परिवर्तन एवं दिनांक बदलने पर दिनांक का परिवर्तन स्वतः ही होता रहता है। यदि इस डायलाॅग बाॅक्स में चुने गए थ्वतउंज को हम क्मंिनसज फाॅरमेट के रूप मेे निर्धारित कर सकते है अर्थात् अब जहां पर भी वर्ड 2002 दिनांक तथा समय को दर्शाएगा, उसकी फाॅरमेट यही होगी। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के उपरान्त पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर दिनांक तथा समय इन्सर्ट हो जाते है।
यदि हम यह चाहते है कि हमारे डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई दिनांक और समय में कोई परिवर्तन न हो तो इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स न्चकंजम ।नजवउंजपबंससल को नही चुनते है अर्थात् इसे रिक्त ही रहने देते है।
टैक्स्ट में वांछित शब्द अथवा शब्द श्रंृंखला को खोजना
वर्ड 2002 में हम डाॅक्यूमेण्ट में किसी शब्द अथवा शब्द श्रंखला को खोजने , उसे किसी अन्य शब्द अथवा शब्द श्रृंखला को खोजने , उसे किसी अन्य शब्द अथवा शब्द श्र्रंखला से बदलने का कार्य भी कर सकते है। इसके लिए हमें इसके म्कपज मेन्यू के थ्पदक अथवा त्मचसंबम विकल्प का प्रयोग करना होता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति थ्पदक ंदक त्मचसंबम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्पदक ॅींज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में वांछित शब्द को टाइप कर दिया जाता है। अब पुश बटन थ्पदक छमगज सक्रिय हो जाता है, और इस पुश बटन पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान के बाद जहां पर यह शब्द आ रहा है, वर्ड 2002 उस स्थान पर पहुंच जाता है। यदि हम यह चाहते हैं, कि यह शब्द डाॅक्यमेण्ट में से जिस जिस स्थान पर भी आ रहे रहा हो, वह चुना हुआ प्रदर्शित हो, तो इसके लिए चैक बाॅक्स भ्पहीसपहीज ।सस प्जमउे थ्वनदक पद को चुनते है। अब पुश बटन थ्पदक छमगज के स्थान पर थ्पदक ।सस प्रदर्शित होने लगता है और इस पर
च्ंहम 150
क्लिक करने पर सम्पूर्ण डाॅक्यूमेण्ट में यह शब्द जिस-जिस स्थान पर भी आ रहा है, वहां पर यह चुना हुआ प्रदर्शित होने लगता है। साथ ही एक सन्देश इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रदर्शित होता है, जिसमे यह सूचना प्रदर्शित होती है, कि यह शब्द डाॅक्यूमेण्ट में कितने स्थानो पर स्थित है। पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र में हमने खोज का यह कार्य इतवूद शब्द के लिए किया है और ॅवतक विनदक 45 पजमउे उंजबीपदह जीपे बतपजमतपं सन्देश इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन्स के ऊपर प्रदर्शित हो रहा है। अपनी खोज और अधिक परिष्कृत करने के लिए इए डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए पुश बटन डवतम पर क्लिक करते है, अब इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति होता है और पुश बटन डवतम के स्थान पर स्मेे प्रदर्शित होने लगता है।
च्ंहम 151
अब इस डायलाॅग बाॅक्स में खोज के कार्य के विभिन्न विकल्पो का प्रदर्शन ैमंतबी व्चजपवदे वाले भाग में होता है। इन विकल्पो का विवरण निम्नलिखित है
ैमंतबी यह तभी सक्रिय होता है, जबकि हमने चैक बाॅक्स भ्पहीसपहीज ।सस प्जमउे थ्वनदक पद को न चुना हुआ हो। इसके सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में तीन विकल्प ।ससए न्च तथा क्वूद प्रदर्शित होते है। इसमे से ।सस विकल्प को चुनने पर स्थान है उससे ऊपर खोज का कार्य होता है और क्वूद को चुनने पर खोज का कार्य कर्सर के स्थान के नीचे के टैक्स्ट में होता है।
डंजबी बंेम इन चैक बाॅक्स को चुनने से वर्ड 2002 खोज का कार्य करते समय न्चचमतबंेम तथा स्वूमतबंेम अन्तर भी जांचता है अर्थात् जिस ब्ंेम में यदि शब्द उसे डाॅक्यूमेण्ट में प्राप्त होते है, तो ही उनको दर्शाया जाता है। यह चैक बाॅक्स न्ेम ूपसकबंतके चैक को चुनने पर निष्क्रिय हो जाता है।
थ्पदक ॅीवसम ूवतके वदसल इस चैक बाॅक्स को चुनने से वर्ड 2002 खोज का कार्य करते समय थ्पदक ूींज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप किए गए सम्पूर्ण को ही खोजता है। इसे इस प्रकार समझते है, मान लीजिए हमने थ्पदक ूींज के सामने दिए गए बाॅक्स में ंतम टाइप करके , खोज का कार्य प्रारम्भ किया। यदि हमने इस चैक बाॅक्स को चुन रखा है, तो वर्ड 2002 केवल ंतम शब्द को ही खोजेगा, और यदि इस चैक बाॅक्स को नही चुन रखा है, तो खोज के दौरान बंतमएंितम जैसे शब्द , जिनमें ंतम अक्षर इसी क्रम में आ रहे हैं, को भी चुन लेते है। यह चैक बाॅक्स भी न्ेम ूपसकबंतके चैक को चुनने पर निष्क्रिय हो जाता है।
च्ंहम 152
न्ेम ूपसकबंतके इस चैक बाॅक्स को चुनते ही डंजबी बंेम तथा थ्पदक ूीवसम ूवतके वदसल चैक बाॅक्सेज निष्क्रिय हो जाते है। इस चैक बाॅक्स को चुनकर हम अपने डाॅक्यूमेण्ट में वाइल्ड कार्ड , विशेष कैरेक्टर्स तथा विशेष सर्च आॅपरेटर्स को थ्पदक ूींज टैक्स्ट बाॅक्स में जोड सकतेे है। इनको जोडने के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश ैचमबपंस पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर विभिन्न प्रकार के विशेष कैरेक्टर्स एव ंसर्च आॅपरेटर को चुनने पर वह थ्पदक ूींज टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होने लगता है और खोज में इनका प्रयोग होता है। अब यदि हमने इस चैक बाॅक्स पर क्लिक करके इसे रिक्त कर दिया, तो थ्पदक ूींज टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाले ये विशेष कैरेक्टर्स अथवा सर्च आॅपरेटर्स सामान्य टैक्स्ट की भांति ही खोज के कार्य में प्रयोग होते हैं, न कि विशेष कैरेक्टर्स अथवा सर्च आॅपरेटर्स के रूप में।
ैवनदक सपाम ;म्दहसपेीद्ध इस चैक बाॅक्स को चुनने से वर्ड 2002 खोज का कार्य थ्पदक ूींज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप किए गए अंग्रेजी में शब्द के समान उच्चारण वाले शब्दो को भी खोजता है। उदाहरण के लिए यदि हम जव शब्द को खोज रहे है, तो यह जव के साथ-साथ जवव शब्द को भी खोजता है। इस चैक बाॅक्स को चुनते ही डंजबी बंेम तथा थ्पदक ूीवसम ूवतके वदसल चैक बाॅक्सेज निष्क्रिय हो जाते है।
थ्पदक ंसस ूवतके वितउे ;म्दहसपेीद्ध इस चैक बाॅक्स को चुनने से वर्ड 2002 खोज का कार्य थ्पदक ूींज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में किए गए शब्द के अंग्रेजी में तीनो थ्वतउे खोजता है। उदाहरण के लिए यदि हम हव के साथ-साथ ूमदज तथा हवदम शब्द को भी खोजता हैै। इस चैक बाॅक्स को चुनते ही डंजबी बंेम तथा थ्पदक ूीवसम ूवतके वदसल चैक बाॅक्सेज निष्क्रिय हो जाते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन थ्वतउंज पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर यह सुनिश्चित किया जाता है कि खोज का कार्य फाॅन्ट, पैराग्राफ, लेंगुएज, स्टाइल, टैब्स, फ्रेम अथवा हाइलाइट टैक्स्ट के अनुरूप होना है अथवा बिना किसी निर्धारण के चुना गया फाॅरमेट थ्पदक ूींज टैक्स्ट बाॅक्स के नीचे प्रदर्शित होता है।
वांछित शब्द या शब्द श्रृंखला को किसी अन्य शब्द या शब्द श्रृंखला से बदलना
वर्ड 2002 में हम डाॅक्यूमेण्ट में किसी शब्द अथवा शब्द श्रृंखला को खोजकर उसे किसी अन्य शब्द अथवा शब्द श्रृंखला से बदलने के लिए हमें इसके म्कपज मेन्यू के त्मचसंबम विकल्प का प्रयोग करना होता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र. की भांति थ्पदक ंदक त्मचसंबम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में उस शब्द को टाइप कर दिया जाता है, जिसे हम बदलना चाहते है और त्मचसंबम ूपजी के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में उस शब्द का टाइप कर दिया जाता है, जिससे हम थ्पदक ूींज के सामने टाइप किए गए शब्द को बदलना चाहते है। अब पुश बटन त्मचसंबम पर क्लिक करने पर हम उस शब्द पर पंहुचकर उसे बदल सकते है। पुश बटन त्मचसंबम ।सस पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में सभी स्थानो जहां पर भी थ्पदक ूींज के सामने टाइप किया गया शब्द आ रहा है, को
च्ंहम 153
त्मचसंबम ूपजी के सामने टाइप किए गए टैक्स्ट से बदल देता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए अन्य पुश बटन्स तथा विकल्पो का प्रयोग हम उसी प्रकार कर सकते है, जिस प्रकार हमने किसी शब्द को खोजते समय किया था।
डाॅक्यूमेण्ट में वांछित स्थान पर पहुंचना
वर्ड 2002 में यदि हमारा डाॅक्यमेण्ट बहुत बडा है अर्थात् अनेक पृष्ठो का है, तो डाॅक्यूमेण्ट में वांछित स्थान पर पंहुचने के लिए इसके म्कपज मेन्यू में दिए गए विकल्प ळव ज्व का प्रयोग किया जाता है। इस प्रकार का प्रयोग करने पर थ्पदक ंदक त्मचसंबम डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ळवज्व ॅींज के नीचे दिए गए विकल्पो में से किसी भी एक विकल्प को चुनकर , उससे सम्बन्धित संख्या अथवा नाम को इसके दाई ओर दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप करके पुश बटन ळवज्व पर क्लिक करने पर कर्सर उस स्थान पर स्थानान्तरित हो जाता है। उदाहरण के लिए यदि हमको डाॅक्यूमेण्ट के पांचवे पृष्ठो में जाना है तो इसके लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में ळवज्व ॅींज के नीचे दिए गए बाॅक्स में च्ंहम चुनकर इसके दाई ओर दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में 5 टाइप करके पुश बटन ळवज्व पर क्लिक करना होगा।
वर्ड 2002 में अपनी डिक्शनरी बनाना
वर्ड 2002 में अपने व्यापार अथवा अपने कार्य से सम्बन्धित शब्दो को अपनी निजी डिक्शनरी में स्टोर करके डाॅक्यूमेण्ट की स्पेलिंग की जांच करने के लिए प्रयोग कर सकते है। यह कार्य हमे निम्नलिखित चरणो में करना होगा
वर्ड 2002 के ज्ववसे मेन्यू पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले विकल्पो में से व्चजपवदे पर क्लिक करते है। परिणमस्वरूप् नीचे बाई ओर के चित्र की भांति व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होगा ।
च्ंहम 154
अब व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स के ैचमससपदह ंदक ळतंउउंत मुख्य विकल्प पर क्लिक करते है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन पिछले पृष्ठ पर दिए गए ओर के चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ब्नेजवउ क्पबजपवदंतपमे पुश बटन पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति ब्नेजवउ क्पबजपवदंतपमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शन होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में छमू पुश बटन पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति ब्तमंजम ब्नेजवउ क्पबजपवदंतल डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्पसम छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में हम अपनी नई डिक्शनरी का नाम टाइप कर देते है तथा पुश् बटन ैंअम पर क्लिक करते है। हमारी डिक्शनरी फाइल दिए गए नाम के साथ ण्कपब विस्तारित नाम के साथ ?ॅपदकवूे?।चचसपबंजपवद क्ंजं?डपबतवेवजि?च्तवव िनामक फोल्डर में सुरक्षित हो जाएगी और अब ब्नेजवउ क्पबजपवदंतपमे का डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में अब हमारे द्वारा बनाई गई यह डिक्शनरी डल क्पबजपवदंतलण्कपब के नाम से
च्ंहम 155
बनाई है, अतः इस डायलाॅग बाॅक्स में डिक्शनरी ब्नेजवउण्कपब के साथ-साथ डलक्पबजपवदंतलण्कपब भी प्रदर्शित हो रही है। अब इस डिक्शनरी को चुनकर पुश बटन डवकपलि पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति डलक्पबजपवदंतलण्कपब डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
हम डायलाॅग बाॅक्स में हम अपनी डिक्शनरी में विभिन्न शब्दो को एक-एक करके जोड सकते है। हमें जो शब्द अपनी डिक्शनरी में जोडना है, उसे ॅवतक के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप करके इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ।कक पर क्लिक कर देते है। इस प्रक्रिया से हम अनेक शब्दो को एक-एक करके जोड सकते है।
यदि गलती से हमसे कोई गलत शब्द डिक्शनरी में जुड गया है, तो उस चुनकर इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन क्मसमजम पर क्लिक करके उसे मिटा भी सकते है।
वांछित शब्दो को डिक्शनरी में जोडने के उपरान्त इस डायलाॅग बाॅक्स में स्ंदहनंहम के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मे से ।सस स्ंदहनंहमे विकल्प को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है। अब हम ब्नेजवउ क्पबजपवदंतपमे डायलाॅग बाॅक्स में वापस आ जाते है।
वांछित शब्दो को डिक्शनरी में जोडने के उपरान्त इस डायलाॅग बाॅक्स में स्ंदहनंहम के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली क्पबजपवदंतपमे डायलाॅग बाॅक्स में वापस आ जाते है।
यहां पर पूनः व्ज्ञ पुश बटन पर क्लिक करने पर हम व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स में वापस आ जाते है।
यहा पर पूनः व्ज्ञ पुश बटन पर क्लिक करने पर हम अपने डाॅक्यूमेण्ट में आ जाते है।
अब हमारे द्वारा बनाई गई डिक्शनरी तैयार है। इसका प्रयोग हम किसी भी डाॅक्यूमेण्ट में ैचमससपदह और ळतंउउंत की जांच के लिए प्रयोग से कर सकते है।
स्ंदहनंहम का प्रयोग
जैसाकि हम जानते है माइक्रोसाॅफ्ट आॅफिस ग्च् को माइक्रोसाॅफ्ट काॅरपोरेशन ने विकसित किया है, अतः इसके सभी एप्लीकेशन प्रोग्राम्स की पूर्व निर्धारित लैंग्वेज ;क्मंिनसज स्ंदहनंहम द्ध अमेरिकन इंग्लिश म्दहसपेी ;न्ण्ज्ञण्द्ध होती है।
हमारे भारत में ब्रिटिश इंग्लिश ;न्ण्ज्ञण्द्ध का प्रयोग किया जाता है, अतः आॅफिस ग्च् के सभी एप्लीकेशन प्रोग्राम्स में लैंग्वेज को ब्रिटिश इंग्लिश के रूप में निर्धारित करने के लिए हमे निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा ।
विन्डोज टास्क बार पर दिए गए ैजंतज बटन पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू डपबतवेवजि व्ििपबम ग्च् स्ंदहनंहम ैमजजपदहे पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति डपबतवेवजि व्ििपबम ग्च् स्ंदहनंहम ैमजजपदह डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
च्तवहतंउे मेन्यू में डपबतवेवजि व्ििपबम ज्ववसे पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू डपबतवेवजि व्ििपबम ग्च् स्ंदहनंहम ैमजजपदह पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति डपबतवेवजि व्ििपबम ग्च् स्ंदहनंहम ैमजजपदह डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में क्मंिनसज टमतेपवद व िडपबतवेवजि व्ििपबम के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न भाषाओ की सूची में से वांछित भाषा अर्थात् करना चाहते है, चुन लेते है।
च्ंहम 156
अब इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति डपबतवेवजि व्ििपबम स्ंदहनंहम ैमजजपदह डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हमें यह सुचना प्राप्त होती है, कि आॅफिस के समस्त कार्यकारी ;त्नददपदहद्ध प्रोग्राम्स बन्द होगें, ताकि हमारे द्वारा निर्धारित की गई लैंग्वेज प्रभावी हो सके। इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ल्मे पर क्लिक करने पर कार्य सम्पन्न हो जाता है।
डाॅक्यूमेण्ट में ज्ीमेंनतने का प्रयोग
डाॅक्यूमेण्ट में ज्ीमेंनतने का प्रयोग किसी शब्द को शुद्ध करने से लेकर , उस शब्द के समानार्थी शब्द देखने तथा उन्हे उनसे विस्थानित करने के लिए किया जाता है। इसका प्रयोग हम डाॅक्यूमेण्ट में निम्नलिखित हो दो प्रकार से कर सकते है
डाॅक्यूमेण्ट में किसी शब्द पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के विकल्प ैलदवदलउे पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर उस शब्द के समानार्थी शब्दो की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में से वांछित समानार्थी शब्द को चुन सकते है। इस सूची के अन्त में एक विकल्प ज्ीमेंनतने भी दिया होता है। इसका प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले ज्ीमेंनतने डायलाॅग बाॅक्स को प्रयोग करके ।
ज्ववसे मेन्यू में दिए गए स्ंदहनंहम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होेने वाले उप-मेन्यू के विकल्प ज्ीमेंनतेने का प्रयोग करके ।
इस विकल्प का प्रयोग करने पर भी माॅनीटर स्क्रीन पर भी संलग्न चित्र की भांति ज्ीमेंनतेने डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे स्ववामक न्च के नीेचे दिए गए बाॅक्स में वह शब्द प्रदर्शित होता है, डाॅक्यूमेण्ट मे जिस शब्द पर कर्सर स्थित है। डमंदपदहे के नीचे दिए गए बाॅक्स से वांछित शब्द को चुनने पर उस शब्द के सामानार्थी शब्द की सूची त्मचसंबम ूपजी ैलदवदलउ के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होती है। इस सूची के
च्ंहम 157
जिस समानार्थी शब्द से स्ववामक न्च बाॅक्स में प्रदर्शित हो रहे शब्द को विस्थापित करना चाहते है, उसे चुनने पर वह शब्द त्मचसंबम ूपजी ैलदवदलउ के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होता है और पुश बटन त्मचसंबम पर क्लिक करने पर यह डाॅक्यूमेण्ट में विस्थापित हो जाता है। पुश बटन स्ववा न्च का प्रयोग त्मचसंबम ूपजी ैलदवदलउ के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित हो रहे शब्द के सामानार्थी शब्दो की सूची प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
ॅवतक ब्वनदज का प्रयोग
वर्ड 2002 में ॅवतक ब्वनदज का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट में शब्दो, लाइन्स, पैराग्राफ्स तथा पृष्ठो की संख्या ज्ञात करने के लिए किया जाता है। इस कार्य के लिए वर्ड 2002 के ज्ववसे मेन्यू में दिए गए विकल्प ॅवतक ब्वनदज का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ॅवतक ब्वनदज डायलाॅग बाॅक्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में उपरोक्त समस्त जानकारी प्रदर्शित होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए पुश बटन ैीवू ज्ववसइंत पर क्लिक टूल को ॅवतक ब्वनदज के डायलाॅग बाॅक्स पर दिए गए ैीवू ज्ववसइंत पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 की विन्डो में ॅवतक ब्वनदज टूलबार का प्रदर्शन निम्नांकित चित्र की भांति होता है।
इस टूलबार पर केवल दो टूल बटन्स , ॅवतक ब्वनदज ैजंजपेजपबे तथा त्मबवनदज ही प्रदर्शित होते है। पहले टूलब बटन ॅवतक ब्वनदज ैजंजपेजपबे पर क्लिक करने पर उपरोक्त चित्र की भांति ॅवतक ब्वनदज की समस्त जानकारी प्रदर्शित होती है। दूसरे टूल बटन त्मबवनदज का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में पूनः ॅवतक ब्वनदज करने के लिए किया जाता है।
टैक्स्ट को किसी अन्य भाषा में अनुवादित करना
हम पहले जान चुके है कि वर्ड 2002 में इन्टरनेट की सुविधाओ को विशेष रूप सम्मिलित किया गया है। डाॅक्यूमेण्ट में टाइप किए गए टैक्स्ट को किसी अन्य भाषा में अनुवादित करना , इन्टरनेट के कारण ही सफल हो पाया है। उदाहरण के लिए म्दहसपेी ;न्ज्ञद्ध में लिखे गए डाॅक्यूमेण्ट को फ्रेंच भाषा में अनुवादित करना चाहतें है, तो वर्ड 2002 के ज्ववसे मेन्यू के स्ंदहनंहम विकल्प पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के ज्तंदेसंजम विकल्प पर क्लिक करते है। परिणामस्वरूप वर्ड 2002 की विन्डो की दाई ओर ज्तंदेसंजम टास्क पेन का प्रदर्शन अग्रांकित चित्र की भांति होता है।
जैसाकि हम देख सकते है ज्तंदेसंजम ॅींजघ् के नीचे तीन विकल्प , रेडियो बटन्स के रूप मे दिए गए है। प्रथम विकल्प ज्मगज का प्रयोग करने के लिए, हमे वांछित शब्द, जिसका अनुवाद करना है, ज्मगज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में टाइप करना होता है। टाइप करने के उपरान्त क्पबजपवदंतल के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर यह सुनिश्चित किया
च्ंहम 158
जाता है कि टैक्स्ट भाषा में अनुवादित होगा। अब ळव बटन पर क्लिक करने पर ज्मगज के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे टाइप किया गया टैक्स्ट अनुवादित होकर त्मेनसज के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होगा। अब यदि हम त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित हो रहे शब्द को डाॅक्यूमेण्ट में स्थानान्तरित करना चाहते है, तो उस शब्द को त्मेनसज बाॅक्स में चुनकर त्मचसंबम बटन पर क्लिक कर देते है।
इसी प्रकार हम अन्य दोनो रेडियो बटन्स ब्नततमदज ैमसमबजपवद तथा म्दजपतम कवबनउमदज का भी प्रयोग कर सकते है। परन्तु इन विकल्पो का प्रयोग करने के लिए आप ज्तंदेसंजम अपं ॅमइ के नीचे दिए गए ळव बटन का प्रयोग करना होगा। परिणामस्वरूप वर्ड 2002 वेब ट्रान्सलेशन सर्विस को खोलने के लिए आपके डिफाल्ट इन्टरनेट ब्राऊजर को लोड करेगा ।
स्मार्ट टैग का प्रयोग करना
आॅफिस के पूर्ववर्ती संस्करणो में स्मार्ट टैग सुविधा का समावेश नही किया गया था। वर्ड के डाॅक्यूमेण्ट में आउटलुक दो किसी एड्रेस को इन्सर्ट अत्यन्त ही सरल है, परन्तु क्या आपने कभी वर्ड से आउटलुक में एड्रेस को इन्सर्ट करने की कोशिश की है, यदि आपका उत्तर हां में है, तो आपने ब्वचल तथा च्ंेजम का प्रयोग किया होगा , परन्तु इसके लिए एक साथ दोनो एप्लीकेशन्स को खोलना पडता है। वर्ड 2002 के स्मार्ट टैग के द्वारा हम यह कार्य अत्यन्त सरलता से कर सकते है।
स्मार्ट टैग का प्रयोग करने के लिए हमें सर्वप्रथम ज्ववसे मेन्यू में दिए गए व्चजपवदे विकल्प पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले व्चजपवदे का डायलाॅग बाॅक्स में विकल्प प्रदर्शित होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के ैीवू वाले भाग में दिए गए विकल्प ैउंतज ज्ंहे के चेक बाॅक्स पर क्लिक करके इसे चुन लेते है। चुने हुए चैक बाॅक्स में √ चिन्ह प्रदर्शित होता है। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके इस डायलाॅग बाॅक्स से बाहर आ जाते है।
च्ंहम 159
इसके बाद पुनः ज्ववसे मेन्यू में दिए गए ।नजवबवततमबज व्चजपवदे पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ।नजवबवततमबज डायलाॅग बाॅक्स के मुख्य विकल्प ैउंतज ज्ंहे पर क्लिक करते है। अब इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिया गया पहला चैक बाॅक्स स्ंइमस जमगज ूपजी ेउंतज जंहे का प्रयोग स्मार्ट टैग को आॅन अथवा आॅफ करने के लिए किया जाता है। यदि यह चैक बाॅक्स चुना हुआ है, तो स्मार्ट टैग सुविधा आॅन होती है, और यदि नही चुना हुआ है, यह सुविधा आॅफ होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में त्मबवहदप्रमते के नीचे दिए गए बाॅक्स में ैउंतज ज्ंह से सम्बन्धित दिए गए विकल्पो की सूची का आशय न्मि प्राकर से है
च्मतेवद छंउम ;म्दहसपेीद्ध इसका प्रयोग डंपस भेजने, ब्वदजंबज को व्चमद करने , ब्वदजंबजे में नाम को जोडने , वर्ड में आउटलुक से एड्रैस इन्सर्ट के लिए किया जाता है।
क्ंजमे ;म्दहसपेीद्ध इस प्रयोग आउटलुक में मीटिंग को ैबीमकनसम करने तथा डल ब्ंसंदकमत को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
।ककतमेे ;म्दहसपेीद्ध इसका प्रयोग ब्वदजंबजे में एड्रैस को जोडने के लिए किया जाता है।
ज्मसमचीवदम छनउइमते ;म्दहसपेीद्ध का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में आउटलुक 2002 से हाल-फिलहाल ;त्मबमदजसलद्ध में भेजे गए मेल, जो विभिन्न एड्रैस पर भेजें गए होंगे, को प्रदर्शित कर , डाॅक्यूमेेण्ट में इन्सर्ट करने के लिए लिए किया जाता है।
इसी प्रकार इस सूची के अन्य विकल्पो का उनके के अनुरूप उद्देश्य होते है। इन विकल्पो में से हम जिन्हे अपने डाॅक्यूमेण्ट में टाइपिंग करते समय प्रयोग करना चाहतें है, तो उन्हे चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है। यदि हम ैउंतज ज्ंह के सभी विकल्पो को आॅन् रहते हुए भी उनको प्रदर्शित नही करना चाहते है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे दिए गए चैक बाॅक्स ैीवू ैउंतज ज्ंह ।बजपवदे ठनजजवदे पर क्लिक करते है।
यदि हम किसी डाॅक्यूमेण्ट से स्मार्ट टैग के एक्शन बटन को हटाना चाहते है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन त्मउवअम ैउंतज ज्ंहे पर क्लिक करना होगा ।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे यह पुश बटन तभी सक्रिय होता है, जबकि हमने डाॅक्यूमेण्ट में किसी स्थान पर स्मार्ट टैग का प्रयोग किया हुआ है।
इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक चेतावनी सन्देश प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ल्मे पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए सभी स्मार्ट टैग्स मिट जाते
च्ंहम 160
है। यदि हम स्मार्ट टैग्स का मिटाना नही चाहते है, तो पुश बटन छव पर क्लिक करते है। डाॅक्यूमेण्ट को स्मार्ट टैग के साथ सुरक्षित करने के लिए पुश बटन ैंअम व्चजपवदे पर क्लिक करते है।
अब माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ैंअम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स म्उइमकमक ेउंतज जंहे को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ बटन पर क्लिक करते है।
अब हम जब भी भविष्य में अपने डाॅक्यूमेण्ट को ैंअम करेंगे, तो यह स्मार्ट टैग्स के साथ ैंअम होगा और इसके उपरान्त जब भी इस डाॅक्यूमेण्ट को खोल जाएगा, तो यह स्मार्ट टैग एक्शन बटन के साथ ओपन होगा। डवतम ैउंतज ज्ंहे बटन का प्रयोग माइक्रोसाॅफ्ट की वेब साइट पर उपलब्ध अन्य स्मार्ट टैग को डाउनलोड करके डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग करने के लिए किया जाता है।
निम्नांकित चित्र में एक क्ंजम स्मार्ट टैग को दर्शाया गया है
वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ का निर्धारण करना
वर्ड 2002 में तैयार किए जाने वाले डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ का आकार , हाशिए आदि के निर्धारण के लिए इसके थ्पसम मेन्यू मे ंदिए गए विकल्प च्ंहम ैमजनच का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प को चुनने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में तीन मुख्य विकल्प डंतहपदएच्ंचमत तथा स्ंलवनज दिए गए होते है। इससे पहले च्ंहम ैमजनच विकल्प का प्रयोग करने पर जिस मुख्य विकल्प को चुनकर इस डायलाॅग बाॅक्स को बन्द किया गया होगा, वही मुख्य विकल्प इस डायलाॅग बाॅक्स में चुना हुआ प्रदर्शित होता है। यदि हम वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग प्रथम बार कह रहे हैं तो चित्र की भांति इसका प्रथम मुख्य विकल्प डंतहपद चुना हुआ प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट फाइल के पृष्ठो के हाशिए तथा यदि पृष्ठ में एक से अधिक काॅलम्स का प्रयोग किया जा रहा है तो काॅलम्स के बीच की दूरी आदि का निर्धारण किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के डंतहपदे
च्ंहम 161
वले भाग में ज्वच रू सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ के ऊपरी भाग, ठवजजवउरू के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ निचले भाग , स्मजिरू के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ के बाएं भाग तथा त्पहीजरू के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ में वाइण्डिंग के लिए इंचो में प्रविष्ट किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ में वाइण्डिंग के लिए छोडे़ जाने वाले अतिरिक्त स्थान का निर्धारण ळनजजमतरू के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में इंचो में किया जाता है। यह स्थान पृष्ठ पर बाई ओर तथा ऊपर की ओर छोडा जा सकता है। स्थान का चयन ळनजजमत च्वेपजपवदरू के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में किया जाता है।
ठस डायलाॅग बाॅक्स के व्तपमदजंजपवद वाले भाग में पृष्ठ के ओरिएन्टेशन का निर्धारण किया जाता है। पृष्ठ के ओरिएन्टेशन से सम्बन्धित इस भाग में दो बटन्स च्वजतंपज तथा स्ंदकेबंचम दिए होते है। हमने जो भी हाशिए डंतहपदे विकल्प द्वारा पृष्ठ के लिए निश्चित किए थे वे च्वजतंपज व्तपमदजंजपवद के लिए प्रभावी होते है। यदि हम च्ंचमत व्तपमदजंजपवद स्ंदकेबंचम निश्चित करते हैं तो डंतहपदे में ज्वच और ठवजजवउ डंतहपदे इस व्तपमदजंजपवद के लिए स्मजि और त्पहीज डंतहपदे हो जाते है। इसी प्रकार प्देपकमध्स्मजि और व्नजेपकमध्त्पहीज डंतहपदे इस व्तपमदजंजपवद के लिए ज्वच और ठवजजवउ डंतहपदे हो जाते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्ंहमे वाले भाग में डनसजपचसम च्ंहमेरू के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होनी वाली सूची में चार विकल्प छवतउंसए डपततवत डंतहपदे ए विकल्प सामान्य पृष्ठ के लिए होता है। डपततवत डंतहपद विकल्प को तब चुना जाता है, जब हमें पृष्ठ के दोनो ओर प्रिन्ट निकालने होते है। जब इस विकल्प को चुन लेते है तो स्मजि के स्थान पर प्देपकम और त्पहीज के स्थान पर व्नजेपकम प्रदर्शित होता है। यदि इस विकल्प को नही चुनते है तो ऊपर प्देपकम के स्थान पर स्मजि और व्नजेपकम के स्थान पर त्पहीज प्रदर्शित होता है। इस विकल्प के चुनने का अर्थ है कि पहले पृष्ठ के लिए बायां हाशिए, दूसरे पृष्ठ के लए दायां हाशिया होगा, इसी प्रकार पहले पृष्ठ के लिए दायां हाशिया, दूसरे पृष्ठ के लिए बायां हाशिया होगा । चैक बाॅक्स 2 च्ंहमे चमत ैीममज का प्रयोग एक ही कागज पर दो प्रिन्ट प्राप्त करने के लिए किया जाता है। ठववा विसक विकल्प को तब प्रयोग किया जाता है, जब हम किसी डाॅक्यूमेण्ट के अनेक पृष्ठ एक ही पृष्ठ पर इस प्रकार प्रिन्ट करना चाहते है, कि उनको मोडने पर वे एक पुस्तक के रूप् में प्रयोग में आ सकें। इस विकल्प को चुनने पर इस भाग में एक अन्य सैलेक्शन बाॅक्स ैीममजे वित इववासमज प्रदर्शित होने लगता है। इस सैलेक्शन बाॅक्स में हमे ंयह निर्धारित करना होता है, कि एक पृष्ठ पर बुकलेट के कितने पृष्ठ प्रिन्ट हांेगे।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्तमअपमू वाले भाग में ।चचसल ज्वरू के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स में किए गए निर्धारण को डाॅक्यूमेण्ट के कितने भाग के लिए प्रभावी करना है, से सम्बन्धित विकल्पो की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में दिए गए प्रथम विकल्प ॅीवसम क्वबनउमदज विकल्प को चुनने पर च्ंहम ैमजनच के निर्धारण समस्त डाॅक्यूमेण्ट के लिए प्रभावी होते है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट के कुछ भाग को चुनकर च्ंहम ैमजनच में विकल्प का प्रयोग किया है, तो इस सूची में दूसरा विकल्प ैमसमबज ज्मगज होता है। इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम ैमजनच में किया गया निर्धारण डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए भाग के लिए ही प्रभावी होती है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट में कर्सर को किसी स्थान पर लाने के बाद च्ंहम ैमजनच विकल्प का
च्ंहम 162
सैलेक्शन के बारे में हम आगे चर्चा करेंगे।
प्रयोग इस सूची में ज्ीपे च्वपदज थ्वतूंतक विकल्प भी प्रदर्शित होता है। इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम ैमजनच में किया गया निर्धारण डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर की वर्तमान स्थिति से आगे के सम्पूर्ण ज्मगज के लिए प्रभावी होती है। यदि हमने अपने डाॅक्यूमेण्ट में सैक्शन परिभाषित किया है तो जिस सैक्शन में कर्सर स्थित होता है तो इस सूची में एक विकल्प ज्ीपे ैमबजपवद भी प्रदर्शित होता है। इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स में किया गया निर्धारण इसी सैक्शन के प्रभावी होता है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट मे एक से अधिक सैक्शन्स को चुनकर च्ंहम ैमजनच विकल्प का प्रयोग किया है तो प्रभावी होता है। यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट में एक से अधिक सैक्शन्स को चुनकर च्ंहम ैमजनच विकल्प को चुनने पर च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स मे किया गया निर्धारण डाॅक्यूमेण्ट में चुने गए सैक्शन्स के प्रभावी होता है। पुश बटन क्मंिनसज पर क्लिक करने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में किए निर्धारण को वर्ड 2002 के पृष्ठ के लिए का क्मंिनसज निर्धारण हो जाता है। च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स में च्तमपअपमू वाले भाग में च्ंहम ैमजनच वर्तमान निर्धारण के अनुरूप डाॅक्यूमेण्ट से पृष्ठ का प्रदर्शन किस प्रकार का होगा , प्रदर्शित होता है।
च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प च्ंचमत को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में च्ंचमत ैप्रम पर के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर वर्ड 2002 में दिए गए पेपर क विभिन्न आकारो की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में वांछित आकार का पेपर चुना जा सकता है। चुने गए पेपर की लम्बाई और चैडाई का प्रदर्शन इसके नीचे ॅपकजी एवं भ्मपहीज में होता है। च्ंचमत ैप्रम में दी गई सूची में अन्तिम विकल्प ब्नेजवउ ेप्रम होता है। इस विकल्प को चुनकर हम अपनी इच्छानुसार पेपर का आकार ॅपकजी के आगे अपने पृष्ठ की चैडाई और भ्मपहीज के आगे पृष्ठ की लम्बाई अथवा ऊंचाई की माप इंचो में देकर निर्धारित कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के च्ंचमत ैवनतबम वाले भाग में दिए गए विकल्पो के प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट की च्तपदजपदह के दौरान च्ंचमत च्तपदजमत ज्तंल से लिया जाएगा अथवा डंदनंस थ्ममक द्वारा यह निर्धारित किया जाता है। थ्पतेज च्ंहम के नीचे दिए गए विकल्पो में से एक विकल्प चुनकर थ्पसम अथवा ैमबजपवद के पहले च्ंहम की च्तपदजपदह के दौरान च्ंचमत कहां से लिया जाएगा , यह निर्धारित किया जाता है।
इसी प्रकार व्जीमत च्ंहमे में दिए गए विकल्पो में से एक विकल्प चुनकर थ्पसम या ैमबजपवद के अन्य च्ंहमे बारे में भी यही निर्धारित किया जाता है। ।चचसल ज्व और पुश बटन क्मंिनसज का प्रयोग पूर्वानुसार किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में एक पुश बटन च्तपदज व्चजपवदे भी दिया होता है।
इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्तपदजपदह व्चजपवदे वाले भाग में दिए गए पहले चैक बाॅक्स क्तंजि वनजचनज को चुनने से
च्ंहम 163
डाॅक्युमेण्ट की प्रिन्टिंग न्यूनतम फाॅरमेटिंग के साथ होती है, जोकि प्रिन्टिंग की गति को बढा देती है । कुछ प्रिन्टर्स इस विकल्प को ेनचचवतज नही करते है। चैक बाॅक्स न्चकंजम पिमसके को चुनने से प्रिन्टिंग से पहले डाॅक्युमेण्ट की सभी फील्ड्स अपडेट हो जाती है। चैक बाॅक्स न्चकंजम स्पदो को चुनने पर प्रिन्टिंग से पहले सभी लिंक्स अपडेट हो जाती है। कुछ देशो में स्टैण्डर्ड पेपर साइज स्मजजमत है और कुछ में ।4 । चैक बाॅक्स ।ससवू ।4ध् स्मजजमत चंचमत तमेप्रपदह को चुनने से देश के अनुरुप इन पेपर साइजो में प्रिन्ट होता है।
पृष्ठ की त्मेप्रपदह प्रिन्टिंग के दौरान ही होती है, न कि हमारे डाॅक्युमेण्ट में । चैक बाॅक्स ठंबाहतवनदक च्तपदजपदह को चुनने पर प्रिन्ट डाॅक्युमेण्ट को प्रिन्ट निकालने पर, प्रिन्ट निकलते समय भी हम कार्य कर सकते हैं अर्थात प्रिन्ट बेकग्राउण्ड मे निकलते है। बैकग्राउण्ड प्रिन्टिंग कम्पयुटर की अतिरिक्त मैमोरी का प्रयोग करता है, अतः प्रिन्टिंग की गति अपेक्षाकृत धीमी होती है। यहां पर बैकग्राउण्ड से पृष्ठ की बैकग्राउण्ड से नहीं है। चैक बाॅक्स च्तपदज च्वेजैबतपचज वअमत जमगज को चुनने से मैकेन्तोश डाॅक्युमेण्ट के लिए ब्वदअमतजमक ॅवतक में डाॅक्युमेण्ट मे सबसे च्वेजैबतपचज ब्वकमे प्रिन्ट होते है। चैक बाॅक्स त्मअमतेम चतपदज वतकमत को चुनने से प्रिन्टिंग के दौरान डाॅक्युमेण्ट के अन्तिम पृष्ठ का प्रिन्ट पहले निकलता है और पहले पृष्ठ का अन्त में। यदि हम म्दअमसवचमे की प्रिन्टिंग कर रहे है, तो इस चैक बाॅक्स को चुनने की सलाह नही दी जाती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स प्दबसनकम ूपजी कवबनउमदजे वाले भाग में दिए गए चैकक बाॅक्स क्वबनउमदज च्तवचमतजपमे को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट के प्रिन्ट निकलने के उपरान्त डाॅक्युमेण्ट की ैनउउंतल प्दवितउंजपवदे का प्रिन्ट भी पृथक पृष्ट पर प्राप्त होता है। चैक बाॅक्स थ्पमसक बवकमे को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट मेे फील्ड त्मेनसजे के स्थान पर थ्पमसक ब्वकमे प्रिन्ट होते है। उदाहरण के लिए डंल 16ए2002 के स्थान पर ज्प्डम्?/ श्डडडड कएललललश् प्रिन्ट होता है। चैक बाॅक्स भ्पककमद जमगज को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट में प्रयोग किए गए भ्पककमद ज्मगज को भी प्रिन्ट किया जा सकता है। भ्पककमद ज्मगज को भी प्रिन्ट किया जा सकता है। भ्पककमद जमगज कें नीचे माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाली क्वजजमक रेखा प्रिन्ट नही होती है, केवल भ्पककमद ज्मगज ही प्रिन्ट होता है। क्तंूपदह व्इरमबजे चैक बाॅक्स को चुनने से डाॅक्युमेण्ट में ड्राइंग आॅब्जैक्ट के स्थान पर रिक्त बाॅक्स ;ठसंदा ठवगद्ध प्रदर्शित होता है।
इस डाॅक्युमेण्ट के व्चजपवदे वित बनततमदज कवबनउमदज वदसल वाले भाग में दिए गए चैक बाॅक्स च्तपदज वदसल कंजं वित वितउे को चुनने पर किसी आॅनलाइन फाॅर्म में प्रविष्ट किए गए आंकउे ही प्रिन्ट होते हैं, न कि वह आॅन लाइन फाॅर्म। क्मंिनसज जतंल के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में दिए गए विकल्पो में से वांछित विकल्प को चुनकर यह निर्धारित किया जाता है, कि प्रिन्टर पेपर के लिए किस टेª का प्रयोग करेगा।
क्नचसमग च्तपदजपदह के लिए पृष्ठ संख्या यदि हमें पृष्ठ संख्या के सामने वाले भाग पर चाहिए, तो इस डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वित क्नचसमग च्तपदजपदह वाले भाग में थ्तवदज व िजीम ेीममज चैक बाॅक्स को चुनते हैं और यदि पीछे वाले भाग पे चाहिए तो ठंबा व िजीम ेीममज चैक बाॅक्स को चुनते हैं। यदि दोनो ओर ही पृष्ठ संख्या को प्रिन्ट करना चाहते हैं, तो दोनो ही चैक बाॅक्सेज को चुना जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के उपरान्त पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स में आ जाते है।
च्।ळम् 164
च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प स्ंलवनज को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में भ्मंकमत और थ्ववजमतएैमबजपवद ठतमंा ए टमतजपबंस ।सपहदउमदज और स्पदम छनउइमत से सम्बन्धित विकल्प होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स मेें पहले भाग ैमबजपवद में दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स ैमबजपवद ैजंतजे की सहायता से यह निर्धारित किया जाता है कि पहले ैमबजपवद के अन्त के बाद दूसरे ैमबजपवद का प्रारम्भ कहां से होघ्
ैमबजपवद ेजंतजे के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में सैक्शन के शुरू होने के लिए पांच विभिन्न विकल्प दिए होते है। इस सूची में दिए गए पहले विकल्प ब्वदजपदवने को चुनने पर पहले
ैमबजपवद के समाप्त होने के बाद दूसरे की शुरुआत उसी पृष्ठ पर पहले ैमबजपवद के नीचे से ही हो जाती है। यदि हमने पृष्ठ में ब्वसनउदे में पहले ैमबजपवद के नीचे से ही शुरू हो जाता है। दूसरे विकल्प छमू ब्वसनउदे को चुनने पर पहले ैमबजपवद के समाप्त होने के बाद दूसरा ैमबजपवदे अगलंे ब्वसनउद के ज्वच से शुरू हांेता है। तीसरे विकल्प छमू च्ंहम को चुनने पर पहले वाले ैमबजपवद के समाप्त होने के बाद दूसरा ैमबजपवद अगले च्ंहम के ज्वच से शुरू होता है । चैथे विकल्प म्अमद च्ंहम को चुनने पर पहले वाले ैमबजपवद के समाप्त होने के बाद दूसरा ैमबजपवद सम संख्या वाले च्ंहम के ज्वच से शुरू होता है। भले ही पहले ैमबजपवद कर अन्त भी सम संख्या वाले च्ंहम पर हो रहा है। यदि ऐसा होता है तो इन दोनों ैमबजपवदे के बीच विषम संख्या वाला च्ंहम खाली रहता है। पांचवे और अन्तिम विकल्प व्कक च्ंहम को चुनने पर पहले वाले ैमबजपवद का अंत भी विषम संख्या वाले च्ंहम पर हो रहा है। यदि ऐसा होता है तो इन दोनो ैमबजपवद के बीच सम संख्या वाला च्ंहम खाली रहता है।
इस डायलाॅग मंे सैक्शन की शुरूआत के निर्धारण के पश्चात् भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत वाला भाग होता है। इस भाग में दो चैक बाॅक्स दिए होते है। पहले चैक बाॅक्स क्पििमतमदज व्कक ंदक म्अमद को तब चुना जाता है जब हमें अपनी फाइल के सम संख्या वाले पुष्ठो और विषम संख्या वाले पृष्ठो के लिए भिन्न-भिन्न भ्मंकमत और थ्ववजमत का प्रयोग करना होता है। इसका प्रभाव हमारी पूरी फाइल पर पड़ता है। क्पििमतमदज थ्पतेज च्ंहम चैक बाॅक्स को तब चुना जाता है जब हम अपनी फाइल के प्रथम पृष्ठ का भ्मंकमत और थ्ववजमत फाइल के अन्य पृष्ठो से भिन्न रखना चाहते है। इस भाग थ्वतउ म्कहमरू के अन्तर्गत दो विकल्प दिए होते हैं भ्मंकमत और थ्ववजमतरू के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में थ्ववजमत की पृष्ठ के निचले सिरे से दूरी को इंचो मे लिखा जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्ंहम वाले भाग में टमतजपबंस ।सपहदउमदज के सामने दिए गए सलेक्शन बाॅक्स के दाई ओर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सुची में दिए गए चार विकल्पो में से किसी एक को चुनकर हम थ्पसम के ज्मगज का टमतजपबंस ।सपहदउमदज निश्चित करते है । इस सूची मेे से ज्वच विकल्प को चुनने पर डाॅक्युंमेण्ट के टैक्स्ट में पृष्ठ की ऊपरी स्पदम पृष्ठ के ज्वच डंतहपद के अनुरूप ।सपहद होती है, ब्मदजमत विकल्प को चुनने पर थ्पसम के ज्मगज के च्ंतंहतंची ज्वच और ठवजजवउ डंतहपद के मध्य के अनुरूप ।सपहद होते हैं, श्रनेजपपिमक विकल्प को चुनने पर पृष्ठ ज्मगज के च्ंतंहतंचीे की ऊपरी स्पदम ज्वच डंतहपद के अनुरूप और पृष्ठ ज्मगज के च्ंतंहतंचीे की ठवजजवउ स्पदम ठवजजवउ उंतहपद के अनुरूप ।सपहद होती है। इस कार्य के लिए ॅवतक च्ंतंहतंचीे के मध्य की
च्ंहम 165
दूरी को स्वतः ही निश्चित करता हैं। ठवजजवउ विकल्प को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट के टैक्स्ट में पृष्ठ की निचली स्पदम पृष्ठ के ठवजजवउ डंतहपद के अनुरूप ।सपहद होती है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में चैक बाॅक्स ।कक स्पदम छनउइमतपदह को चुनकर हम अपनी फाइल के ज्मगज में लाइन्स की क्रम संख्य प्रदर्शित कर सकते है। लाइन्स की यह क्रम संख्या डाॅक्युमेण्ट के व्दसपदम स्ंलवनज टपमू में प्रदर्शित होती है। यदि इन लाइन्स के मध्य अन्य लाइन जोडते अथवा कुछ लाइन्स को मिटाते हैं तो लाइन्स की क्रम संख्या स्वतः ही ठीक हो जाती है। यदि हम लाइन्स को क्रम संख्या का प्रदर्शन नही चाहते हैं तो इस चैक बाॅक्स को पुनः क्लिक करके रिक्त कर देते है। इस चैक बाॅक्स को चुनते ही इसके नीचे दिए गए सभी विकल्प सक्रिय हो जाते है।
ैजंतज ।ज टैक्स्ट बाॅक्स में ैमबजपवद की पहली लाइन का क्रमांक निर्धारित किया जाता है। थ्तवउ ज्मगज टैक्स्ट बाॅक्स में लाइन के क्रमांक के मध्य की दुरी निर्धारित किया जाता है। ।नजव विकल्प चुनने पर वर्ड 2002 स्वतः पूर्वनिर्धारित दूरी को इसके लिए प्रभावी करता है। ब्वनदज ठल रू इस बाॅक्स में हम स्पदम छनउइमते के च्तपदज होने के बारे में सूचना देते हैं। यदि हम अपनी थ्पसम के ज्मगज की लाइन्स का च्तपदज 7 लाइन्स के अंतराल पर चाहते हैं तो यहां पर हम 7 टाइप करेंगे। जब हम इस फाइल का च्तपदज निकालेंगे तो केवल सातवीं, चैदहवी ं, इक्कीसवी………. लाइन्स के स्पदम छनउइमते ही च्तपदज होंगे।
स्पदम छनउइमते डायलाॅग बाॅक्स के छनउइमतपदह वाले भाग में तीन विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते हैं। इस तीनो में से त्मेजंतज म्ंबी च्ंहम विकल्प को चुनने पर प्रत्येक पृष्इ के ऊपरी सिरे की प्रथम लाइन का स्पदम छनउइमत 1 होगा अर्थात स्पदम छनउइमतपदह प्रत्येक पृष्ठ के ऊपरी सिरे से पुनः शुरू होगी, त्मेजंतज म्ंबी ैमबजपवद विकल्प को चुनने पर प्रत्येक ैमबजपवद के ऊपरी सिरे की प्रथम लाइन का स्पदम छनउइमत 1 होगी एवं ब्वदजपदवने विकल्प को चुनने पर डाॅक्युमेण्ट के टैक्स्ट की प्रथम लाइन स्पदम का स्पदम छनउइमत 1 होगा और डाॅक्युमेण्ट की दुसरी लाइन का स्पदम छनउइमत 2 । इसी प्रकार स्पदम छनउइमत के क्रम में पृष्ठ, सैक्शन आदि का कोई प्रभाव नही पड़ता और बढ़ते-बढ़ते अंत तक पंहुचेगा। इस डायलाॅग बाॅक्स में ैनचचतमेे म्दकदवजम नामक चैक बाॅक्स तभी सक्रिय होता है जब हमने किसी म्दकदवजमे प्रिन्ट न करने के लिए किया जाता है।
च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स में ठवतकमत पुश बटन पर क्लिक करने पर ठवतकमत ंदक ैींकपदह डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन परप्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प च्ंहम ठवतकमत को चुनकर पृष्ठ के बाॅर्डर का निर्धारण किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स को प्रयोग करना हम इसी अध्याय के 140 पर सीख चुके है।
डाॅक्युमेण्ट में ब्रेक का प्रयोग
वर्ड 2002 के डाॅक्युमेण्ट में कर्सर जिस लाइन में स्थित होता है, उस लाइन से पृष्ठ के समाप्त हुए बिना ही नया पृष्ठ शुरू करने, काॅलम के समाप्त हुए बिना नया काॅलम शुरू करने अर्थात ठतमंा करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू में दिए गए विकल्प ठतमंा का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ठतमंा डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले भाग ठतमंा जलचमे में तीन विकल्प च्ंहम इतमंा ए
च्ंहम 166
ब्वसनउद इतमंा एवं ज्मगज ूतंचचपदह इतमंा होते है। च्ंहम इतमंा विकल्प को चुनकर पृष्ठ के समाप्त होने से पहले ही नया पृष्ठ शुरू किया जा सकता है। इसी प्रकार ब्वसनउद के समाप्त होने से पहले ही नया ब्वसनउद शुरू करने के लिए ब्वसनउद इतमंा विकल्प का प्रयोग किया जा सकता है। यदि कर्सर डाॅक्युमेण्ट में किसी टेबिल, पिक्चर अथवा आॅब्जैक्ट के चारो ओर स्थित टैक्स्ट की किसी लाइन पर है तो, इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे विकल्प ज्मगज ूतंचचपदह इतमंा का प्रयोग करने पर कर्सर के बाद का टैक्स्ट इस टेबिल, पिक्चर अथवा आॅब्जैक्ट के नीचे की लाइन में आ जाता है।
डाॅक्युमेण्ट में सेक्शन का प्रयोग
वर्ड 2002 में सेक्शन ;ैमबजपवदद्ध का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट को फाॅरमेटिंग के उद्देश्य से व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। ैमबजपवद डाॅक्यूमेण्ट का वह निरन्तर ;ब्वदजपदनवनेद्ध भाग होता है, जिसके लिए पृष्ठ के लिए किया गया निर्धारण अर्थात हाशिए, पेज ओरिएन्टेशन, हेडर और फूटर इत्यादि समान होता है। डाॅक्युमेण्ट में सेक्शन ब्रेक का प्रयोग करने के लिए हमें निम्नालिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
डाॅक्युमेण्ट मेे कर्सर को उस स्थान पर लाते हैं, जंहा पर हमें ब्रेक का प्रयोग करना है।
अब वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले विकल्पो में से ठतमंा विकल्प पर क्लिक करते हैं, तो माॅनीटर स्क्रीन पर ठतमंा डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दुसरे भाग में रेडियो बटन्स के रूप में दिए गए चार विकल्पो मे से किसी एक विकल्प का प्रयोग सेक्शन ब्रेक को परिभाषित करने के लिए किया जाता है। इन चारों विकल्पो का विवरण निम्नानुसार है
छमगज च्ंहम इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट में स्थान पर कर्सर स्थित है,पर सेक्शन ब्रेक लगाकर नया सेक्शन नए पृष्ठ से शुरू करने के लिए किया जाता है।
ब्वदजपदनवने इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट मे जिस स्थान पर कर्सर स्थित है, पर सेक्शन ब्रेक लगाकर, नया सेक्शन उसी पृष्ठ पर इस स्थान से आगे शुरू करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प को चुनने से नया सेक्शन नए पृष्ठ से शुय नही होता है।
म्अमद च्ंहम इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट मे जिस स्थान पर कर्सर स्थित है, पर सेक्शन ब्रेक लगाकर, नया सेक्शन केवल सम संख्या वाले पृष्ठ अर्थात् पृष्ठ संख्या 2,4,6, …………. से शुरू होता है। यदि हम इस विकल्प का प्रयोग पृष्ठ संख्या 2 पर कर रहे हैं, तो इस पृष्ठ पर कर्सर के स्थान पर सेक्शन ब्रेक लग जाएगा तथा अब नया सेक्शन पृष्ठ संख्या 4 से शुरू होगा न कि पृष्ठ संख्या 3 से।
व्कक चंहम इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट मे जिस स्थान पर कर्सर स्थित है, पर सेक्शन ब्रेक लगाकर, नया सेक्शन केवल विषम संख्या वाले पृष्ठ अर्थात् पृष्ठ संख्या 3,5,7 …………. से शुरू होता है। यदि हम इस विकल्प का प्रयोग पृष्ठ संख्या 1 पर कर रहे हैं, तो इस पृष्ठ पर कर्सर के स्थान पर सेक्शन ब्रेक लग जाएगा तथा अब नया सेक्शन पृष्ठ संख्या 3 से शुरू होगा न कि पृष्ठ संख्या 2 से।
इन विकल्पो में से वांछित विकल्प को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्युमेण्ट मेे कर्सर के स्थान पर सेक्शन ब्रेक लग जाएगा।
सेक्शन बे्रक को डिलीट करने के लिए माउस प्वाॅइन्टर को सेक्शन ब्रेक पर कही भी क्लिक कर क्मसमजम ‘की‘ को दबाना ही पर्याप्त होगा।
च्ंहम 167
अब वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू के व्नजसपदम विकल्प पर क्लिक करते हैं, तो यह सेक्शन ब्रेक उपरोक्त चित्र क भांति माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। यदि आउटलाइन व्यु मे सेक्शन ब्रेक डाॅक्युमेण्ट में प्रदर्शित नहींे होता है, तो इसकी टूलबार पर डंेजमत क्वबनउमदज टपमू टूल बटन, जिस इस चित्र में एक वृत से घिरा हुआ दर्शाया गया है, पर क्लिक करने से इसका प्रदर्शन उपरोक्त चित्र की भांति होने लगता है।
डाॅक्युमेण्ट में पृष्ठ संख्या का प्रयोग
जैसाकि हम जानते है, वर्ड में कोई भी डाॅक्युमेण्ट फाइल एक से अधिक पृष्ठो की हो सकती है। यदि हम डाॅक्युमेण्ट के प्रत्येक पृष्ठ पर पृष्ठ संख्या प्रदर्शित करना चाहते हैं तो डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठो पर पृष्ठो संख्या के स्थान एवं फाॅरमेट को निश्चित करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यु में च्ंहम छनउइमते विकल्प दिया गया है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर सलंग्न चित्र की भांति च्ंहम छनउइमते डाॅयलाग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे च्वेपजपवद के नीचे बने बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में दो विकल्प होते हैं। ठवजजवउ व िच्ंहम ;थ्ववजमतद्ध विकल्प पृष्ठ संख्या पृष्ठ के निचले भाग में एवं ज्वच व िच्ंहम ;भ्मंकमतद्ध विकल्प का प्रयोग पृष्ठ संख्या के ऊपरी भाग में प्देमतज करने के लिए प्रयोग किया जाता है। ।सपहदउमदज के नीचे बने बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मेें पांच विकल्प होते हैं। इस सूची में से स्मजि विकल्प चुनने पर पृष्ठ संख्या, प्रत्येक में अथवा नीचे जो भी च्वेपजपवद वाले भाग में निर्धारित किया है, बाई ओर, ब्मदजतम विकल्प चुनने पर पृष्ठ संख्या प्रत्येक पृष्ठ के मध्य में और त्पहीज विकल्प चुनने पर पृष्ठ संख्या प्रत्येक पृष्ठ के दाई ओर प्रदर्शित होती है। प्देपकम विकल्प चुनने पर पृष्ठ संख्या बाएं पृष्ठ पर बाई तथा व्नजेपकम विकल्प चुनने पर पृष्ठ संख्या का प्रदर्शन बाएं पृष्ठ पर बाई ओर और दांए पृष्ठ पर दाई ओर प्रदर्शित होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स ैीवू छनउइमत वद थ्पतेज च्ंहम को चुनने से पृष्ठ संख्या का प्रदर्शन डाॅक्युमेण्ट के प्रथम पृष्ठ पर भी होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन थ्वतउंज का प्रयोग पृष्ठ संख्या का प्रारूप निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस पुष बटन क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति च्ंहम छनउइमत थ्वतउंज के सामने बने हुए बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में छनउइमत थ्वतउंज के सामने बने हुए बाॅक्स के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से पृष्ठ संख्या का प्रारूप चुनकर निर्धारित किया जाता है। चैक बाॅक्स प्दबसनकम ब्ींचजमत छनउइमत पर क्लिक करने पर इस भाग में बने हुए सभी विकल्प सक्रिय हो जाते है। इन विकल्पो का प्रयोग पृष्ठ संख्या की स्टाइल एवं पृष्ठ संख्या और चैप्टर के नाम के मध्य का चिन्ह निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में च्ंहम छनउइमतपदह वाले भाग में यह निर्धारित किया जाता है
च्ंहम 168
कि च्ंहम छनउइमतपदह कहां से शुरू होघ् ब्वदजपदनवने थ्तवउ च्तमअपवने ैमबजपवद विकल्प का प्रयोग पृष्ठ संख्या इससे पूर्व के पृष्ठ संख्या से अगली संख्या को पृष्छ संख्या के रूप में प्रयोग करने के लिए किया जाता है। ैजंतज ।ज विकल्प का प्रयोग इसके सामने बने बाॅक्स वांछित संख्या टाइप करके उसका पृष्ठ संख्या के रूप निर्धारित किए गए स्थान किया जाता है।
अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ में पृष्ठ संख्या निर्धारित किए गए स्थान पर प्रदर्शित हो जाएगी।
डाॅक्युमेण्ट में हैडर तथा फूटर का प्रयोग
डाॅक्युमेण्ट में हैडर का प्रयोग पृष्ठ में सबसे ऊपर तथा फूटर का प्रयोग पृष्ठ में सबसे नीचे किया जाता है। इनके अन्तर्गत वर्तमान पृष्ठ संख्या के अतिरिक्त का विषय कम्पनी का नाम , वर्तमान तिथि आदि अन्य उपयोगी सूचनाएं प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। डाॅक्युमेण्ट में हैडर और फूटर का प्रयोग करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होता है
वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले विकल्पो में से भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत विकल्प पर क्लिक करते हैं, तो माॅनीटर स्क्रीन पर डाॅक्युमेण्ट में पृष्ठ के ऊपर हैडर निर्धारित करने के लिए हैडर बाॅक्स निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। साथ ही भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत नामक एक टूलबार भी वर्ड 2002 की विन्डो में प्रदर्शित होती है।
हम हैडर बाॅक्स में वांछित टैक्स्ट टाइप करके उसे फाॅरमेट (फाॅन्ट का आकार निर्धारित करना, बोल्ड, इटेलिक अथवा अन्डर लाइन ) कर लेते हैं । टैक्स्ट के साथ विशेष जानकारी प्रविष्ट करने के लिए भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत टूलबार पर दिए गए विभिन्न टूल बटन्स का प्रयोग करते है।
भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत टूलबार पर दिए गए विभिन्न टूल्स निम्नलिखित हैं
प्देमतज ।नजवज्मगज इस टूल बटन का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में आॅटो टैक्स्ट को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इस टूल बटन का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में आॅटो टैक्स्ट इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इस टूल बटन पर क्लिक करने पर अग्रांकित चित्र की भांति विभिन्न विकल्पो की सूची प्रदर्शित होती है। इस सूची में दिए गए विभिन्न विकल्पो का प्रयोग करके हैडर अथवा फूटर मेें वांछित आॅटो टैक्स्ट को इन्सर्ट किया जा सकता है। इन विकल्पो को विवरण अग्रानुसार है
डाॅक्युमेण्ट के किसी भी पृष्ठ के लिए निर्धारित किए गए हैडर तथा फूटर स्वतः ही डाॅक्युमेण्ट के समस्त पृष्ठो के लिए प्रभावी होते है।
च्ंहम 169
.च्।ळम्. इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में वर्तमान पृष्ठ संख्या को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्युमेण्अ के पृष्ठ पर उपरोक्त चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
।नजीवतएच्ंहमरुए क्ंजम इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में डाॅक्युमेण्ट के लेखक, वर्तमान पृष्ठ संख्या तथा वर्तमान दिनांक को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्यूमेण्ट के लेखक, वर्तमान पृष्ठ संख्या तथा वर्तमान दिनांक को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
ब्वदपिकमदजपंसएच्ंहमरुएक्ंजम इस विकल्प को प्रयोग हैडर अथवा फूटर में बाई ओर ब्वदपिकमदजपंसए मध्य में वर्तमान पृष्ठ संख्या तथा ओर वर्तमान दिनांक को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
ब्तमंजमक इल इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में बाई ओर ब्तमंजमक इल के बाद डाॅक्युमेण्ट
च्ंहम 170
के लेखक का नाम प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
ब्तमंजमक वद इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में बाई ओर ब्तमंजमक वद के बाद वर्तमान दिनांक को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
थ्पसमदंउम इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में डाॅक्यूमेण्ट फाइल का नाम प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
थ्पसमदंउम ंदक च्ंजी इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल का पाथ सहित नाम प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
स्ंेज च्तपदजमक इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल को अन्तिम बार किसी तिथि को किस प्रिन्ट किया गया था, यह जानकारी प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
स्ंेज ेंअमक इल इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में इस डाॅक्युमेण्ट फाइल को अन्तिम बार किसने ैंअम किया था, यह जानकारी प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
च्ंहम ग् व िल् इस विकल्प का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल के समस्त पृष्ठों में से वर्तमान पृष्ठ पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
डपरोक्त चित्र से यह ज्ञात होता है, कि डाॅक्युमेण्ट में कुल तीन पृष्ठ है और वर्तमान पृष्ठ इस डाॅक्युमेण्ट का पहला पृष्ठ है।
प्देमतज च्ंहम छनउइमत इस टूल बटन का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में पृष्ठ संख्या को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है।
च्ंहम 171
प्देमतज छनउइमत व िच्ंहमे इस टूल बटन का प्रयोग करने पर पृष्ठ 178 पर दिए गए चित्र की भांति च्ंहम छनउइमत थ्वतउंज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डाॅयलाग बाॅक्स में डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ संख्या का फाॅरमेट निर्धारित किया जाता है।
प्देमतज क्ंजम इस टूल बटन का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में वर्तमान दिनांक को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है।
प्देमतज ज्पउम इस टूल बटन का प्रयोग हैडर अथवा फूटर में वर्तमान समय को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है।
च्ंहम ैमजनच इस टूल बटन का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर पृष्ठ 161 पर दिए गए चित्र की भांति च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स का तीसरा मुख्य विकल्प स्ंलवनज चुना हुआ प्रदर्शित होता है। इसमें हम हेडर अथवा के लिए आवश्यक निर्धारण कर सकते है।
ैीवूध्भ्पकम क्वबनउमदज ज्मगज इस टूल बटन का प्रयोग करने पर हैडर तथा फूटर का निर्धारण करते समय पृष्ठ 1़61 पर दिए गए चित्र की भांति डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट को प्रदर्शित करने अथवा प्रदर्शित न करने के लिए किया जाता है। यह टूल बटन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, अर्थात एक बार क्लिक करने पर प्रदर्शित नही होता है और दूसरी बार क्लिक करने पर यह प्रदर्शित होने लगता है।
ैंउम ंे च्तमअपवने यह टूल बटन उसी समय सक्रिय होता है, जबकि हमने डाॅक्यूमेण्ट मेें सेक्शन का प्रयोग किया गया हो । जब हम दूसरे सेक्शन के लिए हैडर अथवा फूटर का निर्धारण कर रहे होते हैं, तो यह टूल बटन सक्रिय हो जाता है। इस टूल बटन पर क्लिक करने पर पहले सेक्शन के लिए हैडर तथा फूटर का जो भी निर्धारण किया गया है, उसी के समान इसके हैडर तथा फूटर का भी निर्धारण हो जाता है।
ैूपजबी इमजूममद भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत इस टूल बटन का प्रयोग हैडर से फूटर पर जाने तथा फूटर से हैउर पर आने के लिए किया जाता है।
ैीवू च्तमअपवने इस टूल बटन का प्रयोग करने पर वर्तमान हैडर अथवा फूटर से पहले किसी हैडर अथवा फूटर पर जाने के लिए किया जाता है, जोकि वर्तमान हैडर अथवा फूटर से भिन्न हो। प्रायौगिक रूप से हम यह कह सकते हैं कि वर्तमान सेक्शन से पहले सेक्शन के हैडर तथा फूटर पर जाने के लिए इस टूल बटन का प्रयोग किया जाता है।
ैीवू छमगज इस टूल बटन का प्रयोग करने पर वर्तमान हैडर अथवा फूटर के बाद किसी हैडर अथवा फूटर पर जाने के लए किया जाता है, जो कि वर्तमान हैडर अथवा फूटर से भिन्न हो । प्रयौगिक रूप से हम यह कह सकते हैं कि वर्तमान सेक्शन के बाद के सेक्शन मे जाने के लिए इस टूल बटन का प्रयोग किया जाता है।
ब्सवेम इस टूल बटन का प्रयोग भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत टूलबार को बन्द करने के लिए किया जाता है। इस टूलबार के बनद होने पर पूनः अपने डाॅक्युमेण्ट में आ जाते है।
हाइफनेशन का प्रयोग
जब हम डाॅक्यूमेण्ट किसी कागज पर लिख रहे होते है , तो किसी शब्द के लाइन के अन्त में पूरा-पूरा न
च्ंहम 172
लिखे जाने की स्थिती में, शब्द के जितने अक्षर लाइन में आते है, उन्हें लिखने के उपरान्त एक छोटा -सा डैश (-) , जिसे व्याकरण मे हाइफन कहा जाता है, लगाकर शेष अक्षरो को नई लाइन में टाइप कर दिया जाता है। ऐसी परिस्थिति वर्ड 2002 में भी डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट को टाइप करते समय आती है। ऐसी परिस्थिति में हाइफन को प्रयोग करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होता है
वर्ड 2002 के ज्ववसे मेन्यू के स्ंदहनंहम पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प भ्लचमतदंजपवद क्लिक करते हैं, तो माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति भ्लचीमदंजपवद क्रंसवहनम ठवग प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के विभिन्न विकल्पो का विवरण निम्नलिखित है
।नजवउंजपबंससल भ्लचीमदंजम कवबनउमदज इस चैक बाॅक्स को चुनने पर वर्ड 2002 के डाॅक्युमेण्ट में टैक्स्ट को टाइप करते ही, आवश्यकता होने पर यह स्वतः ही उसमें हाइफन का प्रयोग करता है।
भ्लचीमदंजम ूवतके पद ब्।च्ै इस चैक बाॅक्स को चूनने पर वर्ड 2002 के डाॅक्युमेण्ट में न्चचमत ब्ंेम में टाइप किए गए टैक्स्ट को भी टाइप करते ही, आवश्यकता होने पर यह स्वतः ही उसमे हाइफन का प्रयोग करता है। यदि हम न्चचमत ब्ंेम में टाइप किए गए टैक्स्ट में हाइफन का प्रयोग नही करना चाहते है, तो इस पर क्लिक करके इसे रिक्त कर देते हैं।
भ्लचीमदंजर्म वदम इसके सामने दिए गए स्पिन बाॅक्स पर क्लिक कर शब्द को हाइफनेट करने के लिए पृष्ठ के दांए हाशिए से दूरी निर्धारण किया जाता है। वर्ड 2002 में इसका ठल क्मंिनसज मान 0ण्25व होता है।
स्पउपज बवदेमबनजपअम ीलचीमदे जव इसके सामने दिए गए स्पिन बाॅक्स पर क्लिक करके यह किया जाता है, कि डाॅक्युमेण्ट में न्युनतम निरन्तर कितनी लाइन्स तक के टैक्स्ट में हाइफन का प्रयोग किया जा सकता है।
डपरोक्तानुसार वांछित निर्धारण करने के उपरान्त पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में पहुंच जाते हैं। अब हम जब भी इस डाॅक्युमेण्ट में कोई भी टैक्स्ट टाइप करेंगे तथा टैक्स्ट टाइप करते समय जब कोई शब्द एक ही लाइन में नही आ जाएगा तो वह शब्द स्वतः ही हाइफनेट हो जाएगा।
अगर हम डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट को मैनुअली हाइफनेट करना चाहते है, तो डाॅक्युमेण्ट में जिस स्थान से हम यह कार्य करना चाहते हैं, उस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर ज्ववसे मेन्यू के स्ंदहनंहम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प भ्लचीमदंजपवद क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले भ्लचीमदंजपवद क्पंसवहनम इवग में दिए गए पुश बटन पर डंदनंस भ्लचीमदंजपवद डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में भ्लचीमदंजम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे भ्लचीमदंजम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में , वर्ड 2002 को जो भी शब्द हाइफन के लिए आवश्यक प्राप्त होता है, प्रदर्शित होता है। इस शब्द में वर्ड 2002 जिस-जिस स्थान पर हाइफन उपयुक्त पाता है, उस स्थान पर हाइफन लगा हुआ प्रदर्शित होता है। इनमें से जिस स्थान पर अथवा किसी अन्य स्थान पर हाइफन लगाने के लिए उस स्थान पर क्लिक करते है। अब पुश बटन ल्मे पर क्लिक करते ही , इस शब्द में इस स्थान पर हाइफन का प्रयोग हो जाता है और इस टैक्स्ट बाॅक्स में एक अन्य शब्द मैनुअली हाइफनेट करने के लिए प्रदर्शित होने लगता है। इस प्रकार हम अपने डाॅक्युमेण्ट को मैनुअली हाइफनेट कर सकते है।
डाॅक्यूमेण्ट में काॅलम का प्रयोग करना
वर्ड 2002 में ठल क्मंिनसज जो डाॅक्युमेण्ट तैयार होता है, वह एक ही काॅलम का होता है। कभी -कभी हमको
च्ंहम 173
डाॅक्युमेण्ट में एक से अधिक काॅलम्स में टैक्स्ट को लिखना होता है। उदाहरण के लिए किसी मैगजीन के पृष्ठ को टाइप करना आदि । डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ को एक से अधिक काॅलम्स में विभाजित करने का कार्य हम निम्नलिखित दो प्रकार से कर सकते है
वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू के ब्वसनउद विकल्प को प्रयोग करके
वर्ड 2002 के थ्वतउंज मेन्यू के ब्वसनउद विकल्प को प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्वसनउदे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में च्तमेमज वाले भाग में पांच बटन आइकन्स प्रदर्शित होते है। इनमे से पहले बटन आइकन व्दम का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ को एक ही काॅलम मे रहने देने के लिए किया जाता है। अगले दो बटन आइकन्स ज्ूव तथा ज्ीतमम का प्रयोग डाॅक्युमेण्ट के पृष्ठ को बराबर चैडाई के क्रमशः दो तथा तीन काॅलम्स में विभाजित करने के लिए किया जाता है। बटप आइकन स्मजि का प्रयोग करने पर डाॅक्युमेण्ट का पृष्ठ दो काॅलम्स मे विभाजित होता है, जिनमे से बांए काॅलम की चैडाई दाएं काॅलम की अपेक्षा लगभग आधी होती है। पांचवे बटन आइकन त्पहीज का प्रयोग भी डाॅक्युमेण्ट का पृष्ठ दो काॅलम्स में विभाजित होता है, जिनमे से बाएं काॅलम की चैडाई दाएं काॅलम की अपेक्षा दोगुनी होती है।
यदि हम तीन से अधिक काॅलम्स में पृष्ठ को विभाजित करना चाहते है, तो काॅलम्स की संख्या को छनउइमत व िबवसनउदे के सामने दिए गए बाॅक्स में टाइप करते है। इन काॅलम्स की चैडाई तथा इनके मध्य की दूरी का निर्धारण पर डायलाॅग बाॅक्स के ॅपकजी ंदक ेचंबपदह वाले भाग में किया जाता है। इस भाग में टेबिल दी होती है। इसके पहले काॅलम मे काॅलम का क्रमांक प्रदर्शित होता है। दूसरे काॅलम के मध्य कितनी दूरी होगी, इसका निर्धारण ैचंबपदह काॅलम में किया जाता है। इस काॅलम तथा इससे अगले काॅलम के मध्य की दूरी का योग पृष्ठ के बांए तथा दाएं हाशिए के मध्य की दूरी के बराबर ही होनी चाहिए। वर्ड 2002 हमारे द्वारा निर्धारित काॅलम्स की संख्या के अन्तिम काॅलम की चैडाई स्वतः ही निर्धारित करता है , ताकि काॅलम्स तथा इनके मध्य की दूरी का योग पृष्ठ के बाएं तथा दाएं हाशिए के मध्य की दूरी अधिक न हो जाए।
यदि हम सभी काॅलम्स को बराबर चैडाई का निर्धारित करना चाहते है,तो इस भाग में दिए गए चैक बाॅक्स म्ुनंस बवसनउद ूपकजी को चुन लेते है। अब हमें केवल काॅलम्स के मध्य की दूरी का ही निर्धारण करना होता है। यदि हम काॅलम्स के मध्य के रिक्त भी प्रदर्शित करना चाहते है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स मे दिए गए चैक बाॅक्स स्पदम इमजूममद को चुन लेते है। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर डाॅक्यूमेण्ट का पृष्ठ इस डायलाॅग बाॅक्स में किए गए निर्धारण के अनुरूप वांछित काॅलम्स में विभाजित हो जाता है। यदि डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ को पुनः एक ही काॅलम में प्रदर्शित करना चाहते है, तो वर्ड 2002 के म्कपज मेन्यू के विकल्प न्दकव ब्वसनउदे का प्रयोग करते हैं अथवा इसकी टूलबार पर स्थित न्दकव टूल बटप पर क्लिक करतें है अथवा इसके थ्वतउंज मेन्यू के विकल्प ब्वसनउद का प्रयोग करने पर प्रदर्शित होने वाले ब्वसनउद डायलाॅग बाॅक्स के च्तमेमजे वाले भाग में व्दम बटन आइकन को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते हैं।
च्ंहम 174
वर्ड 2002 की टूलबार पर स्थित ब्वसनउद टूल आइकन का प्रयोग करके
वर्ड 2002 की टूलबार पर स्थित ब्वसनउद टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 की विन्डो में वर्तमान सक्रिय डाॅक्युमेण्अ फाइल के पृष्ठो को एक से अधिे काॅलम्स में विभक्त करने के लिए किया जाता है। माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर विभिन्न काॅलम्स प्रदर्शित होते है। यदि हमें इससे अधिक काॅलम्स में पृष्ठ को विभक्त करना है, तो माउस प्वाॅइन्टर को दाई ओर ड्रेग करने पर निम्न चित्र की भांति इसमें दो काॅलम्स और जुउ जाते है अर्थात वर्ड 2002 की डाक्युमेण्ट फाइल के पृष्ठांे को अधिकतम छह काॅलम्स में ही विभक्त कर सकते है। अब हम पृष्ठ को जितने काॅलम्स में विभक्त करना है, उतने काॅलम्स को चुन लिया जाता है।
डाॅक्यूमेण्ट में टेबिल का प्रयोग
डाॅक्यूमेण्ट में टेबिल का प्रयोग टैक्स्ट को सारणी में लिखने के लिए किया जाता है; जैसे किसी परीक्षा में उत्तीर्ण हु ए छात्रो का नाम, उनका क्रमांक तथा उनके द्वारा प्राप्त किए गए अंको को सारणी मे लिखना । टेबिल पंक्तियो ;त्वूेद्ध तथा ;ब्वसनउदेद्ध से बनी होती है। टेबिल में पंक्तियो तथा काॅलम्स के प्रतिच्दछेदन से सैल का निर्माण होता है। किसी टेबिल में सैल्स की कुल संख्या ज्ञात करने के लिए टेबिल के पंक्तियो की संख्या ;त्द्ध को टेबिल के काॅलम्स की संख्या ;ब्द्ध में गुणा किया जाता है। इस प्रकार टेबिल में सैल्स की संख्या ज्ञात करने के लिए हम निम्नलिखित सुत्र का प्रयोग कर सकते है
ज्वजंस छवण् व िब्मससे पद ं ज्ंइसम त्र छनउइमत व ित्वूे ग छनउइमत व िब्वसनउदे
टेबिल में न केवल हम विभिन्न आंकडो को प्रविष्ट कर सकते हैं, बल्कि उस पर साधारण गणितीय अभिकलन ;ब्ंसबनसंजपवदेद्ध भी कर सकते हैं। अपने डाॅक्यूमेण्ट में टेबिल का प्रयोग करने के लिए हम वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू में दिए गए विकल्प प्देमतज पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प प्देमतज का प्रयोग करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति प्देमतज ज्ंइसम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इन्सर्ट की जाने वाली टेबिल के लिए पंक्तियो तथा काॅलम्स की संख्या को निर्धारित करने के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स के ज्ंइसम ैप्रम वाले भाग में दिए गए विकल्पो का प्रयोग किया जाता है। इस भाग में दिए गए पहले विकल्प छनउइमत व िब्वसनउद के सामने दिए गए बाॅक्स में टेबिल में वांछित काॅलम्स की संख्या तथा दूसरे विकल्प छनउइमत व ित्वूे के सामने दिए गए बाॅक्स में टेबिल में वांछित पंक्तियो की संख्या टाइप करते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के ।नजवपिज इमींअपवत वाले भाग में दिए गए विकल्पो का प्रयोग निम्नानुसार किया जाता है
थ्पगमक ब्वसनउद ॅपकजी इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल के काॅलम्स सदैव हमारे द्वारा निर्धारित के आकार के ही रहते है। यह आकार हम इंचो मे इसके सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में निर्धारित करते है। इस बाॅक्स में यदि हम ।नजव विकल्प को चुनते है, जैसाकि उपरोक्त चित्र में दर्शाया गया है, तो वर्ड 2002 स्वतः ही टेबिल
च्ंहम 175
कि काॅलम्स को चैडाई को पृष्ठ के बाएं तथा दाएं हाशिए के मध्य की दूरी के बराबर भागो में विभाजित करके निर्धारित करता है।
।नजवथ्पज जव बवदजमदजे इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल के काॅलम्स की चैडाई इस काॅलम में हमारे द्वारा प्रविष्ट किए गए टैक्स्ट की चैडाई पर निर्भर करती है। किसी टेबिल के काॅलम की विभिन्न पंक्तियो में से जिस पंक्ति के टैक्स्ट की चैडाई सबसे अधिक होगी, काॅलम की चैडाई के बराबर हो जाएगी।
।नजवथ्पज जव ूपदकवू इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल की चैडाई वेब ब्राउजर की चैडाई अनुरूप इस प्रकार परिवर्तित होती रहती है, कि यह वेब ब्राउजर की विन्डो मे फिट हो सके। जब भी वेब ब्राउजर विन्डो के आकार में कोई भी परिवर्तित होगा, टेबिल का आकार स्वयं ही दस विन्डो के आकार के अनुरूप परिवर्तित हो जाएगा।
ज्ंइसम ेजलसम प्देमतज ज्ंइसम डायलाॅग बाॅक्स में ज्ंइसम ेजलसम के सामने पुश बटन ।नजवथ्वतउंज के सामने दिए गए पुश बटन पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ।नजवथ्वतउंज डायलाॅग बाॅक्स में चुनी गई पूर्व परिभाषित टेबिल फाॅरमेट प्रदर्शित होता है।
त्मउमउइमत कपउमदेपवदे वित दमू जंइसमे इस चैक बाॅक्स को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में टेबिल के लिए किए गए निर्धारण को इसके उपरान्त किसी नई टेबिल को बनाए जाने के लिए निर्धारित किया जाता है।
इस डायलाॅब बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ।नजवथ्वतउंज की चर्चा हम आगे करेंगे। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते ही प्देमतज ज्ंइसम डायलाॅग बाॅक्स में किए गए निर्धारण के अनुरूप टेबिल हमारे डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में प्रदर्शित होती है।
टेबिल में चुनाव करना
टेबिल पर कार्य करने के लिए इसके विभिन्न भागो को चुनना पड़ता है। टेबिल में आवश्यक भागो को चुनने का कार्य हम माउस तथा की-बोर्ड से ही कर सकते है। माउस तथा की-बोर्ड की सहायता से टेबिल के विभिन्न भागो को हम निम्न प्रकार से चुन सकते है।
एक सैल को
माउस प्वाॅइन्टर को सैल पर लगातार तीन बार क्लिक करके ।
या
कर्सर को वांछित सैल में टैक्स्ट के पहले अक्षर से पहले लाकर की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दरबार डाउन ऐरो ‘की‘ को दबाकर।
या
वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प ैमसमबज को चुनने पर प्रदर्शित होने वाले उप-’मेन्यू के विकल्प ब्मसस का प्रयोग करने पर वह सैल जिसमे कर्सर स्थित है, को चुन लिया जाता है।
एक पंक्ति को
माउस प्वाॅइन्टर को पंक्ति के बाई ओर टेबिल के बाहर लाकर क्लिक करके।
या
वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प ैमसमबज को चुनने पर प्रदर्शित होने वाले उप मेन्यू के विकल्प त्वू का प्रयेाग जंहा तक की सभी पंक्तियो को चुनना होता करने पर वह पंक्ति ;त्वूद्ध जिसमे कर्सर स्थित है, को चुन लिया जाता है।
लगातार एक से अधिक पंक्तियो को
एक पंक्ति को उपरोक्तनुसार चुनकर की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ दबाकर उपरोक्तनुसार उस पंक्ति पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करते हैं, जहां तक की सभी पंक्तियो को चुनना होता है।
च्ंहम 176
या
इस कार्य को एक चुनकर की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर डाउन अथवा अप ऐरो ‘की‘ का प्रयोग करके।
एक से अधिक पंक्तियो को
एक पंक्ति को उपरोक्तनुसार चुनकर की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर उपरोक्तनुसार चुनकर की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर उपरोक्तनुसार अन्य पंक्तियो को एक-एक करके चुनने से टेबिल की ऐसी पंक्तियो जोकि लगातार नही है, चुनी जा सकती है।
एक काॅलम को
माउस प्वाॅइन्टर को सबसे ऊपर वाले काॅलम पर ले जाने पर जब माउस प्वाॅइन्टर की आकृति डाउन ऐरो के समान होने पर क्लिक करके।
या
वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प ैमसमबज को चुनने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प ब्वसनउद का प्रयोग करने पर वह काॅलम ;ब्वसनउदद्ध जिसमें कर्सर स्थित है, को चुन लिया जाता है।
लगातार एक से अधिक काॅलम्स को
एक काॅलम को उपरोक्तनुसार चुनकर की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर उपरोक्तानुसार उस काॅलम पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करते है, जहां तक के सभी काॅलम्स को चुनने होता है।
या
इस कार्य को एक काॅलम में चुनकर की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर लेफ्ट अथवा राइट ऐरो ‘की‘ का प्रयोग करके।
एक से अधिक काॅलम्स को
एक कॅालम को उपरोक्तनुसार अन्य काॅलम्स को एक-एक करके चुनने से टेबिल की एसी पंक्तियो जोकि लगातार नही है, चुनी जा सकती है।
पूर्व टेबिल को
जब हम किसी टेबिल पर कार्य कर रहे होते है, तो उसकी ऊपरी बाएं कोने तथा निचले दाएं कोने पर निम्नांकित चित्र की भांति बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इन दोनो स्थानो में से किसी भी एक स्थान पर क्लिक करके पूरी टेबिल को चुना जा सकता है।
या
वर्ड 2002 के टेबिल मेन्यू के विकल्प ैमसमबज को चुनने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प ज्ंइसम करने पर पूरी टेबिल को चुन लिय जाता है ।
सैल में आंकडो तथा टैक्स्ट को एलाइन करना
किसी सैल में प्रविष्ट किए जाने वाले आंकडो तथा टैक्स्ट को एलाइन अर्थात एक सीध में करने का कार्य यदि
च्ंहम 177
किसी एक सेल के लिए करना है, तो उस सैल में माउस प्वाॅइन्टर को लाकर और यदि किसी काॅलम अथवा पंक्ति के सभी सैल्स के लिए करना है, तो उस काॅलम अथवा पंक्ति को चुनने के उपरान्त माउस का दायां बटन उसी सैल, काॅलम अथवा पंक्ति पर ही रखकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के ब्मसस ।सपहदउमदज विकल्प पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शन होता है
इस प्रदर्शन में नौ प्रकार के एलाइनमेन्ट्स प्रदर्शित होते है। इनका विवरण निम्नानुसार है
।सपहद ज्वच स्मजि यह पहली पंक्ति का पहला एलाइन्मेन्ट होता है। इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप सें सैल के ऊपरी सिरे तथा क्षैतीज रूप से सैल के बाई सिरे की सीध में होता है।
।सपहद ज्वच त्पहीज यह पहली पंक्ति का तीसरा एलाइन्मेन्ट होता है। इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के ऊपरी सिरे तथा क्षेैतिज रूप से सैल के मध्य की सीध मे होता है।
।सपहद ज्वच त्पहीज यह पहली पंक्ति का तीसरा एलाइन्मेन्ट होता हैं इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के मध्य से तथा क्षैतिज रूप संे सैल के दाएं सिरे की सीध में होता है।
।सपहद ब्मदजमत स्मजि यह दूसरी पंक्ति का तीसरा एलाइन्मेन्ट होता है। इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के मध्य सिरे तथा क्षैतिज दोनो रूपो से सैल के मघ्य की सीध में होता है।
।सपहद ब्मदजमत त्पहीज यह दूसरी पंक्ति का तीसरा एलाइन्मेन्ट होता है। इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के मध्य सिरे तथा क्षैतिज रूप से सैल के दाएं सिरे की सीध मे होता है।
।सपहद ठवजजवउ स्मजि यह तीसरी पंक्ति का पहला एलाइन्मेन्ट होता है। इसंे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के निचले सिरे तथा क्षैतिज रूप से सैल के बाएं सिरे की सीध में होता है।
च्ंहम 178
।सपहद ठवजजवउ ब्मदजमत यह तीसरी पंक्ति का तीसरा एलाइन्मेन्ट होता है। इसे चुनने पर सैल का टैक्स्ट ऊध्र्वाधर रूप से सैल के निचले सिरे तथा क्षैतिज रूप से सैल के दाएं सिरे की सीध में होता है।
सैल को मर्ज करना
सैल्स को मर्ज करने का तात्पर्य है, कि एक से अधिक सैल्स को मिलाकर एक सेल बनाना । सेल्स को मर्ज करने के लिए हम वांछित सैल्स को चुन लेते है, अब वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प डमतहम ब्मससे का प्रयोग करने पर ये सैल्स मर्ज हो जाते है।
सैल को स्पिलिट करना
सैल को स्पिलिट करने का तात्पर्य है कि एक सैल को एक से अधिक सैल्स में विभाजित करना । किसी सैल का स्पिलिट करने के लिए हम वांछित सैल पर माउस प्वाॅइन्टर को क्लिक करते हैं अथवा कर्सर को इस सैल मे लाते है। अब वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प ैचसपज ब्मससे का प्रयोग करते है,अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैचसपज ब्मससे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में छनउइमत व िबवसनउदे के सामने दिए गए बाॅक्स में सैल को कितने काॅलम्स में विभाजित किया जाना है, यह निर्धारित किया जाता है। इसी प्रकार सैल को कितनी काॅलम्स में विभाजित किया जाना है, यह निर्धारित छनउइमत व ित्वूे के सामने दिए गए बाॅक्स में किया जाता है। यदि हमने इस विकल्प का प्रयोग एक से अधिक सैल्स को चुनकर किया गया है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स में दिया गया चैक बाॅक्स डमतहम बमससे इमवितम ेचसपज सक्रिय हो जाता है। इस चैक बाॅक्स को चुनने से सैल स्पिलिट होने से पूर्व मर्ज होते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के उपरान्त पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है।
टेबिल में विभिन्न तत्वो को इन्सर्ट करना
वर्ड 2002 के अन्तर्गत टेबिल में विभिन्न तत्व ; जैसे नया काॅलम , नई पंक्ति, नए सैल्स अथवा नई टेबिल को इन्सर्ट करने के लिए इसके ज्ंइसम मेन्यू में दिए गए विकल्प प्देमतज का प्रयोग करने पर इसका उप-मेन्यू निम्नांकित चित्र
च्ंहम 179
की भांति प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू के प्रथम विकल्प ज्ंइसम का प्रयोग, टेबिल में एक नई टेबिल को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प ब्वसनउदे जव जीम स्मजि का प्रयोग, टेबिल के जिस काॅलम में कर्सर स्थित है, उसके बाई ओर एक नया काॅलम इन्सर्ट करने के लिए किया जाता हैं। तीसरे विकल्प ब्वसनउद जव त्पहीज का प्रयोग, टेबिल मे जिस काॅलम में कर्सर स्थित है, उसके दाई ओर नया काॅलम इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। चैथे विकल्प त्वूे ।इवअम का प्रयोग, टेबिल के जिस पंक्ति मे कर्सर स्थित है,उसके ऊपर , एक नई पंक्ति को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। पांचवे काॅलम त्वूे ठमसवू को प्रयोग , टेबिल के जिस पंक्ति में कर्सर स्थित है, उसके नीचे एक नई पंक्ति इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। छठे एवं अन्तिम विकल्प ब्मससे का प्रयोग टेबिल के जिस सैल मे कर्सर स्थित है, उसमे नए सैल, नई पंक्ति अथवा नए काॅलम को इन्सर्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जब हम इस छठे एवं अन्तिम विकल्प ब्मससे का प्रयोग करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति प्देमतज ब्मससे डाॅयलाग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। प्देमतज ब्मससे डायलाॅग बाॅक्स मे चार विकल्प रेडियो बटन्स के रूप मे दिए होते है।
ैीपजि बमससे तपहीज इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल के स्थान पर नया सैल इन्सर्ट हो जाता है, तथा यह सैल दाई ओर खिसक जाता है।
ैीपजि बमससे कवूद इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल के स्थान पर नया सैल इन्सर्ट हो जात है, तथा यह सेल नीचे की ओर खिसक जाता है।
प्देमतज मदजपतम तवू इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल की पंक्ति के स्थान पर नई पंक्ति इन्सर्ट हो जाती है, तथा वर्तमान पंक्ति नीचे की ओर खिसक जाती है।
प्देमतज मदजपतम बवसनउद इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल के काॅलम के स्थान पर नया काॅलम इन्सर्ट हो जाता है, तथा वर्तमान काॅलम दाई ओर खिसक जाता है।
टेबिल तथा टेबिल के विभिन्न तत्वो को मिटाना
टेबिल तथा टेबिल के विभिन्न तत्व; जैसे सैल ,काॅलम तथा पंक्ति को मिटाने अर्थात क्मसमजम करने के लिए ज्ंइसम मेन्यू के क्मसमजम विकल्प का प्रयोग किया जाता है। जब हम ज्ंइसम मेन्यू में दिए गए क्मसमजम विकल्प को चुनते है, तो इसका एक उप-मेन्यू प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू में दिए गए विकल्प ज्ंइसमएब्वसनउदए त्वूे और ब्मससे का प्रयोग क्रमशः टेबिल, काॅलम , पंक्ति और सैल्स को मिटाने के लिए किया जाता है। इस उप-मेन्यू के चैथे विकल्प ब्मससे का प्रयोग करने पर संलग्न चित्र की भांति क्मसमजम ब्मससे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में चैक बाॅक्सेज के रूप में दिए गए चार विकल्पो को विवरण निम्नानुसार है
ैीपजि बमससे समजि इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, वह सैल मिट जाता है, तथा इसके दाई ओर के सभी सैल्स अपने स्थान से बाई ओर खिसक जाते है।
ैीपजि बमससे नच इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, वह सैल मिट जाता है, तथा इसके नीचे की ओर स्थित सभी सैल्स ऊपर की ओर खिसक जाते है।
क्मसमजम मदजपतम तवू इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल की पूरी पंक्ति ही मिट जाती है।
क्मसमजम मदजपतम बवसनउद इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल में जिस सैल में कर्सर स्थित होता है, उस सैल का पूरा काॅलम ही मिट जाता है।
च्ंहम 180
टेबिल को साॅर्ट करना
टेबिल की प्रत्येक पंक्ति ;त्वूेद्ध एक रिकाॅर्ड होती है, तथा प्रत्येक काॅलम एक फील्ड। अतः टेबिल डेटाबेस का प्रारूप होता है। टेबिल में प्रविष्ट किए गए विभिन्न आंकडो को एक निश्चित क्रम में प्रदर्शित करना ही टेबिल की साॅर्टिंग करना कहलाता है। उदाहरण के लिए यदि हमने टेबिल में विभिन्न छात्रो के विभिन्न प्राप्तांको के रिकाॅर्ड्स की प्रविष्ट किया है और हम इन रिकाॅर्ड्स को किसी विशेष विषय में प्राप्तांको के आधार अथवा इनके अनुक्रमांक के आधार पर आरोही ;।ेबमदकपदहद्ध अथवा ;क्मेबमदकपदहद्ध क्रम में व्यवस्थित करना इस टेबिल की साॅर्टिंग करना कहलाएगा । टेबिल की साॅर्टिंग करने के लिए कर्सर को टेबिल में किसी भी स्थान पर लाकर वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के ैवतज विकल्प का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति ैवतज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है
इस डायलाॅग बाॅक्स में ैवतज इल नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर हमारी टेबिल की पहली पंक्ति में प्रत्येक काॅलम के लिए प्रविष्ट किया गया टैक्स्ट विकल्पो के रूप में एक सूची में प्रदर्शित होते है। इस सूची में से हम उस काॅलम शीर्षक को चुनते है, जिसके आधार पर हमें साॅर्टिंग करनी है।
उदाहरण के लिए हम यहां पर त्वसस छवण् को चुनते है। इसके बाद ज्लचम के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में दिए गए तीन विकल्पों ज्मगजएछनउइमत तथा क्ंजम में से उपरान्त ।ेबमदकपदह तथा क्मेबमदकपदह रेडियो बटन्स में से किसी एक को चुनकर यह सुनिश्चित किया जाता है, कि साॅर्टिंग आरोही अर्थात् क्रम में होनी है अथवा अवरोही अर्थात् घटते क्रम में।
यदि उपरोक्त काॅलम के अनुसार साॅर्टिंग होने के उपरान्त इस टेबिल के किसी अन्य काॅलम के आधार पर भी साॅर्टिंग करनी है, तो दूसरे काॅलम के लिए वांछित निर्धारण ज्ीमद इल वाले भाग में उपरोक्तानुसार करते है। इस भाग में ज्ीमद इल के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में काॅलम शीर्षक के अतिरिक्त एक विकल्प ;छवदमद्ध भी प्रदर्शित होता है। इस सूची में ;छवदमद्ध के अतिरिक्त किसी अन्य काॅलम शीर्षक को चुनते ही, इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाला एक अन्य ज्ीमद इल वाला भाग जोकि अब
च्ंहम 181
तक निष्क्रिय प्रदर्शित हो रहा था, भी सक्रिय हो जाता है। ज्ीमद इल वाले भाग में वांछित निर्धारण यदि आवश्यक है, तो ैवतज इल वाले भाग के समान ही कर लिया जाता है।
इसके बाद डल सपेज ींे वाले भाग में रेडियो बटन के रूप में दिए गए दो विकल्पो में से किसी एक को चुनना आवश्यक होता है। यदि हमारी टेबिल का पहली पंक्ति में हमने प्रत्येक काॅलम के शीर्षक निर्धारित किए हुए हैं, तो पहले रेडियो बटन भ्मंकमत तवू और यदि काॅलम के शीर्षक निर्धारित नही किए गए है, तो छव ीमंकमत तवू को चुनते है। दूसरे रेडियो बटन को चुनने पर ैवतज इल अथवा ज्ीमद इल के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दांए सिरे पर स्थित डाउन पर क्लिक करने पर काॅलम शीर्षक के स्थान पर काॅलम संख्या ब्वसनउद 1ए ब्वसनउद 2 ३ण्ण् के रूप में प्रदर्शित होती है। अब पुश व्ज्ञ पर क्लिक करने पर इस डायलाॅग बाॅक्स मे किए गए निर्धारण के अनुरूप टेबिल के आंकडो की साॅर्टिंग हो जाएगी।
टेबिल में गणनाएं करना
वर्ड 2002 में बनाई गई टेबिल के किसी सैल में हम अन्य सैल्स के आंकडो के आधार पर हम अंकगणितीय गणनांए भी कर सकते है। बनाई गई टेबिल के जिस सैल में गणना का परिणाम प्राप्त करना है, कर्सर को उस सैल में लाकर वर्ड 2002 के ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प थ्वतउनसं का प्रयोग करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति थ्वतउनसं डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वतउनसं के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में वह सूत्र टाइप किया जाता है, जिसके अनुसार गणना करनी है। इस टैक्स्ट बाॅक्स में त्रैन्ड;स्म्थ्ज्द्ध लिखा हुआ प्रदर्शित हो रहा है। इसका तात्पर्य है कि हमारे सैल के बाई ओर जितने काॅलम्स में लगातार आंकिक आंकडे प्रविष्ट किए गए है, उनका योग इस सैल में प्रदर्शित हो। अक्षरो को मिट देते है। अब च्ंेजम निदबजपवद के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित फंक्शन को चुन लेते हैं । औसत के लिए हमें ।टम्त्।ळम् फंक्शन को चुनना होता है। अब इस टैक्स्ट बाॅक्स में त्र।टम्त्।ळम्;द्ध प्रदर्शित होने लगता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स में अब ( ) के अन्दर हमें उन सैल्स के मान टाइप करने होते है। यदि हमें वर्तमान सैल के ऊपर के लगातार आंकिक आंकडो वाले सैल्स के लिए यहां पर स्म्थ्ज् टाइप करते है। यदि हमे वर्तमान सैल के ऊपर के लगातार आंकिक आंकडो वाले सैल्स के लिए यह गणना करनी है, तो स्म्थ्ज् के स्थान पर ।ठव्टम् टाइप करते है, यदि नीचे के सैल्स के लिए गणना करनी है तो ठम्स्व्ॅ टाइप करते है और यदि दाई ओर के सैल्स के लिए गणना करती है, तो त्प्ळभ्ज् टाइप करते है। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर वांछित गणना का परिणाम हमारी टेबिल के उस सैल में प्रदर्शित होने लगता है, जिस सैल में कर्सर स्थित है। यदि इस सैल में पहले कोई आंकडा प्रविष्ट है, तो यह इस आंकडे के बाद प्रदर्शित होता है।
जिस प्रकार हमने ।अमतंहम;द्ध फंक्शन का प्रयोग किया, उसी प्रकार च्ंेजम निदबजपवद सैलेक्शन बाॅक्स में दिए गए अन्य फंक्शन्स का प्रयोग भी किया जा सकता है।
टेबिल को फाॅरमेट करना
टेबिल को फाॅरमेट करने के लिए ज्ंइसम मेन्यू के ज्ंइसम ।नजवथ्वतउंज विकल्प का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ज्ंइसम ।नजवथ्वतउंज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ब्ंजमहवतल के नीेचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक
च्ंहम 182
करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में तीन विकल्प ज्ंइसम ेजलसमे पद नेमए ।सस जंइसम ेजलसमे तथा न्ेमत.कमपिदमक जंइसम ेजलसमे दिए होते है। इन तीनो विकल्पो का विवरण निम्नानुसार है
ज्ंइसम ेजलसमे पद नेम वर्तमान में बनाई अथवा इन्सर्ट की गई टेबिल जिस स्टाइल की है, केवल उसी स्टाइल नाम ज्ंइसम ेजलसम के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होता है।
।सस जंइसम ेजलसमे वर्ड 2002 में पूर्व परिभाषित टैक्स्ट स्टाइल्स तथा प्रयोगकर्ता द्वारा परिभाषित विभिन्न टैक्स्ट स्टाइल्स , सभी का प्रदर्शन ज्ंइसम ेजलसम के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होता है।
न्ेमत.कमपिदमक जंइसम ेजलसमे प्रयोगकर्ता द्वारा परिभाषित विभिन्न टैक्स्ट स्टाइल्स का प्रदर्शन ज्ंइसम ेजलसम के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होता है।
ज्ंइसम ेजलसमे के नीचे दिए गए बाॅक्स में चुनी गई स्टाइल के अनुरूप टेबिल का प्रदर्शन च्तमअपमू के नीचे दिए गए बाॅक्स में होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ।चचसल ेचमबपंस वितउंजे जव वाले भाग में चार चैक बाॅक्सेज दिए होते है। इनका विवरण निम्नानुसार है
भ्मंकपदह तवू चुनी गई टेबिल स्टाइल के अनुरूप् अपनी टेबिल की पहली पंक्ति , जिसे टेबिल की शीर्षक पंक्ति भी कहते है, को प्रदर्शित करने क लिए इस चैक बाॅक्स को चुना जाता है।
थ्पतेज बवसनउद चुनी गई टेबिल स्टाइल के अनुरूप अपनी टेबिल के पहले काॅलम को प्रदर्शित करने के लिए इस चैक बाॅक्स को चुना जाता है।
स्ंेज तवू चुनी गई टेबिल स्टाइल के अनुरूप अपनी टेबिल की अन्तिम पंक्ति को प्रदर्शित करने के लिए इस चैक बाॅक्स को चुना जाता है।
स्ंेज बवसनउद चुनी गई टेबिल स्टाइल के अनुरूप अपनी टेबिल के अन्तिम काॅलम को प्रदर्शित करने के लिए इस चैक बाॅक्स को चुना जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स से हम अपनी नई टेबिल स्टाइल भी बना सकते है। इसके लिए हमें इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन छमू पर क्लिक करना होगा। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के च्तवचमतजपमे वाले भाग में छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में बनाई जा रही नई टेबिल स्टाइल का नाम टाइप कर दिया जाता है। ठंेमक वद के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में वर्ड 2002 में पूर्व परिभाषित टेबिल स्टाइल्स में से वांछित स्टाइल को चुनकर यह सुनिश्चित किया जाता है, कि नई टेबिल स्टाइल किस दो आकार
च्ंहम 183
पर तैयार किया जाएगी। इस डायलाॅग बाॅक्स के थ्वतउंजपदह वाले भाग में ।चचसल वितउंजजपदह जव के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में यह निर्धारित किया जाता है, कि इस भाग में किया जाने वाला निर्धारण सम्पूर्ण टेबिल के लिए प्रभावी हो अथवा इसके किसी विशेष भाग के लिए। इस सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में दिए गए विकले से वांछित विकल्प को चुंनकर यह निर्धारण किया जाता है। टेबिल के वांछित भाग में प्रविष्ट किए जाने वाले आंकडो का फाॅन्ट , फाॅन्ट का आकार, फाॅन्ट का स्टाइल , फाॅन्ट का रंग , प्रयुक्त होने वाली रेखा की स्टाइल, मोटाई तथा रंग, बाॅर्डर , इसका रंग और इसमें आंकडो का एलाइन्मेन्ट निर्धारित किया जाता है। इस टेबिल स्टाइल को टेम्पलेट में जो़ड़ने के लिए चैक बाॅक्स ।कक जव जमउचसंजम को चुन लेते है। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस ज्ंइसम ।नजवथ्वतउंज डायलाॅग बाॅक्स में आ जाते है और अब ब्ंजमहवतल के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में ।सस जंइसम ेजलसम को चुनन पर ज्ंइसम ेजलसमे के नीचे प्रदर्शित होने वाली विभिन्न स्टाइल्स में हमारे द्वारा बनाई गई नई टेबिल स्टाइल का नाम भी प्रदर्शित होता है।
टेबिल को टैक्स्ट में तथा टैक्स्ट को टेबिल में परिवर्तित करना
वर्ड 2002 में टेबि एक डेटाबेस के रूप में व्यवहार में आती है, इसीलिए इस पर साॅर्टिंग तथा गणनाएं सम्भव होती है। वर्ड 2002 में हमें टैक्स्ट को टेबिल तथा टेबिल को टैक्स्ट में परिवर्तित करने की सुविधा भी दी गई है।
ज्ंइसम मेन्यू के विकल्प ब्वदअमतज पर क्लिक करने पर इसका एक उप-मेन्यू प्रदर्शित होता है, जिसमे दो विकल्प ज्मगज जव ज्ंइसम तथा ज्ंइसम जव ज्मगज दिए होते है। यदि हमने कर्सर को टेबिल में किसी सैल पर लाकर ब्वदअमतज विकल्प पर क्लिक किया है, तो केवल ज्ंइसम जव ज्मगज विकल्प ही सक्रिय होता है, यदि हमने टेबिल के अतिरिक्त डाॅक्यूमेण्ट का कोई टैक्स्ट चुनकर ब्वदअमतज विकल्प पर क्लिक किया है , तो केवल ज्मगज जव ज्ंइसम विकल्प ही सक्रिय होता है और यदि हमने टेबिल में प्रविष्ट की गई सूचनाओ को चुनकर इस विकल्प का प्रयोग किया है, तो दोनो विकल्प सक्रिय होते है।
टेबिल को टैक्स्ट में परिवर्तित करना
कर्सर को टेबिल में किसी सैल पर लाकर ज्ंइसम मेन्यू के ब्वदअमतज विकल्प पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली उप-मेन्यू के ज्ंइसम जव ज्मगज विकल्प का प्रयोग टेबिल को टैक्स्ट में परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर करने कि लिए किया जाता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्वदअमतज ज्ंइसम जव ज्मगज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे चार विकल्प रेडियो बटन्स के रूप मे दिए होते है। इन विकल्प का विवरण निम्नानुसार है
च्ंतंहतंची उंतो इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडो नए पैराग्राफ में प्रदर्शित होते है।
ज्ंइे इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडो के मध्य एक टैब का रिक्त स्थान प्रदर्शित होता है।
ब्वउउंे इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडे एक अर्द्धविराम (,) द्वारा पृथक् किए होते है।
व्जीमत इस रेडियो बटन को चुनने पर इसके सामने दिए गए बाॅक्स में वह कैरेक्टर टाइप कर दिया जाता है, जिससे हम टेबिल के प्रत्येक सैल् में प्रविष्ट किए गए आंकडो को पृथक करना चाहते है।
पहले रेडियो बटन च्ंतंहतंची उंतो को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे दिया गया चैक बाॅक्स ब्वदअमतज
च्ंहम 184
दमंजमक जंइसमे भी सक्रिय हो जाता है। इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल के अन्तर्गत यदि कोई छमेजमक ज्ंइसम भी बनाई गई है, तो चह भी टैक्स्ट में परिवर्तित हो जाएगी और उसके सैल्स में प्रविष्ट किए गए आंकडे भी नए पैराग्राफ से प्रदर्शित होंगे। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हमारी टेबिल इस डायलाॅग बाॅक्स में किए गए निर्धारण के अनुरूप टैक्स्ट में परिवर्तित हो जाएगी।?
टैक्स्ट को टेबिल में परिवर्तित करना
कर्सर को डाॅक्यूमेण्ट में वांछित टैक्स्ट, जिसे हम टेबिल में परिवर्तित करना चाहते है, को चुनकर ज्ंइसम मेन्यू के ब्वदअमतज विकल्प का प्रयोग टैक्स्ट को टेबिल में परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र. की भांति ब्वदअमतज ज्मगज जव ज्ंइसम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में चार विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। इन विकल्प का विवरण निम्नानुसार है
च्ंतंहतंची उंतो इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडे नए पैराग्राफ में प्रदर्शित होते है।
ज्ंइे इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडो के मध्य एक टैब का रिक्त स्थान प्रदर्शित होता है।
ब्वउउंे इस रेडियो बटन को चुनने पर टेबिल के प्रत्येक सैल मे प्रविष्ट किए गए आंकडे एक अर्द्धविराम (,) द्वारा पृथक् किए होते है।
व्जीमत इस रेडियो बटन को चुनने पर इसके सामने दिए गए बाॅक्स में वह कैरेक्टर टाइप कर दिया जाता है, जिससे हम टेबिल के प्रत्येक सैल में प्रविष्ट किए गए आंकडो को पृथक् करना चाहते है।
पहले रेडियो बटन च्ंतंहतंची उंतो को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे दिया गया चैक बाॅक्स ब्वदअमतज दमंजमक जंइसमे भी सक्रिय हो जाता है। इस चैक बाॅक्स को चुनने पर टेबिल के अन्तर्गत यदि कोई छमेजमक ज्ंइसम भी बनाई गई है, तो वह भी टैक्स्ट में परिवर्तित हो जाएगी और उसके सैल्स में प्रविष्ट किए गए आंकडो भी नए पैराग्राफ से प्रदर्शित होंगे। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हमारी टेबिल इस डायलाॅग बाॅक्स में किए पैराग्राफ गए निर्धारण के अनुरूप टैक्स्ट में परिवर्तित हो जाएगी।
टेबिल की प्राॅपर्टीज का निर्धारण करना
जैसाकि हम जानते है कि टेबिल के तीन ही तत्व है त्वूए ब्वसनउद तथा ब्मसस। अतः टेबिल की प्राॅपर्टी का तात्पर्य टेबिल के त्वूए ब्वसनउद तथा ब्मसस की ऊंचाई ;भ्मपहीजद्ध ए चैडाई ;ॅपकजीद्ध तथा एलाइनमेन्ट ;।सपहदउमदजद्ध से है। टेबिल के उन तत्वो को निर्धारित करने के साथ-साथ टेबिल के सैल्स में टैक्स्ट का एलाइनमेन्ट का भी निर्धारण किया जाता है। इसके अतिरिक्त टेबिल के चारो ओर की लाइन अर्थात् बोर्डर का निर्धारण भी टेबिल की प्राॅपर्टीज का निर्धारण करने के अन्तर्गत ही आता है।
टेबिल का प्राॅपर्टीज का निर्धारण करने के लिए हम ज्ंइसम मेन्यू के ज्ंइसम च्तवचमतजपमे विकल्प का प्रयोग करते है। यदि हम किसी टैबिल पर आकार माउस का दायां बटन दबाते है, तो प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में भी यह विकल्प होता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प ज्ंइसमए त्वूए ब्वसनउद तथा ब्मसस होते है।
च्ंहम 185
इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले मुख्य विकल्प ज्ंइसम को चुनने पर इसका प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे ैप्रम वाले भाग में दिए गए चैक बाॅक्स को चुनने से इस भाग के अन्य विकल्प भी सक्रिय हो जाते है। अब च्तममिततमक ूपकजी के सामने दिए गए बाॅक्स में टेबिल की वांछित चैडाई का निर्धारण किया जाता है। डमंेनतम पद के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची मे दिए गए दो विकल्पो प्दबीमे तथा च्मतबमदज में से किसी एक को चुनकर टेबिल की चैडाई को इंचो में अथवा वर्तमान टेबिल के आकार के प्रतिशत आकार में निर्धारित करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के ।सपहदउमदज वाले भाग में टेबिल की पृष्ठ पर स्थित तथा इसकी बाएं हाशिए से दूरी का निर्धारण किया जाता है। इस पर स्थिति तथा इसकी बाएं हाशिए से दूरी का निर्धारण किया जाता है। इस भाग में दिए गए तीन बटन्स स्मजिएब्मदजमत तथा त्पहीज में से किसी एक पर क्लिक करके यह निर्धारित किया जाता है, कि टेबिल की पृष्ठ पर किस स्थान पर स्थित होगी । स्मजि को चुनने पर यह पृष्ठ के बाएं सिरे की सीध में होती है, ब्मदजमत को चुनने पर यह पृष्ठ के मध्य की सीध में तथा त्पहीज को चुनने पर यह पृष्ठ के दाएं सिरे के सीध में होती है। ज्मगज ॅतंचचपदह वाले भाग में टेबिल के चारो ओर टैक्स्ट का प्रवाह किस प्रकार का होगा, यह निर्धारित किया जाता है। इस भाग में दो बटन्स छवदम तथा के चारो ओर टैक्स्ट का प्रवाह किस प्रकार का होगा ,यह निर्धारित किया जाता है। इस भाग में दो बटन्स छवदम तथा ।तवनदक दिए होते है। इनमे से छवदम को चुनने पर टेबिल के ैपकम में कोई भी टैक्स्ट प्रदर्शित नही होता है जबकि ।तवनदक को चुंनने पर इसके चारो ओर टैक्स्ट का प्रदर्शन होता है। टैक्स्ट का प्रदर्शन टेबिल के ।सपहदउमदज पर निर्भर करता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन च्वेपजपवदपदह पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ज्ंइसम च्वेपजपवदपदह डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में टेबिल की पृष्ठ पर क्षैतिज तथा ऊध्र्वाधर स्थिति का निर्धारण भ्वतप्रवदजंस तथा टमतजपबंस भाग में किया जाता है। टेबिल के चारो ओर प्रदर्शित होने वाले टैक्स्ट की इससे दूरी का निर्धारण ज्वचए ठवजजवउए स्मजि तथा त्पहीज के सामने दिए गए बाॅक्सेज में किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वाले भाग में दो विकल्प चैक बाॅक्सेज के रूप में दिए होते है। पहले विकल्प डवअम ूपजी जमगज को चुनने पर टेबिल टैक्स्ट के साथ डाॅक्यूमेण्ट में विस्थापित होती है तथा दूसरे चैक बाॅक्स ।ससवू वअमतसंच को चुनने पर टेबिल पर टैक्स्ट ओवरलैप हो जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के ।ससवू वअमतसंच को चुनने पर टेबिल पर टैक्स्ट ओवरलेप हो जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स में आ जाते है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ठवतकमत ंदक ैींकपदह पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ठवतकमत ंदक ैींकपदह डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इस डायलाॅग का प्रयोग करना हम इसी अध्याय में पृष्ठ 140 पर सीख चुके है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हम टेबिल अथवा सैल के लिए बाॅर्डर तथा शेडिंग का निर्धारण कर सकते है। किया गया निर्धारण टेबिल अथवा सैल के लिए प्रभावी होगा, यह इस डायलाॅग बाॅक्स में ।चचसल जव के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ज्ंइसम अथवा ब्मसस में से किसी एक को चुनकर किया जाता है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति ज्ंइसम व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है।
च्ंहम 186
इस डायलाॅग बाॅक्स के क्मंिनसज बमसस उंतहपदे वाले भाग में दिए गए चार बाॅक्सेज ज्वचए ठवजजवउए स्मजि तथा त्पहीज सैल के चारो सिरो से टैक्स्ट की दूरी का निर्धारण किया जाता है।
क्मंिनसज बमसस ेचंबपदह वाले भाग में दिए गए चैक बाॅक्स को चुनने से इस भाग में दिया गया बाॅक्स भी सक्रिय हो जाता है। इस बाॅक्स में यदि हम सैल्स के मध्य कोई रिक्त स्थान चाहते है, तो इसके टाइप कर देते है। तीसरे भाग व्चजपवदे में दिए गए एकमात्र चैक बाॅक्स को चुनने से टेबिल के काॅलम में टैक्स्ट को टाइप करने पर काॅलम की चैडाई का निर्धारण स्वतः ही कम अथवा अधिक हो जाता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स मे आ जाते है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प त्वू को चुंनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के ैप्रम वाले भाग में हम टेबिल पंक्तियो की ऊंचाई का निर्धारण करते है। यह ऊंचाई न्यूनतम अथवा म्गंबज हो, इसका निर्धारण त्वू ीमपहीजे पे के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स मे किया जाता है। यह निर्धारण हम टेबिल की विभिन्न पंक्तियो के लिए पृथक्-पृथक् भी कर सकते है।
यदि हमने ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन सम्पूर्ण टेबिल को चुनकर किया है, तो यह निर्धारण टेबिल की सभी पंक्तियो के लिए किया जा सकता है, परन्तु यदि हमने टेबिल की किसी पंक्ति के लिए किया जा सकता है। अब इस भाग में त्वूे के स्थान पर त्वू के बाद उस पंक्ति का क्रमांक प्रदर्शित होता है; जैसे त्वू1ए त्वू2 ३३ण् आदि।
इस डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वाले भाग में दो विकल्प चैक बाॅक्सेज के रूप में प्रदर्शित होते है। पहले चैक बाॅक्स को चुनने पर यदि टेबिल की पंक्ति के दौरान च्ंहम ठतमंाम आता है, तो यह पंक्ति का टैक्स्ट काॅलम्स के शीर्षक ;ब्वसनउद भ्मंकपदहेद्ध के रूप में प्रत्येक पृष्ठ पर प्रयोग होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन च्तमअपवने त्वू पर क्लिक करने पर कर्सर टेबिल में वर्तमान पंक्ति से पहले वाली पंक्ति में पहुंच जाता है। इसी प्रकार दूसरे पुश बटन छमगज त्वू पर क्लिक करने पर कर्सर टेबिल में वर्तमान पंक्ति से अगली पंक्ति में पहुंच जाता है। अब हम इस पंक्ति के लिए भी उपरोक्तानुसार वांछित निर्धारण कर सकते है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प ब्वसनउद को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है।
च्ंहम 187
इस डायलाॅग बाॅक्स में काॅलम की चैडाई का निर्धारण किया जाता है। इसी प्रकार पुश बटन्स च्तमअपवने ब्वसनउद तथा छमगज ब्वसनउद को चुनकर हम टेबिल के विभिन्न काॅलम्स की चैडाई का निर्धारण कर सकते है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स के चैथे मुख्य विकल्प ब्मसस को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के ैप्रम वाले भाग में सैल की चैडाई का निर्धारण त्वू की भांति ही किया जाता है।
इस सैल के टमतजपबंस ंसपहदउमदज वाले भाग में तीन विकल्प बटन्स के रूप में होते है। ज्वच बटन को चुनने पर सैल में टैक्स्ट सैल के ऊपरी सिरे से मिलकर प्रदर्शित होता है। दूसरे बटन बमदजमत को चुनने पर टैक्स्ट सैल मे ऊध्र्वाधर रूप से मध्य में होता है। तीसरे बटन को चुनने पर सैल मेे टैक्स्ट सैल के निचले सिरे से मिलकर प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन व्चजपवदे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्मसस व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स में ब्मसस उंतहपदे वाले भाग में दिए गए चैक बाॅक्स को चुनने पर सैल का डंतहपद वही रहता है, जोकि ज्ंइसम व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स में किए गए क्मंिनसज ब्मसस डंतहपद के सामने ही रहता है। यदि हम वर्तमान सैल, जिसमें कर्सर स्थित है, के लिए पृथक् निर्धारण करना चाहते है, तो इस चैक बाॅक्स को रिक्त कर देते है। अब इस भाग में दिए गए बाॅक्स सक्रिय हो जाते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वाले भाग में दो विकल्प चैक बाॅक्सेज के रूप दिए गए होते है। पहले चैक बाॅक्स ॅतंच जमगज को चुनने पर सैल को टैक्स्ट अनेक पंक्तियो में विभाजित हो जाता है। दुसरे चैक बाॅक्स थ्पज जमगज को चुनन पर टैक्स्ट काॅलम में ही फिट हो जाता है।
ज्ंइसम च्तवचमतजपमे डायलाॅग बाॅक्स में विभिन्न निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में आ जाते है और हमारी टेबिल किए गए निर्धारण के अनुरूप प्रदर्शित होने लगती है।
डाॅक्यूमेण्ट में ग्राफिक्स का प्रयोग
डाॅक्यूमेण्ट में ग्राफिक्स का प्रयोग लोगो ;स्वहवद्ध अथवा किसी पिक्चर को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। पिक्चर डाॅक्यूमेण्ट में लिखे गए टैक्स्ट ;डमेेंहमद्ध की भावानाओ को भी व्यक्त करती है,साथ ही डाॅक्यूमेण्ट को आकर्षक बनाने के लिए भी ग्राफिक्स का प्रयोग किया जाता है।
माइक्रोसाॅफ्ट क्लिक आॅर्गेनाइजर द्वारा ग्राफिक्स का प्रयोग
आॅफिस ग्च् में माइक्रोसाॅफ्ट द्वारा क्लिप आॅर्गेनाइजर को अत्यन्त विकसित रूप में प्रस्तुत किया गया है। आॅफिस का क्लिप आॅर्गेनाइजर इसके सभी एप्लीकेशन द्वारा समान रूप से ैींतम किया जा सकता है। क्लिक आॅर्गेनाइजर के ब्सपच ।तज गैलेरी में न केवल पिक्चर, बल्कि ध्वनि संकेत ;ैवनदकद्ध तथा चलचित्र ;डवअपमद्ध को भी सम्मिलित किया गया है।
डाॅक्यूमेण्ट में ब्सपच ।तज से पिक्चर को इन्सर्ट करने के लिए हमें प्देमतज मेन्यू के च्पबजनतम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर को लाने पर इसका एक उप-मेन्यू अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू
च्ंहम 188
के पहले विकल्प ब्सपच ।तज को चुनने पर डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में दाई ओर प्देमतज ब्सपच।तज टास्क विन्डो का प्रदर्शन होती है। यदि हम इस विकल्प का प्रयोग पहली बार कर रहे है, तो नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति ।कक ब्सपच जव व्तहंदप्रमत सन्देश प्रदर्शित होता है।
यदि हम नही चाहते है, कि यह सन्देश अगली बार प्रदर्शित न हो, तो इस सन्देश बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स पर क्लिक करके इस चुन लेते है। अब इस सन्देश बाॅक्स में पुश बटन छवू पर क्लिक करते ही माॅनीटर स्क्रीन पर ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति डपबतवेवजि ब्सपच व्तहंदप्रमत बाॅक्स प्रदर्शित होता है और इसके लोड होने की प्रक्रिया प्रदर्शित होती है। इसके कुछ क्षणो के उपरान्त हमारे डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में दाई ओर टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति होता है।
इस टास्क पेन के ैमंतबी ज्मगज के नीचे दिए बाॅक्स में इस शब्द को टाइप करे जिससे सम्बन्धित क्लिप्स (पिक्चर) को हम सर्च करके अपने डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग करना चाहते है। उदाहरण के लिए यदि हम कम्प्यूटर से सम्बन्धित क्लिक को सर्च करना चाहते है तो ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में ब्वउचनजमत टाइप करते है। इसी प्रकार हम ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में निम्नलिखित शब्दो का प्रयोग कर उनसे सम्बन्धित क्लिप्स का सर्च कर सकते है।
ठनेपदमेे . व्यापार से सम्बन्धित ।
ैबीववस दृ विद्यालय से सम्बन्धित ।
ब्ंतजववदे दृ कार्टून से सम्बन्धित।
।दपउंसे दृ जानवरो से सम्बन्धित।
च्ंहम 189
छंजनतम दृ प्रकृति से सम्बन्धित।
थ्सवूमते दृ फूलो से सम्बन्धित, इत्यादि।
ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में वांछित टैक्स्ट को टाइप करने के पश्चात् हम ैमंतबी पद के नीचे दिए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्पो को चुनकर यह सुनिश्चित कर लेते है, कि क्लिप या पिक्यर की सर्चिंग डल ब्वससमबजपवद अथवा ॅमइ ब्वससमबजपवद अथवा इन सभी फोल्डर्स ;म्अमतल ॅीमतमद्ध में होगी। इन फोल्डर के पहले दिए गए ;़द्ध चिन्ह पर क्लिक करने पर क्लिप कलैक्शन की सूची प्रदर्शित होती है। हम इन्हे न्दबीमबा कर त्मेनसज बाॅक्स मे प्रदर्शित होने से रोक सकते है। त्मेनसज ैीवनसक इम के नीचे दिए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में वांछित विकल्प को चुनकर हम यह निर्धारित करते है, कि सर्चिंग किस प्रकार फाइलो के लिए होगी अर्थात् सर्चिंग ब्सपच।तज अथवा च्ीवजवहतंचीे अथवा ैवनदके तथा सभी ;।सस डमकपं थ्पसमेद्ध अथवा इनमे से एक से अधिक प्रकार की फाइल्स के लिए होगी। इनके निर्धारण के पश्चात् जब हम ैमंतबी बटन पर क्लिक करत है, तो इस ैमंतबी का प्रयोग इस टास्क पेन के त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित होता है।
ळमने ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में थ्सवूमत टाइप करके ए ैमंतबी पद के नीेचे सभी कलैक्शन में सर्च को करने के लिए निर्धारण करके तथा त्मेनसज ैीवनसक इम के नीचे सभी प्रकार की फाइल्स के लिए निर्धारण करके ैमंतबी बटन पर क्लिक किया टास्क पेन में त्मेनसज बाॅक्स में अग्रांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
यदि हम ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में कुछ भी टाइप किए बिना ही , ैमंतबी बटन पर क्लिक कर देते है, तो वर्ड 2002 सभी क्लिपआर्ट कलैक्षन्स की सभी क्लिपआर्ट फाइल्स , जिनमे क्लिपआर्ट फोटोग्राफ, मूवी तथा ध्वनि प्रभाव सभी सम्मिलित होते है, को टास्क पेन के त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित करता है।
च्ंहम 190
त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाली विभिन्न में से हम जिस पिक्चर भी क्लिक करते है, वह पिक्चर डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थारन पर इन्सर्ट हो जाती है। जब हम माउस प्वाॅइन्टर को किसी पिक्चर पर लाते है, इस पिक्चर के दाई ओर एक डाउन ऐरो प्रदर्शित होने लगता है, जैसाकि उपरोक्त चित्र मे दर्शाया गया है। इस डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर एक मेन्यू निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता हैे
च्ंहम 191
इस शाॅर्टकट मेन्यू के विभिन्न विकल्पो का विवरण निम्नलिखित है
प्देमतज विकल्प का प्रयोग पिक्चर को डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर इन्सर्ट के लिए किया जा सकता है। यह कार्य हम त्मेनसज बाॅक्स में किसी भी क्लिप करके भी कर सकत है।
ब्वचल विकल्प का प्रयोग त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप को आॅफिस क्लिपबोर्ड ;व्ििपबम ब्सपचइवंतकद्ध पर काॅपी करने के लिए किया जाता है, जिसे हम किसी डाॅक्यूमेण्ट में पेस्ट कर सकते है।
क्मसमजम थ्तवउ ब्सपच व्तहंदप्रमत विकल्प का प्रयोग, त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप को आॅफिस ग्च् के क्लिप आॅगेनाइजर से मिटाने के लिए किया जाता है।
व्चमद ब्सपच पद विकल्प का प्रयोग , त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप को सम्बन्धित एप्लीकेशन में खोलने के लिए किया जाता है।
ज्ववसे वद ॅमइ विकल्प का प्रयोग, त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप को वेब पेज से लिंक करके प्दजमतदमज म्गचसवतमत में खोलने के लिए किया जाता है।
ब्वचल जव ब्वससमबजपवद विकल्प का प्रयोग, त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए विकल्प को डल ब्वससमबजपवद फोल्डर के अन्तर्गत बनाए गए किसी फोल्डर या डल ब्वससमबजपवद फोल्डर में ही काॅपी करने के लिए किया जाता है।
म्कपज ज्ञमलूवतके विकल्प का प्रयोग , त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप के निर्धारित अन्य की-वर्ड्स, अर्थात् वे शब्द जिनको कि ैमंतबी ज्मगज बाॅक्स में टाइप करके ैमंतबी बटन पर क्लिक करने पर यह क्लिप त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित हो, को जानने के लिए किया जाता है।े
थ्पदक ैपउपसंत ैजलसम विकल्प का प्रयोग, त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप से मिलते-जुलते स्टाइल के अन्य क्लिप्स को त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप से मिलते-जुलते स्टाइल के अन्य क्लिप्स को त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
च्तमअपमूध्च्तवचमतजपमे विकल्प का प्रयोग, त्मेनसज बाॅक्स में चुने गए क्लिप का प्रिव्यू तथा इससे सम्बन्धित विभिन्न जानकारी निम्नांकित चित्र की भांति एक डायलाॅग बाॅक्स मे प्रदर्शित होती है
प्देमतज ब्सपच।तज टास्क पेन में सर्च के परिणाम त्मेनसज बाॅक्स में प्रदर्शित होते है। पुनः नई सर्च करने के लिए त्मेनसज बाॅक्स के नीचे दिए गए डवकपलि बटन पर क्लिक करना होता है।
च्ंहम 192
ब्सपच व्तहंदप्रमत का प्रयोग
प्देमतज ब्सपच।तज टास्क पेन में ैमम ंसेव के नीचे एक विकल्प ब्सपच व्तहंदप्रमत दिया होता है। ब्सपच व्तहंदप्रमतए कम्पयूटर के हार्ड डिस्क के विभिन्न ड्राइव में स्थित मीडिया फाइल्स को मनोवांछित कलैक्शन के फोल्डर में व्यवस्थित ;ब्वचल अथवा क्मसमजम द्ध करने के लिए किया जाता है। साथ ही साथ ब्सपच व्तहंदप्रमत का प्रयोग नया कलैक्शन बनाकर इसमे मीडिया फाइलो को काॅपी अथवा मुव करने के लिए किया जाता है। जब हम प्देमतज ब्सपच।तज टास्क पेन में ैमम ंसेव के नीचे दिए गए ब्सपच व्तहंदप्रमत पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर डपबतवेवजि ब्सपच व्तहंदप्रमत विन्डो निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होती है
माइक्रोसोफ्ट क्लिप आॅर्गेनाइजर मीडिया फाइल्स से सम्बन्धित फाइल्स को कलैक्शन के रूप में दर्शाता है, न कि फोल्डर्स के रूप में। क्लिप आॅर्गेनाइजर की सहायता से हम नया कलैक्शन बना सकते हैं तथा इसमें वर्तमान कलैकशन से विकल्प को काॅपी अथवा मूव कर सकते है। क्लिप आॅर्गेनाइजर स्वतः ही डल ब्वससमबजपवदे फोल्डर के अन्तर्गत निम्नलिखित तीन कलैक्शन बनाता है
थ्ंअवनतपजमे इसमें सबसे अधिे प्रयोग होने वाले क्लिप जैसे , किसी कम्पनी का लोगो ;स्वहवद्ध इत्यादि को संग्रहित किया जाता है।
न्दबसंेेपपिमक ब्सपचे इसमे ऐसे क्लिप्स को संग्रहीत किया जाता है, जिसे हमने किसी कलैक्शन में संग्रहीत नही किया गया है।
च्पबजनतमे इसमें फोटोग्राफ अथवा अन्य दूसरे क्लिप्स जिन्हें हम पिक्चर के रूप में वर्गीकृत करना चाहते है, संग्रहित होते है।
क्लिप आॅर्गेनाइजर, डल ब्वससमबजपवद फोल्डर के अतिरिक्त व्ििपबम ब्वससमबजपवदे तथा ॅमइ ब्वससमबजपवद नामक दो और फोल्डर्स को बनाता है। व्ििपबम ब्वससमबजपवद फोल्डर में संग्रहीत क्लिप कलैक्शन को देखने के लिए इसे पहले दिए गए ष़्ष् चिन्ह पर क्लिक करते है। ॅमइ ब्वससमबजपवद नामक फोल्डर का प्रयोग माइक्रोसाॅफ्ट के आॅन-लाइन क्लिप गैलेरी से क्लिप को प्रयोग करने के लिए किया जाता है। ॅमइ ब्वससमबजपवदए फोल्डर का प्रयोग हम तभी कर सकते है, जब आपका कम्प्यूटर इन्टरनेट से जुडा हुआ हो।
च्ंहम 193
नया क्लिप कलैक्शन बनाना
नया क्लिप कलैक्शन बनाने के लिए डपबतवेवजि ब्सपच व्तहंदप्रमत विन्डो के थ्पसम मेन्यू के पहले छमू ब्वससमबजपवद का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति छमू ब्वससमबजपवद डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में छंउम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में नए कलैक्शन का नाम टाइप कर दिया जाता है। इसके बाद ैमसमबज ॅीमतम जव च्संबम जीम ब्वससमबजपवद के नीचे दिए गए फोल्डर्स में से हम उस फोल्डर कलैक्शन को चुन लेते है, जिसके अन्तर्गत यह नया कलैक्शन बनाना है। अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक कर देते है। अब यह नया क्लिप कलैक्शन डपबतवेवजि ब्सपच व्तहंदप्रमत विन्डांे में ब्वससमबजपवद स्पेज में प्रदर्शित होता है।
इसके उपरान्त हम इस नए कलैक्शन में से जिस कलैक्शन से क्लिपआर्ट्स को स्थानान्तरित अथवा काॅपी करना चाहते है, उस कलैक्शन पर क्लिक करके ब्जतस ‘की‘ को दबाकर ड्रैग करते हुए नए कलैक्शन पर लाकर ड्राॅप करने पर नए कलैक्शन के अन्तर्गत इसकी समस्त क्लिप्स काॅपी हो जाती है। यदि हमने ड्रैग करते समच ैीपजि ‘की‘ को दबा लिया तो, चुना गया कलैक्शन अपने मूल स्थान से मिटकर नए कलैक्शन के अन्तर्गत विस्थापित हो जाता है।
यदि हम कुछ क्लिप्स को ही काॅपी करना है, तो इस विन्डो में दाई ओर प्रदर्शित होने वाली क्लिप्स में से वांछित क्लिप्स को चुन लेते है। लगातार क्लिप्स हम ैीपजि ‘की‘ को दबाकर तथा पृथक्-पृथक् क्लिप्स को ब्जतस ‘की‘ को दबाकर चुनते है। अब की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर ड्रैग करते हुए नए कलैक्शन पर लाकर ड्राॅप करने पर ये इस नए कलैक्शन में काॅपी हो जाती हैं और ैीपजि ‘की‘ को दबाकर ड्रैग करते हुए नए कलैक्शन पर लाकर ड्राॅप करने पर ये इस नए कलैक्शन में विस्थापित ;डवअमद्ध हो जाती है।
हम वांछित क्लिप्स का चुनकर डपबतवेवजि ब्सपच व्तहंदप्रमत विन्डो की स्टैण्डर्ड टूलबार पर दिए गए ब्वचल बटन पर क्लिक करके इन क्लिप्स को आॅफिस क्लिपबोर्ड पर काॅपी कर सकते हैं और फिर नए कलैक्शन पर क्लिक करके इसकी स्टेण्डर्ड टूलबार पर दिए गए च्ंेजम टूल बटन पर क्लिक करके इसे नए कलैक्शन में पेस्ट कर सकते है।
क्लिप्स के लिए की-वर्ड का निर्धारण करना
हम अपने नए कलैक्शन में संग्रहीत विभिन्न क्लिप्स के लिए की-वर्ड का निर्धारण करने पर प्देमतज ब्सपच।तज टास्क पेन से उस क्लिप को सर्च करना अत्यन्त सरल हो जाता है। क्लिप से सम्बन्धित वे फाइल्स जो आॅफिस ग्च् के अन्तर्गत आती है उनमें पहले से ही की-वर्ड निर्धारित होते है। अपने नए कलैक्शन की किसी भी क्लिप के लिए की-वर्ड का निर्धारण करने अथवा की-वर्ड को परिवर्तित करने के लिए निम्नालिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
सर्वप्रथम हम उस क्लिप पर क्लिक करते है, जिसका की-वर्ड हम निर्धारित अथवा परिवर्तित करना चाहते है।
अब इस क्लिप के दाएं सिरे पर प्रदर्शित हो रहे डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के विकल्प म्कपज ज्ञमलूवतक पर क्लिक करते है। परिणामस्वरूप अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति ज्ञमलूवतके डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में ज्ञमलूवतके के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मेे हम वह शब्द टाइप करते है, जिससे च्तमअपमू बाॅक्स में प्रदर्शित होने वाली क्लिप को सम्बन्धित करना चाहते है। टाइप किया गया यह शब्द ही इस क्लिप का नया की-वर्ड होगा ।
च्ंहम 194
इस डायलाॅग बाॅक्स में ज्ञमलूवतके के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में वांछित शब्द के टाइप करते ही इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ।कक तथा डवकपलि सक्रिय हो जाते है। इनमे से ।कक पुश बटन पर क्लिक करने पर यह शब्द इस क्लिप के लिए नए की-वर्ड के रूयप् में निर्धारित हो जाता है। डवकपलि पुश बटन तभी सक्रिय होता है जबकि हमने ज्ञमलूवतके वित बनततमदज बसपच के नीचे प्रदर्शित होने वाले विभिन्न की-वर्ड्स में से किसी ऐसे की-वर्ड को चुना हुआ हो, जोकि आॅफिस ग्च् द्वारा निर्धारित न हो । इस पुश बटन पर क्लिक करने पर ज्ञमलूवतके वित बनततमदज बसपच के नीचे प्रदर्शित होने वाली सूची में से चुने गए की-वर्ड के स्थन पर नया की-वर्ड निर्धारित हो जाता है।
इस की-वर्ड को प्रभावी करने के लिए पुश बटन ।चचसल पर क्लिक करते है।
उपरोक्त प्रक्रिया का अनुसरण कर हम पुश बटन च्तमअपवने तथा छमगज पर क्लिक करते हुए इस नए कलैक्शन की अन्य क्लिप्स के लिए भ्ज्ञी की-वर्ड का निर्धारण कर सकते है।
माइक्रोसाॅफ्ट आॅफिस ग्च् के अन्तर्गत दिए गए व्ििपबम ब्वससमबजपवद की वर्तमान क्लिप्स के की-वर्ड को बदला जा सकता।
ज्ञमलूवतके वित बनततमदज बसपच के नीेच प्रदर्शित होने वाले विभिन्न की-वर्ड्स में से उन की-वर्ड्स , जो कि आॅफिस द्वारा निर्धारित नही है, को पुश बटन क्मसमजम पर क्लिक करके मिटाया भी जा सकता है।
पिक्चर को फाॅरमेट करना
डाॅक्यूमेण्ट में क्लिपआर्ट से इन्सर्ट की गई पिक्चर की फाॅरमेटिंग करने के लिए वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू के ज्ववसइंते विकल्प पर माउस लोने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के च्पबजनतम विकल्प अथवा वर्ड 2002 की किसी भी टूलबार पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस की दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के च्पबजनतम विकल्प का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति च्पबजनतम टूलबार प्रदर्शित होती है। इस टूलबार पर डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई पिक्चर की फाॅरमेटिंग से सम्बन्धित टूल आइकन्स दिए होते है, जिन पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करने से ये कार्य अतिशीघ्र किए जा सकते है। इन टूल आइकन्स द्वारा किए जा सकने वाले कार्य अग्रानुसार है
च्ंहम 195
प्देमतज च्पबजनतम दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में किसी पिक्चर को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति प्देमतज पर क्लिक करके डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट किया जा सकता है।
प्देमतज ब्वदजतवस दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर को नियन्त्रित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक उप-मेन्यू प्रदर्शित होता हैं इस उप-मेन्यू में दिए गए विभिन्न विकल्पो में से वांछित विकल्प पर क्लिक करके डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई पिक्चर का प्रारूप निर्धारित किया जाता है। इस उप-मेन्यू के पहले विकल्प ।नजवउंजपब को चुनने पर पिक्चर अपने वास्तविक रंगो मे, ळतंल ैबंसम को चुनने पर ग्रे रंग अर्थात् काले रंग की विभिन्न प्रतिशत मात्राओ द्वारा बने रंगो में, ठसंबा – ॅीपजम चुनने पर पिक्चर को केवल काले और सफेद रंग तथा ॅंजमतउंता विकल्प चुनने पर पिक्चर को बहुत हल्के रंग में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
डवतम ब्वदजतंेज दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर का कन्ट्रास्ट बढा़ने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में वांछित पिक्चर को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर पिक्चर का कन्ट्रास्ट बढ़ जाता है। हम जितनी बार इस टूल बटन पर क्लिक करते है, हमारी पिक्चर का कन्ट्रास्ट उतनी बार ही बढ़ता ही जाता है।
स्मेे ब्वदजतंेज. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर का कन्ट्रास्ट घटाने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में वांछित पिक्चर को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर पिक्चर का कन्ट्रास्ट कम हो जाता है। हम जितनी बार इस टूल बटन पर क्लिक करते है, हमारी पिक्चर का कन्ट्रास्ट उतनी बार ही कम होता जाता है।
च्ंहम 196
डवतम ठतपहीजदमेे. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट मे इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर की ब्राइटेनस बढ़ाने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में वांछित पिक्चर को चुंनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पिक्चर की ब्राइटनेस बढ़ जाती है। हम जितनी बार इस टूल बटन पर क्लिक करते है, हमारी पिक्चर की ब्राइटनेस उतनी बार ही बढती जाती है।
स्मेे ठतपहीजदमेे. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर की ब्राइटनेस घटाने के गइ्र्र किसी पिक्चर की ब्राइटनेस घटाने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में वांछित पिक्चर को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर पिक्चर की ब्राइटनेस कम हो जाती है। हम जितनी बार इस टूल बटन पर क्लिक करते है, हमारी पिक्चर की ब्राइटनेस उतनी बार ही कम होती जाती है।
ब्तवच. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर की छंटाई ;ब्तवचद्ध करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माउस प्वाॅइन्टर की आकृति में इस टूल आइकन के समान हो जाता है। अब डाॅक्यूमेण्ट में वांछित पिक्चर को चुनने पर इसके चारो ओर प्रदर्शित होने वाली आठों नोड्स पर क्लिक करके ड्रैग करते हुए पिक्चर की छंटाई की जा सकती है।
त्वजंजम स्मजि. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर को ।दजपबसवबाूपेम 900 घुमाने के लिए किया जाता है। जितनी बार हम इस टूल आइकन पर क्लिक करते है,उतनी ही बार चुनी गई पिक्चर ।दजपबसवबाूपेम 900 घूमती है।
स्पदम ैजलसम दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर के चारो ओर रेखा प्रदर्शित करने तथा रेखा की मोटाई निर्धारित करने के लिए किया जाता है।
ब्वउचतमेे च्पबजनतम दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर को ब्वउचतमेे करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्वउचतमेे च्पबजनतम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। यदि हमने अपने डाॅक्यूमेण्ट मे एक क्लिपआर्ट को ही इन्सर्ट किया है, तो इस डायलाॅग बाॅक्स के ।चचसल जव वाले भाग में रेडियो बटन्स के रूप में दिए गए दो विकल्पो में से केवल दूसरा विकल्प ही सक्रिय होता है। पहले विकल्प का प्रयोग चुनी गई पिक्चर को कम्पै्रस करने के लिए तथा दूसरे विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई समस्त पिक्चर्स को ही कम्प्रैस करने के लिए किया जाता है। पिक्चर्स के रिजाॅल्यूशन का निर्धारण ब्ींदहम त्मेवसनजपवद वाले भाग में दिए गए तीन विकल्पो में से किसी एक को चुनकर करते है। इस डायलाॅग बाॅक्स के व्चजपवदे वाले भाग मे दिए गए चैक बाॅक्स ब्वउचतमेे चपबजनतमे को चुनने पर भ्पही ब्वसवत च्पबजनतम को श्रच्म्ळ ब्वउचतमेेपवद का प्रयोग करके कम्प्रैस कर दिया जाता है। इस कम्प्रैशन से पिक्चर की गुणवत्ता कम हो सकती है। दूसरे चैक बाॅक्स क्मसमजम बतवचचमक ंतमंे व िचपबजनतमे को चुनने पर यदि पिक्चर को ब्तवच किया गया है, तो ब्तवच किए गए क्षेत्र को मिटा दिया जाता है।
ज्मगज ॅतंचचपदह दृ पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर के चारो ओर टैक्स्ट का निर्धारण करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन का प्रयोग हम उसी प्रकार कर सकते है, जिस प्रकार हमने ड्राइंग टूलबार पर क्तंू मेन्यू के विकल्प ज्मगज ॅतंचचपदह का प्रयोग किया था।
च्ंहम 197
थ्वतउंज च्पबजनतम. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई किसी पिक्चर के चारो ओर टैक्स्ट, रेखा, पिक्चर का आकार एवं अन्य विशेष निर्धारण करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति थ्वतउंज च्पबजनतम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पांच सक्रिय मुख्य विकल्प होते है। पहले मुख्य विकल्प ब्वसवते ंदक स्पदमे का प्रयोग करके पिक्चर के चारो ओर रेखाओ की मोटाई , डैशिंग एवं रंग का निर्धारण किया जा सकता है। दूसरे मुख्य विकल्प ैप्रम का प्रयोग करके पिक्चर के आकार का निर्धारण किया जा सकता है। मुख्य विकल्प स्ंलवनज को चुनकर ज्मगज ॅतंचचपदह एवं पिक्चर का एलाइनमेण्ट निर्धारित कर सकते है। चैथे मुख्य विकल्प च्पबजनतम को चुनकर पिक्चर की चारो ओर से छंटाई एवं प्रदर्शन निर्धारित किया जा सकता है।
ैमज ज्तंदेचंतमदज ब्वसवत. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई पिक्चर के किसी रंग को पारदर्शी करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करके पिक्चर में उस रंग पर क्लिक करना होता है, जिसे हम पारदर्शी करना चाहते है। यह सुविधा केवल बिटमैप पिक्चर फाइल्स के लिए ही उपलब्ध है।
त्मेमज च्पबजनतम. पिक्चर टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई पिक्चर को उसके वास्तविक आकार एवं प्रारूप में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करते ही डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई पिक्चर के आकार में किया गया परिवर्तन, छंटाई, कन्ट्रास्ट, ब्राइटनेस आदि में किया गया परिवर्तन निरस्त हो जाता है।
पिक्चर टूलबार तभी प्रदर्शित होती है, जबकि हमने डाॅक्यूमेण्ट में किसी क्लिपआर्ट अथवा पिक्चर को चुन रखा हो।
डाॅक्यूमेण्ट में ड्राइंग बनाना
हम डाॅक्यूमेण्ट में स्वयं ग्राफिक्स अथवा ड्राइंग बनाने के लिए वर्ड 2002 की क्तंूपदह टूलबार पर दिए गए विभिन्न टूल आइकन्स को प्रयोग कर सकते है। क्तंूपदह टूलबार का प्रयोग करने के लिए टपमू मेन्यू के ज्ववसइंते विकल्प पर माउस लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के क्तंूपदह विकल्प अथवा वर्ड 2002 की किसी भी टूलबार
च्ंहम 198
पर माउस प्वाॅइन्टर माउस का दायां दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के क्तंूपदह विकल्प का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र भांति क्तंूपदह टूलबार प्रदर्शित होती है। क्तंूपदह ज्ववसइंते पर दिए गए ड्राइंग बनाने के लिए दिए गए टूल्स में से किसी भी टूल पर क्लिक करने पर , क्तंूपदह ब्ंदअंे उस टूल्स के साथ निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
जैसाकि हम जानते है, कि ब्ंदअंे एक ऐसा पेपर होता है, जिस पर ड्राईंग की जाती है। इसी प्रकार डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित हो रहे ब्ंदअंे पर विभिन्न आकृतियो का निर्माण कर सकते है। ब्ंदअंे का सबसे बड़़ा लाभ यह है, इस पर बनाई गई आकृतियो को एक साथ चुनकर ब्नजए ब्वचल तथा च्ंेजम का कार्य किया जा सकता है। ब्ंदअंे के चारो ओर प्रदर्शित हो रहे हैन्उल्स (मोटी एवं छोटी रेखा) का ड्रैग करके ब्ंदअंे के क्षेत्र को छोटा अथवा बड़ा किया जा सकता है। कैनवास के चारो ओर प्रदर्शित हो रहे हैन्डल्स को उपरोक्त चित्र में दर्शाया गया है।
ड्राइंग टूलबार पर स्थित विभिन्न टूल्स में से ड्रांइंग बनाने के लिए प्रयोग होने वाले टूल्स निम्नलिखित है
स्पदम दृ ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में रेखा बनाने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन को चुनने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार ़ हो जाता है। अब हमें जिस स्थान से रेखा शुरू करनी है, उस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को क्लिक करके ड्रैग करते हुए उस स्थान तक ले जाकर , जहां तक हमें रेखा बनानी है, छोडने पर सीधी रेखा बन जाती है। यदि हम की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर रेखा बनाते है, तो रेखा उस स्थान से जहां से हमने माउस को ड्रैग करते है। जैसे ही रेखा बना देते है, कर्सर का आकार पूर्ववत् हो जाता है। अगली रेखा बनाने के लिए हमें पुनः इस टूल आइकन पर क्लिक करना होगा । यदि हमे एक से अधिक सीधी रेखाएं बनानी हैं, तो इस टूल आइकन पर डबल क्लिक करते हैं अब इस टूल आइकन का आकार तब तक पूर्ववत् नही होता , जब तक किस इस टूल आइकन पर पुनः क्लिक नहीं किया जाता।
च्ंहम 199
त्मबजंदहसम दृ ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में आयत बनाने के लए किया जाता है। इस अॅल आइकन को चुनने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार ़ हो जाता है। अब हमें जिस स्थान से आयत शुरू करना है, उस स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को क्लिक ड्रैग करते हुए उस स्थान तक ले जाकर , जहां तक हमें इसे बनाना है, छोड़ने पर आयत बन जाता है। यदि की-बोर्ड पर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर ड्रैग करते हैं, तो वर्ग बनाया जा सकता है और यदि हम की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाकर आयत बनाते हैं, तो आयत उस स्थान से जहां से हमने माउस को ड्रैग करना शुरू किया है, उस स्थान से ड्रैग करने की ठीक विपरीत दिशा में भी आयत का उतना ही आकार बढ़ता जाता है, जितनी दूर हम ड्रैग करते हैं।
व्अंस दृ ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में अण्डाकार आकृति बनाने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन को चु नने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार ़ हो जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करके आयत के समान ही अण्डाकार आकृति का निर्माण किया जा सकता है।
ब्ंदअंे की सीमा रेखा पर माउस प्वाॅइन्टर को लेकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के विकल्प ैीवू क्तंूपदह ब्ंदअंे ज्ववसइंत को चुनने पर निम्नांकित चित्र की भांति क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार प्रदर्शित होती है
क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार पर चार टूल आइकन्स दिए होते है। इनका विवरण निम्नलिखित है
थ्पज क्तंूपदह जव ब्वदजमदजे दृ क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार पर प्रदर्शित होने वाला पहला टूल बटन थ्पज क्तंूपदह जव ब्वदजमदजे तभी उपलब्ध होता है, जबकि हमने क्तंूपदह ब्ंदअंे में एक अधिक ड्राइंग आॅब्जैक्ट्स का निर्माण किया हो। इस टूल आइकन का प्रयोग करने पर क्तंूपदह ब्ंदअंे में ड्रा किए गए ड्राइंग आॅब्जैक्ट्स के आकार के अनुरूप ही क्तंूपदह ब्ंदअंे आकार छोटा हो जाता है।
म्गचंदक क्तंूपदह. क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार पर प्रदर्शित होने वाले दूसरे टूल बटन म्गचंदक क्तंूपदह का प्रयोग करने पर क्तंूपदह ब्ंदअंे आकार उतनी ही बार बढ़ता जाता है।
ैबंसम क्तंूपदह दृ क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार पर प्रदर्शित होने वाले तीसरे टूल बटन ैबंसम क्तंूपदह का प्रयोग करने पर क्तंूपदह ब्ंदअंे के चारो ओर आठ नोड्स छोटे-छोटे वृत्तो के रूप में प्रदर्शित होती है। इन नोड्स को ड्रैग करके क्तंूपदहे ब्ंदअंे के आकार में परिवर्तन किया जा सकता है, परन्तु क्तंूपदह ब्ंदअंे के आकार में परिवर्तन होने के साथ उसी अनुपात में इस पर बनाई गई ड्राइंग के आकार में भी परिवर्तन होता है।
ज्मगज ॅतंचचपदह दृ क्तंूपदह ब्ंदअंे टूलबार पर प्रदर्शित होने वाले चैथे टूल बटन ज्मगज ॅतंचचपदह का प्रयोग करने पर क्तंूपदह ब्ंदअंे के चारो ओर टैक्स्ट के प्रवाह को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। ज्मगज ॅतंचचपदह के बारे में हम पहले भी चर्चा कर चुूके है।
क्तंूपदह ब्ंदअंे में से किसी भी आॅब्जैक्ट को मिटाने के लिए हमें सर्वप्रथम उस आॅब्जैक्ट पर क्लिक करके उसे चुनना होगा और उसके उपरान्त की-बोर्ड पर क्मसमजम ‘की‘ को दबाना होगा । क्तंूपदह ब्ंदअंे पर कोई भी नई आकृति को हम विभिन्न ड्राइंग टूल्स का प्रयोग करके बना सकते हैं और बनी हुई आकृति के चारो ओर प्रदर्शित होने वाली नोड्स की सहायता से उसके आकार में परिवर्तन कर सकते है।
च्ंहम 200
आॅटोशेप का प्रयोग
वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में कुछ विशेष प्रकार की आकृतियां बनाने के लिए ड्राइंग टूलबार पर स्थित ।नजवेींचम टूल आइकन का प्रयोग किया जाता है। इस टूल आइकन पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है
इस उप-मेन्यू में आॅटोशेप्स की विभिन्न प्रकार की बनी-बनाई आकृतियों के प्रकारो की सूची प्रदशित होती है। इस उप-मेन्यू में आॅटोशेप्स की विभिन्न प्रकार की बनी-बनाई आकृतियो के प्रकारो की सूची प्रदर्शित होती है। इस उप-मेन्यू में दिए गए विभिन्न विकल्पो का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में रेखाएं, त्रिभुज, आयत, बेलन, ब्लाॅक, ऐरोज, फ्लो चार्ट इत्यादि आकृतियो को बनाने के लिए किया जाता है। इनमें से किसी भी विकल्प अर्थात् आकृति के जिस प्रकार पर माउस प्वाॅइनटर को लाते है, उससे सम्बन्धित बनी-बनाई आकृतियो की सूची का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर उपरोक्त चित्र की भांति होता है। इसमें से वांछित आकृति को चुनने के बाद डाॅक्यूमेण्ट में माउस को ड्रैग करते हुए उस आकृति का निर्माण किया जा सकता है।
आॅटोशेप में स्पदम बनाते समय यदि इसको क्षैतिज अथवा ऊध्र्वाधर ही बनाया जाना है, ड्रैग करते समय की-बोर्ड पर ैीपजि को दबाया जाती है, तो आकृति ड्रैग करने की दिशा के चारो ओर समान रूप बढ़ती है।
।नजव ैींचम से फ्लो-चार्ट बनाना
फ्लो-चार्ट का प्रयोग किसी कार्य को पूरा करने के लिए प्रयोग किए जाने वाली प्रक्रिया ;च्तवबमेेद्ध को ैजमच.इल.ैजमच प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। हम वर्ड 2002 में फ्लो-चार्ट को ।नजव ैींचमे की सहायता से सरलतापूर्वक बना सकते है। अगले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र में सम अथवा विषम संख्या को निर्धारित करने के लिए एक फ्लो-चार्ट को प्रदर्शित किया गया है। आइए, हम इस फ्लो चार्ट को ड्राॅ करने की प्रक्रिया का ैजमच.इल.ैजमच अध्ययन करते है
सबसे पहले क्तंूपदह टूलबार पर उपस्थित ।नजवैींचम पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के थ्सवू ब्ींतज विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर को लाने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न आकृतियो में से पहली पंक्ति की दूसरी आकृति पर किल्क करते है।
अब माउस प्वाॅइन्टर का आकार ़ चिन्ह में परिवर्तित हो जाता है। माउस को ड्रैग कर अपनी आवश्यकतानुसार आकार की आकृति को बना लिया ।
इस आकृति में ैज्।त्ज् लिखने क लिए, आकृति पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर माउस का दायां बटन दबाते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति एक शाॅर्टकट मेन्यू प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 201
इस शाॅर्टकट मेन्यू में प्रदर्शित होने वाले विभिन्न विकल्पो में से ।कक ज्मगज नामक विकल्प पर क्लिक करने पर कर्सर इस आकृति के अन्दर ठसपदा करने लगता है।
इस आकृति में हम ैज्।त्ज् टाइप कर देते है।
इसके नीचे ऐरो का चिन्ह बनाने के लिए क्तंूपदह टूलबार पर प्रदर्शित हो रहे ऐरो के निशान पर क्लिक करके माउस प्वाॅइन्टर को इस आकृति के ठीक नीचे लाकर ैीपजि ‘की‘ को दबाकर नीचे की ओर थोड़ी दूरी तक ड्रैग करके माउस के बटन को छोड़ देते है।
अन्य आकृतियो तथा ऐरो को ड्राॅ करने के लिए ऊपर दिए गए ैजमचे अनुसरण करते है, परन्तु आकृतियो का चुनाव निम्नांकित चित्र की भांति ही करते है।
किसी आकृति को बड़ा अथवा छोटा करने अथवा उसे व्यवस्थित करने के लिए उस शेष पर उपस्थित छोटे-छोटे वत्र्तो पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर ड्रैग किया जाता है। यह हरे रंग का वत्र्ताकार आकृति में प्रदर्शित नही होता है।
ॅवतक।तज का प्रयोग करना
ॅवतक।तज का प्रयोग लोगो ;स्वहवद्ध बनाने, रिपोर्ट का हेडिंग बनाने तथा डाॅक्यूमेण्ट में किसी टाइटल को बनाने के लिए किया जाता है। ॅवतक।तज का प्रयोग करना चाहते है।
च्ंहम 202
ठसके उपरान्त क्तंूपदह टूलबार पर स्थित ॅवतक।तज टूल आइकन पर क्लिक करते है अथवा वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू के विकल्प च्पबजनतम पर माउस प्वाॅइन्टर को लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में से ॅवतक।तज विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति ॅवतक।तज ळंससमतल डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे 30 प्रकार की ॅवतक।तजे प्रदर्शित होती है। इनमें से वांछित ॅवतक।तज पर माउस प्वाॅइन्टर की सहायता से क्लिक करके पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है अथवा वांछित ॅवतक।तज माउस प्वाॅइन्टर लाकर लगातार दो बार क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति म्कपज ॅवतक।तज ज्मगज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वदज के नीचे दिए गए बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वर्डआर्ट के टैक्स्ट के लिए फाॅन्ट का चुनाव किया जाता है। ैप्रम के नीेच दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में इस फाॅन्ट का आकार निर्धारित किया जाता है और इसके दिए गए बोल्ड और इटैलिक आइकन पर क्लिक करके इस टैक्स्ट की स्टाइल का निर्धारण किया जाता है। अब ज्मगज के नीेचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स, जहां पर ल्वनत ज्मगज भ्मतम लिखा प्रदर्शित हो रहा है, में वर्डआर्ट के लिए टैक्स्ट टाइप करते है। टैक्स्ट टाइप के बाद पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर इस बाॅक्स मे लिखा गया टैक्स्ट , चुनी गई वर्डआर्ट के अनुरूप डाॅक्यूमेण्ट में कर्सर के स्थान पर प्रदर्शित होता है।
इस समय यह वर्डआर्ट आॅब्जैक्ट चुना हुआ प्रदर्शित होता है और साथ ही माॅनीटर स्क्रीन पर ॅवतक।तज टूलबार का प्रदर्शन भी होने लगता है। वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित विभिन्न टूल आइकन्स तथा इनकी सहायता से किए जाने वाले कार्यो का विवरण निम्नलिखित हैे
प्देमतज ॅवतक।तज वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे वर्डआर्ट इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ॅवतक।तज ळंससमतल डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। जिसमें से वांछित वर्डआर्ट को चुनकर हम उपरोक्तानुसार नया वर्डआर्ट आॅब्जैक्ट तैयार कर सकते है।
म्कपज ज्मगज वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट का सम्पादन करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर म्कपज ॅवतक।तज ज्मगज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है परन्तु इसमें ज्लचम ल्वनत ज्मगज के स्थान पर चुनी गई वर्डआर्ट का टैक्स्ट प्रदर्शित होता है। यहां पर इस टैक्स्ट को सम्पादित किया जा सकता है।
च्ंहम 203
वर्ड 2002 की विन्डो में किसी वर्डआर्ट को चुनते ही वर्डआर्ट टूलबार का प्रदर्शन होने लगता है।
चुने गए इस वर्डआर्ट आॅब्जेक्ट को हम माउस प्वाॅइन्टर से क्लिक करने ड्रैग करते हुए इसके स्थान से किसी अन्य स्थान पर भी ले जा सकते है। इसके चारो ओर प्रदर्शित होने वाली नोड्स की सहायता से इसके आकार को छोटा-बड़ा भी कर सकते है।
ॅवतक।तज ळंससमतल वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट की स्टाइल को बदलने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट वर्डआर्ट को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ॅवतक।तज ळंससमतल डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इसमें से चुनी गई वर्डआर्ट के लिए किसी अन्य स्टाइल का चुनाव किया जा सकता है।
थ्वतउंज ॅवतक।तज वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट का प्रारूप अर्थात् उसका एवं उसमें प्रयोग की गई रेखाओ का रंग आदि बदलने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति थ्वतउंज ॅवतक।तज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
थ्वतउंज ॅवतक।तज डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प सक्रिय होते है। पहले मुख्य विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन नीचे बाई ओर दिए गए चित्र की भांति होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स तीन भागो में बंटा होता है। पहले भाग मेें वर्डआर्ट में भरे रंग का निर्धारण किया जाता है। दूसरे भाग में वर्ड आर्ट में प्रयोग की गई रेखा का रंग , प्रकार एवं मोटाई का निर्धारण किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का तीसरा भाग निष्क्रिय होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ैप्रम को चुनने पर इसका प्रदर्शन ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति हो जाता है। यह डायलाॅग बाॅक्स भी तीन भागो में बंटा होता है। इसके पहले भाग में चुनी गई वर्डआर्ट के आकार अर्थात् ऊंचाई और चैडाई का निर्धारण इंचो में तथा इसे किसी कोण विशेष पर घुमाने के लिए कोण की माप निर्धारण डिग्री में किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे भाग में वर्डआर्ट के आकार को उसके वर्तमान आकार के प्रतिशत मात्रा में छोटा अथवा बड़ा करने के लिए निर्धारण किया जाता है। इस भाग में दिए गए चैक बाॅक्स स्वबा ंेचमबज तंजपव को चुनने पर इसके ऊपर भ्मपहीज अथवा ॅपकजी के सामने दिए गए टैक्स्ट
च्ंहम 204
बाॅक्स में टाइप की गई प्रतिशत मात्रा दूसरे टैक्स्ट बाॅक्स के लिए स्वतः ही प्रभावी हो जाती है। इस डायलाॅग बाॅक्स का भी तीसरा भाग निष्क्रिय होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प स्ंलवनज को चुनने पर इसका प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति हो जाता है। यह डायलाॅग बाॅक्स दो भागो में बंटा होता है। पहले भाग ॅतंचचपदह ेजलसम में वर्डआर्ट के चारो ओर टैक्स्ट के प्रवाह का निर्धारण किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे भाग भ्वतप्रवदजंस ।सपहदउमदज मंे डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ की चैड़ाई में वर्डआर्ट की स्थिति का निर्धारण किया जाता है।
ॅवतक।तज ैींचम वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट मे इन्सर्ट वर्डआर्ट की आकृति को बदलने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति वर्डआर्ट की विभिन्न आकृतियां प्रदर्शित होती है, इनमे से वांछित आकृति को चुन लेने पर चुनी गई वर्डआर्ट की आकृति बदल जाती है।
ज्मगज ॅतंचचपदह वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के चारो ओर टैक्स्ट का प्रदर्शन निर्धारित करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट को चुनकर इस टूल आइकन का प्रयोग हम उसी प्रकार कर सकते है, जिस प्रकार हमने पिक्चर टूलबार पर स्थित इस आइकन का प्रयोग किया था।
ॅवतक।तज ैंउम स्मजजमत भ्मपहीजे वर्डआर्ट पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट क अक्षरो को समान ऊंचाई का करने के लिए किया जाता है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है, अर्थात् एक बार क्लिक करने पर आॅन और दूसरी बार क्लिक करने पर आॅफ हो जाता है।
ॅवतक।तज टमतजपबंस ज्मगज वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट के अक्षरो केा ऊध्र्वाधर रूप से प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यह टूल आइकन एक टाॅगल ‘की‘ की भांति कार्य करता है अर्थात् एक बार क्लिक करने पर आॅन और दूसरी बार क्लिक करने पर आॅफ हो जाता है।
ॅवतक।तज ।सपहदउमदज वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट की पंक्तियो का एलाइन्मेण्ट निर्धारित करने के लिया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति वर्डआर्ट के टैक्स्ट की पंक्तियो के लिए विभिन्न एलाइन्मंेण्ट्स की सूची प्रदर्शित होती है, इनमे से वांछित एलाइन्मेण्ट को चुनकर चुनी गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट की पंक्तियो के लिए निर्धारित किया जा सकता है। अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र में इस सूची में स्थित विभिन्न एलाइन्मेण्ट्स का प्रदर्शन किया जाता है।
ॅवतक।तज ब्ींतंबजमत ैचंबपदह वर्डआर्ट टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में इन्सर्ट की गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट के अक्षरो के मध्य की दूरी को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन
च्ंहम 205
पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन चित्र भांति वर्डआर्ट के टैक्स्ट के अक्षरो के मध्य सम्भावित दूरियो की सूची प्रदर्शित होती है, इनमे से वांछित दूरी को चुनकर चुनी गई वर्डआर्ट के टैक्स्ट के अक्षरो के मध्य की दूरी का निर्धारण किया जा सकता है।
किसी आॅब्जैक्ट को फाॅरमेट करना
जैसाकि हम जानते है, आॅब्जैक्ट का तात्पर्य किसी पिक्चर ,क्लिप , आॅटोशेप, चार्ट इत्यादि में से होता है। जब भी आप क्तंूपदह टूलबार से किसी आॅब्जैक्ट को बनाते करते है, तो उसे और अच्छा दिखाने के लिए फाॅरमेट भी कर सकते है। आॅब्जैक्ट की फाॅरमेटिंग में आॅब्जैक्ट रंग, आॅब्जैक्ट में प्रयोग की गई रेखाओ का रंग, रेखाओ की स्टाइल, उसका त्रिआयामी ;3.क्द्ध प्रदर्शन इत्यादि निर्धारित किया जाता है। किसी आॅब्जैक्ट को फाॅरमेट करने से पूर्व उसे स्लेक्ट करना आवश्यक होता है। आॅब्जैक्ट को स्लेक्ट करने के लिए आप केवल उस पर एक बार क्लिक कर दें। इसके पश्चात् क्तंूपदह टूलबार पर प्रदर्शित हो रहे आॅब्जैक्ट की फाॅरमेटिंग से सम्बन्धित टूल्स का प्रयोग करने के लिए उस पर क्लिक करते है। क्तंूपदह टूलबार पर आॅब्जैक्ट की फाॅरमेटिंग से सम्बन्धित टूल्स निम्नलिखित है
थ्पसस ब्वसवत
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई बन्द आकृति में रंग भरने के लिए किया जाता है। आकृति में भरने के लिए निर्धारित रंग, इस टूल आइकन के नीचे प्रदर्शित होता रहता है। इस टूल आइकन के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर विभिन्न रंगो का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इनमे कोई भी
च्ंहम 206
रंग चुनकर चुनी गई आकृतियो में भरने के लिए निर्धारित किया जा सकता है। अब चुना हुआ रंग, इस टूल आइकन के नीचे प्रदर्शित होगा। यदि हम इन रंगो के अतिरिक्त कोई अन्य रंग आकृतियो मे भरने के लिए निर्धारित करना चाहते है, तो इस प्रदर्शन में दिए गए डवतम थ्पसस ब्वसवते विकल्प पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर ब्वसवते डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग करना हम इसी अध्याय में पहले सीख चुके है। यदि हम आॅब्जैक्ट पर गे्रडिएन्ट, टेकस्चर, पैटर्न इत्यादि विशेष प्रभावो का प्रयोग करना चाहते है, तो थ्पसस ब्वसवत टूल बटन पर क्लिक करने पर होने वाले प्रदर्शन में थ्पसस म्ििमबजे विकल्प पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर थ्पसस म्ििमबजे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस विकल्प का प्रयोग भी हम इसी अध्याय में पहले सीख चुके है।
स्पदम ब्वसवत
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई आकृति की रेखा का रंग निर्धारित करने के लिए किया जाता है। रेखा के लिए निर्धारित रंग का इस टूल आइकन के नीचे प्रदर्शन होता रहता है। इस टूल आइकन के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर विभिन्न रंगो का प्रदर्शन होता है। इनमे कोई भी रंग चुनकर चुनी हुई रेखाओ के लिए निर्धारित किया जा सकता है। अब चुना हुआ रंग, इस टूल आइकन के नीचे प्रदर्शित होगा।
थ्वदज ब्वसवत
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई आकृति की रेखा का रंग निर्धारित करने के लिए किया जाता है। टैक्स्ट के लिए निर्धारित रंग, इस टूल आइकन के नीचे प्रदर्शित होता रहता है। इस टूल आइकन का प्रयोग उसी प्रकार किया जा सकता है, जिस प्रकार हमने फाॅरमेटिंग टूलबार पर इसी नाम के टूल आइकन का किया था। दो आइकन एक ही है।
स्पदम ैजलसम
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई रेखा की मोटाई आदि निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस बटन पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति विभिन्न प्रकार की रेखाओ का प्रदर्शन होता है, इनमें से एक प्रकार को चुनकर चुनी गई रेखा की मोटाई आदि को निर्धारित किया जाता है।
क्ंेी ैजलसम
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई रेखाकृति की रेखा को क्वजजमक आदि में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन चित्र की भांति विभिन्न प्रकार की क्वजजमक रेखाओ का प्रदर्शन होता है, इनमे से एक प्रकार को चुनकर चुनी हुई रेखा को निर्धारित किया जा सकता है।
।ततवू ैजलसम
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई खुली रेखाकृति की रेखा के सिरे को तीर की आकृति में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर रेखा के लिए विभिन्न प्रकार के ।ततवू भ्मंके का प्रदर्शन होता है, इनमें से एक प्रकार को चुनकर चुनी हुई रेखा को निर्धारित किया जा सकता है। विभिन्न प्रकार के ऐरो स्टाइल्स का प्रयोग केवल लाइन आॅब्जैक्ट तथा ऐसे आॅब्जैक्टस पर ही प्रभावी किए जा सकते है, जोकि खुले हुए है।
च्ंहम 207
ैींकवू ैजलसम
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई रेखाकृति हेतु छाया का भी प्रदर्शन करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर रेखाकृति के लिए विभिन्न प्रकार की छायाओ की सूची का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता है। किसी भी रेखाकृति को चुनकर इस टूल आइकन का प्रयोग करने पर प्रदर्शित होने वाली छायाओ की सूची में से वांछित छाया को चुनने पर रेखाकृति उसी छाया के अनुरूप प्रदर्शित होने वाली छायाओ की सूची में से वांछित छाया को चुनने पर रेखाकृति उसी छाया के अनुरूपप प्रदर्शित होने लगती है।
यदि हम आॅब्जैक्ट पर छाया के निर्धारण अर्थात् छाया को ऊपर-नीचे करना अथवा छाया का रंग बदलना आदि करना चाहते है, तो इस प्रदर्शन में ैींकवू ैमजजपदह विकल्प पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैींकवू ैमजजपदह टूलबार प्रदर्शित होती है। इस टूलबार पर स्थित विभिन्न टूल्स का कार्य निम्नलिखित है
ैींकवू व्दध्व्िि ैींकवू ैमजजपदह टूलबार के प्रथम टूल ैींकवू व्दध्व्िि का प्रयोग, आॅब्जैक्ट की छाया को प्रदर्शित करने अथवा न करने के लिए किया जाता है।
छनकहम ैींकवू न्च ैींकवू ैमजजपदह टूलबार के दूसरे टूल छनकहम ैींकवू न्च का प्रयोग , आॅब्जैक्ट की छाया एक छनकहम ऊपर की ओर विस्थापित करने के लिए किया जाता है।
छनकहम ैींकवू क्वूद ैींकवू ैमजजपदह टूलबार के तीसरे टूल छनकहम ैींकवू क्वूद का प्रयोग , आॅब्जैक्ट की छाया एक छनकहम नीेचे की ओर विस्थापित करने के लिए किया जाता है।
छनकहम ैींकवू स्मजि ैींकवू ैमजजपदह टूलबरी के पांचवे टूल छनकहम ैींकवू त्पहीज का प्रयोग, आॅब्जैक्ट की छाया एक छनकहम बाई ओर विस्थापित करने के लिए किया जाता है।
छनकहम ैींकवू त्पहीज ैींकवू ैमजजपदह टूलबार के पांचवे टूल छनकहम ैींकवू त्पहीज का प्रयोग, आॅब्जैक्ट की छाया एक छनकहम दाई ओर विस्थापित करने के लिए किया जाता है।
ैींकवू ब्वसवत ैींकवू ैमजजपदह टूलबार के छठे और अन्तिम टूल ैींकवू ब्वसवत का प्रयोग, आॅब्जैक्ट की छाया के रंग का निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
3.क् ैजलसम
ड्राइंग टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई रेखाकृति के लिए त्रिआमीय प्रभाव ;ज्ीतमम क्पउमदेपवदंस म्ििमबजद्ध निर्धारित करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में किसी भी रेखाकृति को चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाली त्रिविमीय प्रभाव की सूची में से वांछित प्रभाव को चुनी गई रेखाकृति के लिए प्रभावी किया जा सकता है। किसी आॅब्जैैक्ट को 3.क् में परिवर्तित करने के बाद अथवा उससे पहले हम उस आॅब्जैक्अ को और बेहतर ढंग से फाॅरमेट कर सकते है। इसके लिए इस प्रदर्शन में 3.क् ैमजजपदह विकल्प पर क्लिक करते है, माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति 3.क् ैमजजपदहे टूलबार प्रदर्शित होती है
च्ंहम 208
3.क् ैमजजपदह टूलबार पर स्थित विभिन्न टूल आइकन्स का विवरण निम्नलिखित है
3.क् व्दध्व्िि 3.क् ैमजजपदह टूलबार के प्रथम टूल 3.क् व्दध्व्िि का प्रयोग , आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव को आॅन/आॅफ करने के लिए किया जाता है।
ज्पसज क्वूद 3.क् ैमजजपदह टूलबार के दूसरे टूल ज्पसज क्वूद का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव को नीचे की ओर घुमाने के लिए किया जाता है।
ज्पसज न्च 3.क् ैमजजपदह टूलबार के तीसरे टूल ज्पसज न्च का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव को ऊपर की ओर घुमाने के लिए किया जाता है।
ज्पसज स्मजि 3.क् ैमजजपदह टूलबार के चैथे टूल ज्पसज स्मजि का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव को बाई ओर घुमाने के लिए किया जाता है।
ज्पसज त्पहीज 3.क् ैमजजपदह टूलबार के पांचवे टूल ज्पसज त्पहीज का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव को दाई ओर घुमाने के लिए किया जाता है।
क्मचजी 3.क् ैमजजपदह टूलबार के छठे टूल क्मचजी का प्रयोग , आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव की गहराई का निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
क्पतमबजपवद 3.क् ैमजजपदह टूलबार के सातवें टूल क्पतमबजपवद का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव की दिशा का निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
स्पहीजपदह 3.क् ैमजजपदह टूलबार के आठवें टूल स्पहीजपदह का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव पर प्रकाश की दिशा तथा प्रकाश की मात्रा का निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
ैनतंिबम 3.क् ैमजजपदह टूलबार के नवें टूल ैनतंिबम का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव के कारण प्रदर्शित होने वाली आॅब्जैक्ट की सतहो का निर्धारण करने के लिए किया जाता है।?
3.क् ब्वसवत 3.क् ैमजजपदह टूलबार के दसवें टूल 3.क् ब्वसवत का प्रयोग, आॅब्जैक्ट पर त्रि-विमीय प्रभाव के कारण प्रदर्शित होने वाली आॅब्जैक्ट की सतहों के रंग निर्धारण करने के लिए किया जाता है।
आॅब्जैक्ट को व्यवस्थित करना
डाॅक्यूमेण्ट में बनाए गए आॅब्जैक्ट को व्यवस्थित करने के लिए क्तंूपदह टूलबार पर दिए गए प्रथम टूल आइकन क्तंू का प्रयोग किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में कोई आकृति अथवा रेखाचित्र बनाने के उपरान्त उसे चुनकर इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्न चित्र की भांति एक मेन्यू प्रदर्शित होता है।
आइए, अब इस मेन्यू के विभिन्न विकल्पो के प्रयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करते है
ळतवनच इस विकल्प का प्रयोग एक से अधिक आॅब्जैक्ट्स को एक आॅब्जैक्ट ग्रुप के रूप मे प्रयोग करने के लिए किया जाता है। यह विकल्प तभी सक्रिय होता है, जब आपने एक से अधिक आॅब्जैक्ट्स को चुनक कर रखा हो। एक से अधिक आॅब्जेक्ट्स को एक साथ चुनने के लिए हम की-बोर्ड पर ैीपजि अथवा ब्जतस ‘की‘ दबाकर आॅब्जैक्ट पर क्लिक करते है। आॅब्जैक्ट को एक साथ ग्रुप करने पर इन्हें साथ डाॅक्यूमेण्ट में मूव या रोटेट किया जा सकता है।
न्दहतवनच यदि हमने एक से अधिक आॅब्जैक्ट्स को ग्रुप कर रखा है, तभी यह विकल्प सक्रिय होगा। इस विकल्प का प्रयोग ग्रुप किए गए आॅब्जैक्ट को अनग्रुप करने के लिए अर्थात् पुनः पृथक् करने के लिए किया जाता है।
च्ंहम 209
त्महतवनच यदि हमने डाॅक्यूमेण्ट में किसी ग्रुप की पृथक् की गई रेखाकृतियो को चुन रखा है, तो ही यह विकल्प सक्रिय होता है। इस विकल्प का प्रयोग इन रेखाकृतियों का पुनः ग्रुप बनाने के लिए किया जाता है।
व्तकमत इस विकल्प का प्रयोग पर इसका एक उप-मेन्यू संलग्न चित्र की भांति माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग चुनी गई रेखाकृति अथवा टैक्स्ट के ऊपर अथवा नीचे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इस मेन्यू के विभिन्न विकल्पो का विवरण निम्नलिखित है
इस उप-मेन्यू के पहले विकल्प ठतपदह जव थ्तवदज का प्रयोग चुनी गई आकृति को इसके बाद बनाई गई रेखाकृति अथवा जिस रेखाकृति कके पीछे यह प्रदर्शित हो रही है, उसके आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
इस उप-मेन्यू के दूसरे विकल्प ैमदक जव ठंबा का प्रयोग चुनी गई आकृति को इससे पहले बनाई आकृति अथवा जिस आकृति के आगे यह प्रदर्शित हो रही है, के पीेछे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
इस उप-मेन्यू के तीसरे विकल्प ठतपदह थ्वतूंतक विकल्प का प्रयोग चुनी गई आकृति को डाॅक्यूमेण्ट की अन्य रेखाकृतियो एवं टैक्स्ट के आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
इस उप-मेन्यू के चैथे विकल्प ैमदक ठंबाूंतक का प्रयोग चुनी गई आकृति को डाॅक्यूमेण्ट की अन्य रेखाकृतियो एवं टैक्स्ट के पीछे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
इस उप-मेन्यू के पांचवे विकल्प ठतपदह पद थ्तवदज व िज्मगज का प्रयोग चुनी गई आकृति को डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट के आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
ळतपक दृ इस विकल्प का प्रयोग बनाए जाने वाली रेखाकृति को ग्रिड के अनुरूप बनाने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति क्तंूपदह ळतपक डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स तीन भागो में बंटा होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले भाग में दो चैक बाॅक्स के रूप में दिए गए विकल्पो में से पहले विकल्प ैदंच व्इरमबजे जव हतपक का अनुरूप करने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प ैदंच वइरमबजे जव वजीमत वइरमबजे का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई आकृतियो को अन्य आॅटोशेप आकृतियो के अनुरूप करने के लिए किया जाता है। दूसरे भाग ळतपक ैमजजपदह में क्षैतिज एवं ऊध्र्वाधर ग्रिड की न्यूनतम दूरी निर्धारित की जाती है। तीसरे भाग में दिए गए पहले विकल्प न्ेम डंतहपदे का प्रयोग पृष्ठ के ऊपरी और बाएं हाशियो के मिलने वाले बिन्दु को ग्रिड की शुरूआत बिन्दु के रूप में कोई अन्य बिन्दु निर्धारित करना चाहते है, तो इसे विकल्प को न चुनने की दशा में इसके नीचे दिए गए दो विकल्पो भ्वतप्रवदजंस वतपहपद तथा टमतजपबंस वतपहपद सक्रिय हो जाते है। इनके सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ के बाएं और ऊपरी सिरे से दूरी का निर्धारण किया जाता है। इस भाग में दिए गए दूसरे विकल्प को चुनने पर ग्रिड का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर होने लगता है। इस विकल्प को चुनने पर इसके नीचे दिया गया विकल्प टमतजपबंस मअमतल
च्ंहम 210
भी सक्रिय हो जाता है। इस विकल्प को चुनने पर ऊध्र्वाधर ग्रिड लाइन्स का प्रदर्शन निर्धारित किया जाता है। यह प्रदर्शन कितनी ग्रिड के उपरान्त हो, इसका निर्धारण इसके सामने दिए गए बाॅक्स में टाइप करके निर्धारित कर सकते है।
छनकहम दृ इस विकल्प का प्रयोग करने पर इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। डाॅक्यूमेण्ट में किसी एक अथवा अधिक रेखाकृतियो को चुन रखा है, तो ही इस उप-मेन्यू में दिए गए चार विकल्प सक्रिय होते है। जैसाकि इन विकल्पो के नाम से ही स्पष्ट है, इनका प्रयोग चुनी गई रेखाकृति को क्रमशः एक च्पगमस ऊपर, नीचे , बाएं अथवा दाएं खिसकाने के लिए किया जाता है।
।सपहद वत क्पेजतपइनजम दृ इस विकल्प का प्रयोग करने पर इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू चार भागो में बंटा होता है। इसके पहले भाग में दिए गए तीन विकल्प चुनी गई आकृति को पृष्ठ की चैडाई के क्रमशः बाई, मध्य और दाई ओर से सीध मे करने के लिए प्रयोग किए जाते है। दूसरे भाग में दिए गए तीन विकल्प चूनी गई आकृति को पृष्ठ की ऊंचाई के क्रमशः ऊपर , मध्य और नीचे की ओर से सीध मे करने के लिए किए जाते है। इस उप-मेन्यू के तीसरे भाग में दिए गए दो विकल्प डाॅक्यूमेण्ट में चुनी गई एक से अधिक आकृतियो को क्षैतिज एवं ऊध्र्वाधर रूप से क्रमशः पृष्ठ की चैडाई एवं ऊंचाई में समान दूरी पर विस्थापित करने के लिए किया जाता है। अन्तिम विकल्प के प्रयोग करने पर ही इस उप-मेन्यू के शेष विकल्प सक्रिय होते है। इस विकल्प पर पुनः क्लिक करने पर इस उप-मेन्यू के अन्स सभी विकल्प निष्क्रिय हो जाएंगे। इस विकल्प का प्रयोग चुनी गई रेखाकृतियों को पृष्ठ के अनुरूप सीध में करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग चुनी गई रेखाकृतियो को पृष्ठ के अनुरूप सीध में करना के लिए किया जाता है। इस विकल्प को चुनने पर इसके नाम से पहले √ का चिन्ह प्रदर्शित होता है।
त्वजंजम वत थ्सपच दृ इस विकल्प को प्रयोग करने पर इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। डाॅक्यमेण्ट में किसी एक अथवा अधिक रेखाकृतियो को चुन रखा है, तो ही इस उप-मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग इन्हे घुमाने अथवा इनका प्रतिबिम्ब प्राप्त करने के लिए किया जाता है। यह मेन्यू दो भागो में बंटा होता है। पहले भाग में दिए गए पहले विकल्प थ्तमम त्वजंजम का प्रयोग इसे किसी भी कोण पर इच्छानुसार घुमाने के लिए , दूसरे विकल्प त्वजंजम स्मजि का प्रयोग बाई ओर समकोण पर घुमाने के लिए और तीसरे विकल्प त्वजंजम त्पहीज का प्रयोग दाई आरे समकोण पर घुमाने के लिए किया जाता है। दूसरे भाग में दिए गए पहले विकल्प थ्सपच भ्वतप्रवदजंस का प्रयोग क्षैतिज प्रतिबिम्ब दूसरे विकल्प थ्सपच टमतजपबंस का प्रयोग ऊध्र्वाधर प्रतिबिम्ब प्राप्त करने के लिए किया जाता है।
ज्मगज ॅतंचचपदह दृ इस विकल्प का प्रयोग करने पर इसका एक उप-मेन्यू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। डाॅक्यूमेण्ट में किसी एक अथवा अधिक रेखाकृति को चुन रखा है, तो ही इस उप-मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग इन्हें टैक्स्ट के साथ प्रयोग करने के लिए किया जाता है। यह उप-मेन्यू तीन भागो में बंटा होता है। इस उप-मेन्यू के पहले भाग में दिए गए पहले विकल्प ैुनंतम का प्रयोग करने पर आकृति के चारो ओर एक आयात के आकार को छोड़कर टैक्स्ट प्रदर्शित होता है। दूसरे विकल्प ज्पहीज का प्रयोग करने पर आकृति के अनुरूप आकृति के अनुरूप आकृति के चारो ओर टैक्स्ट का प्रदर्शन होता है। तीसरे विकल्प ठमीपदक ज्मगज का प्रयोग आकृति के चारो ओर टैक्स्ट का प्रदर्शन होता है। तीसरे विकल्प ठमीपदक ज्मगज का प्रयोग आकृति को टैक्स्ट के पीछे और चैथे विकल्प प्द थ्तवदज व िज्मगज का प्रयोग आकृति को टैक्स्ट के आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। आकृति के टैक्स्ट के आगे आने की आकृति को टैक्स्ट के आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। आकृति के टैक्स्ट के आगे आने की आकृति को टैक्स्ट के आगे प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। आकृति के टैक्स्ट के आगे आने की दशा में जो भाग टैक्स्ट के पीछे आता है, वह छुप ही जाता है। दूसरे भाग में दिए गए पहले विकल्प दशा में जो भाग टैक्स्अ के पीछे आता है, वह छुप ही जाता है। दूसरे भाग में दिए गए पहले विकल्प ज्वच ंदक ठवजजवउ का प्रयोग करने पर आकृति के ऊपर और नीचे ही टैक्स्ट का प्रदर्शन होता है, दायां एवं
च्ंहम 211
बायां स्थान रिक्त होता है। दूसरे विकल्प ज्ीतवनही का प्रयोग करने पर टैक्स्ट आकृति के अनुरूप ही उसके चारो ओर प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू के तीसरे भाग में दिए गए एकमात्र विकल्प म्कपज ॅतंच च्वपदजे का प्रयोग करने पर ॅतंचचपदह के लिए नोड्स का प्रदर्शन का होता है, इन नोड्स को खिसकाकर हम ज्मगज ॅतंचचपदह को व्यवस्थित कर सकते है।
त्मतवनजम ब्वददमबजवते दृ इस विकल्प का प्रयोग चुने गए कनैक्टर्स को इस प्रकार अपडेट करने के लिए किया जाता है, कि यह कनैक्टर जिन दो आकृतियों को जोड़ रहा है, उन्हें अन्य कनैक्टर्स तथा अन्य आकृतियो को काटे बिना ैीवतजमेज त्वनज से उन्हे जोड़ सके। यह विकल्प तभी सक्रिय तभी सक्रिय होता है, जबकि हमने किसी ऐसे कनैक्टर का चुन रखा है, जोकि किसी अन्य कनेक्टर अथवा आकृति स्थान पर काट रहा है।
म्कपज च्वपदजे दृ इस विकल्प का प्रयोग बनाई गई आकृति को पुनव्र्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग तभी कर पाना सम्भव होता है, जबकि हमने डाॅक्यूमेण्ट में किसी ड्राइंग आॅब्जेक्ट को चुन रखा हो। ड्राइंग आॅब्जेक्ट इसी टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ।नजव ैींचमे में दी गई विभिन्न प्रकार की स्पदमे में से ब्नतअमए थ्तममवितउ तथा ैबतपइइसम किसी भी प्रकार की लाइन को चुनकर बनाई जा सकती है। ड्राइंग आॅब्जेक्ट को चुनकर इस विकल्प का प्रयोग करने पर उसकी नोड्स प्रदर्शित होने लगती है, इन नोड्स को हम अपनी इच्छानुसार व्यवस्थित कर सकते है।
ब्ींदहम ।नजवैींचम दृ इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में आॅटोशेप का प्रयोग करके बनाई गई आकृति को बदलने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक उप-मेन्यू प्रदर्शित होता है। इस उप-मेन्यू के प्रत्येक विकल्प का एक अन्य उप-मेन्यू होता है। इस उप-मेन्यू के सभी विकल्प उस समय अनुपलबध होते है, जब तक कि हमने डाॅक्यूमेण्ट मेें किसी आॅटोशेप का प्रयोग करके बनाई गई आकृति को न चुन रखा हो। जैसाकि संलग्न चित्र में दर्शाया गया है।े
ैमज ।नजवैींचम क्मंिनसजे दृ इस विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में बनाई गई आकृति को आॅटोशेप के लिए डिफाल्ट निर्धारित करने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने से पूर्व उस आॅब्जैक्ट को चुन लेते है, जिस आॅटोशेप डिफाल्ट के रूप में सेट करना है। किसी आॅब्जैक्ट को आॅटोशेप डिफाल्ट के रूप में सेट करने के पश्चात् जब आप उस आॅटोशेप को कैनवास पर कही भी ड्राॅ करेंगे, तो उस आॅटोशेप आॅब्जैक्ट पर स्वतः ही रंग,आकार आदि प्रभावी हो जाएगा।
वर्ड 2002 में विभिन्न प्रकार के डायग्राम्स बनाना
कभी-कभी हमको किसी प्रतिष्ठान अर्थात् किसी संस्था का चार्ट, उसमें हो रहे कार्यो का चार्ट, संस्था के विभिन्न घटको का एक-दूसरे इत्यादि को चार्ट के रूप में प्रदर्शित करना पड़ता है। इस प्रकार के डायग्राम अथवा चार्ट बनाने के लिए आप क्तंूपदह टूलबार पर दिए गए क्पंहतंउ टूल आइकन अथवा वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू के विकल्प क्पंहतंउ का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए उपरान्त माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति क्पंहतंउ ळंससमतल डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ैमसमबज ं कपंहतंउ जलचम के नीचे दिए गए बाॅक्स में छह प्रकार के डायग्राम्स प्रदर्शित होते है। इनमें से किसी एक को चुनकर हम अपने डाॅक्यमेण्ट में इन्सर्ट कर सकते है। इन छहों डायग्राम्स में से हम जिस डायग्राम को चुनते है, उसके बारे में संक्षिप्त जानकारी इस डायलाॅग बाॅक्स में नीचे प्रदर्शित होती है। इनमें से पहला डायग्राम व्तहंदप्रंजपवदंस ब्ींतज कहलाता है, इसका प्रयोग किसी संस्था के विभागो या लोगो
च्ंहम 212
सम्बन्ध संस्था से दर्शाने के लिए किया जाता है। दूसरा डायग्राम ब्लबसम क्पंहतंउ कहलाता है, इसका प्रयोग किसी संस्था की ऐसी प्रक्रिया को दर्शाने के लिए किया जाता है, जो निरन्तर चक्र ;ब्वदजपदनवने ब्लबसमद्ध में चलती रहती है। तीसरा डायग्राम त्ंकपंस क्पंहतंउ कहलाता है, इसका प्रयोग किसी संस्था के मल्टीपल इन्टिटीज या घटको का सम्बन्ध दर्शाने के लिए किया जाता है। चैथे डायग्राम च्लतंउपक क्पंहतंउ कहलाता है, इसका प्रयोग किसी फाउन्डेशन के आधार पर इन्टिटीज या घटको के सम्बन्ध को दर्शाने के लिए किया जाता है। पांचवा डायग्राम टमद क्पंहतंउ कहलाता है, इसका प्रयोग किसी संस्था के वैसे इन्टिटीज या घटको को दर्शाने के लिए किया जाता है, जो एक-दूसरे को ओवरलैप करते है। छठा और अन्तिम डायग्राम ज्ंतहमज क्पंहतंउ कहलाता है, इसका प्रयोग किसी संस्था के मुख्य लक्ष्य या उद्देश्य को पाने के लिए विभिन्न चरणो को दर्शाने के लिए किया जाता है।
व्तहंदप्रंजपवद चार्ट बनाना
आॅर्गेनाइजेशन चार्ट किसी आॅर्गेनाइजेशन (संस्था) के विभिन्न विभागो के सम्बन्ध को दर्शाता है। क्पंहतंउ ळंससमतल डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पहले डायग्राम को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर निम्नांकित चित्र की भांति एक आॅर्गेनाइजेशन चार्ट प्रदर्शित होता हैै और साथ ही एक व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज टूलबार भी प्रदर्शित होती है
इस प्रदर्शन में हम विभिन्न बाॅक्सेज जिनमे ब्सपबा जव ंकक जमगज लिखा हुआ प्रदर्शित हो रहा है, पर क्लिक करके वांछित टैक्स्ट को टाइप करते हैं। इस प्रदर्शन के साथ ही माॅनीटर स्क्रीन पर व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज टूलबार भी प्रदर्शित होती है। इस टूलबार के विभिन्न टूल्स आइकन्स के कार्यो का विवरण निम्नलिखित है
प्देमतज ैींचम आॅर्गेनाइजेशन टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग आॅर्गेनाइजेशन चार्ट में चुनी गई आकृति के नीेचे एक नई आकृति को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक सूची में तीन विकल्प इन आकृतियो को इन्सर्ट करने से सम्बन्धित दिए होते है। पहले विकल्प ैनतइवकपदंजम का प्रयोग चुनी गई आकृति
च्ंहम 213
के ठीक नीेचे एक अन्य आकृति को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प ब्वूवतामत का प्रयोग चुनी गई आकृति के साथ ही एक नई आकृति को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। तीसरे विकल्प ।ेेपेजंदज का प्रयोग करने पर चुनी गई आकृति के नीेचे एक म्सइवू ब्वददमबजवत से जुडी हुई नई आकृति इन्सर्ट हो जाती है। यह आकृति चुनी गई आकृतिक तथा इसकी ैनइवतकपदंजम आकृतियों के मध्य इन्सर्ट होती है।
स्ंलवनज आॅर्गेनाइजेशन टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग आॅर्गेनाइजेशन चार्ट के लेआउट को परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक सूची में आॅर्गेनाइजेशन चार्ट के ले-आउट से सम्बन्धित विकल्प तीन भागो में दिए होते है। पहले विकल्प ैजंदकंतक का प्रयोग आर्गेनाअजेशन चार्ट में ैनचमतपवत के नीचे इसके विभिन्न ैनइवतकपदंजमे को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प ठवजी भ्ंदहपदह को चुनने पर आर्गेनाइजेशन में ैनचमतपवत के नीचे दाई तथा बाई ओर ैनइवतकपदंजमे को स्थित किया जाता है। तीसरे विकल्प स्मजि भ्ंदहपदह को चुनने पर आर्गेनाइजेशन में ैनइवतकपदंजमे को ैनचमतपवत के बाई ओर स्थित किया जाता है। चैथे विकल्प त्पहीज भ्ंदहपदह को चुनने पर आर्गेनाइजेशन में ैनइवतकपदंजमे को ैनचमतपवत के दाई ओर स्थित किया जाता है। दूसरे भाग के विकल्प थ्पज व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज जव ब्वदजमदजे का प्रयोग करने कैनवास का आकार आर्गेनाइजेशन चार्ट के आकार के बराबर ही इस प्रकार हो जाता है, कि कैनवास में आर्गेनाइजेशन चार्ट फिट होता है। म्गचंदक व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज विकल्प का प्रयोग आर्गेनाइजेशन चार्ट के चारो ओर कैनवास के आकार केा बढाने के लिए किया जाता है। ैबंसम व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज का प्रयोग कैनवास के आकार में परिवर्तन करने के साथ-साथ आर्गेनाइजेशन चार्ट के आकार में भी परिवर्तन करने के लिए किया जाता है। ।नजवस्ंलवनज विकल्प एक टाॅगल ‘की‘ के समान कार्य करता है। एक बार इसे चुनने पर यह आॅन होता है और दूसरी बार चुनने पर यह आॅफ हो जाता है। इस विकल्प का प्रयोग चुने गए ले-आउट के अनुरूप् आर्गेनाइजेशन चार्ट को ।नजवउंजपबंससल व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है।
ैमसमबज आर्गेनाइजेशन टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग आॅर्गेनाइजेशन चार्ट के विभिन्न भागो को चुनने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति एक सूची में आर्गेनाइजेश्ज्ञन चार्ट के विभिन्न भागो को चुनने से सम्बन्धित विकल्प में दिए होते है। पहले विकल्प स्मअमस का प्रयोग चुनी गई आकृति के समान स्तर की सभी आकृतियो को चुनने के लिए किया जाता है। दूसरे विकल्प उस समय अधिक सहायक होता है, जब हमे ऐसे कर्मचारियो की फाॅरमेटिंग समान करनी होती है, जोकि मैनेजर को रिपोर्ट करते है। तीसरे विकल्प ।सस ।ेेपेजंदजे का प्रयोग चुनी गई आकृति की असिस्टेन्ट आकृतियो को चुनने के लिए किया जाता है, भले ही वे एक ही ठतंदबी में न हो। यह विकल्प उस समय अधिक सहायक होता है, जब हमें जाता है, भले ही वे एक ही ठतंदबी में न हो। यह विकल्प उस समय अधिक सहायक होता है,जब हमें आर्गेनाइजेशन के सभी असिस्टेन्ट्स की फाॅरमेटिंग समान करनी होती है। चैथे और अन्तिम विकल्प ।सस ब्वददमबजपदह स्पदमे का प्रयोग आर्गेनाइजेशन चार्ट के सभी कनेक्टर्स को चुनने के लिए किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करना उस समय सहायक सिद्ध होता है, जब हम सभी कनैक्टिंग रेखाओ की फाॅरमेटिंग समान करनी होती है।
।नजववितउंज आॅगेनाइजेशन टूलबार पर स्थित इस टूल आइकन का प्रयोग आॅर्गेनाइजेशन चार्ट की फाॅरमेटिंग वर्ड 2002 में पूर्व परिभाषित फाॅरमेट्स के आधार पर करने के लिए किया जाता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करते ही माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति व्तहंदप्रंजपवद ब्ींतज ैजलसम ळंससमतल डायलाॅग
च्ंहम 214
बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ैमसमबज ं कपंहतंउ ेजलसम के नीचे दिए गए बाॅक्स में विभिन्न प्रकार के आॅगेनाइजेशन चार्ट डायग्राम्स की स्टाइल्स के नाम एक सूची में प्रदर्शित होते हैं और इस सूची के दाई ओर एक बाॅक्स में इस स्टाइल के अनुरूप् आॅर्गेनाइजेशन चार्ट का च्तमअपमू प्रदर्शित होता है। इस सूची में से वांछित स्टाइल को चुनकर हम अपने आॅगेनाइजेशन चार्ट पर प्रभावी कर सकते है।
डाॅक्यूमेण्ट में अन्य फाइल इन्सर्ट करना
वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में वर्ड अथवा किसी अन्य प्रोग्राम में तैयार की गई टैक्स्ट फाइल को कर्सर के स्थान पर इन्सर्ट करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू में दिए गए विकल्प थ्पसम का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति प्देमतज थ्पसम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है
यह डायलाॅग बाॅक्स व्चमद डायलाॅग बाॅक्स के समान ही होता है,जिसका प्रयोग करना हम पहले बता चुके है। इस डायलाॅग बाॅक्स में से वांछित फाइल को चुनकर इन्सर्ट किया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में एक नया पुश बटन त्ंदहम दिया होता है। जब हम इस पुश बटन पर क्लिक करते है, तो माॅनीटर स्क्रील पर अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति ैमज त्ंदहम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में त्ंदहम के नीचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में यदि प्देमतज की जाने वाली फाइल का कुछ भाग ही प्देमतज किया जाना है, तो वह ठववाउंता टाइप किया ?
च्ंहम 215
जाता है जिस ठववाउंता तक का भाग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट मे प्देमतज किया जाना है। ठववाउंता के बारे में हम आगे जानकारी प्राप्त करेंगे। यदि एक्सल 2002 की किसी फाइल को प्देमतज किया जा रहा है तो यहां पर ब्मसस त्ंदहम ज्लचम करनी होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन प्देमतज पर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से दूसरे विकल्प प्देमतज ।े स्पदा का प्रयोग वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट फाइल और प्देमतज की जाने वाली फाइल में स्पदा स्थापित करने के लिए किया जाता है।
डाॅक्यूमेण्ट मे आॅब्जेक्ट का प्रयोग
वर्ड 2002 में किसी अन्य प्रोग्राम में तैयार किए आॅब्जेक्ट को कर्सर के स्थान पर इन्सर्ट करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू मे दिए गए विकल्प व्इरमबज का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति व्इरमबज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। किसी अन्य प्रोग्राम में तैयार की गई ज्ंइसमए ळतंचीपब ए म्ुनंजपवदे को वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट फाइल में एक आॅब्जेक्ट के रूप में प्देमतज करने के लिए प्रयोग किए जाने वाले व्इरमबज डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य विकल्प ब्तमंजम छमू और ब्तमंज थ्तवउ थ्पसम होते है। ब्तमंजम छमू विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में व्इरमबज ज्लचम के नीचे उन प्रोग्राम्स के नाम होते है जिनमे से किसी व्इरमबज को वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में प्देमतज किया जा सकता है। इसमें से वांछित प्रोग्राम को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके हम उस प्रोग्राम में पहुृच जाते है और वहां पर व्इरमबज डिजाइन करके ।सज ‘की‘ और फंक्शन ‘की‘ थ्4 को दबाकर पुनः डाॅक्यूमेण्ट में लौट सकते है। अब हमारी इस डाॅक्यूमेण्ट में यह व्इरमबज प्देमतज हो गया है।
ब्तमंजम थ्तवउ थ्पसम को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे थ्पसम दंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में उस फाइल का नाम पाथ सहित टाइप कर दिया जाता है, जिस फाइल हम व्इरमबज का वर्तमान डाॅक्यमेण्ट में प्देमतज करना चाहते है। यदि हमें फाइल का नाम एवं पाथ याद नही है तो इसमें दिए गए पुश बटन ठतवूेम का प्रयोग करके प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स मे से जिस फाइल के व्इरमबज को वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में प्देमतज किया जाना है, उसे चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके कर्सर के स्थान पर प्देमतज किया जा सकता है।
डाॅक्यूमेण्ट में विभिन्न आॅब्जेक्ट के लिए कैप्शन का प्रयोग
वर्ड 2002 में विभिन्न आॅब्जेक्ट्स जैसे ज्ंइसमेएप्ससनेजतंजपवदेए म्ुनंजपवदेए च्पबजनतम आदि के लिए ब्ंचजपवद निर्धारित करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के त्ममितमदबम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में दिए गए विकल्प ब्ंचजपवद का प्रयोग करने पर अग्रांकित चित्र की भांति माॅनीटर स्क्रीन पर ब्ंचजपवद डायलाॅग बाॅक्स
च्ंहम 216
प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ब्ंचजपवद के नीचे बने ज्मगज ठवग में ब्ंचजपवद छनउइमत के बाद ब्ंचजपवद के साथ अन्य सूचना भी टाइप कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में स्ंइमस के सामने बने ठवग के डाउन ऐरो पर टाइप कर सकते है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे स्ंइमस के सामने बने ठवग के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली ब्ंचजपवद स्ंइमसे की सूची में वर्ड 2002 के पूर्व निर्धारित तीन स्ंइमस होते है थ्पहनतमए म्ुनंजपवद और ज्ंइसम । इन तीनो स्ंइमसे के अतिरिक्त आवश्यकतानुसार कोई अन्य स्ंइमस पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन छमू स्ंइमस पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले डायलाॅग बाॅक्स में स्ंइमस के नीचे दिए गए टैक्स्ट में स्ंइमस को ज्लचम करके नया स्ंइमस तैयार किया जा सकता है। तैयार किया गया स्ंइमस भी स्ंइमस के सामने बने ठवग के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली ब्ंचजपवद स्ंइमसे की सूची में प्रदर्शित होगा । प्रयोगकत्र्ता द्वारा बनाए गए किसी स्ंइमस को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का पुश बटन क्मसमजम स्ंइमस सक्रिय हो जाता है। इस बटन का प्रयोग प्रयोगकत्र्ता द्वारा बनाए गए किसी स्ंइमस को मिटाने के लिए किया जाता है। पुश बटन छनउइमतपदह पर क्लिक करने पर ब्ंचजपवद छनउइमतपदह डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए विभिन्न विकल्पो का प्रयोग करके हम ब्ंचजपवद छनउइमतपदह थ्वतउंज में परिवर्तन एवं इसमें ब्ींचजमत छनउइमत को भी ब्ंचजपवद के साथ प्देमतज कर सकते है। ब्ंचजपवद डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन ।नजव ब्ंचजपवद पर क्लिक करने से माॅनीटर स्क्रीन पर ।नजव ब्ंचजपवद डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। ब्ंचजपवद पर क्लिक करने से माॅनीटर स्क्रीन पर ।नजव ब्ंचजपवद डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ।कक ब्ंचजपवद ॅीमद प्देमतजपदह के नीचे दी गई सूची में से उन प्रोग्राम्स को उनके सामने बने हुए डायलाॅग बाॅक्स में ।कक ब्ंचजपवद ॅीमद प्देमतजपदह के नीचे दी गई सूची में से उन प्रोग्राम्स को उनके सामने बने हुए ब्ीमबा ठवग पर क्लिक करके चुन लिया जाता है जिनके किसी प्जमउ को डाॅक्यूमेण्ट में प्देमतज करते ही उसकी ब्ंचजपवद स्वतः ही ॅवतक द्वारा की जाता हो।
डाॅक्यूमेण्ट में बुकमार्क का प्रयोग
डाॅक्यूमेण्ट में किसी स्थान अथवा टैक्स्ट के भाग को कोई नाम देकर किसी स्थान पर सन्दर्भ की भांति प्रयोग किए जाने वाले ठववाउंता के लिए वर्ड 2002 के प्देमतज मेन्यू में दिए गए विकल्प ठववाउंता का प्रयोग करने पर संलग्न चित्र की भांति ठववाउंता डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीनप पर प्रदर्शित होता है।
ठस डायलाॅग बाॅक्स में ठववाउंता छंउम के नीेचे बने टैक्स्ट बाॅक्स में चुने गए ज्मगजए ळतंचीपब ए ज्ंइसम अथवा किसी अन्य प्जमउ के लिए डंता का नाम , अधिकतम 40 अक्षरो में , जिसमें केवल अक्षर, संख्या एवं न्दकमतेबवतम के अतिरिक्त कोई अन्य विशेष चिन्ह यहां तक कि ैचंबम का प्रयोग नही किया जा सकता , को टाइप कर दिया जाता है। ैवतज ठल के सामने रेडियो बटन्स के रूप में दिए गए दो विकल्पो छंउम और स्वबंजपवद में से किसी एक को चुनकर ठववाउंता का नाम अथवा स्वबंजपवद के अनुरूप ैवतजपदह की जा सकती है। छंउम विकल्प को चुनने पर ठववाउंता छंउम के नीचे की सूची में इनका प्रदर्शन, इसके नाम के पहले अक्षर के अनुसार बढ़ते क्रम में होता है। स्वबंजपवद विकल्प को चुनने पर इनका क्रम फाइल में इनकी उपस्थिति के अनुसार होता है। पुश बटन ।कक पर क्लिक करके ठववाउंता को दिए गए नाम को इसकी सूची में जोड़ा सकता है। पुश बटन ळवज्व का प्रयोग सूची में से चुने गए ठववाउंता छंउम का ठववाउंता फाइल में जिस स्थान पर है, उस स्थान पर पहुंचने के लिए किया जाता है।
च्ंहम 217
डाॅक्यूमेण्ट में फुटनोट एवं ऐण्डनोट का प्रयोग
वर्ड 2002 के डाॅक्यूमेण्ट में फुटनोट ;थ्ववजदवजमद्ध एवं ;म्दकदवजमद्ध का प्रयोग करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के त्ममितमदबम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू मे दिए गए विकल्प थ्ववजदवजम का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प को प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति थ्ववजदवजम ंदक म्दकदवजम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के प्देमतज वाले भाग में हम यह निश्चित करते है कि हमें थ्ववजदवजम इन्सर्ट करना है अथवा म्दकदवजम । इन दोनो में से किसी एक को चुनने पर डाॅक्यूमेण्ट में थ्ववजदवजम अथवा म्दकदवजम त्ममितमदबम डंता डाॅक्यूमेण्ट में प्देमतज हो जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के थ्वतउंज वाले भाग में छनउइमत वितउंज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से इन थ्ववजदवजम या म्दकदवजम के लिए त्ममितमदबम उंता के लिए क्रमांको का प्रारूप निर्धारित किया जाता है। इस भाग में ब्नेजवउ उंता के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में थ्ववजदवजम या म्दकदवजम के लिए कोई अपना ब्नेजवउ उंता निर्धारित किया जाता है। यह ब्नेजवउ उंता दस कैरेक्टर्स का ही होना चाहिए । इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ैलउइवस पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ैलउइवस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग हम पहले सीख चुके है। ैजंतज ।ज के सामने दिए गए बाॅक्स में हम यह निर्धारित करते है कि हमारे डाॅक्यूमेण्ट में थ्ववजदवजम अथवा म्दकदवजम की छनउइमतपदह कहां से शुरू हो? फुटनोट की छनउइमतपदह के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में छनउइमतपदह के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर तीन विकल्प दिए होते है। पहले विकल्प ब्वदजपदवने का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट फाइल में थ्ववजदवजमे अथवा म्दकदवजम की छनउइमतपदह लगातार करने के लिए ; त्मेजंतज म्ंबी ैमबजपवद विकल्प का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट फाइल के प्रत्येक ैमबजपवद के लिए थ्ववजदवजम अथवा म्दकदवजम की छनउइमतपदह 1 से शुरू करने के लिए किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ब्वदअमतज पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर ब्वदअमतज छवजमे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्ववजदवजम को म्दकदवजम में परिवर्तित करने अथवा म्दकदवजम को थ्ववजदवजम में परिवर्तित करने के लिए विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है।
डाॅक्यूमेण्ट में फुटनोट पृष्ठ के अन्त में एवं ऐण्डनोट डाॅक्यूमेण्ट के अन्त में प्रदर्शित होते है।
क्राॅस रेफरेन्स का प्रयोग
वर्ड 2002 में अन्तनिर्देश ;ब्तवेे.तममितमदबमेद्ध का प्रयोग करने की सुविधा का उपयोग करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के त्मतिमदबम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में दिए गए विकल्प ब्तवेे.तमतिमदबम डायलाॅग बाॅक्स अग्रांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
च्ंहम 218
इस डायलाॅग बाॅक्स में त्ममितमदबम ज्लचम के नीचे दिए गए बाॅक्स के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से कोई एक प्रकार अन्तनिर्देश के लिए चुन लिया जाता है। इसके आगे दिए गए प्देमतज तममितमदबम जव बाॅक्स के डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में प्देमतज किए जाने वाले ब्तवेे.तममितमदबम के लिए सूचना निर्धारित की जाती है। पुश किए जाने वाले ब्तवेे.तममितमदबम के लिए सूचना निर्धारित की जाती है। पुश बटन प्देमतज पर क्लिक करते ही ब्तवेे.तममितमदबम डाॅक्यूमेण्ट में प्देमतज हो जाता है। पुश बटन ब्सवेम का प्रयोग प्देमतज के बाद इस डायलाॅग बाॅक्स में बन्द करने के लिए किया जाता है। यदि हम कोई भी ब्तवेे.तममितमदबम प्देमतज नही करते है,तो पुश बटन ब्सवेम के स्थान पर पुश बटन ब्ंदबमस होता है।
ब्तवेे.तममितमदबम के तात्पर्य यह है कि डाॅक्यूमेण्ट में दी गई किसी जानकारी के लिए स्थान विशेष का निर्धारण । यदि डाॅक्यूमेण्ट में किसी एक ही तथ्य की पुनरावत्र्ति हो रही है, तो पहले स्थान पर इस तथ्य के बारे में विस्तृत जानकारी टाइप करने के बाद आगे किसी अन्य स्थान पर पुनः इसकी आवश्यकता होने पर इसे पुनः टाइप न करके थ्वत उवतम कमजंपसे ेमम३ टाइप करते हैं। ….. के स्थान पर त्ममितमदबम दिया जाता है ताकि इस डाॅक्यूमेण्ट का अध्ययन करने वाला व्यक्ति विस्तृत जानकारी तुरन्त प्राप्त कर सके।
डाॅक्यूमेण्ट का इन्डैक्स अथवा विषय-सूची बनाना
वर्ड 2002 में तैयार किए गए डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए शब्दो की सूची एवं प्रयोग की गई विभिन्न स्टाइल्स भ्मंकपदह 1ए भ्मंकपदह 2ए भ्मंकपदह 3 आदि की सूची को तैयार करने के लिए इसके प्देमतज मेन्यू के त्ममितमदबम विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में दिए गए विकल्प प्दकमग ंदक ज्ंइसमे का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर प्दकमग ंदक ज्ंइसमे डायलाॅग बाॅक्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स के चार मुख्य विकल्प प्दकमग ज्ंइसम व िब्वदजमदजेए ज्ंइसम व िथ्पहनतमे और ज्ंइसम व ि।नजीवतपजपमे होते है। इनमें से पहले मुख्य विकल्प को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन उपरोक्त चित्र के अनुरूप ही होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में ज्लचम वाले भाग में दो विकल्प प्दकमदजमक तथा त्नद.पद होते है। इन विकल्पो का प्रयोग इन्डैक्स में प्रयोग किए गए शब्द के सहयोगी शब्दो के प्रदर्शन का निर्धारण करने के लिए करते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्वतउंजे के नीचे की सूची होती है। इस सूची में से प्दकमग के लिए चुनी गई फाॅरमेट के अनुरूप प्दकमग का प्रिन्ट किस प्रकार का प्राप्त होगा, यह च्तपदज च्तमअपमू के नीचे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए चैक बाॅक्स त्पहीज ंसपहद च्ंहम दनउइमते को चुनने पर पृष्ठ संख्या का प्रदर्शन दाई ओर से सीध में होता है।
च्ंहम 219
प्दकमग डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग किए गए विभिन्न शब्दो एवं उद्धरणों ;च्ीतंेमेद्ध की सूची है, इस सूची में ये शब्द एवं उद्धरण उस पृष्ठ संख्या के साथ प्रदर्शित होते है, डाॅक्यूमेण्ट में जिन पर इन्हे प्रयोग किया गया है।
ज्ंइसम डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई स्टाइल्स भ्मंकपदह 1ए भ्मंकपदह 2ए भ्मंकपदह 3 आदि की सूची, विभिन्न चित्रो की सूची एवं विभिन्न अर्थाटीज की सूची है, इस सूची में इनके साथ पृष्ठ संख्या भी प्रदर्शित होती है।
यदि हम इस चैक बाॅक्स को नही चुनते है तो पृष्ठ संख्या का प्रदर्शन शब्द के साथ ही होता है। तैयार किए जाने वाला प्दकमग कितने काॅलम्स का तैयार किया जाना है, यह ब्वसनउदे के सामने दिए गए बाॅक्स में निर्धारित किया जाता है। यदि हमने त्पहीज ंसपहद चंहम दनउइमते चैक बाॅक्स को चुन रखा है तो ज्ंइ समंकमत टैक्स्ट बाॅक्स भी सक्रिय हो जाता है। इस बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर शब्द और पृष्ठ संख्या के मध्य के रिक्त स्थान को भरने के लिए प्रदर्शित होने वाले विकल्पो की सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर विशेष चिन्हो को प्रयोग में लाया जा सकता के लिए प्रदर्शित होने वाले विकल्पो की सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर विशेष चिन्हो को प्रयोग में लाया जा सकता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दूसरे मुख्य विकल्प ज्ंइसम व िब्वदजमदजे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स के होने वाले प्रदर्शन में थ्वतउंजे के नीचे ज्ंइसम व िब्वदजमदजे के लिए विभिन्न प्रारूपो की सूची दी होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुक्ष्य विकल्प ज्ंइसम व िब्वदजमदजे के लिए विभिन्न प्रारूपो की सूची दी होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स के तीसरे मुख्य विकल्प ज्ंइसम व िथ्पहनतमे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स के होने वाले प्रदर्शन में ब्ंचजपवद स्ंइमस के नीचे विभिन्न प्रकार की थ्पहनतमे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स के होने वाले प्रदर्शन में ब्ंचजपवद स्ंइमस के नीचे विभिन्न प्रकार की थ्पहनतमे के लिए विभिन्न ब्ंचजपवदे की सूची प्रदर्शित होती है। इस डायलाॅग बाॅक्स के चैथे मुख्य विकल्प ज्ंइसम व ि।नजीवतपजपमे को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स के होने वाले प्रदर्शन में दिए गए विकल्पो का प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में प्रयुक्त विशेष व्यक्तियो के नामो की पृष्ठ संख्या सहित सूची बनाने के लिए किया जाता है।
वर्ड 2002 में डाॅक्यूमेण्ट को विभिन्न प्रकार से देखना
वर्ड 2002 में तैयार किए गए डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठो का माॅनीटर स्क्रीन विभिन्न उद्देश्य हेतु विभिन्न प्रकार से प्रदर्शित करने के लिए इसके टपमू मेन्यू के पहले भाग में चार विकल्प एवं थ्पसम मेन्यू में एक विकल्प दिया होता है।
छवतउंस टपमू
वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू में पहला विकल्प छवतउंस होता है। इस विकल्प को चुनने पर डाॅक्यूमेण्ट का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति होता है। छवतउंस टपमू में ज्ववसइंत के नीचे क्षैतिज त्नससमत प्रदर्शित होता है। छवतउंस टपमू वर्ड का पूर्वनिर्धारित ;क्मंिनसजद्ध टपमू है। इस विकल्प का प्रयोग क्षैतिज स्क्राॅलबार ;भ्वतप्रवदजंस ैबतवससइंतद्ध पर बाई ओर स्थित चार प्बवदे (चित्र) जोकि छवतउंस टपमू का होता है, पर क्लिक करके भी किया जा सकता है। डाॅक्यूमेण्ट के छवतउंस टपमू में अधिकांश वर्ड प्रोसेसिंग का कार्य जैसे टाइपिंग, सम्पादन एवं टैक्स्ट की फाॅरमेटिंग आदि किया जा सकता है। डाॅक्यूमेण्ट के छवतउंस टपमू में पृष्ठ के निर्धारित हाशिये, हैडर, फूटर, फुटनोट्स, बैकग्राउण्ड आदि को नहीं देख सकते, इसके अतिरिक्त डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट एवं अन्य तत्वो के हम माॅनीटर स्क्रीन पर देख सकते है। इस प्रकार के प्रदर्शन में ड्राइंग आॅब्जेक्ट्स एवं पिक्चर आदि का प्रदर्शन अगली लाइन में होता है अर्थात् इस प्रदर्शन में ज्मगज ॅतंचचपदह नही प्रदर्शित होती ।
ॅमइ स्ंलवनज टपमू
वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू में दूसरा विकल्प ॅमइ स्ंलवनज होता है। जब वर्ड 2002 में किसी वेब पेज को तैयार किया जा रहा होता है, तो वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू के दूसरे विकल्प ॅमइ स्ंलवनज टपमू का प्रयोग किया जाता है।
च्ंहम 220
डाॅक्यूमेण्ट के इस प्रकार के प्रदर्शन में बैकग्राउण्ड और ज्मगज ॅतंचचपदह भी प्रदर्शित होती है। डाॅक्यूमेण्ट का इस प्रकार का प्रदर्शन वर्ड 2002 में पहली बार जोड़ा गया है। निम्नांकित चित्र में डाॅक्यूमेण्ट का ॅमइ स्ंलवनज टपमू दर्शाया गया है।
च्ंहम 221
च्तपदज स्ंलवनज टपमू
वर्ड 2002 के टपमू मेन्यू में तीसरा विकल्प च्तपदज स्ंलवनज होता है। इस विकल्प को चुनने पर डाॅक्यूमेण्ट का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति होता है
डाॅक्यूमेण्ट के इस प्रकार के प्रदर्शन में डाॅक्यूमेण्ट के प्रत्येक पृष्ठ का प्रदर्शन ठीक उसी प्रकार होता है जैसाकि उसका प्रिन्ट प्राप्त होगा। यदि हमने अपने डाॅक्यूमेण्ट फाइल में डनसजपचसम ब्वसनउद अर्थात् एक से अधिक काॅलम परिभाषित किए हुए है तो उनका प्रदर्शन, थ्ववजदवजम का प्रदर्शन, म्दकदवजम का प्रदर्शन एवं भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत का प्रदर्शन उनके वास्तविक रूप में एवं उनके वास्तविक स्थान पर ही होता है, साथ ही डाॅक्यूमेण्ट फाइल में प्देमतज किए गए थ्तंउमे एवं उनमें स्थित ज्मगज अथवा ळतंचीपबे का प्रदर्शन भी वास्तविक रूप में होता है। इस टपमू में क्षैतिज एवं ऊध्र्वाधर रूलर्स भी प्रदर्शित होते है। च्तपदज स्ंलवनज प्रदर्शन में ही भ्मंकमत ंदक थ्ववजमत को, थ्ववजदवजम को एवं म्दकदवजम आदि को भी सम्पादित किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रदर्शन में हम पृष्ठ की फाॅरमेटिंग में कोई भी परिवर्तन कर सकते है।
व्नजसपदम टपमू
वर्ड 2002 के टपमू मेन्युू में चैथा विकल्प व्नजसपदम होता है। इस विकल्प को चुनने पर डाॅक्यूमेण्ट का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति होता है।
डाॅक्यूमेण्ट के इस प्रकार के टपमू का प्रयोग जटिल अथवा अधिक बडे़ डाॅक्यूमेण्ट को देखने के लिए किया जाता है। व्नजसपदम विकल्प का प्रयोग करते ही वर्ड 2002 की विन्डो में फाॅरमेट टूलबार के नीचे व्नजसपदम ज्ववसइंत भी प्रदर्शित होती है। यदि हम चाहे तो इस प्रदर्शन में हम डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई केवल मुख्य भ्मंकपदहे को ही देख सकते है। इनसे सम्बन्धित ज्मगज का प्रदर्शन पृष्ठ नही होगा। इस व्यू में लम्बे डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई भ्मंकपदहे आदि को देखने के लिए किया जाता है। व्नजसपदम ज्ववसइंत पर प्रदर्शित होने वाले टूल आइकन्स ज्वहहसम ज्ञमल की भांति
च्ंहम 222
कार्य करते हैं अर्थात् एक बार क्लिक करने पर ये अपने कार्यानुसार प्रदर्शन में परिवर्तन कर देते हैं एवं दुबारा इनको प्रयोग करने पर पुनः टैक्स्ट का प्रदर्शन पूर्व स्थिति में ला देते है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;च्तवउवजद्ध का प्रयोग भ्मंकपदह का एक स्तर बढ़ाने के लिए किया जाता है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और स्मजि ।ततवू तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। यदि हमने किसी पैराग्राफ में भ्मंकपदह7 स्टाइल का प्रयोग किया हुआ है तो इस प्बवद पर क्लिक करने पर इस पैराग्राफ में भ्मंकपदह6 का प्रयोग हो जाएगा । आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;क्मउवजमद्ध का प्रयोग भ्मंकपदह का एक स्तर घटाने के लिए किया जाता है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और त्पहीज ।ततवू तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। यदि हमने किसी पैराग्राफ में भ्मंकपदह5 स्टाइल का प्रयोग किया हुआ है तो इस प्बवद पर क्लिक करने पर इस पैराग्राफ में भ्मंकपदह6 का प्रयोग हो जाएगा। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;क्मउवजम जव ठवकल ज्मगजद्ध का प्रयोग पैराग्राफ में प्रयोग की गई किसी भ्मंकपदह स्टाइल केा बदलकर सीधे ठवकल ज्मगज ;छवतउंसद्ध स्टाइल पर किया जा सकता है। की-बोर्ड पर ब्जतसए ैीपजि और छ तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;डवअम न्चद्ध का प्रयोग पैराग्राफ को इससे ऊपर वाले पैराग्राफ से पहले ले जाने के लिए करते है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और न्च ।ततवू तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइल टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;डवअम क्वूदद्ध का प्रयोग पैराग्राफ को इससे नीचे वाले पैराग्राफ के बाद ले जाने के लिए करते है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और क्वूद ।ततवू तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;म्गचंदकद्ध का प्रयोग भ्मंकपदह में ैनइ.ीमंकपदह एवं ठवकल ज्मगज का समावेश प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। जब किसी भ्मंकपदह के अन्तर्गत कोई अन्य ैनइ.ीमंकपदह अथवा ठवकल ज्मगज होता है तब उसके बाई ओर ;़द्ध चिन्ह प्रदर्शित होता है। भ्मंकपदह के बाई ओर लगा हुआ ;़द्ध चिन्ह यह दर्शाता है कि इस भ्मंकपदह में कोई ठवकल ज्मगज भी स्थित है। की-बोर्ड पर ।सजएैीपजि और ़ ;च्सनेद्ध तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;ब्वससंचेमद्ध
का प्रयोग भ्मंकपदह में ैनइ.ीमंकपदह एवं ठवकल ज्मगज का समावेश प्रदर्शित न करने के लिए किया जाता है। जब किसी भ्मंकपदह के अन्तर्गत कोई अन्य ैनइ.ीमंकपदह अथवा ठवकल ज्मगज नही होता है तब उसके बाई ओर (-) चिन्ह प्रदर्शित होता है। इस प्बवद का प्रयोग करने पर हम उस भ्मंकपदह के अन्तर्गत ैनइ.ीमंकपदह को तो माॅनीटर स्क्रीन पर देख सकते है परन्तु ठवकल ज्मगज का प्रदर्शन उस पैराग्राफ के नीचे ळतंल ब्वसवत में एक पतली रेखा के रूप में प्रदर्शित होता है। भ्मंकपदह के बाई ओर लगा हुआ ($) चिन्ह यह दर्शाता है के इस भ्मंकपदह में कोई ठवकल ज्मगज भी स्थित है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और – ;भ्लचीमद वत क्ंेीद्ध तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर इसके आगे टूल आइकन्स के रूप में अंक 1,2,….7 एवं ।सस प्रदर्शित होंगे। इनका प्रयोग डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई भ्मंकपदहे के प्रदर्शन के लिए किया जाता है; जैसे यदि हम प्बवद का प्रयोग करते हैं तो डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई भ्मंकपदहे के प्रदर्शन के लिए किया जाता है; जैसे यदि हम प्बवद का प्रयोग करते हैं तो डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई केवल भ्मंकपदह1 स्टाइल वाले पैराग्राफ ही माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होंगे। इसी प्रकार यदि हम प्बवद का प्रयोग करते हैं तो डाॅक्यूमेण्ट में प्रयोग की गई भ्मंकपदह1एभ्मंकपदह2ए भ्मंकपदह3 और भ्मंकपदह4 वाले पैराग्राफ्स ही प्रदर्शित होंगे। की-बोर्ड पर ।सज ‘की‘ , ैीपजि ‘की‘ जिस स्मअमस तक की भ्मंकपदह का प्रदर्शन हम चाहते है, को एक साथ दबाकर ही इन टूल आइकन्स द्वारा किए जाने वाले कार्य को किया जा सकता है। ;।ससद्ध टूल आइकन का प्रयाग डाॅक्यूमेण्ट फाइल मे केवल भ्मंकपदहे का ही प्रदर्शन करने के लिए किया जाता है, इस समय डाॅक्यूमेण्ट के टैक्स्ट का प्रदर्शन नही होता है। यदि डाॅक्यूमेण्ट में केवल भ्मंकपदहे का ही प्रदर्शन हो रहा है तो इस आइकन का प्रयोग करने पर डाॅक्यूमेण्ट का समस्त टैक्स्ट हैडिंग्स सहित प्रदर्शित होता है। की-बोर्ड पर ।सजए ैीपजि और । तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन का प्रयोग करने पर भ्मंकपदह में प्रयोग की गई ठवकल ज्मगज के पैराग्राफ की केवल पहली लाइन का प्रदर्शन होता है। यदि पैराग्राफ एक ही लाइन का है तो वह पूरा प्रदर्शित होगा। की-बोर्ड पर ।सजएैीपजि और स् तीनो ‘कीज‘ को एक साथ दबाकर भी यह कार्य किया जा सकता है। आउटलाइन टूलबार पर दिए गए टूल आइकन ;ैीवू थ्वतउंजपदहद्ध का प्रयोग करने पर व्नजसपदम टपमू में थ्वतउंजपदह का प्रदर्शन नही होता है और डाॅक्यूमेण्ट का समस्त टैक्स्ट, हैडिंग्स एवं अन्य टैक्स्ट पर व्नजसपदम टपमू में थ्वतउंजपदह का प्रदर्शन नही होता है और डाॅक्यूमेण्ट का समस्त टैक्स्ट , हैडिंग्स एवं अन्य टैक्स्ट फाॅरमेटिंग आदि का प्रदर्शन ठवकल ज्मगज के रूप में होता है। यदि इस समय हमारे डाॅक्यूमेण्ट का प्रदर्शन इसी प्रकार का है तो इस आइकन का प्रयोग करने पर डाॅक्यूमेण्ट में टैक्स्ट की फाॅरमेटिंग के अनुरूप प्रदर्शित होता है।
च्तपदज च्तमअपमू
तैयार किए गए डाॅक्यूमेण्ट का प्रिन्ट पर किस प्रकार का प्राप्त होगा, यह जानने के लिए वर्ड 2002 के फाइल मेन्यू में दिए गए विकल्प च्तपदज च्तमअपमू अथवा स्टेण्डर्ड पर दिए गए टूल आइकन ;च्तपदज च्तमअपमूद्ध का प्रयोग करना होता है। इनका प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति च्तपदज च्तमअपमू ॅपदकवू का प्रदर्शन होता है। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए पहले टूल आइकन ;च्तपदजद्ध पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली फाइल का प्रिन्ट निकाला जा सकता है। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए दूसरे टूल आइकन ;डंहदपपिमतद्ध पर क्लिक करने पर माउस प्वाॅइन्टर का आकार प्रदर्शित होने वाले पृष्ठ पर लाते ही डंहदपपिदह ळसंेे के अनुरूप हो जाता है। इस डंहदपपिदह ळसंेे में $ का चिन्ह प्रदर्शित होता है। अब हमें अपने ज्मगज का जो भी भाग स्पष्ट रूप से देखना हो वहां माउस प्वाॅइन्टर को ले जाकर क्लिक करते है, तो वह भाग इस विन्डो में बड़ा होकर प्रदर्शित होता हैै और अब इस डंहदपपिदह ळसंेे में – का चिन्ह प्रदर्शित होगा । इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए तीसरे टूल आइकन ;व्दम च्ंहमद्ध पर क्लिक करने से डाॅक्यूमेण्ट के केवल एक पृष्ठ का च्तमपअपमू माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए चैथे टूल आइकन ;डनसजप च्ंहमद्ध पर क्लिक करते ही इसके नीचे एक अन्य बाॅक्स में 6 छोटे पृष्ठ (तीन काॅलम्स एवं दो लाइन्स) प्रदर्शित होते है। हम माॅनीटर स्क्रीन पर पृष्ठो का क्रम एवं संख्या इस बाॅक्स में पृष्ठो को चुनकर निर्धारित कर सकते है। यदि हमें 6 से अधिक पृष्ठो का एक साथ प्रिन्ट प्रिव्यू देखना है, तो इस बाॅक्स
च्ंहम 224
में माउस प्वाॅइन्टर को ड्रैग करना होगा। इस विन्डो में एक साथ अटठ्ारह पृष्ठो का प्रिन्ट प्रिव्यू माॅनीटर स्क्रीन पर देखा जा सकता है। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए पांचवे टूल आइकन र्;ववउद्ध टैक्स्ट बाॅक्स में पृष्ठ के प्रदर्शन के आकार को प्रतिशत में टाइप करने पर निर्धारित कर सकते है। इस टैक्स्ट बाॅक्स के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में 12 विकल्प दिए होते है, जिनमे से किसी एक को चुनकर हम स्क्रीन पर पृष्ठ या पृष्ठो का प्रदर्शन सुनिश्चित कर सकते है। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए छठें टूल आइकन ;टपमू त्नसमतेद्ध का प्रयोग प्रिन्ट प्रिव्यू विन्डो में रूलर्स का प्रदर्शन निर्धारित करने के लिए किया जाता है। यदि रूलर्स का प्रदर्शन हो रहा है, तो इस आइकन पर क्लिक करने पर प्रदर्शन बन्द हो जाएगा और यदि प्रदर्शन नही हो रहा है तो इस आइकन पर क्लिक करने पर रूलर्स का प्रदर्शन होगा। इस विन्डो की टूलबार पर दिए गए आठवें टूल आइकन ;थ्नसस ैबतममदद्ध पर क्लिक करते ही डपबतवेवजि ॅवतक की ज्पजसम ठंतए डमदन ठंतए त्नसमते ए ैबतवसस ठंत और ैजंजने ठंत प्रदर्शित होनी बन्द हो जाता है और माॅनीटर की पूरी स्क्रीन पर डाॅक्यमेण्ट के पृष्ठ का च्तपदज च्तमअपमू पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति होता है। इस प्रकार के प्रदर्शन में प्रिन्ट प्रिव्यू की टूलबार भी प्रदर्शित होती है। फूल स्क्रीन टूलबार भी इस विन्डो मे प्रदर्शित होती है। थ्नसस ैबतममद प्रिन्ट प्रिव्यू से बाहर निकालने के लिए फूल स्क्रीन टूलबार के टूल आइकन ब्सवेम थ्नसस ैबतममद पर अथवा टूलबार पर टूल आइकन थ्नसस ैबतममद पर पुनः क्लिक किया जाता है।
वर्ड 2002 में मेल-मर्ज
कभी-कभी पत्र-व्यवहार के दौरान पत्रो में सूचनाएं समान होती है, परन्तु पते सभी पत्रो के भिन्न-भिन्न होते है। सामान्यतः ऐसी परिस्थिति में हमें सभी ग्राहको केा पृथक्-पृथक् पर लिखने होते है, परन्तु वर्ड 2002 में हमे मेल-मर्ज के रूप में ऐसी सुविधा प्रदान की गई है कि हम एक ही पत्र भिन्न-भिन्न ग्राहको के नाम व पते प्रिन्ट कर सकते है।
च्ंहम 225
मेल का अर्थ होता है पत्र मर्ज का अर्थ होता है मिलाना । अतः मेल-मर्ज का तात्पर्य पत्रो को मिलना है। परन्तु किससे ? उत्तर है डेटा से , अर्थात् दिए गए डेटा के एक सेट से पत्र को मिलाना ही मेल-मर्ज कहलाता है। जब पत्र या आवेदन की बाॅडी अर्थात् कनटेन्ट्स अर्थात् टैक्स्ट एक समान हो, परन्तु डेटा , जैसे, व्यक्तियो अथवा संस्थाओ का नाम, उनका पता इत्यादि पृथक्-पृथक् हो, ऐसी परिस्थिति में एक ही कनटेन्ट्स या टैक्स्ट को सभी व्यक्तियो या संस्थाओ के लिए बार-बार टाइप करने के स्थान पर एक ही बार टाइप कर सभी व्यक्तियो या संस्थाओ के नाम, पता इत्यादि अर्थात् डेटा से मर्ज कर देना। उपरोक्त चर्चा से यह स्पष्ट होता है कि मेल-मर्ज करने के लिए दो फाइल्स की आवश्यकता होती है पहली, डाॅक्यूमेण्ट फाइल , जिसमें पत्र या आवेदन लिखा गया हो तथा दूसरी, डेटा फाइल जिसमें डेटा अर्थात् नाम व पते आदि , संचित हो।
वर्ड 2002 में पांच प्रकार की डाॅक्यूमेण्ट फाइल को मेल-मर्ज के लिए प्रयोग किया जा सकता है। यह डाॅक्यूमेण्ट है स्मजजमतेए म्.उंपस डमेेंहमेए म्दअमसवचमेए स्ंइमसे तथा क्पतमबजवतपमे।
डेटा सोर्स अथवा डेटा फाइल मे डेटा रिकाॅडर््स के रूप में संचित होता है; जैसे व्यक्तियो के नाम , पता , टेलीफोन नम्बर इत्यादि । प्रत्येक रिकाॅर्ड फील्ड्स का बना होता है। फील्ड डेटा फाइल की सबसे छोटी इकाई होती है। हम मेल-मर्ज करने के लिए निम्नलिखित में से किसी भी प्रकार डेटा सोर्स अथवा डेटा फाइल का प्रयोग कर सकते है
वर्ड में बनाया गया डेटा फाइल।
एक्सल में बनाया डेटा सोर्स तथा आउटलुक के स्टोर किए गए ब्वदजंबजे।
किसी भी डेटाबेस जैसे, कठंेमए थ्वगचतवए व्तंबसम तथा ैफस् ैमतअमत में बनाए गए डेटाबेस।
मेल-मर्ज करना
मेल-मर्ज करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होता है
वर्ड 2002 के थ्पसम मेन्यू के पहले विकल्प छमू का प्रयोग करके नया डाॅक्यूमेण्ट बनाते हैं अथवा पहले से बनी हुई किसी डाॅक्यूमेण्ट फाइल को इसके थ्पसम मेन्यू के व्चमद विकल्प का प्रयोग करके खोल लेते हैं हम मेल मर्ज विजार्ड का प्रयोग करके भी नया डाॅक्यूमेण्ट बना सकते है।
वर्ड 2002 के ज्ववसे मेन्यू के स्मजजमते ंदक डंपसपदहे विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में से डंपस डमतहम ॅप्रंतक विकल्प का प्रयोग करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर बाई ओर के संलग्न चित्र की भांति डंपस.डमतहम टास्क पेन प्रदर्शित होती है।
डंपस डमतहम विजार्ड में कुल मिलाकर छः ैजमचे होते है। टास्क पेन विन्डो में होने वाला यह प्रदर्शन विजार्ड का पहला ैजमच होता है। यहां पर ैमसमबज कवबनउमदज जलचम के नीेचे पांच प्रकार के डाॅक्यूमेण्ट्स दिए गए होते है। इनमे से किसी एक प्रकार के डाॅक्यूमेण्ट केा हमें चुनना होता है। उदाहरण के लिए हम यहां पर पहले विकल्प स्मजजमते को चुनते है।
अब नीचे छमगजरू ेजंतजपदह कवबनउमदज पर क्लिक करने पर इस टास्कपेन विन्डो का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर पर दाई ओर के संलग्न चित्र की भांति होता है। यहां पर ैमसमबज
च्ंहम 226
ेजंतजपदह कवबनउमदज नीचे तीन विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। यदि हम अभी मेल-मर्ज के लिए पत्र को टाइप करना चाहते है, तो न्ेम जीम बनततमदज कवबनउमदज रेडियो पर क्लिक करते है, यदि हम किसी पहले से बनी डाॅक्यूमेण्ट फाइल, जिसमें हमने पत्र को टाइप कर रखा है, को मेल-मर्ज के लिए प्रयोग करना चाहते है, तोे ैजंतज तिवउ मगपेजपदह कवबनउमदज रेडियो बटन पर क्लिक करते है। अब इस टास्क पेन विन्डो में नीचे ैजंतज तिवउ मगपेजपदह के नीच एक लिस्ट बाॅक्स प्रदर्शित होता है, जिसमें डाॅक्यूमेण्ट फाइल का प्रदर्शन होता हे। यदि हमारी डाॅक्यूमेण्ट फाइल इस लिस्ट बाॅक्स में नही है, तो इस लिस्ट बाॅक्स में एक विकल्प डवतम पिसमे दिया होता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर व्चमद डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में से हम वांछित डाॅक्यूमेण्ट फाइल को चुन सकते है। रेडियो बटन ैजंतज तिवउ जमउचसंजम को चुनकर हम वर्ड 2002 में पूर्व परिभाषित टेम्पलेट फाइल के आधार अपना डाॅक्यूमेण्ट तैयार कर सकते है। उदाहरण के लिए हम यहां पर इसी विकल्प को चुनते है। इस रेडियो बटन को चुनने पर टास्क पेन में एक नया विकल्प ैमसमबज ज्मउचसंजम नीले रंग में प्रदर्शित होने लगता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैमसमबज ज्मउचसंजम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता हैं इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रदर्शित हो रही विभिन्न टेम्पलेट फाइल्स में से वांछित टेम्पलेट फाइल को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है। उदाहरण के लिए हमने इन टेम्पलेट फाइल्स में
च्ंहम 227
से च्तवमिेेपवदंस डमतहम स्मजजमत टेम्पलेट को चुनकर पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक किया , अब माॅनीटर स्क्रीन पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र की भांति यह टेम्पलेट फाइल खुलकर प्रदर्शित होती है। इस डाॅक्यूमेण्ट फाइल में ब्वउचंदल छंउम भ्मतम के स्थान पर हम अपनी कम्पनी का नाम टाइप करते है, ख्ब्सपबा ीमतम ंदक जलचम तमजनतद, पर क्लिक करके अपनी कम्पनी का पता टाइप करते हैं तथा ज्लचम लवनत समजजमत ीमतम ण् के स्थान पर अपना पत्र टाइप करते है। इसमे नीचे ख्ब्सपबा ीमतम ंदक जलचम लवनत दंउम, पर क्लिक करके पत्र भेजने वाले व्यक्ति का पदनाम टाइप करते है। निम्नांकित चित्र में हमने टेम्पलेट के आधार पर पत्र को तैयार कर लिया है
अब नीेचे छमगजरूेजंतजपदह तमबपमचपमदजे पर क्लिक करने पर इस टास्कपेन विन्डो का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता है। इस प्रदर्शन में भी तीन विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। पहले रेडियो बटन न्ेम ंद मगपेजपदह सपेज का प्रयोग किसी पहले से निर्मित डेटा फाइल को प्रयोग करने के लिए किया जाता है। दूसरे रेडियो बटन ैमसमबज तिवउ व्नजसववा बवदजंबजे प्रयोग माइक्रोसाॅफ्ट आउटलुक में तथा किए गए काॅन्टैक्ट्स को डेटा फाइल के रूप में प्रयोग करने डेटा फाइल बनाने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए हम इस टास्क पेन विन्डो में तीसरे रेडियो बटन को चुनते है। अब इस विन्डो में नीेच ज्लचम ं दमू सपेज के नीचे नीले रंग में ब्तमंजम संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होता है। इस पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति छमू ।ककतमेे स्मेज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के ।ककतमेे प्दवितउंजपवद वाले भाग में हम पहले व्यक्ति के पते के बारे में विभिन्न जानकारियों टाइप करते है। यदि हम
च्ंहम 228
इस डायलाॅग बाॅक्स में मांगी गई सभी सूचनाओ को प्रविष्ट न करना चाहे , तो उन्हे रिक्त भी छोड़ सकते है और हम इस डायलाॅग बाॅक्स की विभिन्न फील्ड्स को ब्नेजवउप्रम भी कर सकते है। इनको कस्टामाइज करने के लिए छमू ।ककतमेे स्पेज डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ब्नेजवउप्रम पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर ब्नेजवउप्रम ।ककतमेे स्पेज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में थ्पमसक छंउमे के नीचे ।ककतमेे स्पेज की विभिन्न फील्ड्स के नाम प्रदर्शित होते है। इनमे से हम जिन्हे अपने लिए अनुपयुक्त पाते हैं, उनको एक-एक करके चुनते है और पुश बटन क्मसमजम पर क्लिक करते है। इससे ये फील्ड्स ।ककतमेे स्पेज में से मिट जाती है अपनी ।ककतमेे स्पेज मे से मिट जाती है अपनी ।ककतमेे स्पेज में नई फील्ड को जोड़ने के लिए हमें पुश बटन ।कक पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ।कक थ्पमसक डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में वांछित फील्ड का नाम टाइप करके पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है। पुश बटन त्मदंउम का प्रयोग किसी फील्ड के नाम को परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। पुश बटन डवअम न्च का प्रयोग चुनी गई फील्ड के नाम को ऊपर की ओर विस्थापित करने तथा डवअम क्वूद का प्रयोग नीचे की ओर विस्थापित करने के लिए किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस छमू ।ककतमेे स्पेज डायलाॅग बाॅक्स में आ जाते है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे अब फील्ड्स हमारे द्वारा किए कए निर्धारण के अनुरूप् प्रदर्शित होती है।
अब इस डायलाॅग बाॅक्स में पहले पते के लिए आवश्यक सूचनाओ की प्रविष्टि करने के उपरान्त पुश बटन छमू म्दजतल पर क्लिक करने पर यह पता रिकाॅर्ड हो जाता है और दूसरे पते के लिए आवश्यक सूचनाओ को ग्रहण करने के लिए यह डायलाॅग बाॅक्स पुनः रिक्त होने लगता है। इस प्रकार सभी पतो की प्रविष्टि करने के लिए उपरान्त पुश बटन ब्सवेम पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैंअम ।ककतमेे स्पेज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। यहां पर हम इस ।ककतमेे स्पेज को थ्पसम दंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में एक नाम टाइप करके पुश बटन ैंअम पर क्लिक करके ैंअम कर लेते है।
अब माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति डंपस डमतहम त्मबपमचपमदजे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में प्रत्येक पता एक पृथक् पंक्ति में प्रदर्शित होता है तथा प्रत्येक पते से पहले एक चैक बाॅक्स
च्ंहम 229
भी प्रदर्शित होता है। इनमें से जिस-जिस पते पर हमें यह पत्र भेजना है, उस-उस पते के चैक बाॅक्स पर क्लिक करके उसे चुन लेते है। संलग्न चित्र में हमना दोनो पतो को चुन रखा है। इस डायलाॅग बाॅक्स के पुश बटन ैमसमबज ।सस पर क्लिल करके हम इस ।ककतमेे स्पेज के सभी पतों को चुन सकते है। पुश बटन ब्समंत ।सस पर क्लिक करने से भी पतो के पहले बने चैक बाॅक्स रिक्त हो जाते है। पुश बटन म्कपज पर क्लिक करने से इस डायलाॅग बाॅक्स में चुने गए पते के लिए प्रविष्ट की गई विभिन्न सूचनाओ को सम्पादित करने के लिए छमू ।ककतमेे स्पेज के समान ही डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग करना हम पहले सीख चुके है। इस डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते ही हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में पहुंच जाते है।
अब नीचे छमगज रू ूतपजम जव लवनत समजजमत पर क्लिक करने पर इस टास्कपेन विन्डो का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति होता हे। इस प्रदर्शन में ।ककतमेे इववा पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर दाई ओर दिए गए संलग्न चित्र की भांति प्देमतज ।ककतमेे इववा डायलाॅग बाॅक्स का प्रदर्शन होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हमें यह सुनिश्चित करना होता है कि प्राप्तकर्ता का पता पत्र में किस फाॅरमेट में प्रदर्शित होगा। इस डायलाॅग बाॅक्स के पहले चैक बाॅक्स प्देमतज तमबपचपमदजष्े दंउम पद जीपे वितउंज को चुनने पर इसके दिया गया लिस्ट बाॅक्स सक्रिय हो जाता है। इस लिस्ट बाॅक्स में से वांछित फाॅरमेट को चुनकर हम प्राप्तकर्ता के नाम की फाॅरमेट को निर्धारित कर सकते है। यदि पते में कम्पनी का नाम भी सम्मिलित करना है, तो दूसरे चैक बाॅक्स प्देमतज बवउचंदल दंउम को चुन लेते है। तीसरे चैक बाॅक्स प्देमतज चवेजंस ंककतमेे को चुनने से इसके नीचे रेडियो बटन्स के रूप में दिए गए तीन विकल्प भी सक्रिय हो जाते है। इन विकल्पो का प्रयोग पते की फाॅरमेट का निर्धारण करने के लिए किया जाता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते ही हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में पहुंच जाते है।
टास्क पेन विन्डो में ळतममजपदह सपदम पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ळतममजपदह स्पदम डायलाॅग बाॅक्ण्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए विभिन्न विकल्पो
च्ंहम 230
का प्रयोग ळतममजपदह स्पदम की फाॅरमेट को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। वांछित निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते ही हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में पहुंच जाते है।
अब नीचे छमगजरूचतमअपमू लवनत समजजमते पर क्लिक करने पर इस वर्ड 2002 की डाॅक्यूमेण्ट विन्डो तथा टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति होता है
इस प्रदर्शन में टास्क पेन विन्डो में च्तमअपमू ल्वनत स्मजजमते के नीचे दिए गए डबल लेफ्ट तथा राइट ऐरो पर क्लिक करके हम एक-एक कर मेल-मर्ज के परिणाम को देख सकते है। परिणाम को देखते समय यदि हम पाते है, कि किसी पते पर पत्र को नही भेजना है, तो टास्क पेन विन्डो पर स्थित म्गबसनकम जीपे तमबपचपमदज बटन पर क्लिक करके हम इसे निरस्त कर सकते है।
अब नीेचे छमगजरू ब्वउचसमजम जीम उमतहम पर संलग्न चित्र की भांति डमतहम जव च्तपदजमत डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में तीन विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। पहले रेडियो बटन ।सस को चुनने पर सभी पतो पर पत्र का प्रिन्ट प्राप्त होता है, दूसरे रेडियो बटन ब्नततमदज त्मबवतक को चुनने पर वर्तमान पता , जोकि डाॅक्यूमेण्ट में प्रदर्शित हो रहा है, के लिए पत्र का प्रिन्ट प्राप्त होता है। तीसरे विकल्प थ्तवउ३ज्व३ण्ण् में थ्तवउ के सामने दिए गए बाॅक्स
च्ंहम 230
मेल मर्जिंग का मुख्य डाॅक्यूमेण्ट , वह पत्र होता है, जिसमें सूचनाएं संचित तथा डेटा सोर्स वह फाइल है, जिसमें हमने पतो को संग्रहीत किया हुंआ है। ब्तमंजम क्ंजं ैवनतबम डायलाॅग बाॅक्स में फील्ड्स का नाम निर्धारित करते समय यह अवश्य ध्यान रखे कि इसमें अक्षरों, अंको एवं विशेष चिन्ह ऋ ;न्दकमत ैबवतमद्ध के अतिरिक्त कोई अन्य विशेष चिन्ह एवं स्पेस का प्रयोग न किया गया हो।
में उस रिकाॅर्ड संख्या को टाइप करते है, जिस रिकाॅर्ड संख्या से हमे पत्रो के प्रिन्ट चाहिएं तथा ज्व के सामने दिए गए बाॅक्स में उस रिकाॅर्ड संख्या को टाइप करते है, जिस रिकाॅर्ड संख्या तक के पत्रो के प्रिन्ट हमें प्राप्त करने है।
यदि हमको डंपस.डमतहम के परिणाम को प्रिन्ट न करके किसी डाॅक्यूमेण्ट फाइल के रूप में संचित करके उसका सम्पादन के पश्चात् करना हो, तो फाइल के रूप में संचित करके उसका सम्पादन करने के पश्चात् प्रिन्ट करना हो, तो टास्क पेन में डमतहम के नीेचे दिए गए म्कपज प्दकपअपकनंस स्मजजमते नामक विकल्प पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति डमतहम जव छमू क्वबनउमदज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का अध्ययन करनेे पर हम पाते है, कि इसमें दिए गए विकल्प डमतहम जव च्तपदजमत डायलाॅग बाॅक्स के समान ही है। हम यहां भी अपनी आवश्यकतानुसार रिकाॅडर््स का चुनाव करके पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते है, तो मुख्य डाॅक्यूमेण्ट तथा डेटा सोर्स आपस में मर्ज होकर एक नए डाॅक्यूमेण्ट स्मजजमत1 के रूप में सुरक्षित हो जाते है तथा स्मजजमत1 डाॅक्यूमेण्ट वर्ड में खुलकर प्रदर्शित होती है। इस डाॅक्यूमेण्ट में जब हम स्क्राॅल करके देखते हैं, तो पाते हैं कि इसमें उतने पत्र स्वतः ही तैयार हो गए है, जितने रिकाॅर्ड्स को अपने डेटा सोर्स से स्लेक्ट किया था। ये सभी पत्र अलग-अलग पृष्ठ में होते है।
वर्ड 2002 में स्टाइल्स का प्रयोग
विभिन्न कार्यालयो में विभिन्न डाॅक्यूमेण्ट फाइल्स अलग-अलग स्टाइल से बनती है, जैसे किसी डाॅक्यूमेण्ट में किसी खास फाॅन्ट स्टाइल , फान्ट आकार , रंग नम्बरिंग इत्यादि का प्रयोग । यदि हमको डाॅक्यूमेण्ट में एक ही प्रकार का फाॅरमेट बार-बार बनाना पडे़ , तो उसकी बार-बार फाॅरमेटिंग करना एक कठिन कार्य होगा। वर्ड 2002 हमें फाॅरमेटिंग का कार्य करने के लिए एक क्लिक भर करने की सुविधा भी प्रदान करता है।
वर्ड 2002 में हम किसी डाॅक्यूमेण्ट के फाॅरमेटिंग में प्रयुक्त होने वाले फाॅन्ट स्टाइल , फाॅन्ट आकार , रंग , कैरेक्टर अथवा पैराग्राफ का एलाइनमेन्ट इत्यादि को किसी एक स्टाइल के रूप मे स्टोर कर सकते है और अब हम किसी टैक्स्ट को चुनकर उसके लिए इस स्टाइल का निर्धारण कर सकते है। वर्ड 2002 में निम्नलिखित चार प्रकार के स्टाइल्स उपलब्ध है
ब्ींतंबजमत ैजलसमे यह स्टाइल टैक्स्ट पर केवल फाॅन्ट स्टाइल , फाॅन्ट का आकार , रंग आदि को प्रभावी करने के लिए प्रयोग की जाती है।
च्ंतंहतंची ैजलसमे यह स्टाइल ब्ींतंबजमत ैजलसम की सुविधाओ के अतिरिक्त पैराग्राफ का इन्डेन्ट तथा एलाइनमेन्ट को भी प्रभावी करने के लिए प्रयोग की जाती है। वर्ड 2002 में जब भी हम कोई नया डाॅक्यूमेण्ट बनाते है, तो डाॅक्यूमेण्ट के पैराग्राफ की ठल क्मंिनसज पैराग्राफ स्टाइल छवतउंस होती है। छवतउंस पैराग्राफ स्टाइल में फाॅन्ट ज्पउमे छमू त्वउंद ए फाॅन्ट का आकार 12च्जए पैराग्राफ लेफ्ट एलाइन्ड, लैंग्वेज म्दहसपेी ;न्ण्ैण्द्ध तथा स्पेसिंग सिंगल होती है।
च्ंहम 232
स्पेज ैजलसमे लिस्ट स्टाइल का प्रयोग बुलेट्स और नम्बरिंग के लिए किया जाता है। वर्ड 2002 में पूर्व-परिभाषित अनेक लिस्ट स्टाइल्स है।
ज्ंइसम ैजलसम टेबल स्टाइल का प्रयोग विभिन्न प्रकार के टेबिल की फाॅरमेटिंग करने के लिए किया जाता है।
किसी स्टाइल को प्रभावी करना
जब भी हम किसी हुए डाॅक्यूमेण्ट को ओपन करते है, तो फाॅरमेटिंग टूलबार के दाई आरे ैजलसमे ंदक थ्वतउंजजपदह टूल बटन प्रदर्शित होता है। जब हम इस टूल आइकन पर क्लिक करते है, तो डाॅक्यूमेण्ट विन्डो में दाई ओर ैजलसमे ंदक थ्वतउंजजपदह टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन संलग्न चित्र की भांति होता है। इस टास्क पेन में , च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में दिए गए किसी स्टाइल का प्रयोग करने के लिए उस स्टाइल पर केवल एक क्लिक भर करना पड़ता है, परन्तु इससे पूर्व हमें जिस टैक्स्ट पर इस स्टाइल्स के नाम के बाद ं प्रदर्शित होता है, वे ब्ींतंबजमत ैजलसमे होती है; जिनक नाम के बाद फ् प्रदर्शित होता है, वे च्ंतंहतंची ैजलसमे होती हैं; जिनके नाम के बाद प्रदर्शित होता है, वे स्पेज ैजलसमे होती है तथा जिनके नाम के बाद प्रदर्शित होता है, वे ज्ंइसम ैजलसमे होती है।
ैजलसम ंदक थ्वतउंजजपदह टास्क पेन वर्ड 2002 के अन्य स्टाइल्स को प्रदर्शित करने के लिए , इस टास्क पेन विन्डो में सबसे नीेच ैीवू के सामने दिए गए लिस्ट बाॅक्स पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाली सूची में चार विकल्प होते है। इन चारो विकल्पो का विवरण निम्नालिखित है
।अंपसंइसम थ्वतउंजजपदह इस विकल्प को चुनने पर च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में वर्ड 2002 करने कि लिए , इस टास्क पेन विन्डो में सबसे विन्डो में सबसे नीचे ैीवू के सामने दिए गए लिस्ट बाॅक्स पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाली सूची में चार विकल्प होते है। इन चारो विकल्पो का विवरण निम्नलिखित है
।अंपसंसम थ्वतउंजजपदह इस विकल्प को चुनने पर च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में वर्ड 2002 की अन्तः निर्मित मूलभूत पैराग्राफ , कैरेक्टर , लिस्ट तथा टेबिल स्टाइल्स के नाम तथा विकल्प ब्समंत थ्वतउंजजपदह प्रदर्शित होते है।
थ्वतउंजजपदह पद न्ेम इस विकल्प को चुनने पर च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में वर्तमान में खुल हुए डाॅक्यूमेण्ट मे प्रभावी किए गए विभिन्न स्टाइल्स के नाम तथा ब्समंत थ्वतउंजजपदह विकल्प प्रदर्शित होते है।
।अंपसंइसम ैजलसमे इस विकल्प को चुनने पर च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में वर्ड 2002 की अन्तः निर्मित मुल स्टाइल्स तथा हमारे द्वारा बनाई गई नई स्टाइल्स के साथ ब्समंत थ्वतउंजजपदह विकल्प प्रदर्शित होता है।
।सस ैजलसमे इस विकल्प को चुनने पर च्पबा वितउंजजपदह जव ंचचसल बाॅक्स में वर्ड 2002 में समस्त अन्तः निर्मित स्टाइल्स तथा हमारे द्वारा बनाई गई स्टाइल्स प्रदर्शित होती हैं।
वर्ड 2002 में अपनी स्टाइल बनाना
वर्ड 2002 में अपनी स्टाइल बनाने के लिए ैजलसम ंदक थ्वतउंजजपदह टास्क पेन विन्डो में दिए गए बटन छमू ैजलसम पर क्लिक करना होता है। इस बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स मे नई स्टाइल के निर्माण के लिए निम्नांकित प्राॅपर्टीज का निर्धारण करते है
छंउम छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स में छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में बनाई जा रही नई स्टाइल का नाम टाइप किया जाता है।
च्ंहम 233
ैजलसम ज्लचम छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स में ैजलसम ज्लचम के सामने दिए गए लिस्ट बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से बनाई जा रही नई स्टाइल का प्रकार निर्धारित किया जाता है। इस सूची में चार विकल्प च्ंतंहतंचीए ब्ींतंबजमतए ज्ंइसम तथा स्पेज होते है।
ैजलसम ठंेम वद छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स मंे ैजलसम इंेमक वद के सामने दिए गए लिस्ट बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में ैजलसम जलचम लिस्ट बाॅक्स में चुने गए स्टाइल प्रकार की वर्ड 2002 में अन्तः निर्मित विभिन्न स्टाइल्स के नाम प्रदर्शित होते है। बनाई जा रही नई स्टाइल इनमें से जिस स्टाइल के आधार बनाई जानी है, उसे चुन लिया जाता है।
ैजलसमे वित थ्वससवूपदह च्ंतंहतंची छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स में ैजलसमे वित थ्वससवूपदह च्ंतंहतंची के सामने दिए गए लिस्ट बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में ैजलसम जलचम लिस्ट बाॅक्स में चुने गए स्टाइल प्रकार की वर्ड 2002 में अन्तः निर्मित विभिन्न स्टाइल्स के नाम प्रदर्शित होते है। बनाई जा रही नई स्टाइल जिस पैराग्राफ पर प्रभावी होगी , उसके बाद वाले पैराग्राफ पर इनमे से जिस स्टाइल को प्रभावी किया जाना है, उसे चुन लिया जाता है।
बनाई जा रही स्टाइल के लिए फाॅन्ट, पैराग्राफ एलाइनमेन्ट, टैब्स , बाॅर्डर इत्यादि निर्धारित करने के लिए छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश थ्वतउंज पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग किया जाता है। इस मेन्यू में थ्वदजए च्ंतंहतंचीए ज्ंइेए ठवतकमतए स्ंदहनंहम इत्यादि विकल्प प्रदर्शित होते है। हम अपनी आवश्यकतानुसार इन विकल्पो का चुनाव कर स्टाइल की विभिन्न प्राॅपर्टीज का निर्धारण कर सकते है। हम अपनी आवश्यकतानुसार इन विकल्पो का चुनाव कर स्टाइल की विभिन्न प्राॅपर्टीज का निर्धारण कर सकते है। यदि हम बनाई जा रही नई स्टाइल के लिए किसी शाॅर्टकट ‘की‘ का निर्धारण भी करना चाहते हैं, तो इस मेन्यू के ैीवतजबनज ामल विकल्प पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ब्नेजवउप्रम ज्ञमलइवंतक डायलाॅग बाॅक्स में च्तमेे दमू ेीवतजबनज ामल के नीेचे दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में शाॅर्टकट ‘की‘ को निर्धारित करने के लिए की-बोर्ड पर ।सज अथवा ब्जतस ‘की‘ के साथ वांछित ‘की‘ को दबाते है। अब पुश बटन ब्सवेम पर क्लिक करने पर हम वापस छमू ैजलसम डायलाॅग बाॅक्स में आ जाते है। यदि हम यह चाहते हैं, कि बनाई जाने वाली नई स्टाइल्स को वर्ड 2002 के किसी भी डाॅक्यूमेण्ट पर प्रभावी किया जाने वाली नई स्टाइल को केवल वर्तमान मे खुले हुए डाॅक्यूमेण्ट पर ही प्रभावी करना चाहते है, तो ।कक जव जमउचसंजम चेक बाॅक्स को रिक्त ;न्दबीमबामकद्ध ही रहने देते है।
अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर नई स्टाइल दिए गए नाम के साथ बनकर टास्क पेन विन्डो मे प्रदर्शित होती है। अब हम अपनी आवश्यकतानुसार इस स्टाइल का प्रयोग कर सकते है।
वर्ड 2002 में स्टाइल को मिटाना
वर्ड 2002 में किसी स्टाइल को मिटाने के लिए ैजलसम ंदक थ्वतउंजजपदह टास्क पेन विन्डो में उस स्टाइल पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर इसके दाएं सिरे पर प्रदर्शित होने वाले डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले मेन्यू के विकल्प क्मसमजम पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाले सन्देश बाॅक्स , जिसमें क्व लवन ूंदज जव क्मसमजम ैजलसम ढैजलसम छंउमझ सन्देश प्रदर्शित हो रहा है, में पुश बटन ल्मे पर क्लिक करते है।
च्ंहम 234
वर्ड 2002 में उन स्टाइल्स को नही मिटाया जा सकता, तो अन्तः निर्मित तथा पूर्व परिभाषित होती है, को नही मिटाया जा सकता। इस प्रकार की स्टाइल्स पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर इसके दाई ओर प्रदर्शित होने वाले डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले मेन्यू में क्मसमजम विकल्प निष्क्रिय अथवा अनुपलब्ध होता है।
वर्ड 2002 में हाइपरलिंक का प्रयोग
हाइपरलिंक का प्रयोग किसी डाॅक्यूमेण्ट में अथवा एक डाॅक्यूमेण्ट से दूसरे डाॅक्यूमेण्ट में सम्बन्धित टैक्स्ट में छमहंजपअम अर्थात् डवअम करने के लिए किया जाता है। डाॅक्यूमेण्ट में हाइपरलिंक का प्रयोग ॅवतसक ॅपकम ॅमइ की किसी वेबसाइट को भी लिंक करने के लिए किया जा सकता है। हाइपरलिंक का प्रयोग हम न केवल वर्ड 2002 क डाॅक्यूमेण्ट पर कर सकते हैं, वरन् वर्ड 2002 में रहते हुए पावरप्वाॅइन्ट के प्रेजेन्टेशन अथवा एक्सल की वर्कशीट पर प्रयोग करके उसे वर्ड के डाॅक्यूमेण्ट के किसी टाॅपिक से लिंक कर सकते है।
हम हाइपरलिंक का प्रयोग कब करे, इसके लिए एक उदाहरण लेते है। मान लीजिए हमने वर्ड 2002 में ळतमंज च्मतेवदे नामक से एक फाइल बनाई है, जिसमें कुछ महान् पुरूषों के नाम इस प्रकार लिखे गए हैं
ळतमंज च्मतेवदे व िप्दकपं
ैनइींेी ब्ींदकतं ठवेम
ठींहंज ैपदही
ब्ींदकतंेीमाींत ।्रंक
स्ंसं स्ंरचंज त्ंप
ठपचपद ब्ींदकतं च्ंस
ठंस ळंदहंकींत ज्पसंा
ब्सपबा वद ंदल दंउम जव ादवू ंइवनज ीपउ पद कमजंपसण्
अब हम यह चाहते हैं, कि हम जिस नाम पर भी क्लिक करें, उस महान् पुरूष की जीवनी, जोकि हमने अन्य डाॅक्यूमेण्ट्स में टाइप कर रखी है, प्रदर्शित हो। हमें इसके लिए ऊपर दर्शाए गए प्रत्येक नाम उनसे सम्बन्धित डाॅक्यूमेण्ट से हाइपरलिंक करना होगा । अब हम किसी नाम पर क्लिक करने के पश्चात् सम्बन्धित फाइल को पढ़ने के पश्चात् पुनः ळतमंज च्मतेवदे फाइल से हाइपरलिंक करना होगा।
इस प्रकार का हाइपरलिंक स्थापित करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
डाॅक्यूमेण्ट फाइल को खोलकर हम उस टैक्स्ट अर्थात् नाम को चुन लेते है, जिसे हाइपरलिंक करना है।
अब वर्ड के प्देमतज मेन्यू के विकल्प भ्लचमतसपदा का प्रयोग करते है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्देमतज भ्लचमतसपदा डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इसी कार्य को हम वांछित टैक्स्ट को चुनने के पश्चात् माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के विकल्प भ्लचमतसपदा का प्रयोग करके भी कर सकते है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित फोल्डर में जाकर वांछित फाइल को चुन लेते है। अब इस फाइल का नाम पाथ सहित ।ककतमेे के सामने दिए गए टैक्स्ट में प्रदर्शित होने लगता है।
अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम वापस अपने डाॅक्यूमेण्ट में आ जाते है परन्तु अब चुना गया टैक्स्ट
च्ंहम 235
नीले रंग का तथा रेखांकित प्रदर्शित होने लगता है। इसी प्रकार हम डाॅक्यूमेण्ट के अन्य टैक्स्ट के लिए भी हाइपरलिंक का प्रयोग कर सकते है।
जब हम हाइपरलिंक टैक्स्ट पर माउस प्वाॅइन्टर को लाते है, तो एक पीले रंग के बाॅक्स में उस फाइल का नाम लोकेशन के साथ प्रदर्शित होगा तथा इस हाइपरलिंक टैक्स्ट को प्रयोग करने के लिए ब्जतस़ब्सपबा करने की स्क्रीन टिप भी उसी बाॅक्स में प्रदर्शित होती है अर्थात् यदि हम हाइपरलिंक्ड टैक्स्ट का प्रयोग करना चाहते है, तो की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाते हुए हाइपरलिंक्ड टैक्स्ट पर क्लिक करते है। परिणामस्वरूप वह फाइल खुल जाती है, जोकि इस टैक्स्ट से हाइपरलिंक्ड है।
अब इस फाइल से वापस अपनी फाइल में जाने के लिए इसमें सबसे नीचे ठंबा टाइप करके इसे अपनी मूल फाइल ळतमंज च्मतेवदे से हाइपरलिंक कर देते है। अब की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाते हुए हाइपरिलंक्ड टैक्स्ट ठंबा पर क्लिक करने पर हम वापस ळतमंज च्मतेवदे डाॅक्यूमेण्ट में पहुंच जाते है। इस प्रकार हम हाइपरलिंक के प्रयोग द्वारा एक डाॅक्यूमेण्ट से दूसरे डाॅक्यूमेण्ट में नेवीगट कर सकते है।
डाॅक्यूमेण्ट को प्रिन्ट करना
हमारा डाॅक्यूमेण्ट एक पृष्ठ अनेक पृष्ठो का हो सकता है। डाॅक्यूमेण्ट को बेहतर ढंग से प्रिन्ट करके उसकी हार्ड काॅपी (प्रिन्टेड पेपर) निकालने के लिए पृष्ठ का ओरिएन्टेशन तथा आकार निर्धारित करना पड़ता है। पृष्ठ को ओरिएन्टेश्ज्ञन तथा आकार आदि निर्धारित करने के लिए हम थ्पसम मेन्यू के विकल्प च्ंहम ैमजनच का प्रयोग करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स का प्रयोग करना हम इसी अध्याय में पृष्ठ 160 पर बता चुके है।
डाॅक्यूमेण्ट के पृष्ठ के निर्धारण पश्चात् वर्ड 2002 के थ्पसम मेन्यू के विकल्प च्तपदज च्तमअपमू का प्रयोग करके, फाइल के प्रिन्ट होने से पूर्य ही प्रिन्ट किस प्रकार का प्राप्त होगा, यह माॅनीटर स्क्रीन पर ही देख सकते है। इसके प्रदर्शन के बारे मे हम पृष्ठ 223 पर विस्तृत जानकारी प्राप्त कर चुके है। हम इस प्रदर्शन में च्तपदज टूल बटन पर क्लिक करके भी प्रिन्ट प्राप्त कर सकते है।
यदि हमने थ्पसम मेन्यू के च्तपदज विकल्प अथवा स्टैण्डर्ड टूलबार पर स्थित च्तपदज टूल बटन का प्रयोग किया है, तो माॅनीटर स्क्रीन पर अग्रांकित चित्र की भांति च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए विभिन्न विकल्पो का प्रयोग हम निम्नलिखित कार्यो के लिए कर सकते है
दुसरा प्रिन्टर चुनने के लिए च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स मे छंउम के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में वर्तमान
च्ंहम 236
क्मंिनसज प्रिन्टर का नाम प्रदर्शित हो रहा होता है। यदि हम कोई अन्य प्रिन्टर चुनना चाहते है, तो इस सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्ज्ञिित डाउन ऐरो पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाले सूची में हमारे कम्पयुटर में स्थापित विभिन्न प्रिन्टर्स के नाम प्रदर्शित होते है। इस सूची में से वांछित प्रिन्टर का नाम चुना जा सकता है।
डाॅक्यूमेण्ट को फाइल पर प्रिन्ट करने के लिए च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स में च्तपदज जव थ्पसम चैक बाॅक्स को चुनकर हम डाॅक्यूमेण्ट को प्रिन्टर पर न प्रिन्ट कर फाइल के रूप मे प्रिन्ट कर सकते है, जिससे कि डाॅक्यमेण्ट (फाइल) किसी ऐसे कम्पयूटर जिससे वर्ड को स्थापित नही किया गया है, से भी प्रिन्ट हो सके। इस चैक बाॅक्स को चुनकर जब हम प्रिन्ट डायलाॅग बाॅक्स में व्ज्ञ पर क्लिक करते है तो च्तपदज जव थ्पसम डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में यह निर्धारित किया जाता है कि यह प्रिन्ट फाइल किस स्थान पर ैंअम हो।
केवल वांछित पृष्ठो के प्रिन्ट प्राप्त किया जा सकता है। च्ंहम त्ंदहम वाले भाग में यह निर्धारित किया जाता है कि फाइल के कितने पृष्ठो का प्रिन्ट निकाला जाना है? इस भाग में दिए गए विकल्प ।सस को चुनकर हम सम्पूर्ण क्वबनउमदज फाइल का प्रिन्ट प्राप्त कर सकते है, ब्नततमदज च्ंहम को चुनकर हम केवल उस पृष्ठ का प्रिन्ट निकाल सकते हैं, जिस पृष्ठ पर कर्सर स्थित है; ैमसमबजपवद को चुनकर हम फाइल के चुने गए पृष्ठो का प्रिन्ट निकाल सकते है एवं च्ंहमे के सामने दिए गए बाॅक्स में हमें उन चुने फाइल के चुने हुए पृष्ठो के बारे में सूचना देनी होती है, जिन्हें कि हम प्रिन्ट करना चाहते है, जैसे यदि हमें अपनी फाइल के 1,3,6,7 और 16 पृष्ठ संख्या का पृष्ठ निकालना है तो इस बाॅक्स में हम यह सूचना इस प्रकार देंगे 1,3-7,161 यदि हम क्वबनउमदज से पहले इससे सम्बन्धित म्दअमसवचम भी प्रिन्ट करना चाहते है तो यहां पर हम 0 टाइप करेंगे।
डाॅक्यूमेण्ट के सम या विषम पेजो की प्रिंटिंग के लिए च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स में च्तपदज के सामने दिए गए बाॅक्स में प्रिन्ट किए जाने वाले पृष्ठो का क्रम निश्चित करते है, इस बाॅक्स के दाई ओर दिए गए बाॅक्स पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से किसी एक विकल्प को चुना जाता है। ये विकल्प हैं ।सस च्ंहमे पद त्ंदहम रू इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम बाॅक्स में चुने गए सभी पृष्ठो का प्रिन्ट पहले पृष्ठ से शुरू करके प्राप्त किया जाता है। व्कक च्ंहमे रू इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम बाॅक्स में चुने गए पृष्ठो में से केवल विषम संख्या वाले पृष्ठो का प्रिन्ट प्राप्त किया जा सकता है। म्अमद च्ंहमे रू इस विकल्प को चुनने पर च्ंहम बाॅक्स में चुने गए पृष्ठो में से केवल सम संख्या वाले पृष्ठो का प्रिन्ट प्राप्त किया जा सकता है।
च्ंहम 237
पृष्ठो की एक से अधिक काॅपी लेने के लिए च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स में छनउइमत व िब्वचपमे के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स में यह निर्धरति किया जाता है कि हम जो प्रिन्ट निकाल रहे है उसकी कितनी काॅपी प्रिन्ट करनी है?
एक पृष्ठ पर अधिक पृष्ठो की प्रिंटिंग के लिए च्तपदज डायलाॅग बाॅक्स में च्ंहमे च्मत ैीममज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित पृष्ठ संख्या चुनकर एक प्रिन्ट में डाॅक्यूमेण्ट के एक से अधिक पृष्ठो के प्रिन्ट प्राप्त कर सकते है।
वर्ड 2002 के विन्डो मेन्यू में दिए गए विकल्पो का प्रयोग
वर्ड 2002 के विन्डो मेन्यू के दो भाग होते है। पहले भाग मे विकल्प एवं दूसरे भाग में इस समय खुली हुई फाइल्स की सूची प्रदशित होती है। वर्ड 2002 के ॅपदकवू मेन्यू में दिए गए पहले विकल्प छमू ॅपदकवू का प्रयोग करने पर वर्तमान डाॅक्यूमेण्ट फाइल की एक और विन्डो खुल जाती है एवं ज्पजसमइंत पर थ्पसम के नाम के साथ:2 प्रदर्शित होता है और पहली विन्डो मे फाइल के नाम के साथ:1 प्रदर्शित होता है। निम्नांकित चित्र में प्रदर्शित हो रही दो विन्डो एक ही फाइल त्ंअप.01 की ही है। इनमें जिस विन्डो की टाइटलबार पर त्ंअप.01रू1 प्रदर्शित हो रहा है, वह हमारी मूल डाॅक्यूमेण्ट फाइल है और जिस विन्डो की टाइटलबार पर त्ंअप.01रू1 प्रदर्शित हो रहा है, वह हमारी मूल डाॅक्यूमेण्ट फाइल है और जिस विन्डो की टाइटलबार पर त्ंअप 01रू2 प्रदर्शित हो रहा है वह हमारी डाॅक्यूमेण्ट फाइल की नई विन्डो है।
वर्ड 2002 के विन्डो मेन्यू में दिए गए दूसरे विकल्प का प्रयोग इसमें खुली हुई सभी फाइल्स को व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। यदि हमने वर्ड 2002 में एक से अधिक फाइल्स को खोला हुआ है अथवा छमू ॅपदकवू विकल्प का प्रयोग करके एक अन्य विन्डो को प्देमतज किया हुआ है, तो इन सभी विन्डोज का माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शन इस विकल्प का प्रयोग करने पर उपरोक्त चित्र के अनुरूप होगा ।
च्ंहम 238
वर्ड 2002 के विन्डो में दिए गए तीसरे विकल्प का प्रयोग इसमें वर्तमान विन्डो को दो भागो में विभक्त करने के लिए किया जाता है। इन दोनो भागो में विभक्त करने के लिए किया जाता है। इन दोनो भागो में पूरी-पूरी डाॅक्यूमेण्ट फाइल होती है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर उपरोक्त चित्र के अनुरूप एक मोटी रेखा प्रदर्शित होती है जोकि हमारे माउस प्वाॅइन्टर के साथ-साथ चलती है। इस समय हमारे प्वाॅइन्टर को लाकर क्लिक कर देने से वर्तमान विन्डो दो भागो में बंट जाती है। इन दोनो विन्डोेज में विभक्त की गई मूल विन्डो की तो टाइटलबार होती है, परन्तु दूसरी विन्डो की कोई टाइटलबार नही होती। इस विन्डो के एक भाग में किया गया परिवर्तन स्वतः ही दूसरी विन्डो में हो जाता है। इस विकल्प का प्रयोग विन्डो के दोनो भागो को पुनः पूर्वनुसार एक ही विन्डो के रूप में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। यदि हम इन दोनो विन्डोज को मिलाने व विभक्त करने वाली सीमा पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर लगातार दो बार माउस के बाएं बटन को क्लिक करते है तो भी ये दोनो विन्डोज पुनः एक ही विन्डो में परिवर्तित हो जाती हैं।
इस अध्याय में हमने माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड 2002 में किए जा सकने वाले विभिन्न कार्यो एवं वर्ड 2002 में दी गई विभिन्न सुविधाओ और उनको प्रयोग करने के बारे में जानकारी प्राप्त की, अब हम अगले अध्याय में माइक्रोसाॅफ्ट एक्सल 2002 का परिचय एवं प्रयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *