पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 का परिचर एवं प्रयोग:-

0 Comments

पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 का परिचर एवं प्रयोग
माइक्रोसाॅफ्ट पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 आॅफिस ग्च् में दिया गया एक ऐसा समृद्ध प्रोग्राम है जिसकी सहायता से हम अपने प्रस्तुतिकरण को योजना बनाकर सजीव प्रस्तुतिकरण के रूप में डिजाइन कर सकते है। इस प्रोग्राम की सहायता से हम अपने विचार रंगो, ध्वनि एवं ऐनीमेशन से सुसज्जित करके प्रस्तुत कर सकते हैं। विशेष प्रभाव, रंग , ध्वनि , त्रि-आयामी आकृतियो आदि का प्रयोग करके इस प्रोगाम की सहायता से हम अपनी प्रस्तुति अत्यन्त प्रभावशाली रूप स तैयार कर सकते है।
जैसाकि हम जानते हैं, किसी विचार को सुनने अथवा पढ़ने से अधिक प्रभाव उसको देखने से पड़ता है, परन्तु यदि विचारों में श्रव्यता ओर दृश्यता दोनो का ही सम्मिश्रण करके यदि किसी के समक्ष प्रस्तुत किया जाता है, तो इसका सर्वाधिक प्रभाव पड़ता है। आज का दौर प्रस्तुतिकरण ;च्तमेमदजंजपवदद्ध का दौरा है। प्रस्तुतिकरण में विचारो को जितनी सजीवता से प्रस्तुत किया जाता है, विचार उतने ही प्रभावी होते हैं। विचारो के प्रस्तुतिकरण में सजीवता प्रदान करने के लिए ध्वनि, रंगो , त्रि-आयामी आकृतियों, एनीमेशन इत्यादि का प्रयोग किया जाता है।
आजकल व्यापार एवं शिक्षा में प्रस्तुतिकरण का अपना विशेष महत्व है। कम्पनी मैनेजर , विपणन अधिकारी , शिक्षक, प्रबन्धक आदि व्यावसायिक व्यक्तियो के लिए प्रस्तुतिकरण अत्यन्त उपयोगी है। कम्प्यूटर पर प्रस्तुतिकरण को तैयार करने के लिए आॅफिस के पूर्व के संस्करणों मे भी पाॅवर प्वाॅइन्ट को सम्मिलित किया गया था, परन्तु इसका अपने पूर्व के संस्करणो से और अधिक समृद्ध एवं परिवर्द्धित संस्करण आॅफिस ग्च् में पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 के रूप में प्रस्तुत किया गया है। इस प्रोग्राम की सहायता से किसी प्रस्तुतिकरण के लिए स्लाइड्स ;ैसपकमेद्ध , हैण्डआउट्स ;भ्ंदकवनजेद्धए स्पीकर्स नोट्स ;ैचमंामतष्े छवजमे द्ध तैयार किए जा सकते हैं, साथ ही प्रस्तुतिकरण की रूपरेखा ;व्नजसपदमद्ध को भी तैयार किया जा सकता है।
पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 के बारे में आगे जानकारी प्राप्त करने से पूर्व आइए, पहले यह जान लें कि स्लाइड्स ;ैसपकमेद्धए हैण्डआउट्स ;भ्ंदकवनजेद्धए स्पीकर्स नोट्स ;ैचमंामतष्े छवजमेद्ध आदि से पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 के सम्बन्ध में क्या आशय है?
स्लाइड्स ;ैसपकमेद्ध
स्लाइड्स हमारे प्रस्तुतिकरण के पृथक् पृष्ठ हैं। स्लाइड्स में शीर्षक ;ज्पजसमेद्धए टैक्स्ट ;ज्मगजद्धए ग्राफ्स ;ळतंचीेद्ध आकृतियो ;क्तंूद व्इरमबजेद्धए क्लिप आर्ट ;ब्सपच ।तजद्ध आदि भी सम्मिलित हो सकती हैं। ैसपकम का श्वेत-श्याम ;ठसंबा – ॅीपजमद्ध प्रिन्ट भी निकाल जा सकता हैं, इसकी ज्तंदेचंतमदबपम आदि भी बनाई जा सकती है। स्लाइड्स को हम इलैक्ट्राॅनिक माध्यम से प्रस्तुत करते हैं। स्लाइड से सम्बन्धित प्रचलित शब्द अग्रलिखित हैं
च्ंहम 294
एनीमेशन इफेक्ट्स ;।दपउंजपवद म्ििमबजेद्ध
एनीमेशन इफेक्ट्स का तात्पर्य स्लाइड में ध्वनि प्रभाव ;ैवनदकद्धए टैक्स्ट तथा विभिन्न आॅब्जैक्ट्स का स्लाइड पर एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाना अर्थात् उनका मूवमेन्ट है। यह मूवमेन्ट स्लाइड शो के समय स्लाइड्स को और अधिक प्रभावी बनाता है।
स्लाइड ट्रांजिशन ;ैसपकम ज्तंदेपजपवदद्ध
स्लाइड ट्रांजिशन का तात्पर्य स्लाइड तथा स्लाइड के तत्वो को प्रदर्शित करने का ढंग होता है। उदाहरण के लिए जब कोई स्लाइड प्रदर्शित हो, तो वह स्क्रीन के दाई, बाई , ऊपर, मध्य अथवा नीचे से प्रदर्शित हो।
डुप्लीकेट स्लाइड ;क्नचसपबंजम ैसपकमद्ध
वर्तमान सक्रिय स्लाइड की एक काॅपी अर्थात् उसी के समान एक अन्य स्लाइड, डुप्लीकेट स्लाइड कहलाती है।
रिकाॅर्ड नैरेशन ;त्मबवतक छंततंजपवदद्ध
अपनी प्रस्तुति को प्रदर्शित करते समय स्लाइड में हमारे द्वारा बोले गए विवरण अथवा हमारी ध्वनि को रिकाॅर्ड करना, रिकाॅर्ड नैरेशन कहलाता है। स्लाइड में रिकाॅर्ड नैरेशन का प्रयोग करने के लिए आवश्यक है कि हमारे कम्पयूटर में साउण्ड कार्ड तथा माइक्रोफोन हो।
हैण्डआउट्स ;भ्ंदकवनजेद्ध
भ्ंदकवनजे हमारे प्रस्तुतिकरण को सहारा ;ैनचचवतजद्ध प्रदान करते है। हम अपने प्रस्तुतिकरण से पूर्व अपनी ।नकपमदबम में ये भ्ंदकवनज वितरित कर सकते हैं। भ्ंदकवनजे में हमारी ैसपकमज के ही छोटे-छोटे प्रिन्ट, एक पृष्ठ एक पृष्ठ पर दो , तीन या छह, करा सकते हैं। यदि हम चाहें तो कुछ अन्य जानकारी भी इस भ्ंदकवनज पर प्रिन्ट कर सकते हैं; जैसे हमारी कम्पनी का नाम एवं प्रत्येक पृष्ठ पर संख्या तिथि इत्यादि।
स्पीकर नोट्स ;ैचमंामतष्े छवजमेद्ध
इस प्रोग्राम में वक्ता के लिए नोट्स ;ैचमंामतष्े छवजमेद्ध भी तैयार किए जा सकते हैं। ैचमंामतष्े छवजमे के प्रत्येक पृष्ठ पर एक स्लाइड एवं इसके नीचे ैचमंामतष्े के लिए कुछ भी नोट्स टाइप किए जा सकते हैं। वक्ता लब प्रस्तुतिकरण के समय स्लाइड शो होते समय कुछ बोलता है, तो ये नोट्स उसे बोलने के लिए तथ्य प्रस्तुत करने में सहायता प्रदान करते है।
आउटलाइन्स ;व्नजसपदमेद्ध
जब हम किसी प्रस्तुतिकरण को तैयार कर रहे होते हैं, तब हमारे पास एक विकल्प व्नजसपदम के रूप में कार्य करने का होता है। इस रूप में टाइटिल एवं मुख्य टैक्स्ट प्रदर्शित होता है, परन्तु ।तज एवं ज्मगज ज्ववस की सहायता से टाइप किया गया ज्मगज प्रदर्शित नही होता । हम इस व्नजसपदम का प्रिन्ट भी प्राप्त कर सकते है।
प्रेजेन्टेशन ;च्तमेमदजंजपवदद्ध बनाना
पाॅवर प्वाॅइन्ट की प्रत्येक प्रस्तुति अनेक स्लाइड्स का एक निश्चित क्रम में एक के बाद एक का माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होना है। किसी भी स्लाइड में विचारो को प्रकट करने के लिए टैक्स्ट अथवा आॅब्जैक्ट्स अथवा दोनो का प्रयोग ग्राफिकल बैकग्राउन्ड पर किया जाता है। स्लाइड में आॅब्जैक्ट का तात्पर्य किसी पिक्चर अर्थात् इमे अथवा ध्वनि
च्ंहम 295
प्रभाव अथवा चार्ट आदि से है। उपरोक्त चित्र में पाॅवर प्वाॅइन्ट के तैयार की गई एक स्लाइड केा दर्शाया गया है। पाॅवर प्वाॅइन्ट में किसी प्रस्तुति को तैयार करने के लिए विभिन्न स्लाइड्स बनानी होती है। स्लाइड्स को तैयार करने के लिए हमें निम्नलिखित बातो को ध्यान रखना आवश्यक है
सर्वप्रथम प्रस्तुति की योजना बनाकर प्रस्तुति से सम्बन्धित विभिन्न सूचनाएं आदि एकत्र कर लेनी चाहिएं।
स्लाइड को तैयार करके उसमें वांछित टैक्स्ट तथा आॅब्जैक्ट को प्रविष्ट करना चाहिए।
पाॅवर प्वाॅइन्ट में दिए गए किसी भी डिजाइन को स्लाइड पर ।चचसल करना चाहिए।
स्लाइड पर ट्रांजिशन तथा एनिमेशन इफैक्ट्स को ।चचसल करना चाहिए।
श्रोताओ के लिए आॅडियेन्स मेटीरियल तथा स्पीकर नोट क्रिएट करना चाहिए।
स्लाइड को प्रदर्शित करने के लिए स्लाइड टाइमिंग का निर्धारण करना चाहिए।
उपरोक्त सभी कार्यो को चरणबद्ध करने के उपरान्त प्रस्तुति को प्रस्तुत किया जा सकता है।
पाॅवर प्वाॅइन्ट को लोड करना
पाॅवर प्वाइन्ट को हम निम्नलिखित विधियों में से किसी भी प्रकार से लोड कर सकते हैं
आॅफिस ग्च् टूलबार पर दिए गए पाॅवर प्वाॅइन्ट के टूल आइकन पर क्लिक करके।
आॅफिस ग्च् टूलबार पर दिए गए छमू व्ििपबम क्वबनउमदज अथवा व्चमद व्ििपबम क्वबनउमदज टूल आइकन पर क्लिक करके।
विन्डोज टास्क बार के ैजंतज बटन पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाले मेन्यू में से छमू व्ििपबम क्वबनउमदज अथवा व्चमद व्ििपबम क्वबनउमदज विकल्पो का प्रयोग करके।
च्ंहम 296
विन्डोज टास्क बार के ैजंतज बटन पर क्लिक करके प्रदर्शित होने वाले मेन्यू के च्तवहतंउ विकल्प पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में से डपबतवेवजि च्वूमतच्वपदज का प्रयोग करके।
उपरोक्त विधियो में से किसी भी एक विधि का प्रयोग करके पाॅवर प्वाॅइन्ट लोड हो जाता है और माॅनीटर स्क्रीन पर निम्न चित्र की भांति प्रदर्शत होता है
इस अध्याय में हम पाॅवर प्वाॅइन्ट में प्रस्तुति बनाने तथा प्रदर्शन की पूरी प्रक्रिया को कार्य के अनुसार अध्ययन करेंगे, जिसमें टास्क पेन की भूमिका महत्वपूर्ण होगी। उपरोक्त चित्र में टास्क पेन विन्डो पाॅवर प्वाॅइन्ट की विन्डो में दाई ओर प्रदर्शित हो रही है।
पाॅवर प्वाॅइन्ट में प्रस्तुति तैयार करना
पाॅवर प्वाॅइन्ट में प्रस्तुति तैयार करने के लिए निम्नलिखित विधियों का प्रयोग किया जा सकता है
।नजवब्वदजमदज विजार्ड की सहायता से।
ज्मउचसंजम के आधार पर नई प्रस्तुति का निर्माण करके ।
ठसंदा अर्थात् रिक्त प्रस्तुति द्वारा प्रस्तुति का निर्माण करके।
पहले से तैयार किसी अन्य प्रस्तुति के आधार पर ।
।नजवब्वदजमदज विजार्ड की सहायता से प्रस्तुति तैयार करना
।नजवब्वदजमदज ॅप्रंतक के अन्तर्गत पहल से बने हुए विभिन्न प्रकार तथा स्टाइल्स की प्रस्तुतियां बनी होती हैं। इस विजार्ड में पहले से बनी प्रस्तुतियो के आधार पर हम अपनी आवश्यकता के अनुसार प्रस्तुति को चुनकर नई प्रस्तुति तैयार कर सकते हैं।
च्ंहम 297
।नजव ब्वदजमदज ॅप्रंतक की सहायता से प्रस्तुति को तैयारी करने के लिए टास्क पेन विन्डो में थ्तवउ ।नजव ब्वदजमदज ॅप्रंतक पर क्लिक करते हैं। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ।नजव ब्वदजमदज ॅप्रंतक की पहली विन्डो का प्रदर्शन होता है।
आॅटो कन्टेन्ट विजार्ड की पहली विन्डो में प्रयोगकत्र्ता को करने के लिए कोई कार्य नही होता । यह केवल इस विजार्ड के शुरू होने की सूचना भर है। इस विजार्ड के बाई ओर वाले भाग में इस विजार्ड के विभिन्न चरणो का प्रदर्शन होता है।
इस विजार्ड में पुश बटन छमगज पर अथवा इस विन्डो के बाएं भाग में ैजंतज बटन के नीचे दिए गए भूरे रंग के बटन च्तमेमदजंजपवद ज्लचम पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर इस विजार्ड की दूसरी विन्डो की इस विन्डो में दाई ओर विभिन्न प्रकार की ब्ंजमहवतपमे पुश बटन्स के रूप में दी होती है। इनमें से हम जिस ब्ंजमहवतल को चुनते हैं, उसी ब्ंजमहवतल की प्रस्तुतियों की सूची इसके आगे दिए गए बाॅक्स में प्रदर्शित होती है। मान लीजिए, हम इस विजार्ड में ब्वतचवतंजम ब्ंजमहवतल की प्रस्तुति ठनेपदमेे च्संद को चुन लेते हैं।
अब पुश बटन छमगज पर अथवा इस विन्डो के बाएं भाग में ैजंतज बटन क नीचे दिए गए बटन च्तमेमदजंजपवद ैजलसम पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर इस विजार्ड की तीसरी विन्डो संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होती है। इस विजार्ड की तीसरी विन्डो में यह निर्धारित किया जाता है, कि प्रस्तुति का आउटपुट किसी प्रकार का प्राप्त करना है। इस विन्डो में पांच विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है।
इनमे से वांछित विकल्प को चुनकर आउटपुट का निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन छमगज पर अथवा इस विन्डो के बाएं भाग में ैजंतज बटन के नीेचे दिए गए बटन च्तमेमदजंजपवद व्चजपवदे पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर इस विजार्ड की चैथी विन्डो अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति प्रदर्शित होती है।
आॅटो कन्टेन्ट विजार्ड की इस विन्डो में दो टैक्स्ट बाॅक्सेज दिए होते है। इनमे से पहले टैक्स्ट बाॅक्स में इस प्रस्तुति का शीर्षक टाइप किया जाता है। दूसरे टैक्स्ट बाॅक्स में इस प्रस्तुति के लिए फूटर पर प्रदर्शित होने वाले टैक्स्ट को टाइप किया जाता है। इस विन्डो में दो विकल्प चैक बाॅक्स के रूप में भी दिए होते है। यदि हम स्लाइड पर अन्तिम बार इसे अपडेट करने की तिथि का प्रदर्शन भी करना चाहते हैं, तो पहले चैक बाॅक्स क्ंजम संेज नचकंजमक को चुन लेते हैं। यदि हम स्लाइड शो के
च्ंहम 298
दौरान स्लाइड का क्रमांक भी प्रदर्शित करना चाहते हैं, तो चैक बाॅक्स ैसपकम दनउइमत को चुन लेते हैं। यदि हम इन दोनो चैक बाॅक्स पर क्लिक करके इनको रिक्त कर देते हैं, तो तिथि तथा स्लाइड क्रमांक का प्रदर्शन नही होता है।
अब पुश बटन छमगज पर अथवा इस विन्डो के बाएं भाग में ैजंतज बटन के नीेचे दिए गए बटन थ्पदपेी पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर इस विजार्ड की चैथी विन्डो संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होती है। आॅटो कन्टेन्ट विजार्ड के इस चरण में से इस विजार्ड का कार्य समाप्त होने की सूचना प्रदर्शित होती है। इस विजार्ड में हम इससे पूर्व की विन्डोज में दी गई सूचनाओं एवं चुने गए विकल्पो को पुश बटन ठंबा पर क्लिक करते हुए जांच लेते हैं और आवश्यकतानुसार वांछित परिवर्तन भी कर सकते हैं।
अब पुश बटन छमगज का प्रयोग करते हुए इस विन्डो पर आकर पुश बटन थ्पदपेी पर क्लिक करते हैं। पुश बटन थ्पदपेी पर क्लिक करते ही इस विजार्ड का कार्य समाप्त हो जाता है और इस विजार्ड में दी गई सूचनाओ एवं चुने गए विकल्पो के अनुरूप हमारी प्रस्तुति तैयार होकर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होती है
च्ंहम 299
इस प्रस्तुति में 12 स्लाइड्स होती है। पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र में पहली स्लाइड प्रदर्शित हो रही है। इस स्लाइड में हम ब्सपबा जव ।कक ज्पजसम पर क्लिक करके संस्था का नाम टाइप करते है। अब की-बोर्ड पर च्ंहम क्वूद ‘की‘ को दबाकर अथवा बाई ओर प्रदर्शित होने वाली विन्डो में दूसरी स्लाइड पर क्लिक करने पर इस प्रस्तुति की दूसरी स्लाइड का प्रदर्शन निम्नांकित चित्र की भांति होता है
इस स्लाइड में डपेेपवद ैजंजमउमदज के नीचे दिए गए टैक्स्ट पर क्लिक करके संस्था का मुख्य उद्देश्य टाइप करते है। इसी प्रकार तीसरी , चैथी, ……. और बारहवीं स्लाइड पर एक-एक करके क्लिक करते हुए, सम्बन्धित सूचनाओ को टाइप करते हैं। इस प्रकार इस प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स तैयार की जा सकती है।
इस प्रस्तुति को प्रस्तुत करने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के ैसपकम ैीवू मेन्यू के पहले विकल्प टपमू ैीवू का प्रयोग करते है। इस कार्य को हम की-बोर्ड पर फंक्शन ‘की‘ थ्5 को दबाकर भी कर सकते हैं अब माॅनीटर स्क्रीन पर सर्वप्रथम हमारी प्रस्तुति की पहली स्लाइड का प्रदर्शन होता है। दूसरी स्लाइड को माॅनीटर स्क्रीन पर देखने के लिए की-बोर्ड पर कोई भी ‘की‘ दबाते हैं अथवा माउस को माॅनीटर स्क्रीन पर किसी भी स्थान पर क्लिक करते है। दूसरी स्लाइड से पुनः पहली स्लाइड को देखने के लिए की-बोर्ड पर च्ंहम न्च ‘की‘ का प्रयोग करते हैं।
इन स्लाइड्स में न तो एनीमेशन इफैक्ट ही है और न ही टाइमिंग अर्थात् स्लाइड कितने समय तक माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी, निर्धारित है। यह कार्य हम इसी अध्याय में आगे सीखेगे।
ठसंदा च्तमेमदजंजपवद अर्थात् रिक्त प्रस्तुति द्वारा प्रस्तुति का निर्माण करना
।नजव ब्वदजमदज विजार्ड की सहायता से तैयार की गई प्रस्तूति की स्लाइड्स में न तो एनीमेशन इफैक्ट है, न ही टाइमिंग निर्धारित है, कि कौन-सी स्लाइड कितने समय तक माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी। आइए, अब एक-एक स्लाइड ठसंदा च्तमेमदजंजपवद अर्थात् रिक्त प्रस्तुति द्वारा तैयार करते है, जिसमें एनीमेशन इफेक्ट, साउन्ड, कलर, टाइमिंग इत्यादि
च्ंहम 300
निर्धारित करके इसे प्रस्तुत करते हैं। वास्तव में प्रस्तुति में जब इन सभी तत्वो का प्रयोग होता है, तभी इसमें सजीवता एवं रोचकता आती है।
ठसंदा च्तमेमदजंजपवद अर्थात् रिक्त प्रस्तुति के द्वारा प्रस्तुति का निर्माण करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
पाॅवर प्वाॅइन्ट को लोड करने पर इसकी विन्डो में, पृष्ठ 296 पर दिए गए की चित्र की भांति होने वाला प्रदर्शन ठसंदा च्तमेमदजंजपवद का ही होता है। यदि हम पाॅवर प्वाॅइन्ट पर पहले कार्य कर रहे हैं, तो इसकी विन्डो में दाई ओर प्रदर्शित होने वाली छमू च्तमेमदजंजपवद टास्क पेने विन्डो में से छमू के नीचे दिए गए पहले विकल्प ठसंदा च्तमेमदजंजपवद पर क्लिक करने पर भी इसी प्रकार का प्रदर्शन होता है।
इस प्रदर्शन में ब्सपबा जव ंकक जपजसम बाॅक्स पर क्लिक करने पर टैक्स्ट कर्सर इस बाॅक्स में प्रदर्शित होने लगता है, और यह बाॅक्स रिक्त प्रदर्शित होता है। इस बाॅक्स में हम अपनी प्रस्तुति का शीर्षक टाइप करते हैं। उदाहरण के लिए हमने यहां पर त्।टप् च्व्ब्ज्ञम्ज् ठव्व्ज्ञै टाइप किया है।
इस टैक्स्ट की फाॅर्मेटिंग करने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्वतउंज मेन्यू के विकल्प थ्वदज का प्रयोग करते हैं। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति थ्वदज डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में हम चुने गए टैक्स्ट का फाॅन्ट , फाॅन्ट स्टाइल,फाॅन्ट आकार , म्ििमबजे तथा फाॅन्ट कलर का निर्धारण कर सकते हैं। इस डायलाॅग बाॅक्स में एक चैक बाॅक्स क्मंिनसज वित दमू वइरमबजे दिया गया है, इस चैक बाॅक्स को चुनने पर इस डायलाॅग बाॅक्स में किया गया निर्धारण क्मंिनसज फाॅन्ट निर्धारण के रूप में सुनिश्चित की जा सकती है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम पुनः स्लाइड पर वापस आ जाते है।
अब इस स्लाइड में ब्सपबा जव ंकक ेनइजपजसम बाॅक्स पर क्लिक करके, अपनी प्रस्तुति का उप-शीर्षक टाइन करते है। उदाहरण के लिए हमने यहां पर च्तमेमदजे टाइप किया है।
पाॅवर प्वाॅइन्ट की फाॅर्मेटिंग टूलबार का प्रयोग करके भी टैक्स्ट की फाॅर्मेटिंग की जा सकती है। इस टूलबार पर विभिन्न टूल्स वर्ड 2002 के समान ही हैं। फाॅर्मेटिंग टूलबार पर ही प्दबतमंेम थ्वदज ैप्रम टूल का प्रयोग एक-एक प्वाॅइन्ट करके टैक्स्ट का आकार बढ़ाने तथा क्मबतमंेम थ्वदज ैप्रम टूल का प्रयोग एक-एक प्वाॅइन्ट करके टैक्स्ट का आकार घटाने के लिए किया जाता है।
इस स्लाइड में दोनो बाॅक्सेज में वांछित टैक्स्ट टाइप करने के पश्चात् टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर संलग्न चित्र की भांति एक सूची प्रदर्शित होती है।
इस सूची में से ैसपकम स्ंलवनज पर क्लिक करने पर टास्क पेन विन्डो का प्रदर्शन अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति होने लगता है। इस विन्डो के चार भाग होते हैं ज्मगज स्ंलवनजेए ब्वदजमदज स्ंलवनजेए ज्मगज ंदक ब्वदजमदज स्ंलवनजे तथा व्जीमत स्ंलवनजे। ज्मगज स्ंलवनजे वाले भाग में स्लाइड पर टैक्स्ट को प्रदर्शित करने से सम्बन्धित लेआउट्स प्रदर्शित होते है। ब्वदजमदज स्ंलवनजे वाले भाग मे स्लाइड पर टेबिल, चार्ट , क्लिपआर्ट, पिक्चर ,
च्ंहम 301
डायग्राम तथा मीडिया क्लिप्स आदि को ।चचसल करने से सम्बन्धित लेआउट्स होते हैं। ज्मगज ंदक ब्वदजमदज स्ंलवनजे में टैक्स्ट तथा कन्टेन्ट्स दोनो को ।चचसल करने से सम्बन्धित लेआउट्स तथा व्जीमत स्ंलवनजे में अन्य प्रकार के लेआउट्स प्रदर्शित होते हैं। हमने ब्वदजमदज स्ंलवनजे वाले भाग में से दूसरे विकल्प ब्वदजमदज पर क्लिक किया , तो हमारी स्लाइड पर निम्नांकित चित्र की भांति होता है
स्लाइड पर किसी पिक्चर का प्रयोग करने के लिए इनमें से अण्डाकार आकृति से घिरे हुए प्देमतज च्पबजनतम बटन पर क्लिक करते हैं। अब माॅनीटर स्क्रीन पर प्देमतज च्पबजनतम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में से वांछित पिक्चर को चुनकर स्लाइड पर प्देमतज कर लेते हैं।
पिक्चर के इन्सर्ट होने पर की-बोर्ड ब्जतस तथा ैीपजि ‘की‘ को दबाकर पिक्चर के चारो कोनो पर प्रदर्शित होने वाली वृत्ताकार नोड्स में से किसी पर भी माउस प्वाॅइन्टर को लाकर क्लिक करके ड्रैग करने पर इस पिक्चर का आकार चारो ओर समान रूप से बढ़ता है। हमने इस पिक्चर का आकार अपनी स्लाइड के आकार के बराबर कर लेते है। इस समय यह पिक्चर हमारे द्वारा पहले टाइप किए गए टैक्स्ट के ऊपर प्रदर्शित कर लेते हैै। इस टैक्स्ट को इस पिक्चर के माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू मंे से व्तकमत के विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प ैमदक जव ठंबा पर क्लिक करते हैं।
इस स्लाइड पर एनीमेशन प्रभाव को ।चचसल करने के लिए टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ैसपकम क्मेपहद दृ ।दपउंजपवद ैबीमउम विकल्प को चुनते हैं। अब टास्क पेन में विभिन्न एनीमेशन स्कीम्स की सूची प्रदर्शित होने लगती है। इस सूची में से वांछित स्कीम को चुनने पर इस स्कीम के अनुरूप टैक्स्ट का प्रदर्शन होने लगता है।
च्ंहम 302
स्लाइड प्रदर्शन के समय स्लाइड किस प्रकार हो अर्थात् स्लाइड स्क्रीन के बाई, दाई, ऊपर , नीचे या मध्य आदि से ,किस ध्वनि प्रभाव के साथ प्रदर्शित हो, स्लाइड माउस से क्लिक करने पर या कुछ समय के बाद स्वतः ही प्रदर्शित हो इत्यादि का निर्धारित करने के लिए स्लाइड का ट्रांजिशन निर्धारित करने के लिए टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वालीस सूची में से ैसपकम ज्तंदेपजपवद विकल्प को चुनते हैं। इस विकल्प को चुनने पर टास्क पेन विन्डो में संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शन होता है।
ैसपकम ज्तंदेपजपवद टास्क पेन में ।चचसल जव ैमसमबजमक ैसपकमे के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में ट्रांजिशन इफैक्ट को अपनी स्लाइड के लिए प्रभावी किया जा सकता है। इसके पश्चात् डवकपलि ज्तंदेपजपवद विकल्प के नीचे ैचममक के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर स्लाइड के ट्रांजिशन की स्पीड का निर्धारण किया जाता है। स्लाइड के ट्रांजिशन के साथ ध्वनि प्रभाव का प्रयोग करने के लिए ैवनदक के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो परक्लिक करके प्रदर्शित होने वाली विभिन्न ध्वनि प्रभावो की सूची में से वांछित ध्वनि प्रभाव को चुना जाता है। ैवनदक सैलेक्शन बाॅक्स के नीचे चैक बाॅक्स के रूप मेें दिए गए विकल्प स्ववच न्दजपस छमगज ैवनदक चुनने पर स्लाइड शो के समय यह ध्वनि प्रभाव तब तक प्रभावी रहता है, जब तक कि स्लाइड का कोई अन्य ध्वनि प्रभावी नहीं होता है।
टास्क पेन विन्डो में ।कअंदबम ैसपकम के नीचे दिए गए पहले चैक बाॅक्स व्द उवनेम बसपबा को चुनने पर स्लाइड
च्ंहम 303
शो के दौरान एक स्लाइड के बाद दूसरी स्लाइड को प्रदर्शित करने के लिए माउस को क्लिक करना होता है। दूसरे चैक बाॅक्स ।नजवउंजपबंससल ।जिमत को चुनने पर इसके नीचे दिया गया स्पिन बाॅक्स सक्रिय हो जाता है। इसमें ऊपर-नीचे क्लिक कर स्लाइड के स्वतः ही प्रदर्शित होने की अवधि का निर्धारण किया जाता है। इस प्रकार हमने एक स्लाइड बनाकर उसमें विभिन्न इफेक्ट्स को प्रभावी करना सीखा।
इस स्लाइड को तैयार करने के उपरान्त दूसरी स्लाइड को तैयार करने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के प्देमतज मेन्यू के पहल विकल्प छमू ैसपकम पर क्लिक करते है। अब पाॅवर प्वाॅइन्ट की विन्डो में नई स्लाइड पिछले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र की भांति प्रदर्शित होने लगता है। इस प्रदर्शन में दोनो बाॅक्सेज, जिनमें ब्सपबा जव ंकक जमगज प्रदर्शित हो रहा है, पर क्लिक करके वांछित टैक्स्ट टाइप करते हैं। अब इस स्लाइड पर वांछित कलर स्कीम को ।चचसल करने के लिए टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ैसपकम क्मेपहद. क्मेपहद ज्मउचसंजमे विकल्प को चुनते हैं। अब टास्क पेन में विभिन्न स्लाइड डिजाइन्स की सूची संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने लगती है। इस सूची मे से वांछित स्लाइड डिजाइन को चुना जा सकता है। जब हम किसी स्लाइड डिजाइन पर माउस प्वाॅइन्टर को लाते हैं, तो इसके दाएं सिरे पर एक डाउन ऐरो प्रदर्शित होने लगता है। इस डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर संलग्नचित्र की भांति चार विकल्प प्रदर्शित होते हैं। इनमें से ।चचसल जव ैमसमबजमक ैसपकमे को चुनकर इस स्लाइड डिजाइन वर्तमान चुनी गई स्लाइड के लिए प्रभावी कर लेते हैं। इनमें से दूसरे विकल्प ।चचसल जव ंसस ैसपकमे को चुनने पर प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स का डिजाइन इसी के अनुरूप हो जाता है। ैीवू स्ंतहम च्तमअपमू विकल्प को चुनने पर टास्क पेन विन्डो में प्रदर्शित होने लगती है।
इस स्लाइड का रंग संयोजन ;ब्वसवत ैबीमउमद्ध बदलने के लिए टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ैसपकम क्मेपहद दृ ब्वसवत ैबीमउमे विकल्प को चुनते हैं। अब टास्क पेन विन्डो में संलग्न चित्र की भांति विभिन्न कलर स्कीम्स का प्रदर्शन होता है। इस प्रदर्शन में से हम जिस कलर स्कीम को अपनी स्लाइड पर प्रभावी करना चाहते हैं, उस पर माउस प्वाॅइन्ट लाकर क्लिक करते है। जब हम किसी कलर स्कीम पर माउस प्वाॅइन्टर को लाते हैं, तो इसके दाएं सिरे पर एक डाउन ऐरो प्रदर्शित होने लगता है। इस डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर भी स्लाइड डिजाइन की भांति चार विकल्ल प्रदर्शित होते हैं। इनका प्रयोग हम पूर्व की भांति किया जा सकता है। इन कलर स्कीम्स में से हम जिस कलर स्क्रीम पर क्लिक करते हैं, वह हमारी स्लाइड पर प्रभावी हो जाती है।
स्लाइड में एनीमेशन इफैक्ट का प्रयोग करने के लिए टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरोपर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ैसपकम क्मेपहद. ।दपउंजपवद ैबीमउमे विकल्प को चुनते है। अब टास्क पेन विन्डो में ऊपर दाई ओर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शन होने लगता है। इस प्रदर्शन मे
च्ंहम 304
।चचसल जव ैमसमबजमक ैसपकमे के नीचे दी गई एनीमेशन इफैक्ट्स की सूची में से वांछित एनीमेशन इफैक्ट को अपनी स्लाइड पर प्रभावी किया जा सकता है।
इस बाॅक्स के नीचे ।चचसज जव ।सस ैसपकमए च्संल तथा ैसपकम ैीवू तीन बटन्स दिए होते है। ।चचसल जव ।सस बटन का प्रयोग, उस परिस्थिति में किया जाता है, जब हमने अपनी प्रस्तुति में एक से अधिक स्लाइड्स को तैयार किया गया हो। इस बटन पर क्लिक करने पर प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स के लिए यह एनीमेशन इफैक्ट प्रभावी होता है। च्संल बटन का प्रयोग , प्रभावी किए गए एनीमेशन इफैक्ट को देखने के लिए किया जाता है। ैसपकम ैीवू नामक बटन का प्रयोग वर्तमान में चुने गए स्लाइड तथा उसके बाद के स्लाइड्स को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। इन तीनों बटनों के नीचे दिए गए चैक बाॅक्स ।नजव च्तमअपमू का प्रयोग, किसी भी एनीमेशन इफैक्ट को चुनने के बाद, स्वतः ही उसका प्रीव्यू देखने के लिए किया जाता है।
अब इस स्लाइड का ट्रांजिशन भी पहली स्लाइड के समान ही निर्धारित कर लिया जाता है। इसी प्रकार अपनी आवश्यकतानुसार हम तीसरी, चैथी…… स्लाइड्स को तैयार कर सकते है।
प्रस्तुति की विभिन्न स्लाइड्स को तैयार करने के उपरान्त इसे ैंअम कर लिया जाता है।
प्रस्तुति को प्रस्तुत करना
जैसाकि हम जानते हैं, कोई भी प्रस्तुति विभिन्न स्लाइड्स से तैयार होती है। अतः प्रस्तुति को प्रस्तुत करने का आशय है, स्लाइड्स को प्रदर्शित करना । किसी प्रस्तुति को प्रस्तुत करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
हमें जिस प्रस्तुति को प्रस्तुत करना है, उसे पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्पसम मेन्यू केे विकल्प व्चमद का प्रयोग करने पर प्रदर्शित
च्ंहम 305
होने वाले व्चमद डायलाॅग बाॅक्स में से चुनने के पश्चात् पुश बटन व्चमद पर क्लिक करके खोल लेते हैं। अब पाॅवर प्वाॅइन्ट के ैसपकम ैीवू मेन्यू के पहले विकल्प टपमू ैीवू का प्रयोग करते हैं अथवा की-बोर्ड पर फंक्शन ‘की‘ थ्5 को दबाते है।
अब प्रस्तुति की स्लाइड्स एक-एक करके पूरी माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होनी शुरू हो जाती हैं। यदि एक के बाद दूसरी स्लाइड स्वतः ही प्रदर्शित नहीं होती है, तो माउस से स्क्रीन पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में से छमगज तथा च्तमअपवने विकल्पो का प्रयोग वर्तमान में प्रदर्शित हो रही स्लाइड से एक स्लाइड आगे या पीछे जाने के लिए किया जाता है। ळव विकल्प का प्रयोग वांछित स्लाइड पर जाने के लिए किया जाता है। म्दक ैीवू विकल्प का प्रयोग प्रस्तुति के प्रस्तुतिकरण को समाप्त करने के लिए किया जाता है।
स्लाइड में विभिन्न व्यू में काम करना
स्लाइड में होने वाले कार्यो के अनुसार हम विभिन्न व्यू का प्रयोग करते हैं। हम जब भी प्रस्तुति को खोलते हैं, तो यह छवतउंस टपमू में ही खुलती है। प्रस्तुति की स्लाइड्स केा विभिन्न प्रकार से माॅनीटर स्क्रीन पर देखने के लिए इसकी क्षैतिज स्क्राॅलबार पर बाई ओर दिए गए आइकन्स का अथवा इसके व्यू मेन्यू एवं स्लाइड शो मेन्यू मे दिए गए विकल्पो का प्रयोग किया जाता है।
नाॅर्मल व्यू ;छवतउंस टपमूद्ध
नाॅर्मल व्यू में स्लाइड्स को दो प्रकार से देखा जा सकता है पहला केवल एक-एक स्लाइड को तथा दूसरा स्लाइड के साथ-साथ प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स की आइकन के रूप में। पाॅवर प्वाॅइन्ट की विन्डो मे क्षैतिज स्क्राॅलबार पर बाई
च्ंहम 306
ओर तीन टूल आइकन्स प्रदर्शित होते हैं। इनमें से पहला टूल आइकन छवतउंस टपमू होता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर क्लिक करने पर प्रस्तुति की स्लाइड्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति होता है। स्लाइड्स का इस प्रकार का प्रदर्शन पाॅवर प्वाॅइन्ट के व्यू मेन्यू के विकल्प छवतउंस टपमू का प्रयोग करके भी निर्धारित किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रदर्शन मंे बाई ओर की विन्डो के दो मुख्य विकल्प होते हैं व्नजसपदम तथा ैसपकम। वर्तमान में इसका ैसपकम मुख्य विकल्प चुना हुआ है। इसमें प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स पर दी गई सूचनाएं प्रदर्शित होती हैं और इस भाग में चुनी गई स्लाइड का प्रदर्शन इस विन्डो में दाई ओर होता है। प्रस्तुति के इस प्रकार के प्रदर्शन में हम स्लाइड्स को सम्पादित कर सकते हैं साथ ही ब्सपबा जव ंकक दवजमे वाले भाग में क्लिक करके इस स्लाइड के लिए स्पीकर्स नोट्स भी तैयार कर सकते है।
इस प्रदर्शन में बाई ओर की विन्डो के दूसरे मुख्य विकल्प व्नजसपदम को चुनने पर इस विन्डो का प्रदर्शन निम्नांकित चित्र की भांति होता है
इस मुख्य विकल्प को चुनने पर बाई ओर प्रदर्शित होने वाली व्नजसपदपदह टूलबार के विभिन्न टूल्स सक्रिय हो जाते है। यदि यह टूलबार हमारी विन्डो में न प्रदर्शित हो रही हो, तो माउस प्वाॅइन्टर को पाॅवर प्वाॅइन्ट की किसी भी टूलबार पर लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू के विकल्प व्नजसपदपदह पर क्लिक करके इसे प्रदर्शित किया जा सकता है। इस टूलबार को हम पाॅवर प्वाॅइन्ट के टपमू मेन्यू के विकल्प ज्ववसइंते पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में से व्नजसपदपदह विकल्प का प्रयोग करके भी प्रदर्शित कर सकते हैं।
आउटलाइनिंग टूलबार पर दिए गए टूल का प्रयोग किसी भी स्लाइड के टैक्स्ट को च्तवउवजम ; द्ध अथवा क्मउवजम ; द्ध किया जा सकता है। च्तवउवजम टूल बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट को वर्तमान से अगले उच्च भ्मंकपदह स्मअमस पर लाया जा सकता है। इसी प्रकार क्मउवजम बटन पर क्लिक करने पर टैक्स्ट को वर्तमान से अगले निम्न भ्मंकपदह स्मअमस पर लाया जा सकता है। स्लाइड टाइटल के अधीन आने वाले टैक्स्ट केा स्लाइड में ऊपर-नीचे व्यवस्थित करने के
च्ंहम 307
लिए मूव-अप ; द्ध तथा मूव-डाउन ; द्ध टूल का प्रयोग किया जाता है। स्लाइड के टाइटल के अधीन आने वाले टैक्स्ट को प्रदर्शित करने अथवा न करने के लिए म्गचंदक ;़द्ध अथवा ब्वससंचेम ;.द्ध टूल्स का प्रयोग किया जाता है। एक साथ सभी स्लाइड्स को काॅलैप्स या एक्सपैन्ड करने के लिए ब्वससंचेम ।सस तथा म्गचंदक ।सस नामक टूल्स का प्रयोग किया जाता है। इस प्रकार हमने देखा कि नाॅर्मल व्यू में आउटलाइनिंग में काम करना बिल्कुल वर्ड 2002 के आउटलाइन व्यू के समान है।
मास्टर व्यू ;डंेजमत टपमूद्ध
वास्तव में व्नजसपदपदह टूल्स का प्रयोग डंेजमत टपमू में ही होता है। अब तक हमने व्नजसपदपदह टूल का प्रयोग पहले से बने स्लाइड पर किया । अब हम व्नजसपदपदह टूल्स का प्रयोग डंेजमत व्यू में करना सीखते हैं। निम्नांकित चित्र में स्लाइड को ैसपकम डंेजमत व्यू में दर्शाया गया है
डंेजमत टपमू में स्लाइड को बनाने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के टपमू मेन्यू के विकल्प डंेजमत पर माउस प्वाॅइन्टर को लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू के विकल्प ैसपकम डंेजमत का प्रयोग किया जाता है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर उपरोक्त चित्र की भांति प्रदर्शन होता है। इस व्यू में स्लाइड का टाइटल 44च्जण् में, प्रथम लेवल 32च्जण् में, दूसरा लेवल 28च्जण् में, तीसरा लेवल 24च्जण् में तथा पांचवा लेवल भी 20च्जण् साइज में ठल क्मंिनसज निर्धारण होता है। टाइटल तथा सभी लेवल्स के लिए फाॅन्ट एक ही होता है। सभी लेवल्स के बुलेट्स भिन्न-भिन्न होते हैं। किसी भी लेवल में टैक्स्ट लिखने के लिए उस लेवल पर क्लिक कर आप अपना टैक्स्ट लिख दें। लिखे गए किसी भी टैक्स्ट का लेवल बदलने के लिए हम प्रमोट ; द्ध अथवा डिमोट ; द्ध टूल्स का प्रयोग कर सकते हैं।
स्लाइड साॅर्टर व्यू ;ैसपकम ैवतजमत टपमूद्ध
पाॅवर प्वाॅइन्ट की विन्डो में क्षैतिज स्क्राॅलबार पर बाई ओर दिए गए टूल आइकन्स में से दूसरा टूल आइकन ैसपकम
च्ंहम 308
ैवतजमत टपमू होता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर प्रस्तुति की स्लाइड्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर उपरोक्त चित्र की भांति होता है। इस प्रकार का प्रदर्शन पाॅवर प्वाॅइन्ट के व्यू मेन्यू में दिए गए दूसरे विकल्प ैसपकम ैवतजमत का प्रयोग करके भी निर्धारित किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रदर्शन में इस प्रस्तुति की सभी स्लाइड्स का प्रदर्शन माॅनीटर स्क्रीन पर होता है। ैसपकम ैवतजमत व्यू में एक बार में माॅनीटर स्क्रीन पर अधिकतम 12 स्लाइड्स का प्रदर्शन हो सकता है। इस प्रकार के प्रदर्शन में प्रस्तुत में स्लाइड्स के क्रम का निर्धारण किया जा सकता है। इस व्यू में किसी भी स्लाइड्स में टैक्स्ट को टाइप नही किया जा सकता है।
हम इस व्यू में स्लाइड को अथवा एक से अधिक स्लाइड्स सरलता से चुनकर ड्रैग तथा ड्राॅप अथवा काॅपी तथा डिलीट आॅपरेशन कर सकते है। इस व्यू में स्लाइड को ड्रैग-ड्राॅप तथा डिलीट करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
किसी स्लाइड पर क्लिक कर उसे चुना जा सकता है। एक से अधिक लगातार स्लाइड्स को चुनने के लिए की-बोर्ड पर ैभ्प्थ्ज् ‘की‘ काके दबाए हुए, क्लिक करके चुना जा सकता है। हम ब्जतस ‘की‘ को दबाकर स्लाइड पर क्लिक करके उनको एक-एक करके छवदबवदजपदनवने रूप में भी चुन सकते हैं।
चुनी गई स्लाइड अथवा स्लाइड्स की यदि प्रति हमें अपनी प्रस्तुति में रखनी हैं, तो की-बोर्ड पर ब्जतस ‘की‘ को दबाए हुए माउस से ड्रैग करके वांछित स्थान पर लाकर ड्राॅप करना होगा।
चुनी गई स्लाइड अथवा स्लाइड्स को किसी अन्य प्रस्तुति में काॅपी अथवा मूव करना है, तो स्लाइड्स को चुनने के पश्चात् माउस प्वाॅइन्टर को उनमें से किसी स्लाइड पर लाकर माउस का दायां बटन दबाने पर संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में से क्रमशः ब्वचल अथवा ब्नज विकल्प का प्रयोग किया जाता है। अब यह स्लाइड आॅफिस के क्लिपबोर्ड पर काॅपी हो जाती है। इसके उपरान्त जिस प्रस्तुति में इनको अथवा मूव करना है, उसे खोलकर उसका
च्ंहम 309
प्रदर्शन ैसपकम ैवतजमत टपमू में करते है। अब इस प्रदर्शन में किसी भी स्थान पर माउस प्वाॅइन्टर को लाकर माउस का दायां बटन दबाने के पर प्रदर्शित होने वाले शाॅर्टकट मेन्यू में से च्ंेजम विकल्प का प्रयोग करने पर वे स्लाइड अथवा स्लाइड्स जोकि आॅफिस के क्लिपबोर्ड पर काॅपी की गई थीं, इस प्रस्तुति में पेस्ट हो जाती है।
नोट्स पेज व्यू ;छवजमे च्ंहम टपमूद्ध
व्यू मेन्यू में स्लाइड साॅर्टर के नीचे दिए गए विकल्प छवजम च्ंहम का प्रयोग प्रस्तुति की प्रत्येक स्लाइड के लिए ैचमंामतष्े छवजम बनाने के लिए किया जाता है। इस व्यू में निम्नांकित चित्र की भांति ऊपर की ओर स्लाइड प्रदर्शित होती है और इसके नीचे एक टैक्स्ट बाॅक्स
इस टैक्स्ट बाॅक्स में उपरोक्त स्लाइड से सम्बन्धित नोट्स टाइप कर दिए जाते है। अब इन नोट्स का प्रिन्ट निकाल दिया जाता है और वक्ता को दे दिया जाता है। वक्ता अपना वक्तव्य देते समय इन नोट्स की सहायता लेता रहता है। पहले स्लाइड के लिए स्पीकर नोट्स लिखने के पश्चात्, की-बोर्ड पर च्ंहम क्वूद ‘की‘ को दबाकर अथवा पाॅवर प्वाॅइन्ट की ऊध्र्वाधर स्क्राॅल बार पर क्लिक करके दूसरी स्लाइड को इस विन्डो में प्रदर्शित किया जा सकता है। अब इसके लिए स्पीकर नोट्स तैयार कर सकते हैं। इसी प्रकार अन्य स्लाइड्स के लिए स्पीकर नोट्स तैयार किए जा सकते है। स्पीकर नोट के टैक्स्ट की फाॅर्मेटिंग का कार्य हम फाॅर्मेटिंग टूलबार की सहायता से अथवा पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्वतउंज मेन्यू के विकल्प थ्वदज का प्रयोग करके पूर्व की भांति कर सकते हैं।
स्लाइड शो व्यू ;ैसपकम ैीवू टपमूद्ध
पाॅवर प्वाॅइन्ट की विन्डो मे क्षैतिज स्क्राॅलबार पर बाई ओर दिए गए टूल आइकन्स में से अन्तिम टूल आइकन ैसपकम ैीवू होता है। इस टूल आइकन पर क्लिक करने पर प्रस्तुति की स्लाइड शो प्रारम्भ हो जाती है और माॅनीटर की पूरी स्क्रीन एक-एक करके स्लाइड निर्धारित किए गए क्रम में प्रदर्शित होती है। यदि प्रस्तुति में कए स्लाइड से दूसरी
च्ंहम 310
स्लाइड के प्रदर्शन मध्य कोई समय निर्धारित किया गया है, तो इस समय के अनुरूप स्वतः ही अगली स्लाइड माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होती है। यदि स्लाइड मे एनीमेशन प्रभावो का प्रयोग किया गया है, तो वे प्रभाव निर्धारित किए गए समय के अनुरूप प्रदर्शित होते है अथवा च्ंहम क्द ‘की‘ को दबाने से अगली स्लाइड माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होती है। यदि स्लाइड में एनीमेशन प्रभावो का प्रयोग किया गया है, तो वे प्रभाव निर्धारित किए गए समय के अनुरूप प्रदर्शित होते है अथवा च्ंहम क्द ‘की‘ का प्रयोग करने पर । प्रस्तुति के इस प्रकार का प्रदर्शन पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 के व्यू मेन्यू अथवा स्लाइड शो मेन्यू में दिए गए विकल्प ैसपकम ैीवू का प्रयोग करके भी किया जा सकता है।
स्लाइड मे आॅब्जेक्ट्स का प्रयोग
अभी तक हमने टैक्स्ट पर आधारित प्रस्तुति को तैयार करना सीखा है। अब हम स्लाइड में टैक्स्ट तथा आॅब्जेक्ट (पिक्चर, ग्राफ) इत्यादि को स्लाइड में इन्सर्ट करना सीखते है। पाॅवर प्वाॅइन्ट के किसी भी स्लाइड में कम-से-कम दो आॅब्जेक्ट होते हैं। पहला टाइटल का टैक्स्ट बाॅक्स तथा दूसरा सब-टाइटल या बुलेटेड टैक्स्ट का बाॅक्स । हम जो भी टैक्स्ट टाइप करते हैं, वे इन्ही टैक्स्ट बाॅक्सेज में रहते है। अतः पाॅवर प्वाॅइन्अ हमारे द्वारा टाइप किए गए टैक्स्ट को आॅब्जेक्ट के रूप में व्यवहार में लाता है। इस प्रकार पाॅवर प्वाॅइन्ट टैक्स्ट तथा ग्राफिक , पिक्चर , साउन्ड सभी को आॅब्जैक्ट के रूप में ही व्यवहार में लाता है। टैक्स्ट तथा पिक्चर दोनो को एक साथ किसी स्लाइड में प्रयोग करना हम इसी अध्याय में पृष्ठ 300-301 पर सीख चुके हैं।
स्लाइड में चार्ट का प्रयोग
पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 में भी वर्ड 2002 की भांति हम दो स्थानो से चार्ट को स्लाइड में इन्सर्ट कर सकते हैं पहला एक्सल 2002 से तथा दूसरा माइक्रोसाॅफ्ट ग्राफ से । किसी प्रस्तुति में माइक्रोसाॅफ्ट ग्राफ से चार्ट को बनाकर इन्सर्ट करने के लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
सर्वप्रथम हम अपनी प्रस्तुति में एक नई रिक्त स्लाइड को पाॅवर प्वाॅइन्टर के प्देमतज मेन्यू के विकल्प छमू ैसपकम का प्रयोग करके जोड़ लेते हैं।
टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ैसपकम स्ंलवनजे विकल्प को चुनते हैं। अब टास्क पेन में विभिन्न स्लाइड-लेआउट्स संलग्न चित्र की भांति प्रदर्शित होते हैं। इनमें से हमने ज्पजसम ंदक ब्ींतज नामक स्लाइड लेआउट पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर क्लिक करते है।
अब माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति स्लाइड पर दो बाॅक्स प्रदर्शित होते हैं।
पहला बाॅक्स स्लाइड का शीर्षक निर्धारित करने के लिए तथा दूसरा बाॅक्स स्लाइड में चार्ट को इन्सर्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है। पहले बाॅक्स ब्सपबा जव ंकक जपजसम में इस स्लाइड का शीर्षक टाइप कर दिया जाता है।
दूसरे बाॅक्स में क्वनइसम ब्सपबा जव ।कक ब्ींतज पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस का बायां बटन लगातार दो बार क्लिक अर्थात् डबल-क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन माॅनीटर स्क्रीन पर अगले पृष्ठ पर दिए गए दूसरे चित्र की भांति माइक्रोसाॅफ्ट चार्ट, डेटाशीट विन्डो, जिसमें डेटा प्रदर्शित हो रहा है, चार्ट के साथ प्रदर्शित होती है। अब इस डेटाशीट विन्डो में पहले से प्रविष्ट किए गए डेटा पर अपने डेटा को प्रविष्ट करते हैं। इस डेटाशीट विन्डो में हम अपने डेटा की प्रविष्टि ठीक उसी प्रकार कर सकते हैं, जिस प्रकार हमने एक्सल 2002 में डेटा
च्ंहम 311
की प्रविष्टि की थी । अब चार्ट हमारे द्वारा प्रविष्ट किए गए डेटा के अनुरूप अगले पृष्ठ पर दिए गए चित्र की भांति प्रदर्शित होने लगता है।
च्ंहम 312
यदि हम चार्ट का प्रकार बदलना चाहते हैं, तो पाॅवर प्वाॅइन्ट के ब्ींतज मेन्यू के पहले विकल्प ब्ींतज ज्लचम का स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्ींतज ज्लचम डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के दो मुख्य विकल्प होते है
ैजंदकंतक ज्लचमे तथा ब्नेजवउ ज्लचमे । हम एक्सल 2002 में भी इस डायलाॅग बाॅक्स को सीख चुके हैं। जिस प्रकार हमने एक्सल में चार्ट की फाॅर्मेटिंग की थी उसी प्रकार यहां पर भी चार्ट की फाॅर्मेटिंग करके पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करके उसे अपनी इच्छा एवं आवश्यकतानुसार प्रदर्शित कर सकते है।
यदि हम चार्ट के शीर्षक , चार्ट के ग् तथा ल् ।गपे के शीर्षक का निर्धारण करना चाहते हैं, तो पाॅवर प्वाॅइन्ट के ब्ींतज मेन्यू के पहले विकल्प ब्ींतज व्चजपवदे का प्रयोग करते हैं। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ब्ींतज व्चजपवदे डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पहले मुख्य विकल्प ज्पजसम पर क्लिक करने पर इस डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पहले मुख्य विकल्प ज्पजसम पर क्लिक करन पर इस डायलाॅग
च्ंहम 313
बाॅक्स में हम यह कार्य कर सकते हैं । चार्ट में डेटा लेबल्स प्रदर्शन इस डायलाॅग बाॅक्स के क्ंजं स्ंइमसे मुख्य विकल्प को चुनकर किया जा सकता है। चार्ट के साथ डेटा टेबल का प्रदर्शन मुख्य विकल्प क्ंजं ज्ंइसम को चुनकर निर्धारित किया जा सकता है।
स्लाइड में आॅडियो काॅमेन्ट्स का प्रयोग
अब तक हमने स्लाइड में ट्रांजिशन के माध्यम से साउन्ड के लिए ण्ॅ।ट फाइलों का प्रयोग किया । हम स्लाइड के प्रदर्शन के साथ-साथ अपनी आवाज में विचारों के साथ-साथ भी प्रस्तुत कर सकते हैं, परन्तु इसके लिए हमारे कम्प्यूटर में माइक्रोफोन का स्थापित होना आवश्यक है। स्लाइड्स को अपनी आवाज के साथ प्रस्तुत करने लिए हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
सर्वप्रथम उस स्लाइड को चुनकर नाॅर्मल व्यू में प्रदर्शित करते हैं, जिसके प्रदर्शन के साथ हम अपनी आवाज को प्रस्तुत करना चाहते हैं।
इसके उपरान्त प्देमतज मेन्यू के विकल्प डवअपमे ंदक ैवनदक पर माउस प्वाॅइन्टर लाने पर प्रदर्शित होने वाले उन-मेन्यू के विकल्प त्मबवतक ेवनदक का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न भांति त्मबवतक ैवनदक डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में छंउम के सामने दिए गए टैक्स्ट बाॅक्स मे रिकाॅर्ड की जाने वाली साउण्ड की साउण्ड फाइल का नाम टाइप करते हैं।
अब लाल रंग के वृत्ताकार बटन , जोकि त्मबवतक बटन कहलाता है पर क्लिक करके, माइक्रोफोन में वांछित विचारो को बोलते हैं। इस समय रिकाॅर्डिंग प्रारम्भ हो जाती है।
जब हम वांछित विचारो को बोल चुकते हैं, तो इसके बीच वाले चतुर्भुजाकार बटन पर क्लिक करक रिकाॅर्डिंग का कार्य रोक देते हैं।
अब हमने जो भी उसको सुनने के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स के बाएं त्रिभुजाकार बटन पर क्लिक करते हैं। अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक साउण्ड फाइल को सुरक्षित कर लेते हैं।
अब साउण्ड फाइल का आइकन स्लाइड पर प्रदर्शित होने लगता है। इस साउन्ड फाइल को एनीमेट करने के लिए साउन्ड आइकन को चुनकर टास्क पेन की टाइटिल बार पर दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से ब्नेजवउ ।दपउंजपवद विकल्प केा चुनते है। ब्नेजवउ ।दपउंजपवद टास्क पेन में साउन्ड फाइल्स डमकपं के रूप में प्रदर्शित होती है। इस फाइल केा एनीमेट करने के लिए हम फाइल नेम के दाई ओर दिए गए डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली विभिन्न विकल्पो की सूची में से वांथ्छत फाइल को चुन लेते है।
स्लाइड से किसी साउन्ड फाइल आइकन को मिटाने के लिए उस आइकन को चुनकर की-बोर्ड पर क्मसमजम ‘की‘ दबा देना ही पर्याप्त होता है।
प्रस्तुति में नैरेशन का प्रयोग
प्रस्तुति में नैरेशन का प्रयोग स्लाइड्स के कन्टेन्ट्स को बताने के लिए किया जाता है। प्रस्तुति में नैरेशन का प्रयोग करने पर उसमें पहले से इन्सर्ट किए गए आॅडियो कॅमेन्ट्स, एनीमेशन साउन्ड्स अथवा सी.डी. आॅडियो स्वतः ही समाप्त हो जाते हैं। किसी प्रस्तुति में नैरेशन तथा अन्य साउन्ड फाइल्स का प्रयोग एक साथ करने के लिए अलग-अलग स्लाइड्स के लिए अलग-अलग फाइल बनानी पड़ती है।
च्ंहम 314
अपनी प्रस्तुति में नैरेशन को रिकाॅर्ड करने हमें निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करना होगा
प्रस्तुति में नैरेशन को रिकाॅर्ड करने के लिए सर्वप्रथम प्रस्तुति की प्रथम स्लाइड को चुनते है।
इसके उपरान्त पाॅवर प्वाॅइन्ट के ैसपकम ैीवू मेन्यू के त्मबवतक छंततंजपवदे विकल्प का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर संलग्न चित्र की भांति त्मबवतक छंततंजपवद डायलाॅग बाॅक्स माॅनीटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। पाॅवर प्वाॅइन्ट नैरेशन को रिकाॅर्ड करने के लिए डिस्क को एनालाइज करता है तथा उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करता है, कि डिस्क में कितनी जगह खाली है तथा इसमें कितने मिनट तक आववाज को रिकाॅर्ड किया जा सकता है। प्रत्येक सेकण्ड में बोली गई आवाज डिस्क में कितनी जगह लेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि हम साउन्ड क्वालिटी किस प्रकार की निर्धारित करते हैं।
साउन्ड क्वालिटी को निर्धारित करने के लिए हम इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए पुश बटन ब्ींदहम फनंसपजल पर क्लिक करते है। अब माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैवनदक ैमसमबजपवद डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स में छंउम के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित साउन्ड क्वालिटी का चुनते हैं, तो इसके नीचे दिए गए थ्वतउंज तथा ।जजतपइनजम सैलेक्शन बाॅक्सेज में स्वतः ही परिवर्तन हो जाता है। यदि हम साउन्ड क्वालिटी अपने अनुसार निर्धारित करना चाहते हैं, तो छंउम के सामने अपनी साउण्ड क्वालिटी का नाम टाइप करते हैं और थ्वतउंज के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में से साउण्ड का वांछित फाॅरमेट तथा ।जजतपइनजम के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में से साउन्ड का वांछित ।जजतपइनजम चुन लेते है। इस डायलाॅग बाॅक्स में वांछित निर्धारण करने के पश्चात् पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हम पुनः त्मबवतक छंततंजपवद डायलाॅग बाॅक्स में वापस आ जाते हैं।
अब त्मबवतक छंततंजपवद डायलाॅग बाॅक्स में ैमज डपबतवचीवदम स्मअमस पुश बटन पर क्लिक करके माइक्रोफोन के साउण्ड के लेवल का निर्धारण किया जाता है। इस पुश बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति डपबतवचीवदम ब्ीमबा डायलाॅग बाॅक्स में वापस आ जाते हैं।
अब त्मबवतक छंततंजपवद डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर प्रस्तुति की पहली स्लाइड का प्रदर्शन प्रारम्भ हो जाएगा। हम एक-एक स्लाइड से सम्बन्धित नैरेशन अर्थात् टाॅपिक के विषय मे, क्लिक करके बोलते जाएं। अन्त में डपबतवेवजि च्वूमतच्वपदज डायलाॅग बाॅक्स निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
च्ंहम 315
यदि हम नैरेशन के साथ-साथ स्लाइड की टाइमिंग को भी सुरक्षित करना चाहते हैं, तो पुश बटन ैंअम अन्यथा पुश बटन क्वदज ैंअम पर किल्क करते हैं।
स्लाइड्स के टाइमिंग का निर्धारण करना
अभी हमने जो प्रस्तुत तैयार करके उसका ैसपकम ैीवू किया, उसमें स्लाइड में टाइटल के सभी टैक्स्ट एक साथ प्रदर्शित होते होंगे, तो किसी स्लाइड में दो टैक्स्ट के बीच प्रदर्शन का समयान्तराल अधिक हो गया होगा तो किसी का कम ।हम किसी स्लाइड के प्रदर्शन के बाद अगले स्लाइड को जो समयान्तराल निर्धारित करना चाहते हैं अथवा किसी स्लाइड में दो टैक्स्ट के प्रदर्शन के बीच जो समयान्तराल निर्धारित करना चाहते हैं, उस समयान्तराल को निर्धारित करने के लिए निम्नलिखित चरणो का अनुसरण करते हैं
सर्वप्रथम उस प्रस्तुति को पाॅवर प्वाॅइन्ट में खोलते हैं, जिसकी स्लाइड्स के लिए टाइमिंग का निर्धारण करना है।
इसके उपरान्त टपमू मेन्यू के विकल्प ैसपकम ैवतजमत का प्रयोग करके प्रस्तुति को ैसपकम ैवतजमत टपमू में प्रदर्शित करते हैं।
अब ैसपकम ैीवू मेन्यू के विकल्प त्मीमंतेम ज्पउपदह विकल्प का प्रयोग करने पर स्लाइड शो प्रारम्भ हो जाता है माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति इस स्लाइड के साथ त्मीमतेंस टूलबार भी प्रदर्शित होती है
इस टूलबार में दो टाइम प्रदर्शित होते रहते हैं, टूलबार के दाई ओर प्रस्तुति को प्रदर्शित होने में लगने वाला पूरा समय तथा बाई ओर प्रत्येक स्लाइउ को प्रदर्शित होने में लगने वाला समय प्रदर्शित होता रहता है। साथ ही तीन टूल बटन्स छमगजए च्ंनेम और त्मचमंज भी इस टूलबार पर प्रदर्शित होते हैं। हम प्रथम स्लाइड के टाइटल को प्रदर्शित होने के जितनी देर बाद छमगज टूल बटन पर क्लिक करेंगे, टैक्स्ट उतनी देर बाद स्लाइड शो के समय
च्ंहम 316
टाइटल प्रदर्शित होने के बाद प्रदर्शित होगा। इस प्रकार उस स्लाइड को आगे का टैक्स्ट या आॅब्जेक्ट प्रदर्शित होगा। अतः हम हर बार उतने समयान्तराल पर छमगज टूल बटन पर क्लिक करते हैं, जितनी देर बाद हम किसी स्लाइड के अगले टैक्स्ट अथवा आॅब्जेक्ट अथवा अगली स्लाइड का प्रदर्शन करना चाहते हैं। इस कार्य को तब तक दोहराते रहते हैं, जब तक कि प्रस्तुति की अन्तिम स्लाइउ का प्रदर्शन नही हो जाता।
हम अन्तिम स्लाइड को जितने समय तक प्रदर्शित करना चाहते हैं, उतने समय के बाद छमगज टूल बटन पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति एक मैसेज बाॅक्स प्रदर्शित होता है
यदि हम रिहर्स टाइमिंग अर्थात् निर्धारित की गई टाइमिंग को अगली बार से प्रस्तुति को प्रदर्शित करने के लिए निर्धारित करना चाहते हैं, तो पुश बटन ल्मे पर अन्याथ पुश बटन छव पर क्लिक करते हैं। यदि हमने पुश बटन ल्मे पर क्लिक किया है, तो अब प्रस्तुति को प्रदर्शित करने के लिए ैसपकम ैीवू मेन्यू के टपमू ैीवू विकल्प का प्रयोग करने पर प्रस्तुति की स्लाइड्स हमारे द्वारा निर्धारित समयान्तराल के अनुरूप ही प्रदर्शित होती है। इस समयान्तराल में कोई भी परिवर्तन करने के लिए हमें उपरोक्तानुसार पुनः टाइमिंग का निर्धारण करना होगा।
हैन्डआउट्स बनाना
प्रस्तुति के लिए स्लाइड्स को तैयार करने के बाद, यदि हम स्लाइड्स को दर्शकों के मध्य पेपर पर प्रिन्ट करके , हैन्डआउट्स के रूप मे वितरित करना चाहते हैं, तो सबसे हम इस प्रस्तुति की फाइल को पाॅवर प्वाॅइन्ट में खोल लेते हैं। इसके पश्चात् स्लाइड्स को हैन्डआउट्स के रूप में प्रिन्ट करने से पूर्व, हम हैन्ड्सआउट का प्रिव्यू विभिन्न प्रकार से देखने
च्ंहम 317
के लिए , थ्पसम मेन्यू के च्तपदज च्तमअपमू विकल्प का प्रयोग करते हैं। अब माॅनीटर स्क्रीन पर स्लाइउ किस प्रकार प्रिन्ट होगी यह प्रदर्शित होता हे। इस प्रदर्शन में टूलबार पर च्तपदज ॅींज टूल बटन के सामने दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से वांछित विकल्प को चुनकर यह निर्धारित करते हैं कि एक हैन्डआउट के रूप में प्रदर्शित किया गया है।
हैन्ड्सआउट्स को स्ंदकेबंचम अथवा च्वजतंपज मोड में प्रदर्शित करने के लिए च्मतबमदजंहम ;ःद्ध के आगे दिए गए बगल में दिए गए टूल स्ंदकेबंचम अथवा च्वजतंपज टूल बटन का प्रयोग करके यह सुनिश्चित करते हैं, कि स्लाइड्स , हैन्डआउट के लिए किस मोड में अच्छे ढंग से प्रदर्शित होते हैं।
हैन्ड्सआउट्स को ठसंबा ंदक ॅीपजम या ळतंल (भूरे) कलर में प्रदर्शित करने के लिए , व्चजपवदे बटन पर क्लिक कर , ब्वसवतध्ळतंल ैबंसम नामक विकल्प पर माउस प्वाॅइन्टर को ले जाकर ळतंल ैबंसम या च्नतम ठसंबा ंदक ॅीपजम नामक उप-विकल्प पर क्लिक करें।
प्रस्तुति के हैन्डआउट्स के अगले पृष्ठ को देखने के लिए प्रिव्यू टूलबार पर दिए गए दूसरे टूल बटन छमगज च्ंहम पर क्लिक करते हैं। पुनः पिछले पृष्ठ को देखने के लिए च्तमअपवने च्ंहम नामक बटन पर किल्क करे।
हैन्डआउट्स को प्रिन्ट करने के लिए च्तपदज टूल बटन पर क्लिक करते हैं। परिणामस्वरूप च्तपदज का डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए छंउम बाॅक्स में , कम्प्यूटर में स्थांपित प्रिन्टर का नाम स्वतः ही प्रदर्शित होता है। च्तपदज ॅींज के नीचे दिए गए सैलेक्शन बाॅक्स में भी भ्ंदकवनजे स्वतः ही प्रदर्शित होता है। इस डायलाॅग बाॅक्स के भ्ंदकवनजे वाले भाग में भी ैसपकम चमत चंहम के सामने दिए गए बाॅक्स में एक पृष्ठ पर स्लाइड्स की संख्या प्रदर्शित होती है। यदि हम पृष्ठ पर स्लाइड्स की संख्या में कोई परिवर्तन करना चाहते हैं, तो यहां पर कर सकते हैं। स्लेक्ट कर लें। अब हम स्लाइड को जिस कलर में प्रिन्ट करना चाहते हैं, उस कलर मोड केा ब्वसवतध्ळतंल ैबंसम नामक बाॅक्स पर क्लिक कर स्लेक्ट कर लें। हम हैन्डआउट्स की जितनी प्रतियां प्रिन्ट करना चाहते हैं, उसे ब्वचपमे वाले भाग में छनउइमत व िब्वचपमे के सामने दिए गए बाॅक्स में टाइप कर देते हैं। अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर हमें प्रिन्टर की सहायता से हैन्डआउट्स के प्रिन्ट प्राप्त होते हैं।
च्तपदज च्तमअपमू की टूलबार पर दिया गया टूल बटन च्तपदज तथा पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्पसम मेन्यू में दिया गया च्तपदज विकल्प समान रूप से कार्य करते है।
वर्ड 2002 में हैन्डआउट्स बनाना
यदि हम पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 में बनाए गए स्लाइड्स का हैन्ड्आउट्स केा वर्ड 2002 में ले जाकर कुछ एडिटिंग करने के पश्चात् , वर्ड 2002 से ही प्रिन्ट करना चाहते हैं, तो सर्वप्रथम हम उस प्रस्तुति फाइल को खोल लेते हैं, जिसकी स्लाइड्स को हैन्डआउट्स के रूप में प्रिन्ट करना चाहते है। इसके पश्चात् थ्पसम मेन्यू के विकल्प ैमदक ज्व पर माउस
च्ंहम 318
प्वाॅइन्टर को लाने पर प्रदर्शित होने वाले उप-मेन्यू में डपबतवेवजि ॅवतक विकल्प का प्रयोग करते है। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति ैमदक ज्व डपबतवेवजि ॅवतक डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में हम स्लाइड में लिखे गए स्पीकर नोट्स को स्लाइड पर किस स्थान पर प्रदर्शित करना है यह निर्धारित किया जाता है। इस कार्य के लिए इस डायलाॅग बाॅक्स में विभिन्न विकल्प रेडियो बटन्स के रूप में दिए होते है। वांछित स्थान का निर्धारण करने के लिए वांछित स्थान का निर्धारण करने के लिए वांछित रेडियो बटन को चुन लेते हैं। अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने के कुछ क्षणो पश्चात् में वर्ड 2002 सभी स्लाइड्स के साथ लोड होकर एक डाॅक्यूमेन्ट फाइल ;क्वबनउमदज1द्ध के साथ प्रदर्शित होगा। क्वबनउमदज1 में प्रत्येक स्लाइड अलग-अलग पृष्ठ पर प्रदर्शित होती है। अब हम यहां पर स्पीकर नोट्स को फाॅर्मेटिंग कर सकते हैं तथा स्लाइड के आकार केा भी छोटा-बड़ा कर सकते है। स्लाइड्स को हैन्डआउट्स के रूप में प्रिन्ट करने के लिए वर्ड 2002 के थ्पसम मेन्यू के च्तपदज विकल्प का प्रयोग करते हैं। प्रिन्ट प्राप्त करने के उपरान्त पुनः पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 में वापस आने के लिए वर्ड 2002 के थ्पसम मेन्यू के म्गपज विकल्प का प्रयोग करते हैं।
प्रस्तुति को दूसरे कम्प्यूटर पर प्रयोग करना
यदि हम पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 के बनाई गई प्रस्तुति को किसी ऐसे कम्प्यूटर पर प्रदर्शित करना चाहते हैं, जिसमें पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 लोड नही हैं, तो इसके लिए हमें निम्नलिखित चरणों का अनुसरण करना होगा
सर्वप्रथम उस प्रस्तुति को पाॅवर प्वाॅइन्ट में खोलते हैं, जिसे हम किसी अन्य कम्प्यूटर पर प्रस्तुत करना चाहते हैं।
अब पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्पसम मेन्यू के च्ंबा ंदक ळव विकल्प का प्रयोग करते हैं। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है
इस समय आॅफिस असिस्टेन्ट भी इस विजार्ड का प्रयोग करने में सहायता प्रदान करने के लिए तैयार होता है। यदि हम इस विजार्ड के प्रत्येक चरण के लिए आॅफिस असिस्टेन्ट से सहायता चाहते हैं, तो आॅफिस असिस्टेन्ट द्वारा दर्शाए गए सन्देश में ल्मेए च्समंेम च्तवअपकम भ्मसच बटन पर और यदि सहायता नही चाहते हैं, तो छवए कवदष्ज चतवअपकम ीमसच दवू बटन पर क्लिक करते हैं।
अब च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स में पुश बटन छमगज पर क्लिक करते हैं , तो माॅनीटर स्क्रीन पर च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स में अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति इस विजार्ड के दूसरे चरण का प्रदर्शन होता है। इस चरण में हमें प्रस्तुति फाइल का चुनाव करना होता है। इस कार्य के लिए इस डायलाॅग
च्ंहम 319
बाॅक्स में दो विकल्प चैक बाॅक्सेज के रूप में दिए गए होते हैं। चूंकि हम प्रस्तुति फाइल को पहले ही खोल चुके हैं, अतः पहले चैक बाॅक्स ।बजपअम चतमेमदजंजपवद को चुन लेते हैं। यदि हमने प्रस्तुत फाइल को नहीं खोला होता, तो दूसरे चैक बाॅक्स व्जीमत चतमेमदजंजपवद;ेद्ध को चुनते। इस चैक बाॅक्स को चुनते ही इस डायलाॅग बाॅक्स में दिया गया टैक्स्ट बाॅक्स तथा पुश बटन ठतवूेम भी सक्रिय हो जाता है। इस टैक्स्ट बाॅक्स में प्रस्तुति फाइल का नाम पाथ सहित टाइप करते हैं अथवा पुश बटन ठतवूेम पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ैमसमबज ं चतमेमदजंजपवद जव चंबांहम डायलाॅग बाॅक्स मे वांछित फोल्डस में जाकर वांछित प्रस्तुति फाइल को चुनकर पुश बटन ैमसमबज पर क्लिक करने पर इस प्रस्तुति फाइल का नाम पाथ सहित टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित होने लगता है।
अब पुश बटन छमगज पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स में निम्नांकित चित्र की भांति इस विजार्ड के तीसरे चरण का प्रदर्शन होता है
इस प्रदर्शन में हमें यह निर्धारित करना होता है, कि प्रस्तुति फाइल को किस ड्राइव में काॅपी अर्थात् पैक करना चाहत है। इस डायलाॅग बाॅक्स मे तीन विकल्प रेडियो बटन्स के रूप मे दिए होते हैं। पहले दो विकल्प फ्लाॅपी ड्राइव के लिए तथा तीसरा विकल्प हार्डडिस्क पर किसी अन्य स्थान पर काॅपी करना निर्धारित करने के लिए प्रयोग होता है। तीसरे विकल्प को चुनने पर इसके नीचे दिया गया टैक्स्ट बाॅक्स तथा ठतवूेम पुश बटन सक्रिय हो जाता है।
पुश बटन ठतवूेम पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाले ब्ीववेम क्पतमबजवतल डायलाॅग बाॅक्स में वांछित फोल्डर में जाकर वांछित प्रस्तुति वांछित प्रस्तुति फाइल को चुनकर पुश बटन ैमसमबज पर क्लिक करने पर इस प्रस्तुति फाइल का नाम पाथ सहित टैक्स्ट बाॅक्स में प्रदर्शित हाने लगता है।
अब पुश बटन छमगज पर क्लिक करने पर अगले पृष्ठ पर दिए गए पहले चित्र की भांति माॅनीटर स्क्रीन पर
च्ंहम 320
च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स मे संलग्न चित्र की भांति इस विजार्ड के चैथे चरण का प्रदर्शन होता है। इस प्रदर्शन में हमें यह निर्धारित करना होता है, कि प्रस्तुति के पैक के साथ लिंक्ड फाइल और फाॅन्ट को भी काॅपी किया जाना है अथवा नहीं। हम यहां पर प्दबसनकम स्पदामक थ्पसमे चैक बाॅक्स को चुन लेते है।
अब पुश बटन छमगज पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स में निम्नांकित चित्र की भांति इस विजार्ड के पांचवे चरण का प्रदर्शन होता है
जिस कम्प्यूटर पर यदि व्ििपबम ग्च् में च्वूमत च्वपदज टपमूमत स्थांपित नही होगा, तो क्वदष्ज प्दबसनकम जीम टपमूमत नामक विकल्प बाई डिफाल्ट स्लेक्टेड होगा।
हम इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए गए क्वूदसवंक टपमू नामक बटन पर क्लिक कर इन्टरनेट से डपबतवेवजि के वेब साइट से भी च्वूमत च्वपदज टपमूमत को स्थापित कर सकते है। जब तक हम इस डायलाॅग बाॅक्स में दिए
च्ंहम 321
गए दूसरे विकल्प टपमूमत वित डपबतवेवजि ॅपदकवूे को नही चुनते हैं, च्ंबा की गई प्रस्तुति फाइल , उस कम्प्यूटर पर रन नहीं होगी, जिसमें पाॅवर प्वाॅइन्ट स्थापित नही होगा।
अब पुश बटन छमगज पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर च्ंबा ंदक ळव ॅप्रंतक डायलाॅग बाॅक्स मे पिछले पुष्ठ पर दिए गए अन्तिम चित्र की भांति इस विजार्ड के छठे और अन्तिम चरण का प्रदर्शन होता है। यह डायलाॅग बाॅक्स इस विजार्ड का समापर दर्शाता है। इस प्रदर्शन मे पुश बटन छमगज निष्क्रिय हो जाता है। अब पुश बटन थ्पदपेी पर क्लिक करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति च्ंबा ंदक ळव ैजंजने का डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है तथा कुछ क्षणों के उपरान्त हमारे द्वारा चुनी गई प्रस्तुति फाइल कम्प्रेस होकर निर्धारित स्ािान पर काॅपी हो जाती है।
पे्रजेन्टेशन को अनपैक करना
हमें पैक की गई प्रस्तुति को किसी अन्य कम्प्यूटर , जिसमें पाॅवर प्वाॅइन्ट स्थापित नही हैं, पर प्रदर्शित करने के लिए अर्थात् प्रस्तुति को अनपैक करने के लिए निम्नलिखित चरणों का अनुसरण करना होगा
सर्वप्रथम हम पैक फाइल को जिस फ्लाॅपी डिस्क पर काॅपी अथवा पैक किया गया था, उसे सम्बन्धित ड्राइव में लगा देते हैं। विन्डोज आॅपरेटिंग सिस्टम ॅपदकवूे म्गचसवतमत प्रोग्राम को त्नद करते हैं।
अब जिस ड्राइव मे फ्लाॅपी को लगाया है, विन्डोज एक्सप्लोरर की बाई विन्डो में उस ड्राइव पर क्लिक करते हैं, तो इस विन्डो के दाएं भाग में इस फ्लाॅपी में स्थित विभिन्न फाइल्स की सूची का प्रदर्शन होता है। इस सूची में से च्दहैमजनचण्म्गम फाइल पर माउस प्वाॅइन्टर लाकर माउस के बाएं बटन को लगातार दो बार क्लिक करते हैं, तो माॅनीटर स्क्रीन पर संलग्न चित्र की भांति च्ंबा ंदक ळव ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
इस डायलाॅग बाॅक्स में हम इस ड्राइव तथा फोल्डर को चुनते हैं, जिसमें हम इसे पैक अर्थात् कम्पे्रस की गई प्रस्तुति को अनपैक करना चाहते हैं। अब पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करने पर च्ंबा ंदक ळव ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स निम्नांकित चित्र की भांति प्रदर्शित होता है
हमारे द्वारा चुने गए ड्राइव एवं फोल्डर में यदि समान नाम से फाइल नहीं है, तो ल्मे नामक बटन पर क्लिक करते
च्ंहम 322
हैं। परिणामस्वरूप कुछ क्षणों मे प्रस्तुति अनपैक होकर, चुनी गई ड्राइव एवं फोल्डर में स्थापित हो जाएगी तथा इसकी सूचना माॅनीटर स्क्रीन पर पिछले पृष्ठ पर दिए गए अन्तिम चित्र की भांति हमें प्राप्त होती है।
यदि हम प्रस्तुति को अभी प्रदर्शित करना चाहते हैं, तो पुश बटन ल्मे पर क्लिक करते हैं और यदि नही तो पुश बटन छव पर ।
35उउ की स्लाइड बनाना
35उउ स्लाइड का प्रयोग प्रस्तुति को परम्परागत स्लाइड प्रोजेक्टर पर प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। हम प्रस्तुति की स्लाइड्स को तैयार करने के पश्चात् 35उउ स्लाइड में प्रिन्ट करने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्पसम मेन्यू के च्ंहम ैमजनच विकल्प का प्रयोग करते हैं। इस विकल्प का प्रयोग करने पर माॅनीटर स्क्रीन पर निम्नांकित चित्र की भांति च्ंहम ैमजनच डायलाॅग बाॅक्स प्रदर्शित होता है।
आप ैसपकमे ेप्रमक वित के नीचे दिए सैलेक्शन बाॅक्स के दाएं सिरे पर स्थित डाउन ऐरो पर क्लिक करने पर प्रदर्शित होने वाली सूची में से उपरोक्त चित्र की भांति 35उउ स्लाइड चुन लेते हैं। अन्त में पुश बटन व्ज्ञ पर क्लिक करते हैं। अब आप स्लाइड का प्रिन्टआउट प्राप्त करने के लिए पाॅवर प्वाॅइन्ट के थ्पसम मेन्यू के च्तपदज विकल्प का प्रयोग करते है।
इस अध्याय में हमने माइक्रोसाॅफ्ट पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 में किए जा सकने वाले विभिन्न कार्यो एवं पाॅवर प्वाॅइन्ट 2002 में दी गई विभिन्न सुविधाओं और उनकेा प्रयोग करने के बारे में जानकारी प्राप्त की, अब हम अगले अध्याय में माइक्रोसाॅफ्ट एक्सेस 2002 का परिचय एवं प्रयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *